educratsweb logo


केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री ने आज नई दिल्ली में उच्च शैक्षणिक संस्थानों के लिए "इंडिया रैंकिंग 2020" जारी की

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक ने आज विभिन्न श्रेणियों में उच्च शैक्षणिक संस्थानों का पांच विभिन्न व्यापक मानकों पर उनके प्रदर्शन के आधार पर “इंडिया रैंकिंग 2020 ” जारी किया। श्री निशंक ने मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री श्री संजय धोत्रे की उपस्थिति में 10 श्रेणियों में आज इंडिया रैंकिंग 2020 जारी की। इस रिलीज कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अपर सचिव (उच्च शिक्षा), श्री राकेश रंजन, एमएचआरडी; यूजीसी के अध्यक्ष प्रो. डी. पी. सिंह, एआईसीटीई के अध्यक्ष अनिल सहस्रबुद्धे, एनबीए के अध्यक्ष प्रो. के.के. अग्रवाल, एनबीए के सदस्य सचिव डॉ. अनिल कुमार नासा और उच्च शैक्षणिक संस्थानों के प्रतिनिधि शामिल हुए। यह भारत में उच्च शैक्षणिक संस्थानों की इंडिया रैंकिंग का लगातार पांचवा संस्करण है। वर्ष 2020 में पहले की नौ रैंकिंग के अलावा "डेंटल" श्रेणी को पहली बार शामिल किया गया, जिससे इस साल कुल श्रेणियों / विषय क्षेत्रों की संख्या दस हो गई है।

 

इस मौके पर केंद्रीय मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि इस रैंकिंग से छात्रों को कुछ मापदंडों के आधार पर विश्वविद्यालयों का चयन करने में मदद मिलती है। इससे विश्वविद्यालयों को विभिन्न रैंकिंग मापदंडों पर अपने प्रदर्शन को बेहतर बनाने और अनुसंधान एवं सुधार के क्षेत्रों में खामियों की पहचान करने में मदद मिलती है। उन्होंने यह भी कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर संस्थानों की रैंकिंग संस्थानों के बीच बेहतर प्रदर्शन करने और अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग में उच्च रैंकिंग सुनिश्चित करने के लिए प्रतिस्पर्धात्मक भावना पैदा करती है।

श्री पोखरियाल ने कहा कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने एक राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) बनाने की यह महत्वपूर्ण पहल की है, जिसका उपयोग पिछले पांच वर्षों से विभिन्न श्रेणियों और ज्ञान के क्षेत्रों में उच्च शैक्षणिक संस्थानों की रैंकिंग के लिए किया जा रहा है और यह वास्तव हम सभी के लिए प्रोत्साहन का एक स्रोत है। उन्होंने कहा कि इस पहल ने संस्थानों में आंकड़े का प्रबंधन करने की आदत पैदा की है और इन सभी संस्थानों में से ज्यादातर संस्थान खुद को अधिक प्रतिस्पर्धी बनाने का प्रयास करते हैं। श्री निशंक यह देखकर खुश हुए कि एनआईआरएफ में पहचाने गए मापदंडों की व्यापक श्रेणियों ने उच्च शैक्षणिक संस्थानों में शिक्षण, अध्ययन और संसाधनों, अनुसंधान और व्यावसायिक अभ्यास, स्नातक छात्रों की संख्या आदि के सभी महत्वपूर्ण पहलुओं को सफलतापूर्वक पूरा किया।

 

केंद्रीय मंत्री को यह जानकर खुशी हुई कि भारत के संदर्भ में देश-विशिष्ट मापदंडों जैसे क्षेत्रीय विविधता, पहुंच, लैंगिक समानता और समाज के वंचित वर्गों को शामिल करना रैंकिंग पद्धति में शामिल हैं। सभी मापदंडों और उप-मापदंडों को विधिवत सामान्य बनाया गया है ताकि बड़े और पुराने संस्थानों को अपने आकार या उम्र के आधार पर अनुचित लाभ न हो। श्री पोखरियाल ने कहा कि यह वास्तव में उचित ही है कि समग्र रैंकिंग के अलावा, कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के लिए श्रेणी-विशिष्ट रैंकिंग की जाती है और इंजीनियरिंग, प्रबंधन, फार्मेसी, वास्तुकला, कानून और चिकित्सा के लिए विषय-विशिष्ट रैंकिंग की जाती है। वर्ष 2020 से एक नया विषय क्षेत्र यानी "डेंटल" कोशामिल किया गया है।

 

श्री निशंक ने कहा कि कोविड-19 के कठिन समय में जेईई और नीट छात्रों को ऑनलाइन अभ्यास की सुविधा प्रदान करने के लिए एनटीए ने हाल ही में राष्ट्रीय टेस्ट अभ्यास ऐप लॉन्च किया है और लगभग 65 लाख छात्रों ने ऑनलाइन परीक्षा का अभ्यास करने के लिए पहले ही इस ऐप को डाउनलोड कर लिया है।

 

श्री रमेश पोखरियाल निशंक ने पिछले पाँच वर्षों से अबाधित तरीके से इंडिया रैंकिंग जारी करने के लिए मंत्रालय के अधिकारियों, राष्ट्रीय बोर्ड ऑफ एक्रिडिटेशन के सदस्य सचिव और उनकी टीम को बधाई दी। उन्होंने उन शैक्षणिक संस्थानों को भी बधाई दी जिन्होंने विभिन्न श्रेणियों और विषय क्षेत्र में पहले तीन स्थान हासिल किए हैं।

 

मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री श्री संजय धोत्रे ने भी उन संस्थानों को बधाई दी जिन्होंने "इंडिया रैंकिंग 2020" में शीर्ष स्थान हासिल की और अन्य सभी संस्थानों को प्रोत्साहित किया जो इस वर्ष शीर्ष रैंक हासिल नहीं कर सके। उन्होंने कहा कि इस तरह के रैंकिंग ढांचे में भागीदारी संस्था के आत्मविश्वास को दर्शाता है और भागीदारी लेना सफलता का पहला कदम है जिससे संस्थान का आत्मविश्वास बढ़ता है। श्री धोत्रे ने कहा कि रैंकिंग पारदर्शिता और स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के लिए आवश्यक है। उन्होंने उच्च शैक्षणिक संस्थानों को भी अपने उन छात्रों की मदद करने का आह्वान किया है जो अपने स्कूल के दिनों से ही पढाई में सुविधा की कमियों से जूझ रहे हैंऔर ऐसी कमियों को मौलिक रूप से दूर करने को कहा है। उन्होंने कहा कि हमें सभी छात्रों का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित करना चाहिए।

 

रैंकिंग ढांचा संस्थानों का पांच व्यापक सामान्य मापदंड समूहों अर्थात् शिक्षण, अध्ययन और संसाधन (टीएलआर), अनुसंधान एवं व्यावसायिक अभ्यास (आरपी), स्नातक छात्रों की संख्या (जीओ), पहुंच एवं समावेशी (ओआई) और धारणा (पीआर) के आधार पर मूल्यांकन करती है। रैंकिंग का निर्धारण इन पाँच व्यापक समूहों में से प्रत्येक के लिए निर्धारित अंकों के आधार पर किया जाता है।

 

इसके अलावा, आवेदक संस्थानों से प्राप्त विभिन्न मापदंडों पर आंकड़ों के स्रोत और जहां संभव हो आंकड़ों के तीसरे पक्ष के स्रोतों का भी उपयोग किया गया है। प्रकाशनों और उद्धृत आंकड़ों का पता लगाने के लिए स्कोपस (एल्सेवियर साइंस) और वेब ऑफ साइंस (क्लेरिनेट एनालिटिक्स) का उपयोग किया गया। पेटेंट वाले आंकड़ों का पता लगाने के लिए डरवेंट इनोवेशन का उपयोग किया गया। इन स्रोतों से प्राप्त आंकड़ों कोपारदर्शिता के लिए संस्थानों के साथ उनके इनपुट देने के प्रावधान सहितसाझा किया गया।

 

“इंडिया रैंकिंग 2020” के लिए "समग्र", श्रेणी-विशिष्ट और / या क्षेत्र-विशिष्ट रैंकिंग के तहत रैंकिंग के लिए कुल 3771 संस्थानों ने आवेदन किया। इन 3771 आवेदक संस्थानों द्वारा विभिन्न श्रेणियों/ क्षेत्रों में रैंकिंग के लिए 5805 आवेदन किए गए थे जिसमें 294 विश्वविद्यालय,1071 इंजीनियरिंग संस्थान, 630 प्रबंधन संस्थान, 334 फार्मेसी संस्थान, 97 कानून संस्थान, 118 चिकित्सा संस्थान, 48 वास्तुकला संस्थान और 1659 सामान्य डिग्री कॉलेज शामिल थे। इस वर्ष रैंकिंग प्रक्रिया में संस्थागत भागीदारी में उल्लेखनीय वृद्धि भारत में उच्च शैक्षणिक संस्थानों के बीच इसकी निष्पक्ष और पारदर्शी प्रक्रिया के रुप में बढ़ती मान्यता का संकेत है। इंडिया रैंकिंग के लिए आवेदकों की संख्या 2019 में 3127 से बढ़कर 2020 में 3771 हो गई है, जबकि 2019 में विभिन्न श्रेणियों में रैंकिंग के लिए आवेदनों की कुल संख्या 4873 से बढ़कर 2020 में 5805 हो गई है, यानी कुल 644 संस्थानों और कुल 932 आवेदकों की बढ़ोतरी हुई।

 

इस साल इंजीनियरिंग क्षेत्र में 200 संस्थानों, समग्र रूप सेविश्वविद्यालय और कॉलेज की श्रेणियों में 100 संस्थानों, प्रबंधन और फार्मेसी प्रत्येक में 75 संस्थानों, चिकित्सा में 40 संस्थानों, वास्तुकला और काननू प्रत्येक में 20 और पहली बार दंत चिकित्सा के क्षेत्र में 30 संस्थानों को रैंक प्रदान किया गया। समूह में भी कुछ अतिरिक्त रैंकिंग भी प्रदान की जा रही है। रैंकिंग हासिल संस्थानों के दिए गए आंकड़ों को गहन रुप से सत्यापित किया गया। रैंकिंग की इस पूरी प्रक्रिया में आंकड़ों की विसंगतियों, विरोधाभासों और मुख्य बिंदू इतर से आंकड़ों की जांच और पहचान की गई जिसके लिए अत्यधिक परिश्रम, धैर्य और चतुराई से निपटने की आवश्यकता होती है।

 

 

इंडिया रैंकिंग 2020 के शीर्ष 10 संस्थानों की सूची इस प्रकार है:

समग्र

संस्था का नाम  

रैंकिंग संख्या

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास

1

भारतीय विज्ञान संस्थान, बेंगलुरु

2

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली

3

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बॉम्बे

4

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर

 

5

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कानपुर

6

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, गुवाहाटी------7

7

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय,नई दिल्ली-----8

8

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रुड़की----9

9

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय,वाराणसी----10

10

     

 

विश्वविद्यालय

 

संस्था का नाम  

रैंकिंग संख्या

भारतीय विज्ञान संस्थान,बेंगलुरु

1

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय,नई दिल्ली

2

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय,वाराणसी

3

अमृता विश्व विद्यापीठम,कोयंबटूर

4

जादवपुर विश्वविद्यालय,कोलकाता

5

हैदराबाद विश्वविद्यालय

6

कलकत्ता विश्वविद्यालय,कोलकाता

7

मणिपाल उच्च शिक्षा अकादमी,मणिपाल

8

सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय,पुणे

9

जामियामिलियाइस्लामिया,नई दिल्ली

10

     

 

अभियांत्रिकी

 

संस्था का नाम  

रैंकिंग संख्या

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास

1

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली

2

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बॉम्बे

3

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कानपुर

4

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर

5

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रुड़की

6

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, गुवाहाटी

7

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, हैदराबाद

8

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, तिरुचिरापल्ली

9

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, इंदौर

10

     

 

प्रबंधन

 

संस्था का नाम  

रैंकिंग संख्या

भारतीय प्रबंधन संस्थान, अहमदाबाद

1

भारतीय प्रबंधन संस्थान, बैंगलोर

2

भारतीय प्रबंधन संस्थान, कलकत्ता

3

भारतीय प्रबंधन संस्थान, लखनऊ

4

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर

5

भारतीय प्रबंधन संस्थान, कोझीकोड

6

भारतीय प्रबंधन संस्थान, इंदौर

7

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली

8

ज़ेवियर लेबर रिलेशंस इंस्टीट्यूट (एक्सएलआरआई)

9

प्रबंधन विकास संस्थान, गुरुग्राम

10

     

 

 

महाविद्यालय

 

संस्था का नाम  

रैंकिंग संख्या

मिरांडा हाउस, दिल्ली

1

लेडी श्री राम कॉलेज फॉर विमेन, नई दिल्ली

2

हिंदू कॉलेज, दिल्ली

3

सेंट स्टीफन कॉलेज, दिल्ली

4

प्रेसीडेंसी कॉलेज, चेन्नई

5

लोयोला कॉलेज, चेन्नई

6

सेंट जेवियर कॉलेज, कोलकाता

7

रामकृष्ण मिशन विद्यामंदिरा, हावड़ा

8

हंस राज कॉलेज, दिल्ली

9

पीएसजीआर कृष्णमल कॉलेज फॉर विमेन, कोयंबटूर

10

     

 

 

 

फार्मेसी

संस्था का नाम  

रैंकिंग संख्या

जामिया हमदर्द, नई दिल्ली

1

पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़

2

हिंदू कॉलेज, दिल्ली नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मास्यूटिकल एजुकेशन एंड रिसर्च मोहाली

3

संस्थान रासायनिक प्रौद्योगिकी, मुंबई

4

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मास्यूटिकल एजुकेशन एंड रिसर्च हैदराबाद

5

बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस, पिलानी

6

मणिपाल कॉलेज ऑफ फार्मास्यूटिकल साइंसेज, उडुपी

7

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मास्यूटिकल एजुकेशन एंड रिसर्च अहमदाबाद

8

जेएसएस कॉलेज ऑफ फार्मेसी, ऊटी

9

पीएसजीआर कृष्णमल कॉलेज फॉर विमेन, कोयंबटूर जेएसएस कॉलेज ऑफ फार्मेसी, मैसूर

10

     

 

 

 

मेडिकल

संस्था का नाम  

रैंकिंग संख्या

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली

1

पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च, चंडीगढ़

2

क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, वेल्लोर

3

 

 

वास्तुकला

संस्था का नाम  

रैंकिंग संख्या

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर

1

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रुड़की

2

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कालीकट

3

 

 

कानून

संस्था का नाम  

रैंकिंग संख्या

नेशनल लॉ स्कूल ऑफ इंडिया यूनिवर्सिटी, बेंगलुरु

1

नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी, नई दिल्ली

2

नालसर यूनिवर्सिटी ऑफ लॉ, हैदराबाद

3

 

 

 

दंत चिकित्सा

संस्था का नाम  

रैंकिंग संख्या

मौलाना आजाद इंस्टीट्यूट ऑफ डेंटल साइंसेज, दिल्ली

1

मणिपाल कॉलेज ऑफ डेंटल साइंसेज, उडुपी

2

डॉ डी वाई पाटिल विद्यापीठ,पुणे

3

केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री ने आज नई दिल्ली में उच्च शैक्षणिक संस्थानों के लिए इंडिया रैंकिंग 2020 जारी की
Contents shared By educratsweb.com

if you have any information regarding Job, Study Material or any other information related to career. you can Post your article on our website. Click here to Register & Share your contents.
For Advertisment or any query email us at educratsweb@gmail.com

RELATED POST
1. Buy Book written by Munshi Premchand
2. संस्कृत भाषा का अनमोल खजाना
3. केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री ने आज नई दिल्ली में उच्च शैक्षणिक संस्थानों के लिए इंडिया रैंकिंग 2020 जारी की
4. स्‍वयं के 6 पाठ्यक्रम क्‍लास सेंट्रल की 2019 की 30 सर्वश्रेष्‍ठ ऑनलाइन पाठ्यक्रमों की सूची में शुमार
5. लॉकडाउन में परीक्षा
6. Kids Corner - Download Study Material
7. आप कभी भी कोइ कोइ भी चीज या वस्तुऐ खरीदने जाए तो इस पॉकेट बुक का उपयोग जरुर कीजिये - Must Download, Read and share this Book .....
8. डीओपीटी के ऑनलाइन कोरोना पाठ्यक्रम शुरू होने के दो सप्‍ताह के भीतर 2,90,000 से अधिक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम और 1,83,000 उपयोगकर्ता : डा. जितेन्‍द्र सिंह
9. UGC ने यूनिवर्सिटीज में एकेडमिक सेशन सितंबर में शुरू करने की सिफारिश की
10. Mumbai University Exam 2020: 1 से 30 जुलाई के बीच होंगी फाइनल ईयर की परीक्षाएं, स्टूडेंट्स चेक करें डिटेल
11. CBSE Dateseat 2020: सीबीएसई ने किया स्पष्ट, उचित समय पर जारी होगी नई डेटशीट
12. UP के छात्रों के लिए बड़ी खबर, दूरदर्शन पर चलेंगी 10वीं और 12वीं की कक्षाएं
13. CBSE Board Exam 2020: सीबीएसई ने कक्षा 10वीं और 12वीं एग्जाम 2020 पर दिया अपडेट, 29 विषयों की होगी परीक्षा
14. छात्रों को राहत पहुंचाने के लिए लॉन्च किया गया ये पोर्टल,लॉकडाउन में मिलेगी हर संभव मदद
15. केंद्रीय विद्यालय संगठन ने कोविड-19 के खिलाफ चल रही लड़ाई में योगदान देने के लिए कई कदम उठाए हैं
16. Domicile Law 2020 for Jammu and kashmir
17. Download Question Papers for JHARKHAND ACADEMIC COUNCIL, RANCHI Examinations
18. पटना शहर के 10 ऐसे स्कूल जिनकी शिक्षा का स्तर है काफी ऊँचा
19. भारत कि प्रमुख बहुउद्देशीय परियोजनाएं
20. जयशंकर प्रसाद(1889-1937 ई.)
21. गोस्वामी तुलसीदास (1532-1623ई.)
22. सूर्यकांत त्रिपाठी निराला(1896-1961 ई.)
23. भारतेंदु हरिश्चंद्र (1850-1885 ई.)
24. काबुलीवाला रवीन्द्रनाथ ठाकुर
25. मैथिलीशरण गुप्त(1886-1964 ई.)
26. राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस वर्ष 2019
27. सूरदास (1483-1563 ई. अनुमानित)
28. सच्चिदानंद हीरानंद वात्स्यायन अज्ञेय(1911-1987 ई.)
29. सुमित्रानंदन पंत (1900-1977 ई.)
30. हिन्दी गद्य साहित्य के प्रमुख साहित्यकार | नौवीं शताब्दी से लेकर आज तक के प्रमुख हिन्दी कवि | संस्कृत साहित्यकार
31. वाल्मीकि रामायण
32. कालिदास
33. Premchand (1880-1936)
34. एग्रीकल्चर ऑफिसर के पदों पर भर्तियां
35. CCC Online Test 2019 in Hindi Paper
36. रामधारी सिंह दिनकर (1908-1974 ई.)
37. Rajasthan State Open School
38. वेदव्यास
39. जयदेव गीत गोविन्द रतिमंजरी
We would love to hear your thoughts, concerns or problems with anything so we can improve our website educratsweb.com ! visit https://forms.gle/jDz4fFqXuvSfQmUC9 and submit your valuable feedback.
Save this page as PDF | Recommend to your Friends

http://educratsweb(dot)com http://educratsweb.com/content.php?id=2588 http://educratsweb.com educratsweb.com educratsweb