educratsweb logo


भारत मौसम विज्ञान विभाग ने मई 2020 के लिए मौसम की स्थिति और उसका सत्यापन और अगले चार सप्ताह (05 जून से 02 जुलाई 2020) के लिए परिदृश्‍य को जारी किया

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने मई 2020 के लिए मौसम की स्थिति एवं उसका सत्‍यापन और अगले चार सप्‍ताह (05 जून से 02 जुलाई 2020) के लिए परिदृश्‍य को जारी कर दिया है। उसके अनुसार:

 

मई 2020 की महत्‍वपूर्ण विशेषताएं

सुपर चक्रवाती तूफान 'अम्‍फान':

 

  • सुपर चक्रवाती तूफान (एसयूसीएस) 'अम्‍फान' की उत्पत्ति एक कम दबाव वाले क्षेत्र (एलपीए) से हुई जो दक्षिण-अंडमान सागर और इससे सटे दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी (बीओबी) में 1 से 5 मई के दौरान भूमध्‍यरेखीय पूर्वी लहर गर्त के समीप पैदा हुआ था। हालांकि एलपीए 6 मई को शिथिल पड़ गया था लेकिन 6 मई - 12 मई के दौरान इसके अवशेष परिसंचरण दक्षिण अंडमान सागर और इससे सटे दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी की ओर हो गया। इसके प्रभाव में 13 मई को सुबह (0830 बजे आईएसटी) दक्षिण पूर्व अंडमान और उससे सटे दक्षिण अंडमान सागर में एक नया एलपीए बन गया।
  • वह अनुकूल पर्यावरणीय परिस्थितियों में 16 मई की सुबह (0530 बजे आईएसटी) दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी के डिप्रेशन (डी) के रूप में केंद्रित हुआ और उसी दिन दोपहर (1430 बजे आईएसटी) तक वह भारी डिप्रेशन (डीडी) में बदल गया। उसके बाद वह उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ा और 16 मई 2020 की शाम (1730 बजे आईएसटी)  तक  दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवाती तूफान 'अम्‍फान' के रूप में तेज हो गया। फिर वह करीब उत्तर की ओर बढ़ते हुए 17 मई की सुबह (0830 बजे आईएसटी) दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक भीषण चक्रवाती तूफान (एससीएस) के रूप में बदल गया। बाद के चौबीस घंटों के दौरान उसकी तीव्रता काफी अधिक हो गई और 17 मई की दोपहर (1430 बजे आईएसटी) तक यह एक बहुत ही गंभीर चक्रवाती तूफान (वीएससीए) में बदल गया। उसके बाद 18 मई को (0230 बजे आईएसटी) के शुरुआती घंटों में वह एक बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान (ईएससीएस) के रूप में और 18 मई 2020 की दोपहर (1130 बजे आईएसटी) के आसपास एक सुपर चक्रवाती तूफान (एसयूसीए) के रूप में परिवर्तित हो गया। यह 19 मई की दोपहर (1130 बजे आईएसटी) के आसपास पश्चिम मध्‍य बंगाल की खाड़ी के ऊपर ईएससीएस के रूप में कमजोर पड़ने से पहले लगभग 24 घंटे (18 और 19 मई को 1130 बजे आईएसटी) के लिए पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एसयूसीएस की तीव्रता बनाए रखा। इसके बाद, यह थोड़ा कमजोर हो गया और 20 मई के 1530 बजे आईएसटी से 1730 बजे आईएसटी के दौरान 155 से 165 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम रफ्तार के साथ वीएससीएस के रूप में पश्चिम बंगाल- बांग्लादेश के तटों पर 21.65 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश और 88.3 डिग्री पूर्वी देशांतर के समीप सुंदरबन को पार कर गया। बाद में वह उत्तर-उत्तर पूर्व की ओर बढ़ते हुए 20 मई को मध्यरात्रि (2330 बजे आईएसटी) के आसपास बांग्लादेश और उससे सटे पश्चिम बंगाल के समीप एससीएस के रूप में कमजोर पड़ गया। फिर वह 21 मई को तड़के (0230 बजे आईएसटी) बांग्लादेश में डीडी के रूप में कमजोर हो गया और उसी दिन शाम (1730 बजे आईएसटी)  तक डिप्रेशन के रूप में उत्तर बांग्लादेश में मौजूद रहा। 16 मई से 21 मई के दौरान किया गया निरीक्षण संलग्‍नक 1 में प्रस्तुत किया गया है।
  • इस प्रणाली के कारण 20 मई को तटीय ओडिशा और गंगा के तटवर्ती पश्चिम बंगाल में कुछ स्थानों पर भारी वर्षा हुई, गंगा के तटवर्ती पश्चिम बंगाल एवं इससे सटे बांग्लादेश, असम, मेघालय और अरुणाचल प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर 21 मई को भारी वर्षा हुई। जबकि 22 मई को असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम, नागालैंड, मणिपुर और मिजोरम में अलग-अलग स्‍थानों पर भारी वर्षा हुई। 20 मई को कोलकाता (दम दम) में 1855 बजे आईएसटी पर 130 किमी प्रति घंटे और कोलकाता (अलीपुर) में 1752 बजे आईएसटी पर 112 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की सूचना मिली। एसीडब्ल्यूसी कोलकाता द्वारा किए गए चक्रवात के बाद भूस्‍खलन के सर्वेक्षण के अनुसार, पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों के निचले इलाकों में 15 फीट ऊंची ज्वारीय लहरें दिखीं।
  • 24, 48 और 72 घंटे के लिए भूस्‍खलन संभावित जगहों के लिए पूर्वानुमान त्रुटियां क्रमश: 5.5, 11, और 37.4 किमी के लिए थीं। जबकि वर्ष 2015-19 के दौरान लंबी अवधि की औसत त्रुटियां क्रमश: 44.7, 69.4 और 109.3 किमी की थीं। 24, 48 और 72 घंटे की अवधि के लिए भूस्‍खलन समय के पूर्वानुमान संबंधी त्रुटियां 0.5, 0, और 2.0 घंटे थी जबकि वर्ष 2015-19 के दौरान एलपीए क्रमश: 3.0, 5.4 और 8.6 घंटों की थीं। 24, 48 और 72 घंटे की अवधि के लिए ट्रैक पूर्वानुमान त्रुटियां क्रमशः 59.4, 59.9 और 61.0 किमी की थीं जबकि एलपीए त्रुटियां क्रमशः 80.6, 125.5 और 171.2 किमी थीं। ट्रैक पूर्वानुमान की त्रुटियां असाधारण रूप से पिछले पांच वर्षों की तुलना में सभी अवधियों के लिए औसत त्रुटियों से कम थीं। इसी प्रकार ट्रैक पूर्वानुमान कौशल 24 घंटे से अधिक की सभी अवधि के लिए पिछले पांच वर्षों के औसत कौशल से अधिक थी। इसके अलावा, सभी तीन प्रकार के मौसम जैसे भारी वर्षा, आंधी या हवा का झोंका और तूफान की भविष्यवाणी अच्छी तरह से की  गई। इस दौरान 3 सूचनात्मक संदेशों के साथ-साथ कुल 48 राष्ट्रीय बुलेटिन जारी किए गए।

 

दक्षिण पश्चिम मॉनसून 2020 की प्रगति:

 

     मॉनसून की शुरुआत के सभी मानदंड 17 मई 2020 को निकोबार द्वीप समूह पर पूरे हो गए और भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने बंगाल की खाड़ी, निकोबार द्वीप समूह और अंडमान सागर के कुछ हिस्सों में मॉनसून की शुरुआत की घोषणा की है। मॉनसून की उत्तरी सीमा (एनएलएम) 17 मई 2020 को 5 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 85 डिग्री पूर्वी देशांतर,  8 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 90 डिग्री पूर्वी देशांतर, कार निकोबार, 11 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 95 डिग्री पूर्वी देशांतर से होकर गुजरी। उसके बाद एक सप्ताह से अधिक समय के बाद उसमें प्रगति हुई। तदनुसार 27 मई 2020 को दक्षिण पश्चिम मॉनसून दक्षिण बंगाल की खाड़ी के कुछ अन्‍य हिस्सों, अंडमान सागर और अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह के अधिकांश हिस्से में प्रगति देखी गई। उस दिन एनएलएम 5 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 82 डिग्री पूर्वी देशांतर, 7 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 86 डिग्री पूर्वी देशांतर, 10 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 90 डिग्री पूर्वी देशांतर, पोर्ट ब्लेयर और 15 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 97 डिग्री पूर्वी देशांतर से होकर गुजरी। आगे चलकर 28 मई 2020 को यह मालदीव- कोमोरिन क्षेत्र के कुछ हिस्सों, दक्षिण्‍ बंगाल की खाड़ी के कुछ अन्‍य हिस्सों, अंडमान सागर के शेष हिस्‍सों और अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह के शेष हिस्सों में चला गया। उस दिन एनएलएम 5 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 72 डिग्री पूर्वी देशांतर, 6 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 79 डिग्री पूर्वी देशांतर, 8 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 86 डिग्री पूर्वी देशांतर, 11 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 90 डिग्री पूर्वी देशांतर, 14 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 93 डिग्री पूर्वी देशांतर और 16 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 95 डिग्री पूर्वी देशांतर से होकर गुजरी। बाद में यह 29 मई 2020 को दक्षिण पश्चिम और दक्षिण पूर्व अरब सागर के कुछ हिस्सों और मालदीव कोमोरिन क्षेत्र के कुछ हिस्‍सों में फैल गया। उस दिन एनएलएम 7 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 50 डिग्री पूर्वी देशांतर, 7 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 60 डिग्री पूर्वी देशांतर, 7 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 70 डिग्री पूर्वी देशांतर, 6 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 75 डिग्री पूर्वी देशांतर, 6 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 79 डिग्री पूर्वी देशांतर, 8 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 86 डिग्री पूर्वी देशांतर, 11 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 90 डिग्री पूर्वी देशांतर, 14 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 93 डिग्री पूर्वी देशांतर और 16 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश/ 95 डिग्री पूर्वी देशांतर से होकर गुजरी। इसे संलग्‍नक 2 में दर्शाया गया है।

 

(विस्‍तृत जानकारी एवं ग्राफिक प्रस्‍तुति के लिए कृपया संलग्‍नक देखें।)

 

कृपया अद़यतन जानकारी के लिए www.imd.gov.in पर जाएं।

 

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने मई 2020 के लिए मौसम की स्थिति और उसका सत्यापन और अगले चार सप्ताह (05 जून से 02 जुलाई 2020) के लिए परिदृश्‍य को जारी किया
Contents shared By educratsweb.com

भारत के प्रमुख तीर्थ – 51 शक्ति पीठ, 12 ज्योतिर्लिंग, 7 सप्तपुरी और 4 धाम #सावन स्पेशल भजन - Published on Saturday July 4 2020
if you have any information regarding Job, Study Material or any other information related to career. you can Post your article on our website. Click here to Register & Share your contents.
For Advertisment or any query email us at educratsweb@gmail.com

RELATED POST
1 संविदाकर्मियों के लिए उम्मीद की किरण, दशहरे तक मिल सकता है तोहफ़ा
2 बिहार संविदा कर्मियों की नहीं होगी छंटनी, जरूरत न रहने पर दूसरे विभाग में अब समायोजित होंगे
3 चुनरी ओढ़ने की ये स्टाइल दुल्हन को बनाएगी अलग
4 अब लगातार तीन घंटे एक ही पाली में होगा यूजीसी नेट एग्जाम । एक मार्च से होंगे आवेदन शुरु । नया सिलेबस एजेंसी की वेबसाईट पर उपलब्ध
5 Uttar Pradesh (UP) Government Calendar 2019 & Govt Holidays
6 बिहार विधानसभा में नौकरी दिलाने के नाम पर खेल, सचिवालय थाने में प्राथमिकी
7 आरबीआई दे रहा नौकरी का सुनहरा मौका
8 सिम कार्ड या बैंक खाते के लिए आधार नंबर जरूरी नहीं, जबरदस्ती मांगने पर 10 हजार रुपये तक का जुर्माना
9 शिक्षक बनने को B.Ed-D.EL.Ed की जगह अब आईटीईपी कोर्स, फिलहाल बीएड-डीएलएड चलता रहेगा
10 RRB JE Recruitment 2019: रेलवे में निकली 14000 से ज्यादा भर्तियां, जानें सभी जरूरी बातें
11 सीएम बनते ही एक्शन में कमलनाथ, किसानों का 2 लाख तक का कर्जा किया माफ
12 आईएएस के साक्षात्कार में फेल होने पर भी नौकरी!
13 पांचों राज्यों में कौन सा एग्जिट पोल, किसके हक में? एक मिनट में पूरा खेल समझ जाएंगे
14 मोदी सरकार बेरोजगारों को देगी सैलरी, इन देशों में पहले से है लागू
15 प्रश्नपत्र का पैकेट खुले होने पर हंगामा – कंकड़बाग केन्द्र पर एक्साइज दरोगा की परीक्षा का मामला
16 BPSC ने गलत प्रश्न पर जताया खेद, सरकार कराएगी जांच
17
18 शिवराज का मप्र की राजनीति से अध्याय खत्म
19 यूपीः समाजवादी पेंशन योजना में 10.80 अरब रुपये का घोटाला, मरे लोगों दी गई पेंशन
20 CG Vyapam Recruitment 2019 : कई पदों पर भर्तियां
21 बिहार में 15 सूत्री मांगो को लेकर आंगनबाड़ी सेविका – सहायिका का हड़ताल
22 MHA Order Dt. 1.5.2020 to extend Lockdown period for 2 weeks w.e.f. 4.5.2020 with new guidelines
23 योगी सरकार ने राज्यों के बाहर फंसे लोगों को प्रदेश वापसी के लिए jansunwai.up.nic.in पोर्टल की शुरुआत की है
24 SC का फैसला, अयोध्या में विवादित स्थल पर बनेगा राम मंदिर, मुस्लिम पक्ष को अलग जमीन
25 >Mann Ki Baat Highlights: PM मोदी को उम्मीद- अगले 'मन की बात' तक दुनिया में कोरोना से राहत की ख़बर आए
26 राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन उत्तर प्रदेश भर्ती 2020
27 उन्नत भारत अभियान योजना 2020 का दूसरा संस्करण
28 शिवराज सरकार ने 400 संविदा कर्मचारियों को हटाया, अब रोटी के पड़े लाले
29 कोरोना संकट के बीच केंद्र सरकार का फैसला जुलाई 2021 तक नहीं बढ़ेगा केंद्रीय कर्मचारियों का डीए
30 हाउसिंग अफेयर्स रियल एस्टेट पोर्टल 2020
31 केंद्र ने COVID-19 महामारी के चलते देश में प्रवासी मज़दूरों सहित अन्य फंसे हुए लोगों के अंतर-राज्य स्थानांतरण को सुगम बनाया
32 COVID-19: Paytm ने अपने यूजर्स को दिया बड़ा तोहफा, अब मिलेंगी ये दो सर्विस
33 वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान विभाग, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार के उद्यम एनआरडीसी ने भारतीय नौसेना द्वारा विकसित नवरक्षक पीपीई सूट के विनिर्माण की तकनीकी जानकारी का लाइसेंस पांच सूक्ष्म व लघु उद्यमों को हस्तांतरित किया
34 सरकारी कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की उम्र घटाने की दिशा में न तो कोई कदम उठाया गया और न ही सरकार में किसी स्तर पर ऐसे किसी प्रस्ताव पर विचार-विमर्श किया गया : डॉ. जितेंद्र सिंह
35 Digital Marketing Kya Hai
36 Finance Minister announces Government Reforms and Enablers across Seven Sectors under Aatma Nirbhar Bharat Abhiyaan
37 इंडियन एसोसिएशन फॉर द कल्टीवेशन ऑफ साइंस (आईएसीएस), कोलकाता 7वें स्थान पर, जवाहर लाल नेहरू सेंटर फॉर एडवांस्ड साईटिफिक रिसर्च (जेएनसीएएसआर), बंगलुरु 14वें स्थान पर एवं एस एन बोस नेशनल सेंटर फॉर बेसिक साईंसेज, कोलकाता 30वें स्थान पर हैं
38 महान पुरातत्ववेत्ता प्रो. बी बी लाल के शताब्दी वर्ष के अवसर पर केंद्रीय संस्कृति मंत्री ने आज नई दिल्ली में ई-बुक ‘ प्रो. बी बी लाल-इंडिया रिडिस्कवर्ड‘ का विमोचन किया
39 कोविड-19 संक्रमण के खिलाफ राष्‍ट्र के संघर्ष में लॉकडाउन को लेकर प्रधानमंत्री का राष्‍ट्र के नाम संदेश।
40 Corona Effect : रिटायर होने वाले संविदा कर्मचारी नहीं आना चाहते काम पर वापस, मात्र इतने लोगों ने भरी हामी
41 PM to address the nation on 14th April 2020
42 प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने ‘कोविड-19’ से निपटने हेतु आगे की योजना बनाने के लिए मुख्यमंत्रियों के साथ विचार-विमर्श ;
43 Facts About Germany in Hindi
44 सचिन तेंदुलकर के बारे में जानकारी
45 SEO Kya Hota Hai
46 Digital Marketing Kya Hai
47 सीएसआईआर अनुसंधान एवं विकास आधारित तकनीकी समाधानों और उत्पादों के अलावा, कोविड-19 की गम्भीरता को कम करने के लिए हैंड सैनिटाइजर, साबुन और कीटाणुनाशक प्रदान करके तत्काल राहत प्रदान कर रहा है
48 PM मोदी का राष्ट्र को संबोधन: 3 मई तक के लिए बढ़ाया जा रहा लॉकडाउन, अगले एक सप्ताह में कठोरता और ज्यादा बढ़ाई जाएगी
49 Digital Marketing Kya Hai
50 प्रधानमंत्री ने सिविल सेवा दिवस पर सिविल सेवकों को बधाई दी और सरदार पटेल को श्रद्धांजलि अर्पित की
We would love to hear your thoughts, concerns or problems with anything so we can improve our website educratsweb.com ! visit https://forms.gle/jDz4fFqXuvSfQmUC9 and submit your valuable feedback.
Save this page as PDF | Recommend to your Friends

http://educratsweb(dot)com http://educratsweb.com/content.php?id=2624 http://educratsweb.com educratsweb.com educratsweb