educratsweb logo


घूमना एक शौक भी है और जुनून भी | कुछ लोगों को प्रकृति के नज़ारे पसंद होते हैं तो किसी को रोमांच | कोई अलग-अलग स्वाद का दीवाना होता है तो कोई ऐतिहासिक इमारतों ( Best Historic Places In Indore) का | किसी को मंदिरों के दर्शन करना अच्छा लगता है तो कुछ पर्यटक (Traveller) ऐसे भी होते हैं, जो एक ही डेस्टिनेशन में ये सारी खूबियां चाहते हैं | यदि आप भी किसी ऐसी ही पर्यटन स्थल (Tourist Places) की तलाश कर रहे हैं तो इंडिया के ह्रदय में मौजूद इंदौर आपके पास बेस्ट डेस्टिनेशन (Best Destination In Indore) है  क्योंकि यहां संस्कृति (culture), इतिहास (history), प्राकृतिक सुंदरता (natural beauty ), पौराणिक मंदिर (ancient temple ), बाजार और बेहद स्वादिष्ट और वैरायटी फ़ूड हैं |हम आपको बताते हैं इंदौर की वे टूरिस्ट प्लेसेस (Tourist Places In Indore), जिन्हें देखकर आप भी वाह-वाह कह उठेंगे|

किसी नारी के लिए मां बनना उसके जीवन की सबसे बड़ी ख़ुशी होती है, इसके लिए वह पूजा-पाठ उपवास सब करती है| यदि इन सबके बाद भी उसकी यह अभिलाषा पूरी नहीं होती है और दुनिया उसके नाम के साथ बांझ शब्द जोड़ देती है तो उसके मन की दशा उसकी पीड़ा का हम अहसास भी नहीं कर सकते हैं| ऐसा ही राजस्थान का भी एक दुखी परिवार था, जो हर तरह की दवा-दुआ और इलाज के बावजूद संतान की किलकारी सुनने के लिए तरस रहा था| उसने खजराना के इस विघ्नहर्ता श्रीगणेश की महिमा सुनी तो वे भी इंदौर आए और संतान की चाह में मूर्ति के पीछे मान्यता अनुसार उल्टा स्वस्तिक बनाया | यह खजराना गणेश का चमत्कार ही था कि कई साल से डॉक्टर,वैद्य और हकीम से उपचार करवाने और कई प्रकार के व्रत के बावजूद जो गोद सूनी थी थी, वह इंदौर खजराना गणेश मंदिर में आकर भर गई | ऐसे न जाने कितने किस्से हैं, जो यहां आने वाले भक्त सुनाते हैं | तो आइये आज हम आपको ऐसे ही चमत्कारी खजराना गणेश के दर्शन करवाते हैं |

इंदौर खजराना गणेश मंदिर ( Indore Khajrana Ganesh Temple )

1735 में अहिल्याबाई होलकर द्वारा निर्मित करवाया गया इंदौर खजराना गणेश मंदिर देश ही नहीं विदेश में भी लोकप्रिय है| भगवान गणेश की यह मूर्ति स्वयं प्रकट हुई है| यहां हर दिन लगभग 10000 भक्त दर्शन के लिए आते हैं |
 

जानिए खजराना श्री गणेश के चमत्कार की कहानी, उनके भक्तों की ज़ुबानी | ( Short Story Of Khajrana Tample In Indore)

 

 

इंदौर के खजराना गणेश मंदिर का इतिहास ( Ganesh Temple History )

इंदौर के खजराना गणेश मंदिर के बारे में एक कथा काफी प्रचलित है कि सन 1735 के करीब पंडित मंगल भट्ट के स्वप्न में गणेश जी आए थे और उन्होंने इस स्थान से प्रकट होकर जनता का उद्धार करने की बात कही थी। इसके बाद एक कलश में श्री गणेश प्रकट हुए और उनका मंदिर पूर्ण विधि-विधान से स्थापित किया गया। यह निर्माण अहिल्याबाई होलकर के शासनकाल में करवाया गया | तब से यहां देश ही नहीं विदेश से भी लाखों श्रद्धालु अपना शीश नवाने आते रहे हैं।

इंदौर का खजराना गणेश मंदिर मनोकामनापूर्ण करने वाला मंदिर है

सिंदूर से निर्मित भगवान मंगलमूर्ति के खजराना मंदिर में जो भक्त अपनी मनोकामना की पूर्ति के लिए गणेशजी की पीठ पर उल्टा स्वास्तिक बनाता है, उसकी मनोकामना ज़रूर पूर्ण होती है। यही कारण है कि यहां हमेशा भक्तों की भीड़ लगी रहती है| इतना ही नहीं मनोकामना पूर्ण होने के पश्चात भक्त सीधा स्वास्तिक बनाने यहां पुनःआते हैं। यहां कलावा बांधने की भी परंपरा है। इच्छा पूर्ण होने पर वह कलावा खोल दिया जाता है।

इंदौर खजराना गणेश मंदिर का मोहक श्रृंगार

इंदौर खजराना गणेश मंदिर में प्रत्येक बुधवार और विशेष उत्सवों के समय भगवान मंगलमूर्ति का विशेष और मोहक श्रृंगार किया जाता है, जिसे देख पर्यटक एवं भक्त मंत्रमुग्ध हो जाते हैं | खजराना मंदिर में बजरंगबली, माता रानी, श्री शनिदेव और सांईं बाबा के साथ अनेक देवी-देवताओं के 25 से ज्यादा सुन्दर मंदिर हैं |

सुविधाएं

यहां आने वाले भक्तों को किसी तरह की असुविधा न हो साथ ही वे इतने बड़े प्रांगण की हर जगह से खजराना गणेश के दर्शन कर सकें, इसके लिए संपूर्ण मंदिर प्रांगण में एलईडी स्क्रीन लगाई गई है | बड़ी पार्किंग, प्रसाद , बाज़ार, आरओ का शुद्ध पानी, पूछताछ और सुरक्षा गार्ड के साथ यहां अनेक सुविधाएं उपलब्ध हैं, जिससे यहां आने वाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की असुविधा न हो |

कब जाएं

वैसे तो खजराना मंदिर की भव्यता और खूबसूरती इतनी मनमोहक और आकर्षक हैं कि आप कभी भी जाएं, पर दर्शन करने का सर्वश्रेष्ठ समय शाम का है”| इस समय मंदिर की आरती, सजावट  और झिलमिलाती रोशनी बेहद आकर्षक होती है |

Indore Tourism – खजराना गणेश मंदिर
Contents shared By Talented India

if you have any information regarding Job, Study Material or any other information related to career. you can Post your article on our website. Click here to Register & Share your contents.
For Advertisment or any query email us at educratsweb@gmail.com

RELATED POST
1. Indore Tourism – खजराना गणेश मंदिर
2. कुम्भ के लिये अपनी योजना बनायें
3. कुम्भ 2019 के मुख्य आकर्षण
4. Bangkok Destination Guide
5. Madhya Pradesh Tourism
6. प्रयागराज के दर्शनीय स्थल
7. Shirui Lily Festival
8. Deoghar Baba Baidyanath Dham
9. During lockdown Ministry of Tourism has started webinar seriestoshowcase the diverse and remarkable history and culture of India
10. Ministry of Tourism launches its DekhoApnaDesh webinar series from today
We would love to hear your thoughts, concerns or problems with anything so we can improve our website educratsweb.com ! visit https://forms.gle/jDz4fFqXuvSfQmUC9 and submit your valuable feedback.
Save this page as PDF | Recommend to your Friends

http://educratsweb(dot)com http://educratsweb.com/content.php?id=321 http://educratsweb.com educratsweb.com educratsweb