शिक्षक बनने को B.Ed-D.EL.Ed की जगह अब आईटीईपी कोर्स, फिलहाल बीएड-डीएलएड चलता रहेगा

सरकारी स्कूल में अध्यापक बनना चाहते हैं तो अब आपको बीएड या डीएलएड जैसे कोर्स करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद(एनसीटीई) ने दो नए कोर्स लॉन्च किए हैं। इंटीग्रेटड टीचर एजुकेशन प्रोगाम (आईटीईपी) कोर्स चार साल का होगा। एनसीटीई ने एक नोटिफिकेशन जारी कर सत्र 2019-23 के लिए आईटीईपी कोर्स संचालित करने के इच्छुक शिक्षण संस्थानों से ऑनलाइन आवेदन मंगाए हैं। संस्थान 3 दिसंबर से लेकर 31 दिसंबर तक आवेदन कर सकते हैं। 

अभी तक प्री प्राइमरी से प्राइमरी स्तर तक की कक्षाओं में पढ़ाने के लिए डीएलएड जरूरी था। वहीं, अपर प्राइमरी से सेकेंडरी स्तर तक केो स्कूलों में अध्यापन कार्य के लिए बीएड करना अनिवार्य था। लेकिन अब एनसीटीई चार वर्षीय इंटिग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम(आईटीईपी) शुरू करने जा रहा है। इसका मतलब यह है कि प्राइमरी या फिर अपर प्राइमरी और इंटरमीडिएट में पढ़ाने के लिए अभ्यर्थियों को अब बीटीसी, डीएसएड या फिर बीएड का कोर्स नहीं करना पड़ेगा।

अगर कैंडिडेट ने चार साल का इंटीग्रेटेड टीचर एजूकेशन प्रोग्राम पूरा कर लिया है तो उसके लिए टीईटी, एसटीईटी या स्टेट लेवल के अन्य टेस्ट क्लियर करके टीचर बनने का रास्ता साफ हो जाएगा। 

http://ncte-india.org

 

दो आईटीईपी कोर्स शुरू होंगे

एक आईटीईपी प्री प्राइमरी से प्राइमरी स्तर तक पढ़ाने के लिए होगा, जबकि दूसरा आईटीईपी कोर्स अपर प्राइमरी से सेकेंडरी स्तर तक पढ़ाने के लिए होगा। दोनों ही पाठ्यक्रमों की अवधि चार वर्ष की होगी और इनमें 12वीं के बाद दाखिला मिलेगा। इन पाठ्यक्रमों के लिए ग्रेजुएशन की जरूरत नहीं होगी। 

राज्य सरकार करेगी फैसला कि दाखिला एंट्रेंस टेस्ट से होगा या मेरिट के आधार पर 

कोई भी कॉलेज, जिसमें बीएड के साथ एमएड या बीए, बीएससी, बीकॉम जैसे पाठ्यक्रम पढ़ाए जाते हों (कंपोजिट कॉलेज), वे आईटीईपी कोर्स संचालित करने की मान्यता ले सकते हैं। अभी तक डीएलएड की संबद्धता राज्य सरकार के शिक्षा विभाग और बीएड की संबद्धता संबंधित विश्वविद्यालय से मिलती थी लेकिन इन दोनों पाठ्यक्रमों की संबद्धता सीधे विश्वविद्यालय से मिलेगी और मान्यता एनसीटीई की रहेगी। कोर्स में एडमिशन एंट्रेंस टेस्ट या फिर मेरिट के आधार पर होगा, इस बात का फैसला संबंधित राज्य सरकारें करेंगी। .

प्रत्येक कॉलेज में मिलेंगी 50 सीटें

एनसीटीई की ओर से जारी अधिसूचना के मुताबिक आईटीईपी के लिए एक यूनिट 50 सीटों की होगी। बीएड-एमएड वाले संस्थान को इस कोर्स के लिए 500 वर्ग मीटर भूमि और 400 वर्ग मीटर बिल्डिंग तैयार करनी होगी। किसी नए संस्थान को यह कोर्स संचालित करने के लिए बीए, बीएससी, बीकॉम जैसे कोर्स के साथ यह कोर्स मिलेगा। इसके लिए उन्हें कम से कम 3000 वर्ग मीटर भूमि खरीदनी होगी। यह मानक केवल 50 सीटों के लिए है। एक कॉलेज इससे अधिक सीटें भी ले सकता है, जिसके हिसाब से भूमि और इमारत की सीमा बढ़ जाएगी।

फिलहाल बीएड-डीएलएड चलता रहेगा

एनसीटीई ने जो दो नए पाठ्यक्रम लांच किए हैं, उनकी संबद्धता सत्र 2019-20 से मिलेगी। लिहाजा, फिलहाल दो वर्षीय बीएड और एक वर्षीय डीएलएड कोर्स चलता रहेगा। अभी एनसीटीई ने इन्हें बंद करने की कोई घोषणा नहीं की है। 

News Source https://www.livehindustan.com/career/story-want-to-become-govt-school-teacher-itep-course-of-instead-of-b-ed-d-el-edcourse-2287195.html

Contents shared By educratsweb.com
if you have any information regarding Job, Study Material or any other information related to career. you can Post your article on our website. Click here to Register & Share your contents.
For Advertisment or any query email us at bharatpages.in@gmail.com

RELATED POST
  1. संविदाकर्मियों के लिए उम्मीद की किरण, दशहरे तक मिल सकता है तोहफ़ा
  2. बिहार के संविदा कर्मचारियों को अब यात्रा व्यय भी दिया जाएगा
  3. बिहार संविदा कर्मियों की नहीं होगी छंटनी, जरूरत न रहने पर दूसरे विभाग में अब समायोजित होंगे
  4. Simba Movie trailer Download | Talented India 
  5. List of Holidays - 2019: Gazetted Leave - Central Government Employees Calendar
  6. Fake board issuing Class XII passed certificate to students without appearing exam - SSUM
  7. मोदी सरकार बेरोजगारों को देगी सैलरी, इन देशों में पहले से है लागू
  8. RRB Group C: Link for refund active, websites to claim
  9. Share your ideas for PM Narendra Modi 51st Mann Ki Baat on 30th December 2018
  10. Chief Minister, Himachal Pradesh Launches Mobile App for Drug Free Himachal
  11. Amazon Great Indian Festival Diwali Special sale from 2nd-5th Nov
  12. चुनरी ओढ़ने की ये स्टाइल दुल्हन को बनाएगी अलग
  13. First arrest under GST by Karnataka tax department; trader held for issuing bogus invoices
  14. WBCHSE Routine 2019 | WB Higher Secondary Date Sheet 2019
  15. बिहार के संविदा कर्मचारी 15 दिन से अधिक गैरहाजिर तो जाएगी नौकरी
  16. Govt proposes to merge Dena Bank, Vijaya Bank and Bank of Baroda
  17. Government approved 10% Reservation for Economically Backwards
  18. Railways to recruit 2.3 lakh people over next two years
  19. केन्द्र का 3.7 लाख नई नौकरियों का दावा
  20. UPSC allows withdrawal of applications
  21. 4k9cvH2W7Tgसिर्फ एक बार इस मंत्र को बोलकर सब कार्य सिद्ध होता है | SHABAR MANTRA -qVnYJ168Qoहनुमानजी से अपने मन की बात कहने का शक्तिशाली मंत्र जो करता है आपकी रक्षा ॥ श्री हनुमान शाबर मंत्र ॥
    YCIH8PuJK34गुरु गोरखनाथ जी की गुप्त सिद्ध शाबर मंत्र GURU GORAKHNATH JI KI GUPT SADHANA BY SUNNY NATH SsmiGAM49_Eअद्भुत कुण्डलिनी जागरण की शाबर मंत्र विद्या by kamrup desh fBDYk9SuYnoजितिया व्रत कथा एवम पूजन विधि। जीवितपुत्रिका पर्व की महागाथा हिन्दी में ।Jivitputrika 2 october 2018
    mOgpaUqPVr8चिल्ही सियारो की कथा /जीवित्पुत्रिका (जितिया /जिउतिया) व्रत कथा // Jivitputrika Vrat Katha / Jitiya EW7u1mW59mQजितिया व्रत 21 सितम्बर को है या फिर 22 सितम्बर को | Jitiya Vrat 2019 Date 21 Sept or 22 Sept kab hai ueNkYn4gCEEJitiya (जितिया / जिउतिया) व्रत कथा ॥ #चिल्ही #सियारो की कथा / Chilhi siyaro ki katha / Jitiya vart k
    E1dw71_hYnQजीवित पुत्रिका व्रत 2019 में 21 या 22 सितम्बर कब है, पूजा और पारण की तिथि, शुभ मुहूर्त, नियम क्या है MusrvDA-S74Jivitputrika Vrat Katha in Hindi - जीवित्पुत्रिका व्रत की कहानी sCMsr78ljpUइसीलिए कोई भी बह्माजी की पुजा नहीं करता है।
    hcyUebSh1Y8क्यों स्वयं भगवान राम को आना पड़ा अदालत में गवाही देने | Lord Ram Moral Story | (सत्य घटना) w_Ih9MqcgR4Ram Banwas ! राम वनवास ! Ram Banwas Story ! देवराज इंद्रा श्री राम को बन मैं मिलने आये ! Ramayan ! D4K6TofPlzgराम ने हनुमान को क्यूँ दिया मृत्यु दण्ड | Why Ram Issued Death Sentence To Hanuman ?
    sxY5hy08NZgVishwakarma Puja Vidhi, विश्वकर्मा पूजा विधि | ऐसे करें भगवान विश्वकर्मा की पूजा | Boldsky
Save this page as PDF | Recommend to your Friends
http://educratsweb(dot)com http://educratsweb.com/content.php?id=260 http://educratsweb.com educratsweb.com educratsweb