educratsweb logo

Danik Bhaskar National News

Posted By educratsweb.comNews 👁 2791 (26 Sep 2020)

आज दीपिका, श्रद्धा और सारा से ड्रग्स केस में पूछताछ और यूएन में मोदी का भाषण; बिहार में दीपावली से पहले चुनाव नतीजे



		 आज दीपिका, श्रद्धा और सारा से ड्रग्स केस में पूछताछ और यूएन में मोदी का भाषण; बिहार में दीपावली से पहले चुनाव नतीजे 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
यूएई में चल रहे आईपीएल और बॉलीवुड में चल रहे विवादों के बीच शुक्रवार को बिहार विधानसभा चुनाव का ऐलान हो गया। चलिए शुरू करते हैं आज का मॉर्निंग न्यूज ब्रीफ... आज इन 5 इवेंट्स पर नजर रहेगी 1. ड्रग्स केस में दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर और सारा अली खान से नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो पूछताछ करेगा। 2. IPL में कोलकाता नाइट राइडर्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच अबु धाबी में मुकाबला होगा। टॉस शाम 7 बजे होगा। मैच साढ़े सात बजे से शुरू होगा। 3. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज संयुक्त राष्ट्र महासभा में संबोधित करेंगे। 4. मोदी और श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के बीच वर्चुअल बाइलैटरल समिट हाेगी। 5. मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान किसान कल्याण योजना की शुरुआत करेंगे। अब कल की 6 महत्वपूर्ण खबरें 1. बिहार में 3 फेज में चुनाव बिहार की 243 सीटों पर तीन फेज में 28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को वोटिंग होगी। मंगलवार 10 नवंबर को नतीजे आएंगे। इस बार बिहार में 7.29 करोड़ वोटर हैं। वोटिंग सुबह 7 से शाम 5 की बजाय शाम 6 बजे तक होगी। कोरोना की वजह से चुनाव में 46 लाख मास्क, 7.6 लाख फेस शील्ड, 23 लाख जोड़े हैंड ग्लव्स और 6 लाख पीपीई किट्स का इस्तेमाल होगा। मध्यप्रदेश की 28 विधानसभा सीटों समेत 56 सीटों पर उपचुनाव का फैसला 29 सितंबर को हो सकता है। -पढ़ें पूरी खबर 2. बालासुब्रमण्यम नहीं रहे गायक एसपी बालासुब्रमण्यम का शुक्रवार को निधन हो गया। वे 74 साल के थे और कोरोना से जूझ रहे थे। वे 5 अगस्त को हॉस्पिटल में एडमिट हुए थे। बीते 48 घंटों से लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर थे। पद्मश्री और पद्मभूषण से सम्मानित बालासुब्रमण्यम ने 6 भाषाओं में 40 हजार से ज्यादा गाने गाए। सागर, एक-दूजे के लिए, साजन, मैंने प्यार किया और हम आपके हैं जैसी फिल्मों में उनके गाए गाने हिट हुए। -पढ़ें पूरी खबर 3. देशभर में किसानों का प्रदर्शन हाल ही में संसद से पास हुए किसान बिल के विरोध में देशभर में शुक्रवार को किसानों ने प्रदर्शन किया। पंजाब और हरियाणा में बंद का सबसे ज्यादा असर देखने को मिला। किसान सुबह से सड़कों और रेलवे ट्रैक पर बैठ गए। जगह-जगह चक्काजाम किया। दिल्ली बॉर्डर और पश्चिमी यूपी में किसान प्रदर्शन के लिए सड़कों पर तो निकले लेकिन बंद का मिलाजुला असर रहा। -पढ़ें पूरी खबर 4. ट्रोल हुए गावस्कर लॉकडाउन के दौरान विराट कोहली और अनुष्का शर्मा का एक वीडियो सामने आया था। इसमें अनुष्का बॉलिंग कर रही थीं और विराट बैटिंग कर रहे थे। गुरुवार रात IPL मैच में कमेंट्री के दौरान सुनील गावस्कर ने इसी बारे में एक टिप्पणी की और फिर सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल हुए। अनुष्का का भी कमेंट आया कि क्या इसमें मेरा नाम जोड़ना जरूरी था? ये घटिया बयानबाजी कब बंद होगी। -पढ़ें पूरी खबर 5. वोडाफोन ने 20 हजार करोड़ का केस जीता टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन ने 20 हजार करोड़ रुपए के टैक्स विवाद के मामले में सरकार से केस जीत लिया है। कंपनी ने शुक्रवार को बताया कि उसे सिंगापुर स्थित एक इंटरनेशनल कोर्ट में 12 हजार करोड़ रुपए के बकाए और 7,900 करोड़ रुपए के जुर्माने के मामले में भारत सरकार के खिलाफ जीत मिली है। यह विवाद लाइसेंस फीस और एयरवेव्स के इस्तेमाल पर रेट्रोएक्टिव टैक्स क्लेम को लेकर शुरू हुआ था। -पढ़ें पूरी खबर 6. जिस ग्रुप में ड्रग्स चैट हुई, उसकी एडमिन निकलीं दीपिका 2017 के जिस वॉट्सऐप ग्रुप में दीपिका पादुकोण ने ‘हैश’ (हशीश) और ‘माल है क्या?’ जैसी लाइन लिखी थी, उस ग्रुप की वह खुद एडमिन थीं। भास्कर को सूत्रों ने बताया कि दीपिका के अलावा उनकी मैनेजर करिश्मा प्रकाश और रिया चक्रवर्ती की मैनेजर रहीं जया साहा भी इसकी एडमिन थीं। कुछ महीने पहले ही यह ग्रुप डिलीट किया गया। -पढ़ें पूरी खबर अब 26 सितंबर का इतिहास... 1820: समाज सुधारक ईश्वरचंद विद्यासागर का जन्म। 1888: अंग्रेजी के साहित्यकार और नोबेल पुरस्कार सम्मानित टीएस इलियट का जन्म। 1923: अभिनेता देवानंद का जन्म। 2018: सुप्रीम कोर्ट ने 12 अंकों वाले आधार नंबर की वैधता को कायम रखा। ...और आखिर में जिक्र नेहरू-इंदिरा के बाद सबसे ज्यादा समय तक प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह का, जिनका 1932 में आज ही के दिन जन्म हुआ। वे आज 88 साल के हो गए। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Deepika sara shradha Questioned today In A Drugs Case, PM modi address UNGA today; Election in bihar before diwali [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/deepika-sara-shradha-questioned-today-in-a-drugs-case-pm-modi-address-unga-today-election-in-bihar-before-diwali-127754662.html

चेन्नई को 3 देश में हराने वाली पहली टीम बनी दिल्ली; डु प्लेसिस के लीग में 2 हजार रन पूरे, पीयूष चावला टी-20 में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीय



		 चेन्नई को 3 देश में हराने वाली पहली टीम बनी दिल्ली; डु प्लेसिस के लीग में 2 हजार रन पूरे, पीयूष चावला टी-20 में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीय 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 44 रन से हरा दिया। दिल्ली की टीम चेन्नई को 3 देश में हराने वाली पहली टीम बन गई। दिल्ली ने यूएई में पहली बार चेन्नई को हराया। 2014 में जब आईपीएल यूएई में हुआ था, तब चेन्नई जीती थी। 2009 में जब द. अफ्रीका में आईपीएल हुआ था, तब दोनों टीमों ने एक-एक मैच जीता था। वहीं इस मैच में चेन्नई के फाफ डु प्लेसिस ने आईपीएल में अपने दो हजार रन पूरे किए। वहीं पीयूष चावला ने दिल्ली के खिलाफ 2 विकेट लिए। इसके साथ वे टी-20 में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं। पृथ्वी शॉ ने मैच में शानदार फिफ्टी लगाई। हालांकि उन्हें 0 के स्काेर पर विकेट के पीछे धोनी ने कैच कर लिया था, लेकिन ना ही बॉलर ने अपील की और ना ही धोनी ने। इसके बाद शॉ ने शानदार 64 रन की पारी खेली। चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने पृथ्वी शॉ को पीयूष चावला के ओवर में स्टम्प आउट किया। धोनी ने दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर का विकेट के पीछे डाइव करते हुए कैच पकड़ा। टूर्नामेंट में धोनी की फिटनेस चर्चा का विषय बनी हुई है। दिल्ली के धाकड़ बल्लेबाज ऋषभ पंत ने मैच में उपयोगी पारी खेली। पंत ने संभलकर खेलते हुए दिल्ली का स्कोर 170 के पार पहुंचाया। पीयूष चावला ने दिल्ली के खिलाफ 2 विकेट लिए। इसके साथ वे टी-20 में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं। शेन वॉटसन के चेन्नई की ओर से एक हजार रन पूरे हो गए हैं। वे ऐसा करने वाले चौथे विदेशी खिलाड़ी हैं। प्लेसिस, माइक हसी और मैथ्यू हेडन ऐसा कर चुके हैं। चेन्नई के मुरली विजय का कैच करने के बाद दिल्ली के कगिसो रबाडा और शिखर धवन ने कुछ इस अंदाज में जश्न मनाया। कोरोना को मात देकर आए चेन्नई के रितुराज गायकवाड़ लगातार दूसरे मैच में सस्ते में आउट हुए। इस मैच में वे 5 रन बनाकर रन आउट हो गए। फाफ डु प्लेसिस ने आईपीएल में अपने दो हजार रन पूरे किए। इस मैच में फाफ के अलावा चेन्नई का कोई भी बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सका। एमएस धोनी ने मैच में 12 बॉल पर 15 रन बनाए। इस सीजन में चेन्नई की यह लगातार दूसरी हार है। यह दिल्ली की चेन्नई पर सबसे बड़ी जीत है। चेन्नई के खिलाफ रन के लिहाज से ओवरऑल सबसे बड़ी जीत की बात की जाए, तो मुंबई ने 2013 में 60 रन से हराया था। दिल्ली के खिलाफ चेन्नई का यह 5वां सबसे कम स्कोर है। इससे पहले उसने दिल्ली के खिलाफ 2012 में 110 रन, 2010 में 112 रन, 2015 में 119 रन और 2018 में 128 रन बनाए थे। चेन्न्ई पर मिली 44 रन की जीत के बाद दिल्ली के फैंस खुशी से झूम उठे। मैच से पहले दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर और पृथ्वी शॉ से चर्चा करते टीम के कोच रिकी पोंटिंग। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें दिल्ली की पारी के 9वें ओवर में पृथ्वी शॉ के आंखों में कुछ चला गया। इसके बाद एमएस धोनी ने उनकी मदद की। [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/sports/cricket/ipl-2020/news/csk-vs-dc-live-cricket-photos-ipl-2020-match-7-chennai-super-kings-delhi-capital-latest-photos-127753628.html

नेहरू-इंदिरा के बाद सबसे ज्यादा समय तक प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह का आज जन्मदिन; दो साल पहले सुप्रीम कोर्ट ने कायम रखी थी आधार की वैधता



		 नेहरू-इंदिरा के बाद सबसे ज्यादा समय तक प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह का आज जन्मदिन; दो साल पहले सुप्रीम कोर्ट ने कायम रखी थी आधार की वैधता 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
2004 से 2014 तक देश के प्रधानमंत्री रहे डॉ. मनमोहन सिंह का आज 89वां जन्मदिन है। देश के महान अर्थशास्त्रियों में से एक के रूप में पहचान रखने वाले मनमोहन सिंह का जन्म अविभाजित भारत के पंजाब प्रांत के एक गांव में हुआ था। डॉ. सिंह ने 1948 में पंजाब विश्वविद्यालय से मैट्रिक की पढ़ाई पूरी की। आगे की पढ़ाई ब्रिटेन के कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी से की। 1962 में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से डी.फिल किया। पंजाब यूनिवर्सिटी और दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स में पढ़ाया। डॉ. सिंह ने वित्त मंत्रालय के सचिव; योजना आयोग के उपाध्यक्ष; भारतीय रिजर्व बैंक के अध्यक्ष; प्रधानमंत्री के सलाहकार; विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के अध्यक्ष के रूप में भी काम किया। 1991 से 1996 तक वित्तमंत्री रहे और उन्होंने आर्थिक सुधारों के लिए व्यापक स्तर पर नीति बनाई। 1987 में उन्हें भारत का दूसरा सबसे बड़े नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से नवाजा गया। डॉ. सिंह 2004 से 2014 तक 10 साल 4 दिन प्रधानमंत्री रहे। देश में जवाहरलाल नेहरू (करीब 17 साल) और इंदिरा गांधी (करीब 11 साल) के बाद सबसे ज्यादा समय तक प्रधानमंत्री रहे। नरेंद्र मोदी पिछले छह साल से इस पद पर हैं और इस समय वे सबसे ज्यादा समय तक प्रधानमंत्री रहे नेताओं में सिंह के बाद चौथे नंबर पर आते हैं। इतिहास में आज को इन घटनाओं के लिए भी याद किया जाता है... 1087: विलियम द्वितीय इंग्लैंड के सम्राट बने।1777: अमेरिकी क्रांति: ब्रिटिश सैनिकों का फिलाडेल्फिया पर कब्जा।1820: प्रसिद्ध भारतीय समाज सुधारक ईश्वरचंद विद्यासागर का जन्म।1872: न्यूयाॅर्क सिटी में पहला मंदिर बना।1923: हिंदी फिल्म अभिनेता देवानंद का जन्म।1932: पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का जन्म।1950: संयुक्त राष्ट्र सैनिकों ने उत्तर कोरिया के सैनिकों से सोल को अपने कब्जे में लिया।1950: इंडोनेशिया ने संयुक्त राष्ट्र की सदस्यता ग्रहण की।1959: जापान के इतिहास में सबसे शक्तिशाली तूफान ‘वेरा’ से 4580 लोगों की मौत और 16 लाख लोग बेघर हुए।1960: अमेरिका में राष्ट्रपति पद के दो उम्मीदवारों जॉन एफ केनेडी और रिचर्ड निक्सन के बीच बहस का पहली बार टेलीविजन पर प्रसारण।1984: ब्रिटेन, हांगकांग को चीन के हवाले करने के लिए सहमत हुआ।1998: सचिन तेंदुलकर ने जिम्बाब्वे के खिलाफ एकदिवसीय क्रिकेट मैच में 18वां शतक लगाकर डेसमंड हेन्स का विश्व रिकार्ड तोड़ा।2009: फिलीपींस, चीन, वियतनाम, कंबोडिया, ला ओस और थाईलैंड में कैट्साना तूफान से 700 लोगों की मौत।2014: मेक्सिको के इगुआला में 43 छात्रों का सामूहिक अपहरण।2018: सुप्रीम कोर्ट ने 12 अंकों वाले आधार नंबर की वैधता को कायम रखा। लेकिन कहा कि बैंक अकाउंट्स, सेलफोन कनेक्शन और स्कूल एडमिशन के लिए इसे अनिवार्य नहीं किया जा सकता। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Today History for September 26th/ What Happened Today | Former PM ManMohan Singh Birthday | Sachin Tendulkar equals Desmond Haynes 17 ODI centuries | Devanand Birthday| SC validates Aadhaar [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/today-history-september-26th-manmohan-singh-birthday-sachin-tendulkar-equals-desmond-haynes-17-odi-centuries-devanand-birthday-127754661.html

बिहार में भाजपा ने वॉट्सऐप पर 4 करोड़ लोगों को जोड़ा, जदयू ने ऐप बनाई; राजद-कांग्रेस कर रहे सोशल मीडिया पर रैलियां



		 बिहार में भाजपा ने वॉट्सऐप पर 4 करोड़ लोगों को जोड़ा, जदयू ने ऐप बनाई; राजद-कांग्रेस कर रहे सोशल मीडिया पर रैलियां 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
बिहार में चुनाव की तारीखें आ गई हैं। कोरोना की वजह से इस बार बड़ी-बड़ी रैलियां, रोड शो नहीं होंगे। ज्यादातर प्रचार वर्चुअल होगा। कोरोनाकाल में होने जा रहे इस चुनाव में सबसे खास बात भी यही है।राजनीतिक पार्टियों ने भी इस वर्चुअल प्रचार के लिए पूरी तरह तैयारी कर ली है। 2013 से भाजपा का चेहरा मोदी ही बन गए हैं और उनकी रैलियों में भीड़ भी बहुत आती थी। इतना ही नहीं, मोदी की रैलियों में आने वाली भीड़ वोटों में भी तब्दील होती थी। इस बार कोरोनावायरस की वजह से बड़ी-बड़ी रैलियां नहीं होंगी, इसलिए भाजपा ने वर्चुअल प्रचार की सबसे ज्यादा तैयारी की है। वर्चुअल प्रचार के लिए 70 हजार से ज्यादा एलईडी टीवी की भी व्यवस्था की गई है। हालांकि, भाजपा का कहना है कि ज्यादातर टीवी पार्टी के कार्यकर्ताओं के घर से आएंगी। इस स्टोरी में समझते हैं कि वर्चुअल प्रचार में किस पार्टी की क्या है तैयारियां? 1. भाजपा : वॉट्सऐप ग्रुप बनाए, 60 हजार कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग दी सोशल मीडिया का सबसे ज्यादा और सहज इस्तेमाल भाजपा ही करती है। कहा भी जाता है कि 2014 का चुनाव भाजपा ने सोशल मीडिया पर लड़ा। बिहार में होने जा रहे इस चुनाव में भी भाजपा वर्चुअल प्रचार में फिलहाल तो सबसे आगे दिख रही है।भाजपा ने पूरे बिहार में 150 प्रचार रथों को रवाना भी कर दिया है, जिनका काम गली, चौक-चौराहों पर नेताओं के भाषणों को सीधे लोगों तक पहुंचाना है।भाजपा अब तक डेढ़ लाख वॉट्सऐप ग्रुप के जरिए 4 करोड़ लोगों से सीधे जुड़ चुकी है। बूथ लेवल से लेकर शक्ति केंद्र, मंडल और स्टेट लेवल तक पार्टी ने 9.5 हजार आईटी प्रभारियों को काम पर लगा रखा है। इतना ही नहीं बूथ लेवल के 60 हजार कार्यकर्ताओं को वर्चुअल कैंपेन की ट्रेनिंग भी दी जा चुकी है।भाजपा आईटी सेल की मानें तो वर्चुअल मीटिंग में एक बार में 10 हजार कार्यकर्ताओं को साथ जोड़ा जा सकता है। इस मीटिंग में एक-दूसरे से दोतरफा बातचीत हो सकती है। वर्चुअल ही नहीं, घर-घर जाकर भी हो रहा प्रचार भाजपा सिर्फ वर्चुअल प्रचार ही नहीं, बल्कि घर-घर जाकर भी प्रचार कर रही है। पार्टी अब तक सभी 243 विधानसभा सीटों के प्रमुख कार्यकर्ताओं और नेताओं के साथ मीटिंग कर चुकी है।बिहार में भाजपा कार्यकर्ता लगभग हर घर तक पहुंच चुके हैं। वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए जनता से आशीर्वाद मांग रहे हैं। इस अभियान के तहत कार्यकर्ताओं को सभी विधानसभा सीटों में कम से कम 5 हजार घरों तक जाना था, जो लगभग पूरा हो चुका है।भाजपा ने इस बार एक नई रणनीति भी बनाई है। इसके तहत पार्टी के हर कार्यकर्ता को विरोधी पार्टी के एक कार्यकर्ता को भाजपा में शामिल कराने का टारगेट दिया गया है। 2. जदयू : वॉट्सऐप से 31 लाख लोगों को जोड़ा, जदयू लाइव ऐप बनाई मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 7 सितंबर को बिहार में वर्चुअल रैली कर चुनाव प्रचार की शुरुआत की थी। जदयू ने वर्चुअल रैली से लोगों को जोड़ने के लिए जदयू लाइव ऐप भी बनाया है।इसके साथ ही पार्टी ने अब तक 31 लाख लोगों को वॉट्सऐप पर जोड़ रखा है। हर रविवार को 'बिहार के नाम, नीतीश के काम' नाम से न्यूजलेटर भी वॉट्सऐप पर जारी होता है। पार्टी के मुताबिक, ऐप के जरिए भी 10 लाख लोगों को ऑनलाइन जोड़ा जा सकता है।जदयू का दावा है कि हर विधानसभा में अब तक करीब 10 हजार कार्यकर्ताओं के मोबाइल नंबर का डेटा तैयार हो चुका है। इसके अलावा हर ब्लॉक में वर्चुअल सेंटर भी तैयार किए गए हैं, जहां से पार्टी के नेता वर्चुअल तरीके से लोगों से बात करेंगे।पार्टी ने अपने तीन मंत्रियों अशोक चौधरी, संजय झा और नीरज कुमार को इस काम में लगाया है कि सोशल मीडिया पर लोगों को कैसे जोड़ा जाए? इन मंत्रियों को तीन-तीन प्रमंडल की जिम्मेदारी दी गई है। इनके पास फेसबुक, जूम और वॉट्सऐप ग्रुप बनाने का भी काम है। 3. राजदः वॉर रूम बनाया, जहां से नेता कार्यकर्ताओं से जुड़ रहे 10 सर्कुलर रोड पर राजद ने अपना वॉर रूम बनाया है, जहां से तेजस्वी-तेजप्रताप से लेकर पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी लगातार ट्विटर और फेसबुक के जरिए पार्टी कार्यकर्ताओं से जुड़ रहे हैं।फेसबुक लाइव के जरिए तेजस्वी लगातार बात कर रहे हैं। पार्टी के मुताबिक, कार्यकर्ताओं को डिजिटल तकनीक की ट्रेनिंग भी दी गई है।इसके अलावा प्रखंड, जिला और प्रदेश स्तर पर अलग-अलग वॉट्सऐप ग्रुप बनाए जा चुके हैं। इनके जरिए बिहार के 25 लाख वोटरों से जुड़ने का टारगेट रखा गया है। 4. कांग्रेसः डिजिटल मेंबरशिप से 5 लाख लोगों को जोड़ा प्रदेश कांग्रेस की तरफ से भी वर्चुअल प्रचार की खासी तैयारियां हैं। पार्टी अब तक वर्चुअल तरीके से करीब 40 मीटिंग कर चुकी है, जिसे राष्ट्रीय नेताओं ने संबोधित किया है।कांग्रेस 7 से लेकर 15 सितंबर के बीच बिहार की 88 विधानसभा सीटों पर महासम्मेलन भी कर चुकी है। साथ ही डिजिटल मेंबरशिप के जरिए करीब 5 लाख लोगों को जोड़ा गया है। बाकी पार्टियांः किसी ने वॉट्सऐप ग्रुप बनाए, किसी ने आईटी टीम बैठाई पिछले चुनाव में तीन सीटें जीतने वाली भाकपा (माले) ने भी करीब 50 हजार वॉट्सऐप ग्रुप बनाए हैं और इनके जरिए वोटरों तक अपनी बात पहुंचाने में लगी है।वहीं, जीतन राम मांझी की पार्टी हम ने तो दिल्ली की आईटी प्रोफेशनल टीम को वर्चुअल प्रचार के काम में लगा रखा है। मोदी 6 वर्चुअल रैलियां कर चुके, तीन दर्जन और होंगी 7 जून को गृहमंत्री अमित शाह ने बिहार के 72 हजार बूथ कार्यकर्ताओं को वर्चुअल रैली के जरिए संबोधित किया था। 7 सितंबर को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पहली वर्चुअल रैली 'निश्चय संवाद' नाम से की थी। इसी दिन कांग्रेस ने भी एक रैली की थी।प्रधानमंत्री मोदी ने 10 सितंबर को पहली वर्चुअल रैली कर बिहार को पूरी तरह से चुनावी मोड में ला दिया है। चुनाव तारीखों के ऐलान के पहले ही मोदी योजनाओं के शिलान्यास और उद्घाटन के बहाने 6 वर्चुअल रैलियां कर चुके हैं।माना जा रहा है कि इस चुनाव में मोदी करीब तीन दर्जन वर्चुअल रैलियां कर सकते हैं। वहीं, अमित शाह भी बड़ी संख्या में वर्चुअल रैलियों को संबोधित करेंगे। इसके अलावा पार्टी ने हर विधानसभा के बड़े नेताओं को करीब 10 वर्चुअल रैलियां करने का टारगेट दिया है।पिछले विधानसभा चुनाव में मोदी ने 40 और अमित शाह ने 75 से ज्यादा रैलियां की थीं। वहीं, 2019 के लोकसभा चुनाव में भी बिहार में मोदी ने 9 और अमित शाह ने 18 रैलियों को संबोधित किया था। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Bihar Election Virtual Rally 2020; All You Need To Know BJP and JDU Nitish Kumar and RJD Tej Pratap Yadav And Tejashwi Yadav Party Preparation [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/bihar-election/news/bihar-election-virtual-rally-2020-all-you-need-to-know-bjp-and-jdu-nitish-kumar-and-rjd-tej-pratap-yadav-and-tejashwi-yadav-party-preparation-127754660.html

चेन्नई सुपरकिंग्स पर दिल्ली कैपिटल्स की 7वीं जीत, पृथ्वी शॉ और कगिसो रबाडा रहे जीत के हीरो; सीजन में चेन्नई की लगातार दूसरी हार



		 चेन्नई सुपरकिंग्स पर दिल्ली कैपिटल्स की 7वीं जीत, पृथ्वी शॉ और कगिसो रबाडा रहे जीत के हीरो; सीजन में चेन्नई की लगातार दूसरी हार 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
आईपीएल के 13वें सीजन के 7वें मैच में दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) को 44 रन से हरा दिया। चेन्नई के खिलाफ 22 मैचों में दिल्ली की यह 7वीं जीत है। टॉस हारकर बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने चेन्नई को 176 रन का टारगेट दिया। जवाब में चेन्नई 7 विकेट पर 131 रन ही बना सकी। सीजन में चेन्नई की यह लगातार दूसरी हार है। मैच का स्कोरकार्ड देखने के लिए यहां क्लिक करें... दिल्ली की जीत के हीरो पृथ्वी शॉ और कगिसो रबाडा रहे। शॉ ने आईपीएल में अपनी 5वीं फिफ्टी लगाई। उन्होंने शानदार 64 रन की पारी खेली। उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच भी चुना गया। वहीं रबाडा ने 26 रन देकर 3 विकेट लिए। चेन्नई के ओपनर सस्ते में पवेलियन लौटे चेन्नई के ओपनर एक बार फिर अपनी टीम को कुछ खास शुरुआत नहीं दिला सके। शेन वॉटसन 14 रन बनाकर अक्षर पटेल की बॉल पर शिमरॉन हेटमायर को कैच दे बैठे। इसके बाद मुरली विजय भी एनरिच नोर्त्जे की बॉल पर आउट हुए। विजय ने 10 रन बनाए। डु प्लेसिस के अलावा कोई रन नहीं बना सका चेन्नई की ओर से फाफ डु प्लेसिस (43) के अलावा कोई बल्लेबाज रन नहीं बना सका। फाफ के अलावा केदार जाधव ने 26, एमएस धोनी ने 15 और रविंद्र जडेजा ने 12 रन की पारी खेली। वहीं दिल्ली के लिए रबाडा के अलावा एनरिच नोर्त्जे को 2 और अक्षर पटेल ने एक विकेट लिया। डु प्लेसिस ने IPL में 2000 रन पूरे किए फाफ डू प्लेसिस ने आईपीएल में अपने 2000 रन पूरे किए। ऐसा करने वाले वे 33वें खिलाड़ी हैं। प्लेसिस ने 74 मैच की 67 पारियों में यह आंकड़ा छुआ। उन्होंने अब तक लीग में 14 फिफ्टी लगाई हैं। सबसे महंगे और सबसे सस्ते प्लेयर की परफॉरमेंस चेन्नई के सबसे महंगे प्लेयर महेंद्र सिंह धोनी (15 करोड़) हैं। धोनी ने इस मैच में 12 बॉल पर 15 रन का पारी खेली। वहीं चेन्नई के लिए सबसे सस्ते खिलाड़ी रितुराज गायकवाड़ रहे। वे भी कुछ खास नहीं कर सके और सिर्फ 5 रन बनाकर आउट हो गए। दिल्ली के लिए सबसे महंगे खिलाड़ी ऋषभ पंत (15 करोड़) हैं। पंत ने 25 बॉल पर नाबाद 37 रन बनाए। वहीं दिल्ली के लिए सबसे सस्ते खिलाड़ी आवेश खान (70 लाख) रहे। आवेश ने 4 ओवर में 42 रन दिए, जबकि उन्हें एक भी विकेट नहीं मिला। दिल्ली ने 3 विकेट पर 175 रन बनाए टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने 3 विकेट पर 175 रन बनाए। दिल्ली के पृथ्वी के शॉ ने IPL में अपनी 5वीं फिफ्टी लगाई। पृथ्वी ने 64 रन की पारी खेली। पृथ्वी के अलावा ऋषभ पंत ने नाबाद 37, शिखर धवन ने 35 और श्रेयस अय्यर ने 26 रन बनाए। मार्कस स्टोइनिस ने 5 रन बनाकर नॉटआउट रहे। वहीं चेन्नई के पीयूष चावला को 2 और सैम करन को एक विकेट मिला। चेन्नई के खिलाफ दूसरी बार 50+ रन की ओपनिंग पार्टनरशिप दिल्ली के ओपनर बल्लेबाजों शिखर धवन और पृथ्वी शॉ के बीच 94 रन की ओपनिंग पार्टनरशिप हुई। यह चेन्नई के खिलाफ दिल्ली की दूसरी सबसे बड़ी ओपनिंग पार्टनरशिप है। इससे पहले 2008 में वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर के बीच 115 रन की ओपनिंग पार्टनरशिप हुई थी। इस सीजन में अब तक जडेजा की इकोनॉमी 10 से ज्यादा चेन्नई के स्पिनर रविंद्र जडेजा के लिए आईपीएल का यह सीजन कुछ खास नहीं जा रहा है। जडेजा ने अब तक तीनों मैच में 10 से ज्यादा इकोनॉमी से रन लुटाए हैं। इस मैच में भी जडेजा ने 4 ओवर में 44 रन दिए और कोई विकेट नहीं ले सके। जडेजा ने मुंबई के खिलाफ 4 ओवर में 42 रन और राजस्थान के खिलाफ 40 रन दिए थे। MS Dhoni has the won the toss and #CSK will field first in Match 7 of #Dream11IPL.#CSKvDC pic.twitter.com/HC54FrZS6a — IndianPremierLeague (@IPL) September 25, 2020 दिल्ली अकेली टीम, जो अब तक फाइनल नहीं खेली दिल्ली अकेली ऐसी टीम है, जो अब तक फाइनल नहीं खेल सकी। हालांकि, दिल्ली टूर्नामेंट के शुरुआती दो सीजन (2008, 2009) में सेमीफाइनल तक पहुंची थी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ मैच जीतने के बाद एक-दूसरे को बधाई देते दिल्ली कैपिटल्स के खिलाड़ी। [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/sports/cricket/ipl-2020/news/csk-vs-dc-live-cricket-score-ipl-2020-match-7-chennai-super-kings-delhi-capital-latest-updates-127752380.html

'धारावी मॉडल' की दुनियाभर में तारीफ हो रही थी, तो अचानक क्या हुआ कि यहां दोबारा कोरोना ब्लास्ट हो गया?



धारावी...। यह नाम सुनते ही दिमाग में झुग्गी-झोपड़ियों की तस्वीर बनने लगती है। एशिया के सबसे बड़े इस स्लम में महज 2.5 स्क्वायर किलोमीटर में 10 लाख से ज्यादा लोग रहते हैं। अप्रैल में यहां कोरोना का ब्लास्ट हुआ था। लेकिन जून तक वायरस पर पूरी तरह से काबू पा लिया गया था। इसलिए धारावी मॉडल की बहुत चर्चा हुई थी। अब एक बार फिर यहां कोरोना की दूसरी लहर आती दिख रही है। धारावी में कोरोना के मामले 3 हजार को क्रॉस कर चुके हैं। पिछले दस दिनों से तो हर दिन दो अंकों में मामले बढ़ रहे हैं। अभी 180 से ज्यादा एक्टिव केस हैं। ऐसे में हम धारावी पहुंचे और जाना कि कोरोना को रोकने वाला धारावी मॉडल क्या था, अब क्या हालात हैं और लोग कैसे अपना गुजर-बसर कर रहे हैं। धारावी में पक्की झोपड़ियां हैं, जो ऊंचाई से ऐसी नजर आती हैं। संकरी गलियां, छोटे-छोटे कमरे। कमरे में ही किचन और वहीं बर्तन साफ करने की एक जगह भी। एक घर में रहने वाले औसत पांच से सात लोग। कुछ-कुछ में बारह से पंद्रह। यहां सोशल डिस्टेंसिंग की बात करना बेमानी है, क्योंकि जगह इतनी कम है कि एक-दूसरे से दूरी बनाना मुमकिन ही नहीं। अधिकतर घरों में एक-एक कमरे ही हैं। साइज दस बाय दस फीट होगा। हालांकि, यहां की झुग्गियां कच्ची नहीं, पक्की हैं। गुरुवार सुबह 10 बजे जब हम यहां पहुंचे तो धारावी पहले की तरह नजर आई। बाजार खुले थे। लोग काम धंधे पर निकल रहे थे। मास्क गिने चुने चेहरों पर ही दिख रहा था। हैंड सैनिटाइजर जैसी चीज यहां शायद ही कोई इस्तेमाल करता हो। हां, लेकिन धारावी की गलियां साफ-सुथरी नजर आईं। यहां के लोगों में अब कोरोना का बिल्कुल डर नहीं है, क्योंकि बात पेट पर आ गई है। वे कहते हैं, कोरोना से नहीं मरेंगे तो मौत से मर जाएंगे इसलिए काम पर तो निकलना पड़ेगा। पिछले करीब एक हफ्ते से यहां हर रोज कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए जा रहे हैं। कोई भाड़ा नहीं भर पा रहा तो किसी पर हजारों का कर्जा हो गया खैर, धारावी की जमीनी हकीकत जानने के लिए हम अंदर गलियों में घुसे। पहली गली में घुसते ही सारोदेवी नजर आईं। एक छोटे से कमरे में वो भजिया तल रहीं थीं। इतने सारे समोसे, वड़ा, भजिया किसके लिए बना रही हैं? पूछने पर बोलीं, मेरा बेटा सायन हॉस्पिटल के बाहर बेचता है। पांच माह से काम बंद था। पंद्रह दिन पहले ही शुरू हुआ है। लॉकडाउन में गुजर बसर कैसे किया? इस पर बोलीं, फ्री वाला राशन बंटता था, वो ले लेते थे। कुछ राशन सरकार से भी मिला। कुछ सामान हमारे पास था। यह सब मिलाकर जैसे-तैसे दिन काटे हैं। धंधा बंद था इसलिए न भाड़ा दे पाए और न ही बिजली का किराया भरा। 25 हजार रुपए का कर्जा भी हो गया। अब काम शुरू हुआ है तो थोड़ा-थोड़ा करके चुकाएंगे। सारोदेवी के घर की अगली गली में अनीता मिलीं। उनका एक पैर काम नहीं करता। पति भी दिव्यांग हैं। दो बच्चे हैं, जिसमें से एक को मां-बाप वाली कमी आ गई। दूसरा बेटा ठीक है। दस बाय दस के कमरे में अनीता का पूरा परिवार रहता है। पति मिट्टी के बर्तन बनाने जाते हैं। उनका बेटा चिराग कहता है, पापा का माल बिकता है, तब ही घर में पैसा आता है। कमरे का भाड़ा तीन हजार रुपए महीना है, लेकिन चार-पांच महीने से भरा नहीं। मकान मालिक ने बोला है कि, जल्दी भाड़ा भरो नहीं तो कमरा खाली करना पड़ेगा। ये सारो देवी हैं। कहती हैं-- लॉकडाउन में खाने-पीने के लाले पड़े गए थे। समोसा, भजिया, वड़ा बेचकर परिवार को पाल रही हैं। धारावी के अधिकतर घरों में महिलाएं खाने पीने की चीजें तैयार करती हैं और उनके बेटे या पति ये सामान बाहर बेचते हैं। कीमत काफी कम होती है, इसलिए माल बिक जाता है। 10 रुपए में पांच इडली बेचने वाली मारिया ने सिर पर बड़ी तपेली रखती जाती दिखीं। हाथ में एक थैला था, जिसमें तीन डिब्बे रखे थे। वो इडली और वड़ा सांभर बेचने के लिए निकली थीं। हमने रोका तो मुस्कुराते हुए कहने लगीं कि मैंने लॉकडाउन में भी चोरी-छुपे इडली-वडा बेचे क्योंकि घर में कुछ खाने को था ही नहीं। पैसों की बहुत जरूरत थी इसलिए प्लास्टिक की थैलियों में इडली-वड़ा भरकर ले जाती थी और धारावी की गलियों में ही बेच आती थी। मारिया महीने का 25 से 30 हजार रुपए कमा लेती हैं। इस पैसे से उन्हें सिर्फ घर ही नहीं चलाना होता बल्कि बच्चों की पढ़ाई-लिखाई भी करवानी होती है। धारावी में बड़ी संख्या में दक्षिण भारतीय भी रहते हैं जो इटली-सांभर और वड़ा-सांभर घर में तैयार कर बाहर बेचते हैं। इन्हीं संकरी गलियों में ढेरों स्मॉल स्केल बिजनेस भी चलते हैं। जैसे कोई परिवार मिट्टी के बर्तन बनाता है तो कोई जूते, बैग सिलता है। कपड़ों की छोटी-छोटी फैक्ट्रियां भी यहां हैं। जो पूरी तरह से मार्केट के खुलने पर ही डिपेंड हैं। वर्क फ्रॉम होम का इन लोगों के पास कोई आप्शन नहीं। जिंदगी का गुजर-बसर करने के लिए जरूरी है कि या तो इन लोगों के पास ग्राहक आएं या फिर ये लोग ग्राहकों तक जाएं। पिछले पंद्रह-बीस दिनों में सभी ने अपने धंधे शुरू कर दिए लेकिन पहले की तरह ग्राहक नहीं आ रहे। मारिया केरल की रहने वाली हैं। इस तरह हर रोज सुबह 10 बजे काम पर निकल जाती हैं, घर आते-आते शाम हो जाती है। ये भी पढ़ें एशिया के सबसे बड़े स्लम धारावी से राहत भरी खबर:चेस द वायरस और ट्रिपल टी एक्शन प्लान से धारावी में कोरोना पर काबू पाने में कामयाबी मिली ब्लूमबर्ग से:धारावी ने रोकी कोरोना की धाराः दो माह में 47,500 लोगों की घर में ही जांच और 7 लाख की स्क्रीनिंग कर संक्रमण रोक दिया एक्सपोर्ट हब से रिपोर्ट:कोरोना से धारावी की बदनामी, 50 फीसदी दुकानें खाली हो गईं, मुंबई में इस दिवाली हो सकती है दीये की किल्लत पलायन करने वाले लौट रहे, इसलिए बढ़ रहे मामले आखिर धारावी का वो मॉडल क्या था, जिससे कोरोना कंट्रोल हुआ था? यह सवाल हमने धारावी में ही 26 साल से क्लीनिक चलाने वाले और कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे डॉ. मनोज जैन से पूछा। वे बोले, धारावी में 1 अप्रैल को पहला केस आया था। इसके बाद यहां लोग कोरोना से कम और हार्ट अटैक से ज्यादा मर रहे थे क्योंकि बहुत घबरा गए थे। 7 अप्रैल से हमारी दस डॉक्टर्स की टीम ने काम शुरू किया। हमने घर-घर जाकर स्क्रीनिंग शुरू की। जिन्हें भी फीवर आया, उन्हें बीएमसी के हवाले किया। बाद में डॉक्टर्स की संख्या बढ़कर 25 हो गई। फीवर क्लीनिक भी शुरू कर दिए गए। रोजाना हजारों लोगों की स्क्रीनिंग करते थे। जिन लोगों में लक्षण पाए जाते थे, उन्हें अलग कर इलाज के लिए भेजते थे। इनके सबके साथ में मास्क, हैंड सैनिटाइजर, सफाई और सोशल डिस्टैंसिंग के लिए भी लोगों को अवेयर किया। इसी का नतीजा हुआ था कि यहां कोरोना कंट्रोल में आ गया था। इसकी एक वजह बड़ी संख्या में लोगों का पलायन भी रही थी। यूपी, बिहार, केरल, मप्र के लोग यहां से अपने घर चले गए थे, इसलिए भीड़ कम हो गई थी। नजमुन्निसा भी धारावी में रहती हैं। कहती हैं, पहले बच्चे एक-एक बिस्किट का पैकेट खाते थे, अब एक पैकेट में से ही तीन बच्चे खाते हैं। लॉकडाउन के पहले कुछ काम मिल जाया करता था, जो अब नहीं मिल पा रहा। अब अचानक केस बढ़ने क्यों लगे? इस पर वे कहते हैं, जिन लोगों ने पलायन किया था, वो लौट रहे हैं। लोगों में कोरोना का डर भी कम हो गया। इसी कारण कोई नियमों को फॉलो नहीं कर रहा। स्क्रीनिंग भी अभी बंद है। धारावी में हर घर में वॉशरूम नहीं है। लोग सार्वजनिक शौचालय इस्तेमाल करने पर मजबूर हैं। यह भी कोरोना फैलने की बड़ी वजह है। कम जगह में ज्यादा लोगों के रहने के चलते ही यहां के लोगों में स्किन डिजीज कॉमन हैं। वे साफ-सफाई से नहीं रहते। अब यदि समय रहते कोरोना रोकने के लिए यहां कदम नहीं उठाए गए तो फिर पहले जैसी स्थिति का सामना करना पड़ सकता है। धारावी वॉर्ड 188 के वार्ड अध्यक्ष विल्सन नंदेपाल कहते हैं, यहां के बहुत सारे लोग दूसरे क्षेत्रों में मजदूरी करने जाते हैं, लेकिन लोकल बंद होने के चलते वे जा नहीं पा रहे। आवक-जावक पूरी तरह बंद है। यदि जल्द ही सरकार ने मदद नहीं की तो हालात बेकाबू हो जाएंगे। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Everything was controlled, then what happened suddenly that the corona blast happened again in Dharavi? [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/db-original/news/everything-was-controlled-then-what-happened-suddenly-that-the-corona-blast-happened-again-in-dharavi-127752767.html

जब-जब विराट का खेल खराब हुआ, ट्रोलर्स ने अनुष्का का खेल खराब करने में कसर नहीं छोड़ी, याद नहीं कि कभी विराट की जीत का सेहरा अनुष्का के सिर बांधा हो



		 जब-जब विराट का खेल खराब हुआ, ट्रोलर्स ने अनुष्का का खेल खराब करने में कसर नहीं छोड़ी, याद नहीं कि कभी विराट की जीत का सेहरा अनुष्का के सिर बांधा हो 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
मर्द की एक बार फिर हार हुई है। औरत एक बार फिर निशाने पर है। विराट कोहली ने आईपीएल के मैदान में किंग्स इलेवन पंजाब के हाथों मार खाई है। एक रन बनाकर आउट हो गए हैं। लेकिन इस हार का ठीकरा एक बार फिर फूटा है उनकी पत्नी और अभिनेत्री अनुष्का शर्मा के सिर पर। वैसे ही जैसे पहले भी होता रहा है। जब-जब विराट का खेल खराब हुआ, ट्रोलर्स ने अनुष्का का खेल खराब करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। हालांकि इसका उल्टा भी कभी हुआ हो याद नहीं आता कि विराट की जीत का सेहरा किसी ने अनुष्का के सिर बांधा हो। ये कहानी शुरू से शुरू करते हैं, वहां से नहीं, जहां ट्रोल्स और सुनील गावस्कर की कहानी खत्म होती है, वहां से जहां से उनकी शुरू ही नहीं होती। नवंबर, 2014. इंडिया-श्रीलंका वन डे इंटरनेशनल विराट कोहली का तीसरा वन डे इंटरनेशनल मैच था श्रीलंका के खिलाफ। इस मैच में पूरा हुआ उनका 32वां अर्द्धशतक और वन डे इंटरनेशनल में 6000 रनों का विश्व रिकॉर्ड। इसके पहले ये रिकॉर्ड हाशिम अमला के नाम था। कोहली के अर्द्ध शतक से भारत को मैच में जीत हासिल हुई। अनुष्का शर्मा उस दिन मैच के दौरान वहीं मौजूद थीं। ट्रोलर्स चुप थे, कमेंटेटर बोल रहे थे, लेकिन अनुष्का के बारे में नहीं। कोहली ने 2008 में अपने एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय शुरुआत की और 2011 में अपना पहला टेस्ट मैच खेला था। वनडे में 43 और टेस्ट में 27 शतक लगा चुके हैं। दिसंबर, 2014. इंडिया-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट मैच, मेलबर्न विराट कोहली ने अपने इस तीसरे टेस्ट मैच में नौवीं सेंचुरी पूरी की और नाबाद 169 रनों का रिकॉर्ड बनाया। ये उनका अब तक का सबसे ज्यादा रनों का रिकॉर्ड है। अनुष्का शर्मा उस दिन भी क्रिकेट स्टेडियम में मौजूद थीं। ट्रोलर्स चुप थे, कमेंटेटर बोल रहे थे, लेकिन अनुष्का के बारे में नहीं। अप्रैल, 2015. रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर-सनराइज हैदराबाद का मैच, बैंगलोर विराट कोहली ने 37 गेंदों पर 41 रन सोंटे, चार चौके, छह छक्के। हर छक्के पर स्टेडियम में शोर, कमेंटेटर की वाह-वाह। अनुष्का शर्मा एक बार फिर स्टेडियम में मौजूद, ट्रोलर खामोश। क्या ये अनायास है। महज एक संयोग। जितनी बार विराट कोहली के बल्ले से लगी गेंद उछलकर आसमान तक चली जाती है, आसमान से रनों और रिकॉर्डों की बरसात होती है, क्रिकेट का दीवाना देश जीत के उत्साह में डूबा होता है, अनुष्का का ट्विटर पर कोई नाम भी नहीं लेता। न स्टेडियम में कमेंट्री करने वाले अनुष्का का नाम लेते सुने जाते हैं। लेकिन इस गुजरे गुरुवार को तो मानो इंतहा ही हो गई। इस बार अनुष्का पर निशाना साधने वाले ट्रोलर्स नहीं थे। महान क्रिकेट सुनील गावस्कर थे। मैच चल रहा था, वो माइक हाथों में लिए कमेंट्री कर रहे थे। विराट की बल्लेबाजी का जादू चला नहीं तो हिंदी में बोले, "इन्होंने लॉकडाउन में सिर्फ अनुष्का की गेंदों पर प्रैक्टिस की है।" सुनील गावस्कर के लिए लाइव कमेंट्री का ये कोई पहला मौका नहीं था। न पहली बार उन्होंने किसी के खेल को तीखी नजर से देखा था। लेकिन उस दिन ये पहली ही बार हुआ कि किसी के खेल को कमजोर बताने के लिए वो उसकी पत्नी को बीच में खींच लाए। इसके पहले कभी ऐसा नहीं हुआ कि किसी के निजी जीवन, निजी रिश्ते को, उसकी पत्नी को भरे मैदान में जिम्मेदार ठहराया गया हो उसके खराब प्रदर्शन के लिए। अनुष्का ने भी पलटकर जवाब दिया है, जैसा कि वो हमेशा करती हैं। जैसा हर उस स्त्री को करना चाहिए, जिसके पास अपना दिमाग है, अपनी सोच है, अपना काम है, उस काम के प्रति अपनी जिम्मेदारी है। वो कहती हैं, "ये तो सच है कि आपका कमेंट अच्छा नहीं था, लेकिन मैं जानना चाहूंगी कि आपके दिमाग में किसी के खराब के प्रदर्शन का दोष उसकी पत्नी के सिर मढ़ने का ख्याल कैसे आया। निश्चित ही इतने सालों से आपने हर खिलाड़ी के खेल पर टिप्पणी करते हुए उसके निजी जीवन का सम्मान किया है। आपको नहीं लगता है कि उतना ही सम्मान मुझे और हमें भी मिलना चाहिए। निश्चित ही आपके पास और बहुत से शब्द और वाक्य रहे होंगे मेरे पति के खेल पर टिप्पणी करने के लिए या आपके शब्द तभी प्रासंगिक होंगे जब उसमें मेरा नाम आए। ये साल 2020 है और अब भी मेरे लिए चीजें बदली नहीं हैं। कब आप लोग क्रिकेट में मेरा नाम घसीटना और मुझ पर जहर बुझी टिप्पणियां करना बंद करेंगे। आप लीजेंड हैं, मैं आपका बहुत सम्मान करती हूं। मैं बस वो कहना चाहती थी जो आपकी बात सुनकर मुझे महसूस हुआ। " क्या ये पढ़कर आपको भी महसूस हो रहा है कि जो कहा गया, वो ठीक नहीं था, वो अनायास भी नहीं था। वो इसलिए था कि मर्द स्त्रियों से द्वेष रखते हैं और ऐसा वो सोच-समझकर नहीं करते। वो करते हैं क्योंकि वो ऐसे ही हैं। उनके अवचेतन में कहीं बैठा है ये विश्वास कि वो श्रेष्ठ हैं। वो सब सही करते हैं जो भी अच्छा है, सब उनका है और जो भी गलत है, जो भी खराब, वो किसी औरत की वजह से है। मर्द ये हमेशा से करते रहे हैं. 2020 में भी कर रहे हैं. औरतें हमेशा से जवाब नहीं देती थीं. 2020 में दे रही हैं. अनुष्का पर भी ये हमला कोई पहली बार नहीं हुआ है। जब से हिंदुस्तानियों पर यह राज खुला कि अनुष्का और विराट के बीच कुछ है, विराट की हर नाकामी, हर असफलता का ठीकरा अनुष्का के सिर फोड़ा जाने लगा। विराट एक मैच हारते तो ट्विटर पर ट्रोल्स की बाढ़ आ जाती, कोई कहता अनुष्का मनहूस है, कोई कहता उसकी काली नजर लग गई, कोई क्रिकेट बोर्ड से गुजारिश करता कि अनुष्का की स्टेडियम में इंट्री बैन कर दो, कोई भगवान से खैर मनाता कि इस डायन से विराट का पीछा छूटे। बीच में एक बार ऐसा हुआ भी। खबरें आईं कि दोनों का ब्रेकअप हो गया है, उसी समय विराट ने मैदान में धुंआधार रनों की पारी खेल डाली। ट्विटर फिर बौरा गया और लगा इस जीत का सेहरा उनके ब्रेकअप के सिर बांधने। ये पहली बार था कि क्रिकेट का दीवाना बौराया देश किसी सेलिब्रिटी के ब्रेकअप का सोशल मीडिया पर ऐसे जश्न मना रहा था। वरना तो ये लोग उनके दिल टूटने पर भी अपना दिल थामकर बैठ जाया करते थे। सुनील गावस्कर ने बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली और उनकी पत्नी अनुष्का शर्मा पर एक टिप्पणी की थी। गावस्कर ने कहा था, लगता है कि जैसे कोहली ने लॉकडाइन में बस अनुष्का की गेंदों का ही सामना किया है। लेकिन आपने कभी सोचा है कि इस सारी आलोचना की वजह सिर्फ अनुष्का का स्त्री होना है या एक ऐसी स्त्री होना, जिसकी पहचान सिर्फ इतनी नहीं है कि वो "मिसेज विराट कोहली" है क्योंकि ऐसा तो कभी नहीं हुआ कि महेंद्र सिंह धोनी हारा हो और गालियां उनकी पत्नी साक्षी को पड़ी हों। ये गालियां अनुष्का को ही क्यों दी जा रही हैं? क्योंकि उसकी पहचान सिर्फ मिसेज विराट कोहली की नहीं है, उसने अपने काम से, अपने अभिनय से, अपनी मेहनत से दुनिया में अपनी जगह बनाई है। और सिर्फ अभिनय ही नहीं, बतौर प्रोड्यूसर भी यह साबित किया है कि उसे सिनेमा की समझ है, वो अच्छी कहानी को पहचानना जानती है। नई प्रतिभाओं को मौका दे सकती है, उन्हें सहेज सकती है। पाताल लोक, बुलबुल, एनएच10 जैसी कहानियों के साथ जिसका नाम जुड़ा हो, वो स्त्री सिर्फ शरीर नहीं है. वो दिमाग, तर्क, बुद्धि, समझ, संवेदना भी है। और मर्दों को दिक्कत इसी बात से है। उन्हें स्त्री से दिक्कत नहीं है, उन्हें बोलती हुई, सोचती हुई, समझती हुई, काम करती हुई, लड़ती हुई, जीतती हुई, आगे बढ़ती हुई स्त्री से दिक्कत है। अनुष्का सिर्फ मिसेज कोहली होतीं तो लोग बस उसकी सुंदर तस्वीरों को देखकर आहें भरते। उसका मजाक नहीं उड़ाते, न उस पर जहरबुझी टिप्पणियां करते। और क्या अनुष्का अकेली ऐसी स्त्री है, जो हर वक्त इसलिए निशाने पर है कि उसके पास दिमाग है? याद है हिलेरी क्लिंटन, जब सिर्फ बिल क्लिंटन की पत्नी थीं तो बेचारी भी थी, दुखियारी भी। लोगों की संवेदना भी रही उनके साथ जब पति का किसी और के साथ अफेयर हुआ। लेकिन जब उनकी पहचान सिर्फ मिसेज क्लिंटन की नहीं रही, वो ओबामा की सरकार में सीनेट में रहीं, राष्ट्रपति पद की दावेदार हुईं तो विपक्ष, मीडिया और सोशल मीडिया ने बिल क्लिंटन की सारी कारस्तानियां उनके सिर मढ़ दीं, जो औरत पति को न संभाल सकी, वो देश क्या संभालेगी। अभिनेत्री गुल पनाग के पति ने कश्मीर पर टिप्पणी की तो ट्रोलर्स लगे गुल पनाग ऐसी-तैसी करने। गुल की छवि भी तो बोलने वाली औरत की है। हालांकि मर्द कभी निशाने पर नहीं होते, चाहे बोलने वाले हों या न बोलने वाले। कभी सुना ऐसा कि अनुष्का की फिल्म पिट गई हो और ट्विटर पर विराट कोहली गाली खा रहे हों। हिलेरी चुनाव हार गई हों और जनता ने बिल क्लिंटन का बायकॉट कर दिया हो। अभी जब ड्रग्स मामले में दीपिका पादुकोण निशाने पर हैं तो रणवीर का कहीं नाम नहीं। लोगों को अनुराग कश्यप से चिढ़ है तो नफरत उनकी बेटी आलिया पर निकालते हैं, इसका उल्टा नहीं होता। दोनों ही बातें नहीं होतीं। विराट जीते तो क्रेडिट अनुष्का को नहीं मिलता। अनुष्का हारे तो जिम्मेदारी विराट की नहीं होती औरत हर बुरे के लिए जिम्मेदार है। अच्छा कुछ भी उसके हिस्से में नहीं, मर्द हर अच्छे का हकदार खुद है, बुरा कुछ भी उसकी जिम्मेदारी नहीं और औरतें भी सब नहीं। सिर्फ वो जो दुनिया में अपने नाम से जानी जाती हैं और मुंह में जबान रखती हैं। यह भी पढ़ सकते हैं : कितनी अलग होती हैं रातें, औरतों के लिए और पुरुषों के लिए, रात मतलब अंधेरा और कैसे अलग हैं दोनों के लिए अंधेरों के मायने आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Sunil Gavaskar's comment on Virat Kohli, Anushka Sharma Cricket IPL 2020 [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/db-original/news/when-virats-game-went-bad-the-trollers-did-not-leave-any-time-to-spoil-anushkas-game-remembering-that-virats-victory-was-tied-by-anushkas-head-127754659.html

यूएई में पहली बार नाइट राइडर्स और सनराइजर्स आमने-सामने, दोनों टीमें इस सीजन का अपना पहला मैच हारीं; पिछले 4 मुकाबलों में 2-2 की बराबरी



		 यूएई में पहली बार नाइट राइडर्स और सनराइजर्स आमने-सामने, दोनों टीमें इस सीजन का अपना पहला मैच हारीं; पिछले 4 मुकाबलों में 2-2 की बराबरी 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
आईपीएल के 13वें सीजन का आठवां मैच कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) और सनराइजर्स हैदराबाद (एसआरएच) के बीच आज अबु धाबी में खेला जाएगा। यह पहला मौका होगा, जब यूएई में दोनों टीमें आमने-सामने होंगी। इस सीजन के पहले मुकाबले में हैदराबाद को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। वहीं, केकेआर को उसके पहले मुकाबले में मुंबई ने हराया था। फिलहाल पॉइंट टेबल में यही दोनों टीमें हैं, जिनका खाता अब तक नहीं खुल सका है। पिछले चार मुकाबलों की बात करें, तो हैदराबाद और कोलकाता के बीच बराबरी का मुकाबला रहा है। दोनों ने 2-2 मैच जीते हैं। दोनों टीमों के सबसे महंगे खिलाड़ी हैदराबाद के सबसे महंगे खिलाड़ी डेविड वॉर्नर हैं। उन्हें फ्रेंचाइजी सीजन का 12.50 करोड़ रुपए देगी। इसके बाद टीम के दूसरे महंगे खिलाड़ी मनीष पांडे (11 करोड़) हैं। वहीं कोलकाता के सबसे महंगे खिलाड़ी पैट कमिंस हैं। उन्हें सीजन के 15.50 करोड़ रुपए मिलेंगे। इसके बाद सुनील नरेन का नंबर आता है, जिन्हें सीजन के 12.50 करोड़ रुपए मिलेंगे। केकेआर के लिए कार्तिक, रसेल और नरेन की-प्लेयर्स कोलकाता को ऑफ स्पिनर और ओपनर बल्लेबाज सुनील नरेन के अलावा आंद्रे रसेल से सबसे ज्यादा उम्मीदें होंगी। 2019 सीजन में रसेल ने आक्रामक बल्लेबाजी करते हुए 52 छक्के लगाए थे। आईपीएल में रसेल का सबसे ज्यादा 186.41 का स्ट्राइक रेट भी रहा है। वॉर्नर और विलियम्सन हैदराबाद के मजबूत बल्लेबाज हैदराबाद के पास वॉर्नर के अलावा जॉनी बेयरस्टो, प्रियम गर्ग और मनीष पांडे जैसे धुरंधर बल्लेबाज हैं। वहीं, बॉलिंग में भुवनेश्वर कुमार के अलावा राशिद खान और युवा खलील अहमद भी हैं। हेड-टु-हेड दोनों के बीच अब तक 17 मुकाबले हुए हैं। इसमें कोलकाता ने 10 जबकि हैदराबाद ने सात मैच जीते हैं। पिछले दोनों सीजन की बात की जाए तो दोनों टीमों के बीच हुए चार मैच में 2-2 की बराबरी रही है। पिच और मौसम रिपोर्ट अबु धाबी में मैच के दौरान आसमान साफ रहेगा। तापमान 28 से 39 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है। पिच से बल्लेबाजों को मदद मिल सकती है। यहां स्लो विकेट होने के कारण स्पिनर्स को भी काफी मदद मिलेगी। शेख जायद स्टेडियम में टॉस जीतने वाली टीम पहले गेंदबाजी करना पसंद करेगी। यहां हुए पिछले 45 टी-20 में पहले गेंदबाजी करने वाली टीम की जीत का सक्सेस रेट 56.81% रहा है। इस मैदान पर हुए कुल टी-20: 44पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम जीती: 19पहले गेंदबाजी करने वाली टीम जीती: 25पहली पारी में टीम का औसत स्कोर: 137दूसरी पारी में टीम का औसत स्कोर: 128 कोलकाता और हैदराबाद ने 2-2 बार खिताब जीते आईपीएल इतिहास में कोलकाता ने अब तक दो बार फाइनल (2014, 2012) खेला और दोनों बार चैम्पियन रही है। वहीं, हैदराबाद ने भी अब तक दो बार (2016, 2009) में फाइनल खेला और जीत हासिल की। आईपीएल में हैदराबाद का सक्सेस रेट 53.21%, यह केकेआर से ज्यादा लीग में हैदराबाद का सक्सेस रेट कोलकाता से ज्यादा है। हैदराबाद ने आईपीएल में 109 मैच खेले हैं। इसमें उसने 58 मैच जीते और 51 हारे हैं, यानि लीग में उसका सक्सेस रेट 53.21% है। वहीं, कोलकाता ने 179 मैच खेले हैं। इनमें उसने 92 मैच जीते और 87 हारे हैं, यानि लीग में उसका सक्सेस रेट 51.39% है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें KKR VS SRH Head To Head Record - IPL Dream Playing 11 and Match Preview | Kolkata Knight Riders Vs Sunrisers Hyderabad IPL Latest News and Update [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/sports/cricket/ipl-2020/news/kkr-vs-srh-head-to-head-record-ipl-dream-playing-11-match-preview-kolkata-knight-riders-sunrisers-hyderabad-127754843.html

28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को वोटिंग, 10 नवंबर को नतीजे; शाम 5 की बजाय 6 बजे तक वोटिंग होगी यानी 11 घंटे



		 28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को वोटिंग, 10 नवंबर को नतीजे; शाम 5 की बजाय 6 बजे तक वोटिंग होगी यानी 11 घंटे 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
आखिरकार बिहार में चुनाव का ऐलान हो ही गया। 243 सीटों पर तीन फेज में 28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को वोटिंग होगी। 10 नवंबर को नतीजे आएंगे। इसकी घोषणा करने शुक्रवार दोपहर साढ़े बारह बजे मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा मीडिया के सामने आए। नजर इस पर भी थी कि क्या मध्यप्रदेश की 28 विधानसभा सीटों समेत देशभर की 56 अलग-अलग सीटों पर उपचुनाव की घोषणा होगी? लेकिन इस पर फैसला 29 सितंबर तक टाल दिया गया है। लौटते हैं फिर बिहार की तरफ। 10 नवंबर को चुनाव के नतीजे आएंगे। यानी 14 नवंबर को मनाई जाने वाली दीपावली से चार दिन और 20 नवंबर से शुरू होने वाले छठ पर्व से दस दिन पहले यह साफ हो जाएगा कि बिहार में अगली सरकार किसकी बनेगी। नई सरकार के गठन और नए विधायकों की शपथ छठ के बाद ही होने की संभावना है। मौजूदा विधानसभा का टर्म 29 नवंबर तक है। अब सवाल-जवाब में सिलसिलेवार तरीके से जानते हैं कि चुनाव आयोग ने क्या घोषणाएं कीं... पहले फेज में कब-कहां वोटिंग होगी? बुधवार 28 अक्टूबर को 71 सीटों पर वोटिंग होगी। इसके लिए 31 हजार पोलिंग बूथ बनाए जाएंगे। दूसरे फेज में कब-कहां वोटिंग होगी? मंगलवार 3 नवंबर को 94 सीटों पर वोटिंग होगी। 42 हजार पोलिंग बूथ होंगे। तीसरे फेज में कब-कहां वोटिंग होगी? शनिवार 7 नवंबर को 78 सीटों पर मतदान होगा। इसके लिए 33.5 हजार पोलिंग बूथ बनाए जाएंगे। इस बार कितने वोटर, कितने बूथ? बिहार में 243 सीटों पर 7.29 करोड़ लोग वोट डालेंगे। इनमें 3.85 करोड़ पुरुष और 3.4 करोड़ महिला वोटर हैं। पिछले विधानसभा चुनाव के वक्त 6.7 करोड़ वोटर थे। 42 हजार पाेलिंग बूथ पर 1.73 लाख वीवीपैट का इस्तेमाल होगा। कोरोना ने चुनाव में क्या बदल दिया है? इस बारे में एक डिटेल्ड गाइडलाइन पहले ही जारी हो चुकी है। चुनाव आयोग ने आज इस बारे में सबसे बड़ी घोषणा यह की कि कोरोना की वजह से वोटिंग टाइम को एक घंटे बढ़ाया जा रहा है। नक्सल प्रभावित क्षेत्रों को छोड़कर सामान्य इलाकों में सुबह 7 से शाम 5 की बजाय सुबह 7 से शाम 6 के बीच वोटिंग होगी।आयोग ने दो और बातें कहीं, जिनका पहले जारी हो चुकी गाइडलाइन में भी जिक्र था। पहली- एक पोलिंग बूथ पर 1500 की जगह 1000 वोटर आएंगे। दूसरी- कोरोना के मरीज वोटिंग के दिन आखिरी घंटे में ही वोट डाल पाएंगे। कोरोना की वजह से क्या इंतजाम किए जा रहे हैं? इस बार बिहार चुनाव में 46 लाख मास्क, 7.6 लाख फेस शील्ड, 23 लाख जोड़े हैंड ग्लव्स और 6 लाख पीपीई किट्स का इस्तेमाल होगा। नामांकन के नियमों में क्या बदलाव हुआ? नामांकन के दौरान उम्मीदवार 5 की जगह 2 ही गाड़ियां साथ ले जा सकेंगे। पोस्टल बैलट की सुविधा कैसे मिलेगी? मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा है कि जिस जगह जरूरत और मांग होगी, वहां पोस्टल बैलट सुविधा दी जाएगी। कोरोना के दौर में दुनिया का सबसे बड़ा चुनाव मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि 60 से ज्यादा देशों ने कोरोना की वजह से चुनाव टाल दिए, लेकिन जैसे-जैसे दिन गुजरते गए न्यू नॉर्मल होता हो गया क्योंकि कोरोना के जल्दी खत्म होने के संकेत नहीं मिले। हम चाहते थे कि लोगों का लोकतांत्रिक अधिकार बना रहे। उनके स्वास्थ्य की भी हमें चिंता करनी थी। यह कोरोना के दौर में देश का ही नहीं, बल्कि दुनिया का पहला सबसे बड़ा चुनाव होने जा रहा है। बिहार चुनाव से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें... टेम्परेचर ज्यादा आया तो शाम से पहले वोट नहीं डाल सकेंगे; पढ़ें वोटर्स, राजनीतिक दल और चुनाव कर्मियों के लिए गाइडलाइनबिहार में आचार संहिता लागू होने के बाद कौन से काम रुकेंगे, कौन से चालू रहेंगे? 2015 में साथ लड़े थे राजद और जदयू 2015 के चुनाव में राजद जदयू और कांग्रेस साथ मिलकर महागठबंधन बनाया था। इस गठबंधन को 178 सीटें मिलीं थी। लेकिन, डेढ़ साल बाद ही नीतीश महागठबंधन से अलग होकर एनडीए में चले गए। इस चुनाव में एनडीए में भाजपा, लोजपा और हम (सेक्युलर) के साथ जदयू भी है। वहीं, पिछले चुनाव में एनडीए का हिस्सा रही रालोसपा महागठबंधन के साथ है। 2019 लोकसभा चुनाव में 223 विधानसभा सीटों पर आगे था एनडीए 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 में 39 सीटें एनडीए को मिली थीं। सिर्फ एक सीट पर कांग्रेस का उम्मीदवार जीता था। लोकसभा के नतीजों को अगर विधानसभा क्षेत्र के हिसाब से देखें तो एनडीए को 223 सीटों पर बढ़त मिली थी। इनमें से 96 सीटों पर भाजपा तो 92 सीटों पर जदयू आगे थी। लोजपा 35 सीटों पर आगे थी। एक सीट जीतने वाला महागठबंधन विधानसभा के लिहाज से 17 सीटों पर आगे था। इनमें 9 सीट पर राजद, 5 पर कांग्रेस, दो पर हम (सेक्युलर) जो अब एनडीए का हिस्सा हैं और एक सीट पर रालोसपा को बढ़त मिली थी। अन्य दलों में दो विधानसभा क्षेत्रों में एआईएमआईएम और एक पर सीपीआई एमएल आगे थी। मुख्यमंत्री पद के दावेदार नीतीश कुमार: 2010 के चुनाव में नीतीश एनडीए की ओर से तो 2015 में महागठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद का चेहरा थे। इस बार फिर वो एनडीए की ओर से सीएम फेस होंगे। पिछले 15 साल से राज्य में नीतीश की पार्टी सत्ता में है। इनमें 14 साल से ज्यादा नीतीश ही मुख्यमंत्री रहे हैं। तेजस्वी यादव: महागठबंधन की ओर से इस बार तेजस्वी यादव चेहरा हो सकते हैं। लालू यादव के जेल जाने के बाद महागठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी राजद का चेहरा तेजस्वी ही हैं। हाल ही में, राजद के पार्टी कार्यालय के बाहर चुनाव से जुड़ा जो पोस्टर लगाया गया उसमें अकेले तेजस्वी नजर आ रहे थे। पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का चेहरा पोस्टर से गायब था। चुनाव के बड़े मुद्दे कोरोना: कोरोना के बीच हो रहे इन चुनावों में कोरोना भी मुद्दा होगा। तेजस्वी यादव कोरोना को लेकर लगातार सरकार पर हमला कर रहे हैं। कोरोनाकाल में नीतीश कुमार के घर से बाहर नहीं निकलने को भी उन्होंने मुद्दा बनाया है। वहीं, नीतीश की ओर से सरकार द्वारा पिछले छह महीने में उठाए कदमों को गिनाया जा रहा है। किसान और खेती: केंद्र सरकार के कृषि से जुड़े दो नए बिल भी इन चुनावों में बड़ा मुद्दा होंगे। बेरोजगारी: राजद बेरोजगारी के मुद्दे को लगातार उठा रही है। प्रधानमंत्री के जन्मदिन को राजद ने राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस के रूप में मनाया। नीतीश सरकार लॉकडाउन के दौरान बिहार लौटे प्रवासियों से बिहार में ही रोजगार देने का दावा कर रही है। विकास: जदयू और भाजपा जहां पिछली केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से किए गए कामों को गिना रहे हैं। वहीं, राजद पिछले 15 साल में किए विकास के दावों को लगातार चुनौती दे रहा है। प्रवासी मजदूर: लॉकडाउन के दौरान बिहार लौटे प्रवासी मजदूरों का मुद्दा भी इस चुनाव में अहम होगा। सरकार जहां इन्हें प्रदेश में ही हर संभव मदद देने की बात कर रही है। वहीं, विपक्ष प्रवासियों के लिए समुचित इंतजाम नहीं करने पर सवाल उठा रहा है। राम मंदिर : पिछले 30 साल से चुनावी मुद्दा रहा राम मंदिर इस बार भी बड़ा मुद्दा बना रहेगा। फर्क सिर्फ इतना होगा कि इस बार भाजपा इसके शिलान्यास को अपनी बड़ी उपलब्धि के तौर पर गिनाएगी। चुनाव प्रचार के चेहरे नरेंद्र मोदी: भाजपा ने 2013 में नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित होने के बाद से हर चुनाव में मोदी ही भाजपा के लिए प्रचार का प्रमुख चेहरा रहे हैं। उनकी रैलियां भाजपा के पक्ष में माहौल बनाने का बड़ा जरिया रही हैं। इस बार बड़ी रैलियां होना मुश्किल है। ऐसे में मोदी की वर्चुअल रैलियां वोटर्स पर कितना असर डालती हैं ये देखना होगा। नीतीश कुमार: जदयू और उससे पहले समता पार्टी के दौर से ही नीतीश हर चुनाव प्रचार में पार्टी का सबसे बड़ा चेहरा रहे हैं। इस चुनाव में एनडीए गठबंधन उनके ही चेहरे पर ही चुनाव लड़ेगा। तेजस्वी यादव: चुनावी राजनीति में महज पांच साल का अनुभव रखने वाले तेजस्वी यादव के हाथ में इस बार के चुनाव प्रचार की कमान होगी। राजद के गठन के बाद ये पहला विधानसभा चुनाव होगा जब पार्टी लालू के बिना लड़ेगी। राहुल गांधी: राहुल गांधी भले कांग्रेस अध्यक्ष नहीं हैं लेकिन, चुनाव प्रचार में वो कितने सक्रिय रहते हैं इस पर नजर रहेगी। प्रियंका गांधी के चुनाव प्रचार पर भी सभी की नजर रहेगी। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की तबियत को देखते हुए पार्टी राहुल और प्रियंका गांधी को आगे कर सकती है। चिराग पासवान: लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान चुनाव प्रचार में अपनी पार्टी का सबसे बड़ा चेहरा होंगे। एनडीए युवाओं और दलितों को लुभाने के लिए उनका इस्तेमाल कर सकता है। हालांकि, पासवान और उनकी पार्टी की ओर से जिस तरह सीटों के लेकर बयान आ रहे हैं उससे तय है कि एनडीए में सीटों का बंटवारा इतना आसान नहीं होने वाला है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Bihar Election Date 2020: Election Commission, Bihar Vidhan Sabha Chunav Date Announcement Live News And Updates; Full schedule, Counting Of Votes, [Bihar Vidhan Sabha Election Dates List] [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/election-commission-press-conference-bihar-election-dates-news-and-updates-127752038.html

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कश्मीर का मुद्दा उठाया, मोदी-आरएसएस का जिक्र किया; भारत ने कहा- इमरान झूठ फैला रहे हैं



		 पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कश्मीर का मुद्दा उठाया, मोदी-आरएसएस का जिक्र किया; भारत ने कहा- इमरान झूठ फैला रहे हैं 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा की 75वीं वर्षगांठ के दौरान फिर कश्मीर का मुद्दा उठाया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय सेना पर कई आरोप भी लगाए। भारत ने इस स्पीच का बायकॉट किया। यूएन के असेंबली हॉल में उस वक्त मौजूद भारतीय विदेश सेवा के 2010 बैच के अफसर मिजितो विनितो उठकर बाहर चले गए। #WATCH Indian delegate at the UN General Assembly Hall walked out when Pakistan PM Imran Khan began his speech. pic.twitter.com/LP6Si6Ry7f — ANI (@ANI) September 25, 2020 इमरान के आरोपों पर भारत का जवाब यूएन में भारत के स्थाई प्रतिनिधि टीएस त्रिमूर्ति ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र की 75वीं महासभा में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री का बयान कूटनीतिक तौर पर बेहद निचले स्तर का था। उन्होंने झूठे आरोप लगाए और व्यक्तिगत हमले किए। पाकिस्तान अपने देश में अल्पसंख्यकों के साथ हो रहे जुल्म और सीमा पार से आतंक फैलाने की कोशिशों को ढंकने की कोशिश कर रहा है। राइट ऑफ रिप्लाई में इसका सही जवाब दिया जाएगा। PM of Pakistan statement a new diplomatic low - at 75th UN General Assembly. Another litany of vicious falsehood, personal attacks, war mongering and obfuscation of Pakistan’s persecution of its own minorities & of its cross-border terrorism. Befitting Right of Reply awaits. — PR UN Tirumurti (@ambtstirumurti) September 25, 2020 इमरान ने गुजरात दंगे और बाबरी मस्जिद का भी जिक्र किया इमरान खान ने अपनी स्पीच कहा, ‘‘राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) गांधी और नेहरू के सेक्युलर मूल्यों को पीछे छोड़ रहे हैं। वे भारत को हिंदू राष्ट्र बनाने में जुटे हैं। इनका मानना है कि भारत केवल हिंदुओं के लिए है। आरएसएस ने 1992 में बाबरी मस्जिद ढहा दी।’’ उन्होंने गुजरात दंगे का भी जिक्र किया। कहा कि 2002 के दंगे में मुस्लिमों की हत्या की गईं। कोरोनावायरस फैलाने के लिए भी मुस्लिमों को टारगेट किया गया। साथ ही कहा कि जम्मू-कश्मीर में भारत ने गैरकानूनी तरीके से विशेष राज्य का दर्जा छीना। उन्होंने कहा कि कश्मीर में लोगों को फेक एनकाउंटर में मारा जा रहा है। पिछले साल अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद कश्मीरी नेताओं को नजरबंद कर दिया गया। कई कश्मीरियों को मारा गया, पूरे राज्य में कर्फ्यू लगा दिया गया। इंटरनेशनल कम्युनिटी को इसकी जांच करनी चाहिए। प्रधानमंत्री मोदी जम्मू-कश्मीर में डेमोग्राफिक चेंज कर रही है। जेनेवा कन्वेंशन के मुताबिक, ऐसा करना वॉर क्राइम है। इंडियन आर्मी पर झूठे आरोप इमरान ने इंडियन आर्मी पर भी झूठे आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि भारत की ओर से सीजफायर का उल्लंघन किया जाता है। इससे सीमा पर तनाव पैदा किया जा रहा। सेना निर्दोष लोगों को मार रही है। भारत ने कहा- पाकिस्तान आतंक का एपिसेंटर है संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) के 45वें सेशन में भारत के स्थाई मिशन के फर्स्ट सेक्रेटरी सेंथिल कुमार ने पाकिस्तान में जातीय और धार्मिक अल्पसंख्यकों की बदतर स्थिति के मुद्दे को उठाया। उन्होंने कहा, 'दूसरों को उपदेश देने से पहले पाकिस्तान को याद रखना चाहिए कि आतंकवाद मानवाधिकार उल्लंघन का सबसे बदतर तरीका है। यह मानवता के खिलाफ अपराध है। दुनिया को मानवाधिकार पर ऐसे देश से सीख लेने की जरूरत नहीं है, जो आतंक का एपिसेंटर और नर्सरी के तौर पर जाना जाता है।' ये भी पढ़ें... यूएन में गुहार:पीओके के एक्टीविस्ट सज्जाद ने कहा- पाकिस्तान हमारे साथ जानवरों जैसा बर्ताव बंद करे, अपनी जमीन पर देशद्रोही जैसा सलूक किया जा रहा है आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार देर रात यूएन जनरल असेंबली में भाषण दिया। [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/international/news/terrible-situation-of-ethnic-and-religious-minorities-in-pakistan-127752437.html

हमें ऐसी राजनीति चाहिए जो लोगों के घाव भरे, उन्हें साथ लाए, ताकि हकीकत में एक सुरक्षित और मजबूत समाज बने



		 हमें ऐसी राजनीति चाहिए जो लोगों के घाव भरे, उन्हें साथ लाए, ताकि हकीकत में एक सुरक्षित और मजबूत समाज बने 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
आज आप जहां भी देखते हैं, आपको राजनीति दिखती है। शिक्षा में राजनीति है। फिल्मों के व्यापार में राजनीति है। नोबेल के पीछे राजनीति है, जो गांधी को नहीं मिलता, लेकिन जिमी कार्टर को मिल जाता है। एनजीओ में भी राजनीति है। योग्य को मैग्सेसे नहीं मिलता, लेकिन चालाक पा लेते हैं। नौकरशाही में राजनीति है। आर्थिक फैसलों के पीछे राजनीति है। गरीबी की भी राजनीति है और संपदा की भी राजनीति है। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि खुद राजनीति की भी राजनीति है। उनकी राजनीति है जो हम पर शासन करते हैं और उनकी भी राजनीति है जो ऐसा चाहते हैं। बिना राजनीति के आपके बीच विवाद नहीं होंगे। और अगर आपके बीच विवाद नहीं होंगे तो आपके पास लोकतंत्र भी नहीं होगा। जिस लोकतंत्र पर हमें आज इतना गर्व है असल में वह विवाद की राजनीति पर ही आधारित है। लेकिन, अगर आप सोचते हैं कि लोकतंत्र की गैरमौजूदगी विवादों को भी खत्म करती है तो आप गलत हैं। किसी तानाशाही शासन में भले ही राजनीति उतनी न हो, लेकिन विवाद उतने ही होते हैं, बस आप इन्हें खुले में नहीं देख पाते। इसकी वजह है कि जो सत्ता में होता है वह अपने विरोधियों को आसानी से निपटा देता है। क्या लोकतंत्रों में लोगों को निपटाया नहीं जाता? दोनों में ही बराबर हत्याएं होती हैं। तानाशाही में हम हत्याओं पर चर्चा नहीं करते। लोकतंत्र में हम बहस करते हैं कि कौन सही था, मरने वाला या मारने वाला। लेकिन कुछ भी हत्याओं को नहीं रोकता, क्योंकि सच यह है कि हमें मारना पसंद है। हम एक-दूसरे को फायदे के लिए मारना पसंद करते हैं। हम दूसरी प्रजातियों को मारना पसंद करते हैं। कई बार भोजन के लिए। अधिकांश, सिर्फ हत्या के प्रति प्रेम की वजह से। हम सील को सिर्फ इसलिए मार देते हैं, क्योंकि वह जाल में छेद कर देती है। हम हिरन को इसलिए मार देते हैं, क्योंकि वे फसलों को नुकसान पहुंचाते हैं। हम लोमड़ियों का इसलिए शिकार करते हैं, क्योंकि इसमें आनंद आता है। भारत में तो हम किसी भी जानवर को नुकसान पहुंचाने वाला बताकर उसे मार देते हैं। उदाहरण के लिए नीलगाय। हम ईश्वर के आगे सिर झुकाते हैं, लेकिन हाथियों के कॉरीडोर को नष्ट करके उन्हें शिकार के लिए आसान बना रहे हैं। बंदरों को इसलिए मारा जाता है, क्योंकि हम उन्हें उत्पाती मानते हैं। चूहे और सांप के भी मंदिर हैं, हम वहां प्रार्थना करते हैं और घर जाकर चूहों और नुकसान न पहुंचाने वाले सांपों को मार देते हैं। राजनेता कई बार घृणित तरीके अपनाते हैं। जैसे झूठे वादे, धोखा- धमकी और गलत वजहों से दंडित करना। राजनीति सत्ता में बने रहने और भारी संपत्ति का दोहन करने का विज्ञान है। तकनीक राजनेता की कपटी साथी और सोशल मीडिया आकर्षक परगामिनी है। जब मैं छोटा था तो घर में गांधीजी और टैगोर के चित्र लगे थे। कम पैसा होते हुए भी मेरे माता-पिता टैगोर के 23 संस्करण खरीद कर लाए थे। काउंसलेटों ने हमें किताबें भेंट की, जिससे हमारी उनके बेहतरीन साहित्य से पहचान हुई। आज हम इसे सॉफ्ट पावर की राजनीति कहते हैं। लेकिन इसने जहां मुझे हरमन मेलविले और वाल्ट व्हिटमैन से परिचित कराया, वहीं दोस्तोवस्की और मक्सिम गोर्की से भी। येव्तुशेंको की कविताओं से मैंने बाबी यार में हुए नरसंहार के बारे में जाना। मैंने गुलाग पर सोल्झेनित्सिन को पढ़ा। तब अहसास हुआ कि राजनीति का केंद्र तो सत्ता के अत्याचारों का विरोध करने में है। इसीलिए मैंने पत्रकारिता के लिए कविता को छोड़ दिया। मैं संसद में भी गया, ताकि पता लगा सकूं कि राजनीति क्या कर सकती है, यह भारत को कैसे बदल सकती है। आज जो सत्ता में हैं और हमारी हर समस्या के लिए नेहरू को दोष देते हैं। वे महात्मा को दोष देने की हिम्मत नहीं कर सकते। यह कोई वाम व दक्षिणपंथियों की लड़ाई नहीं है, जितना सरल हम इसे देखते हैं। यह भारत की आत्मा के लिए लड़ाई है। क्या हम राजनीतिक फायदे के लिए नफरत, धर्म, जाति या धार्मिक पहचान के इस्तेमाल में विश्वास करते हैं? या हम एक सहानुभूतिपूर्ण समाज के लिए लड़ेंगे, जहां पर उम्मीदें लोगों के दिलों पर शासन करती हो न कि नफरत? राजनीति को संभव बनाने की कला होना चाहिए। लेकिन, महामारी में यह हर मोर्चे पर विफल रही है। हमने शासन की बीमारी देखी है। हमने करोड़ों लोगों की जिंदगी को बर्बाद होते देखा, क्योंकि उन्होंने कुछ नहीं किया, जो बदलाव ला सकते थे। यह समय संभवत: अलग तरह की राजनीति की ओर देखने का है। ऐसी राजनीति जो लोगों के घावों को भरे, उनको साथ लाए, ताकि हकीकत में एक सुरक्षित और मजबूत समाज बने। 73 साल पहले हमने सिर्फ अहिंसा के दम पर आजादी हासिल कर ली थी। वह अहिंसा को हथियार बनाने की कला थी। यह समय भी किसी अन्य राजनीतिक हथियार की खोज का है। ऐसी सरकार चुनने की कला का जो सच में काम करती हो। (ये लेखक के अपने विचार हैं) आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें प्रीतीश नंदी, वरिष्ठ पत्रकार व फिल्म निर्माता [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/db-original/columnist/news/we-need-such-new-politics-which-inflicts-the-wounds-of-the-people-127754832.html

हम कैसे मान लें कि निजी व्यापारी आढ़तियों की तरह व्यवहार नहीं करेंगे; एमएसपी पर अधिनियमों में सरकार की चुप्पी चिंता करने वाली है



		 हम कैसे मान लें कि निजी व्यापारी आढ़तियों की तरह व्यवहार नहीं करेंगे; एमएसपी पर अधिनियमों में सरकार की चुप्पी चिंता करने वाली है 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
संसद में लाए गए कृषि से संबंधित तीन बिलों पर दो तरह के सवाल है। मौलिक सवाल है कि इनसे किसका फायदा और नुकसान होगा? साथ ही प्रक्रियात्मक मुद्दे भी अहम हैं। प्रक्रिया को लेकर एक आपत्ति है कि राज्य सभा में जोर-जबरदस्ती, बिना वोटिंग, शोर के बीच इन्हें पारित कर दिया गया। दूसरी आपत्ति राज्यों को है: कृषि और बाजार संविधान की स्टेट सूची में हैं। इस पर केंद्र द्वारा अध्यादेश और कानून लाने को राज्यों के संवैधानिक हकों पर प्रहार माना जा रहा है। संवैधानिक हक राजस्व के मुद्दे से जुड़ा है। जीएसटी के बाद राज्यों के पास राजस्व के खास स्रोत बचे नहीं है। जीएसटी के चलते राज्यों के पास कृषि मंडी की अहमियत बढ़ी वैट राज्यों के लिए अहम स्रोत था जो जीएसटी में शामिल होकर केंद्र के हाथों चला गया। तब से राज्यों के पास कृषि मंडी कर की अहमियत बढ़ गई है। अब इसके खत्म हो जाने का खतरा है। यदि प्रक्रियात्मक पहलू को नजरअंदाज कर दें तो क्या इन बिलों से कृषि और उपभोक्ता का फायदा है? आमतौर पर चर्चा में इन दो पक्षों को आमने-सामने रखने से पूरी तस्वीर सामने नहीं आती। इस कहानी में, और भी खिलाड़ी हैं: मंडी में किसान से खरीद करने वाले एजेंट, और निजी व्यापारी। निजी व्यापारी भी दो तरह के हैं। छोटे और बड़े कॉर्पोरेट। मुद्दा निजी बनाम सरकारी मंडी में व्यापार का नहीं है इस विवाद को समझने के लिए एक अहम आंकड़ा- बहुत लोगों का मानना है कि आज उपज की खरीद-बिक्री सरकारी मंडी द्वारा ही की जाती है। लेकिन 2012 के सरकारी आंकड़ों के अनुसार यह तथ्य ज्यादातर फसलों के लिए मिथक है। उदाहरण के लिए- मक्का, धान/चावल, बाजरा, ज्वार जैसी फसलों के लिए आधा या उससे भी ज्यादा, निजी व्यापारियों द्वारा खरीदा जाता था। यानी आज भी, बड़ी मात्रा में निजी व्यापार है, इसके बावजूद देश में किसानी की समस्या बरकरार है। यानी मुद्दा निजी बनाम सरकारी मंडी में व्यापार का नहीं है। यदि निजी मंडी पर सरकार कर नहीं लगा सकती तो सरकारी मंडी और निजी मंडी के बीच बराबरी का मुकाबला नहीं रहेगा। बेशक, देश में मंडियों की कमी है। सरकार का कहना है कि सरकारी मंडियों में आढ़तिया व अन्य लोग किसान को सही दाम नहीं देते और निजी मंडी लाने से, जो लेवी या कर से मुक्त होंगे, किसान और उपभोक्ता को सही दाम मिलेंगे। यह हो सकता है और नहीं भी। आज ये आढ़तिया खलनायक के रूप में उभर रहे हैं। जो किसान मंडी तक फसल बेचने आते हैं, उन्हें मंडी में आढ़तिए से निपटना होता है। और कुछ हद तक जायज़ भी है। किसान और आढ़तिए के सम्बन्ध में शोषण की गुंजाइश है। आढ़तिए किसान को तुरंत भुगतान करते हैं, सामान के भण्डारण की ज़िम्मेदारी लेते हैं, ज़रुरत पड़ने पर उधार भी देते हैं। फिर इन सेवाओं की कीमत किसान से वसूलते हैं। हम कैसे मान लें कि जो निजी व्यापारी आएंगे वो आढ़तियों की तरह व्यवहार नहीं करेंगे। किसानों से कम-से-कम दामों में खरीदना और उपभोक्ता से ज्यादा से ज्यादा वसूलना? निजी व्यापारी क्यों समाज सेवा करेंगे जब आढ़तियों ने ऐसा नहीं किया? और यदि निजी व्यापारी बड़ी कंपनी के रूप में छोटे किसान तक पहुंचेगी तो क्या वह छोटे किसान, जो आढ़तिए से अपने हित में मोल-भाव नहीं कर सके, क्या वह बड़ी कंपनी से कर लेंगे? न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर अधिनियमों में सरकार की चुप्पी को लेकर चिंताएं हैं। कुछ का कहना है कि वह रहे न रहे, किसानों को कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि वैसे भी इन्हे कुछ ही फसलों के लिए घोषित किया जाता है, और उनमें से भी कुछ के लिए वास्तव में खरीद होती है। एमएसपी के कम लागू होने से यह निष्कर्ष निकालना कि किसानों का इससे कोई फायदा नहीं....गलत होगा। जहां यह लागू है वहां निजी बाजार में बेचने वाले किसानों का भी फायदा होता है क्योंकि निजी व्यापारी को अब कम से कम एमएसपी देनी पड़ती है। कृषि क्षेत्र में आज स्थिति ठीक नहीं है और मुद्दे गंभीर हैं। कृषि क्षेत्र से करोड़ों लोग जीवनयापन करते हैं। इस पर खुले मन से विचार के बजाय सड़कों पर विरोध के चलते, सरकार अंग्रेज़ी अखबारों विज्ञापन दे रही है जहां 200-400 शब्दों में इन पेचीदा मुद्दों को समेटा जा रहा है। (ये लेखिका के अपने विचार हैं) आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें रीतिका खेड़ा, अर्थशास्त्री, दिल्ली आईआईटी में पढ़ाती हैं [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/db-original/columnist/news/what-is-the-guarantee-that-companies-will-not-behave-like-agents-127754833.html

एयरफोर्स के फाइटर और ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट दिन-रात उड़ान भर रहे, एयरफोर्स ने कहा- दोनों मोर्चों पर ऑपरेशन को तैयार हैं



		 एयरफोर्स के फाइटर और ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट दिन-रात उड़ान भर रहे, एयरफोर्स ने कहा- दोनों मोर्चों पर ऑपरेशन को तैयार हैं 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
लद्दाख में चीन से बढ़ते तनाव के बीच यह आशंका बनी हुई है कि चीन और पाकिस्तान मिलकर भारत के खिलाफ खड़े हो सकते हैं। इस बीच भारतीय वायुसेना ने कहा है कि वह दोनों ही मोर्चों पर ऑपरेशन के लिए पूरी तरह तैयार है। न्यूज एजेंसी एएनआई पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) और चीन बॉर्डर पर पहुंची। यह एयरबेस पाकिस्तान से 50 किलोमीटर दूर और युद्ध के नजरिए से अहमियत रखने वाले दौलत बेग ओल्डी से 80 किलोमीटर की दूरी पर है। यहां पर ट्रांसपोर्ट, फाइटर एयरक्राफ्ट और हेलिकॉप्टर की एक्टिविटी दिन-रात जारी है। इस तरह की जा रही है तैयारी फॉरवर्ड एयरबेस पर खारडुंगला पास और श्योक नदी से होकर पहुंचा जाता है। यहां पर अभी सुखोई- 30 एमकेआई के ऑपरेशन जारी थे। इसके अलावा ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट सी-30जे सुपरहरकुलिस, ल्यूशिन-76 और एंटन-32 के ऑपरेशन दिन-रात जारी हैं।लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) के पास दौलत बेग ओल्डी और पूर्वी लद्दाख में स्थित बेसों में जवानों के लिए राशन और असहले की सप्लाई ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट कर रहे हैं। इसके साथ ही बेस पर जवान भी जा रहे हैं।पाकिस्तान के स्कार्दू एयरबेस से खतरे और पाकिस्तान-चीन के एकसाथ खड़े होने के सवाल पर फ्लाइट लेफ्टिनेंट स्तर के एक अफसर ने न्यूज एजेंसी से कहा कि एयरफोर्स पूरी तरह ट्रेंड है और दोनों मोर्चों पर ऑपरेशन को अंजाम दे सकती है। जून में स्कार्दू एयरबेस पर उतरा था चीन का एयरक्राफ्ट पीओके में स्कार्दू एयरबेस पर जून में चीन का एक री-फ्यूलर एयरक्राफ्ट उतरा था। हालांकि, भारत का फॉरवर्ड एयरबेस श्योक के किनारे है। इस नदी में गलवान नदी भी आकर मिलती है। गलवान में ही भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई थी। इस में 20 भारतीय जवान शहीद हुए थे और एक अमेरिकी रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के 60 से ज्यादा सैनिक मारे गए थे। हाल ही में राफेल ने लद्दाख में उड़ान भरी थी चीन से सीमा विवाद के बीच कुछ दिन पहले ही इंडियन एयरफोर्स में शामिल राफेल विमान ने लद्दाख में उड़ान भरी थी। 10 सितंबर को राफेल विमानों को वायुसेना में शामिल किया गया। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें भारत-चीन सीमा विवाद के बीच इंडियन एयरफोर्स का सुखोई लद्दाख क्षेत्र में उड़ता नजर आया। [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/airforce-said-ready-for-undertaking-operations-on-both-china-pakistan-fronts-127752431.html

बॉम्बे हाईकोर्ट ने कहा- ऐसा लगता है कार्रवाई गलत नीयत से की गई; कंगना के वकील बोले- दुश्मनी निकाली गई; अब सुनवाई 28 सितंबर को



		 बॉम्बे हाईकोर्ट ने कहा- ऐसा लगता है कार्रवाई गलत नीयत से की गई; कंगना के वकील बोले- दुश्मनी निकाली गई; अब सुनवाई 28 सितंबर को 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
एक्ट्रेस कंगना रनोट के दफ्तर में बीएमसी की कार्रवाई के मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट में शुक्रवार को सुनवाई हुई। अदालत ने बीएमसी की कार्रवाई पर सवाल उठाए। कहा कि जितनी तेजी से एक दिन पहले सर्वे कि‍या और अगले दिन कार्रवाई की। इतनी जल्दी तो आप कोर्ट में रिप्लाई भी नहीं करते। हाईकोर्ट ने पूछा है कि बीएमसी के वे अफसर कौन थे, जो कंगना के दफ्तर का सर्वे करने गए थे। हाईकोर्ट ने कहा क‍ि पहली बार मामले को देखने पर यही लगता है कि कार्रवाई गलत नीयत से की गई थी। अदालत ने तोड़फोड़ से पहले ली गई अवैध निर्माण की तस्वीरों को भी अदालत को देने को कहा। अब अगली सुनवाई 28 सितंबर को होगी। संजय रावत और बीएमसी ने जवाब दाखिल किया जस्टिस एसजे कथावला और जस्टिस आरआई छागला की बेंच ने पिछली सुनवाई में शिवसेना नेता संजय राउत और बीएमसी के अफसर भाग्यवंत लाते से जवाब मांगा था। शुक्रवार को सुनवाई के दौरान शिवसेना सांसद संजय राउत की ओर से भी कोर्ट में जवाब दाखिल किया गया। इसी मामले को लेकर संजय राउत ने शुक्रवार को कहा कि यह कार्रवाई बीएमसी की ओर से की गई है। उनका इससे कोई लेना देना नहीं है। इससे पहले कोर्ट ने गुरुवार को कहा था कि तोड़ने में आपको वक्त नहीं लगता, जवाब मांगा जाता है तो समय चाहिए? कोर्ट ने इमारत गिराने पर भी बीएमसी को फटकार लगाई थी। मकान गिराने में फुर्ती दिखती है तो मरम्मत में सुस्ती क्यों दिखाई देती है। कंगना के वकील बोले- कार्रवाई नहीं, दुश्मनी निकाली गई कंगना रनोट के वकील ने कहा कि यह कार्रवाई नहीं है, दुश्मनी निकाली गई है। कंगना महाराष्‍ट्र सरकार और शिवसेना के खिलाफ खड़ी थी, इसलिए बीएमसी को हथियार बनाया गया। उन्होंने आगे कहा कि जिस ऑफिस में तोड़फोड़ की गई वह पुराना था। बारिश का सीजन भी आ रहा था, इसलिए थोड़ी बहुत मरम्मत का काम हो रहा था। एक्ट्रेस के वकील बीरेंद्र सराफ ने मंगलवार को हाईकोर्ट में एक डीवीडी सौंपी थी। सराफ का दावा है कि डीवीडी में राउत का वह बयान है, जिसमें उन्होंने कंगना को धमकी दी है। कंगना ने BMC से 2 करोड़ रुपए का हर्जाना मांगा BMC ने कंगना की पाली हिल वाले ऑफिस में अवैध निर्माण बताते हुए 9 सितंबर को तोड़फोड़ की थी। इसके बाद कंगना ने 2 करोड़ रुपए के हर्जाने की मांग करते हुए BMC के खिलाफ हाईकोर्ट में अर्जी लगाई थी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें BMC ने 9 सितंबर को कंगना के बंगले में अवैध निर्माण बताकर तोड़फोड़ की थी। इसके बदले में कंगना ने BMC पर 2 करोड़ रुपए का दावा किया है। -फाइल फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/local/maharashtra/news/kanganas-office-breaking-case-in-the-high-court-from-today-the-actress-will-be-kept-on-her-side-sanjay-raut-has-to-answer-before-the-hearing-starts-127752083.html

किन तीन कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन कर रहे हैं? किस कानून को लेकर क्या है किसानों की शंका और उस पर क्या है सरकार का दावा?



		 किन तीन कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन कर रहे हैं? किस कानून को लेकर क्या है किसानों की शंका और उस पर क्या है सरकार का दावा? 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
संसद ने खेती से जुड़े तीन महत्वपूर्ण सुधार विधेयकों को मंजूरी दे दी है। इसे लेकर किसानों ने शुक्रवार को आंदोलन किया। पंजाब और हरियाणा में सबसे ज्यादा असर देखने को मिला। सुबह से ही किसान रेलवे ट्रैक पर आकर बैठ गए और कई जगहों पर उन्होंने विरोध-प्रदर्शन किया। आइए जानते हैं, क्या हैं यह तीन विधेयक? इन पर क्या है किसानों की शंका? और क्या कहती है सरकार? 1. कृषि उपज व्यापार एवं वाणिज्य (संवर्धन एवं सरलीकरण) विधेयक 2020 शंका: न्यूनतम मूल्य समर्थन (एमएसपी) प्रणाली समाप्त हो जाएगी। किसान यदि मंडियों के बाहर उपज बेचेंगे तो मंडियां खत्म हो जाएंगी। ई-नाम जैसे सरकारी ई ट्रेडिंग पोर्टल का क्या होगा?सरकार का दावाः एमएसपी पहले की तरह जारी रहेगी। एमएसपी पर किसान अपनी उपज बेच सकेंगे। इस दिशा में हाल ही में सरकार ने रबी की एमएसपी भी घोषित कर दी है। मंडियां खत्म नहीं होंगी, बल्कि वहां भी पहले की तरह ही कारोबार होता रहेगा। इस व्यवस्था में किसानों को मंडी के साथ ही अन्य स्थानों पर अपनी फसल बेचने का विकल्प मिलेगा। मंडियों में ई-नाम ट्रेडिंग जारी रहेगी। इलेक्ट्रानिक प्लेटफॉर्मों पर एग्री प्रोडक्ट्स का कारोबार बढ़ेगा। पारदर्शिता के साथ समय की बचत होगी। 2. कृषक (सशक्तिकरण व संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक 2020 शंकाः कॉन्ट्रेक्ट करने में किसानों का पक्ष कमजोर होगा,वे कीमत निर्धारित नहीं कर पाएंगे। छोटे किसान कैसे कांट्रेक्ट फार्मिंग करेंगे? प्रायोजक उनसे दूरी बना सकते हैं। विवाद की स्थिति में बड़ी कंपनियों को लाभ होगा।सरकार का दावाः कॉन्ट्रेक्ट करना है या नहीं, इसमें किसान को पूरी आजादी रहेगी। वह अपनी इच्छानुसार दाम तय कर फसल बेचेगा। अधिक से अधिक 3 दिन में पेमेंट मिलेगा। देश में 10 हजार फार्मर्स प्रोड्यूसर ग्रुप्स (एफपीओ) बन रहे हैं। ये एफपीओ छोटे किसानों को जोड़कर फसल को बाजार में उचित लाभ दिलाने की दिशा में काम करेंगे। कॉन्ट्रेक्ट के बाद किसान को व्यापारियों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। खरीदार उपभोक्ता उसके खेत से ही उपज लेकर जा सकेगा। विवाद की स्थिति में कोर्ट-कचहरी जाने की जरूरत नहीं होगी। स्थानीय स्तर पर ही विवाद निपटाया जाएगा। 3. आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक -2020 शंकाः बड़ी कंपनियां आवश्यक वस्तुओं का स्टोरेज करेगी। उनका दखल बढ़ेगा। इससे कालाबाजारी बढ़ सकती है।सरकार का दावाः निजी निवेशकों को उनके कारोबार के ऑपरेशन में बहुत ज्यादा नियमों की वजह से दखल महसूस नहीं होगा। इससे कृषि क्षेत्र में निजी निवेश बढ़ेगा। कोल्ड स्टोरेज एवं फूड प्रोसेसिंग के क्षेत्र में निजी निवेश बढ़ने से किसानों को बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर मिलेगा। किसान की फसल खराब होने की आंशका दूर होगी। वह आलू-प्याज जैसी फसलें निश्चिंत होकर उगा सकेगा। एक सीमा से ज्यादा कीमतें बढ़ने पर सरकार के पास उस पर काबू करने की शक्तियां तो रहेंगी ही। इंस्पेक्टर राज खत्म होगा और भ्रष्टाचार भी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Haryana Punjab Farmer Protest | What Is Three Farm Bill? And Why Kisan Fear Narendra Modi Govt - All You Need To Know In Simple Words [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/db-original/explainer/news/haryana-punjab-farmer-protest-what-is-three-farm-bill-and-why-kisan-fear-from-narendra-modi-govt-all-you-need-to-know-in-simple-words-127752372.html

ईडी ने लंदन में यस बैंक के को-फाउंडर राणा कपूर का घर अटैच किया, 3 हजार 532 वर्ग फीट के इस फ्लैट की कीमत 127 करोड़ रुपए



		 ईडी ने लंदन में यस बैंक के को-फाउंडर राणा कपूर का घर अटैच किया, 3 हजार 532 वर्ग फीट के इस फ्लैट की कीमत 127 करोड़ रुपए 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने यस बैंक के को-फाउंडर राणा कपूर का लंदन स्थित फ्लैट जब्त कर लिया है। जांच एजेंसी ने यह कार्रवाई मनी लॉन्ड्रिंग मामले में की है। इस फ्लैट की कीमत 127 करोड़ रुपए है। राणा कपूर, उनके परिवार और अन्य पर 4,300 करोड़ रुपए की मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है। राणा कपूर का यह फ्लैट लंदन के साउथ आउडली स्ट्रीट पर है। इसे उन्होंने 2017 में 93 करोड़ रुपए में खरीदा था। इसका रजिस्ट्रेशन डॉयट क्रिएशंस जर्सी लिमिटेड के नाम है। राणा इसके बेनिफिशियल ऑनर हैं। The property was purchased by Yes Bank co-founder Rana Kapoor in 2017 for 9.9 Million Pounds (Rs 93 Crores) in the name of DOIT Creations Jersey Limited, wherein accused Rana Kapoor is the beneficial owner: Enforcement Directorate (ED) https://t.co/zBbDBMiaAQ — ANI (@ANI) September 25, 2020 3 बेडरूम का फ्लैट है बताया जा रहा है कि राणा का यह फ्लैट 5 बीएचके है। इसमें 2 लिविंग रूम और 3 बेडरूम हैं। इसके अलावा फ्लैट का फ्लोर एरिया 3,532 वर्ग फीट है। प्राइवेट पार्किंग भी है। ईडी के सूत्रों के मुताबिक, राणा कपूर इस प्रॉपर्टी को बेचने वाले थे। इसके लिए उसने एक प्रॉपर्टी कन्सल्टेंसी को भी हायर किया था। प्रॉपर्टी को कई वेबसाइट पर भी बिक्री के लिए लिस्ट किया गया है। राणा का यह फ्लैट 5 बीएचके है। इसमें 2 लिविंग रूम और 3 बेडरूम हैं। जब्त होगी प्रॉपर्टी अब प्रक्रिया के तहत ईडी ब्रिटेन में अटैचमेंट ऑर्डर को लागू कराने के लिए वहां की एजेंसी से संपर्क करेगी। साथ ही यह नोटिस भी जारी करेगी कि इस प्रॉपर्टी को प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के क्रिमिनल सेक्शन के तहत बेचा या खरीदा नहीं जा सके। इससे पहले ईडी ने राणा कपूर की अमेरिका, दुबई और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में स्थित प्रॉपर्टी को भी जब्त कर चुकी है। राणा ने इसे 2017 में 93 करोड़ रुपए में खरीदा था। क्या है मामला मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी ने अब तक राणा कपूर की 2,203 करोड़ रुपए की संपत्ति अटैच कर चुकी है। ईडी का आरोप है कि राणा कपूर और उसके परिवार ने अन्य के साथ बैंक के जरिए बड़े कर्ज देने के लिए घूस ली है। ईडी ने इन लोगों को 4,300 करोड़ रुपए की मनी लॉन्ड्रिंग केस में आरोपी बनाया है। केंद्रीय जांच एजेंसी ने मार्च में राणा कपूर को गिरफ्तार किया था।इस मामले में ईडी ने पहले ही डीएचएफएल प्रमोटरों कपिल और धीरज वधावन की प्रॉपर्टीज को भी पीएमएलए के तहत अटैच कर चुकी है, जो करीब 1400 करोड़ की संपत्ति है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें राणा कपूर का यह फ्लैट लंदन के साउथ आउडली स्ट्रीट पर है। [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/business/news/rana-kapoor-yes-bank-case-heres-latest-news-updates-enforcement-directorate-ed-127752365.html

मरीजों का आंकड़ा 59 लाख के पार; 24 घंटे में संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी, 85 हजार मरीज मिले, 93 हजार लोग ठीक हुए



		 मरीजों का आंकड़ा 59 लाख के पार; 24 घंटे में संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी, 85 हजार मरीज मिले, 93 हजार लोग ठीक हुए 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
देश में कोरोना मरीजों की संख्या 59 लाख से अधिक हो चुकी है। अब तक 59 लाख 1 हजार 571 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 48 लाख 46 हजार 168 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 9 लाख 61 हजार 159 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 93 हजार 410 मरीजों की मौत हो चुकी है। शुक्रवार को संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी। 24 घंटे के अंदर 85 हजार 465 नए मरीज बढ़े, जबकि 93 हजार 166 लोग ठीक होकर अपने घर गए। 1,093 मरीजों की मौत भी हो गई। ये आंकड़े covid19india.org के मुताबिक हैं। ओडिशा में मरीजों का आंकड़ा 2 लाख के पार ओडिशा देश का 8वां राज्य हो गया है, जहां संक्रमितों की संख्या 2 लाख से अधिक हो चुकी है। शुक्रवार को यहां 4,208 नए केस मिले। इसी के साथ संक्रमितों की संख्या 2 लाख 1 हजार 96 हो गई है। इनमें 1 लाख 61 हजार 44 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 820 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके पहले महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु,कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और पश्चिम बंगाल में संक्रमितों की संख्या 2 लाख से ज्यादा हो चुकी है। 24 घंटे के अंदर रिकॉर्ड 14 लाख से ज्यादा लोगों की जांच हुई पिछले 24 घंटे के अंदर रिकॉर्ड 14 लाख 92 हजार 409 लोगों की जांच हुई। कोरोना टेस्टिंग का ये आंकड़ा एक दिन में सबसे ज्यादा है। इसके पहले 19 सितंबर को 12 लाख लोगों की जांच हुई थी। अब हर 10 लाख की आबादी में मरीजों के मिलने की संख्या बढ़ गई है। अब इतनी आबादी में 4,210 लोग संक्रमित मिल रहे हैं। 20 सितंबर को 4200 मरीज मिलते थे। इतनी ही आबादी में मरने वालों की संख्या भी अब 67 हो गई है। कोरोना अपडेट्स 74 साल के सिंगर एसपी बालासुब्रमण्यम का शुक्रवार सुबह निधन हो गया। वे कोरोनावायरस संक्रमण से जूझ रहे थे। 5 अगस्त को हॉस्पिटल में एडमिट हुए बालू की हालत 48 घंटों से बेहद नाजुक बनी हुई थी।देश में कोरोना के चलते रोका गया योग ब्रेक शुक्रवार से शुरू कर दिया है। आयुष मंत्रालय ने वर्क प्लेस में लोगों को योग से परिचित करवाने के लिए 5 मिनट का योगा ब्रेक लागू किया था।छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की रफ्तार फिर बढ़ने लगी है। एक सप्ताह पहले तक जहां 10 दिनों में 10 हजार मरीज मिले। वहीं 5 दिनों में ही 10630 संक्रमित मिल चुके हैं। यहां रायपुर समेत 11 जिलों में लॉकडाउन लगाया गया है।दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की हालत अब पहले से बेहतर बताई जा रही है। उन्हें कोरोना के साथ ही डेंगू हो गया है। उन्हें एलएनजेपी हॉस्पिटल से मैक्स अस्पताल के आईसीयू में शिफ्ट किया गया है। लगातार पांचवां दिन जब 90 हजार से कम केस आए देश में गुरुवार को कोरोना संक्रमण के 82214 मामले आए। 77488 लोग ठीक हुए और 1144 लोगों की मौत हुई। छह दिन के बाद संक्रमितों की संख्या ठीक हुए मरीजों से ज्यादा रही। हालांकि, राहत की बात रही कि यह लगातार पांचवां दिन था, जब संक्रमितों की संख्या 90 हजार से कम रही। पांच राज्यों का हाल 1. मध्यप्रदेश राज्य में बगैर मास्क वालों पर सख्ती शुरू हो गई है। इसका असर राजधानी भोपाल के डिस्ट्रिक कोर्ट में देखने को मिला। यहां अदालत परिसर में बिना मास्क लगाए लोगों पर 500 रुपए के जुर्माने की कार्रवाई की गई है l पुलिस ने पहले दिन पांच लोगों को बिना मास्क लगाए अदालत परिसर में पकड़ा और प्रत्येक पर 500 रुपए का जुर्माना किया l शुक्रवार को एमपी नगर पुलिस ने भी 10 लोगों के खिलाफ मास्क ना पहनने पर चालानी कार्रवाई की है l 2. राजस्थान राज्य में शुक्रवार को कोरोना के सबसे ज्यादा 2,010 नए मामले सामने आए। अब तक 1 लाख 24 हजार 730 लोग राज्य में संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। वहीं,15 मरीजों की संक्रमण से मौत भी हो गई।राजस्थान में कोरोना से अब तक 1412 मरीजों की जान जा चुकी है। अब तक 29.94 लाख से ज्यादा सैंपल जांचे जा चुके हैं। 1 लाख 4 हजार 288 मरीज अभी तक रिकवर हो चुके हैं। 19 हजार 30 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। इस बीच, राज्य के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने निजी चिकित्सालयों को क्षमता के सापेक्ष 30% बेड कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए​ रिजर्व रखने के निर्देश दिए हैं। 3. बिहार बिहार में शुक्रवार को 1,632 नए केस मिले। हालांकि अच्छी बात है कि इससे ज्यादा लोगों को ठीक होने के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया। पिछले 24 घंटे में 1,810 लोग ठीक होकर अपने घर गए। 3 मरीजों की मौत हो गई। राज्य में अब तक 1 लाख 75 हजार 898 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 1 लाख 61 हजार 510 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 13 हजार 506 लोगों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 881 मरीजों की मौत हो चुकी है। 4. महाराष्ट्र महाराष्ट्र में शुक्रवार को संक्रमण के 17 हजार 794 नए मामले सामने आए। इसी के साथ संक्रमितों का आंकड़ा 13 लाख के पार हो गया। अब तक 13 लाख 757 लोग संक्रमित हो चुके हैं। राज्य में पिछले 24 घंटे में 416 लोगों की मौत हुई है। अब तक 34 हजार 761 लोग जान गंवा चुके हैं। 5. उत्तरप्रदेश राज्य में शुक्रवार को लगातार आठवें दिन नए पॉजिटिव केस की तुलना में डिस्चार्ज होने वाले मरीजों की संख्या अधिक रही। कोरोना सैंपल की टेस्टिंग में भी कमी नहीं की गई थी। बीते 24 घंटे में शुक्रवार को 4,519 नए मामले सामने आए और 6075 लोगों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है। राज्य में अब तक 3 लाख 78 हजार 533 लोग संक्रमित पाए जा चुके हैं। इनमें से 82.86% फीसदी यानी 3 लाख 13 हजार 686 मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। 59 हजार 397 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 5 हजार 450 लोगों की मौत हो चुकी है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें फोटो ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर की है। यहां कृषि बिल के विरोध में किसानों ने धरना दिया। सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी कोरोना से बचाव के लिए पीपीई किट पहने दिखे। [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/coronavirus-outbreak-india-cases-live-news-and-updates-25-september-2020-127752040.html

दीपिका से आज पूछताछ होगी, एनसीबी ने 4 सवाल तैयार किए; करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शन के डायरेक्टर क्षितिज को हिरासत में लिया



		 दीपिका से आज पूछताछ होगी, एनसीबी ने 4 सवाल तैयार किए; करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शन के डायरेक्टर क्षितिज को हिरासत में लिया 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने ड्रग्स मामले में शुक्रवार को एक्ट्रेस रकुलप्रीत सिंह, दीपिका पादुकोण की मैनेजर करिश्मा प्रकाश और करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शन के डायरेक्टर क्षितिज रवि प्रसाद और अनुभव चोपड़ा से पूछताछ की। रकुलप्रीत और करिश्मा को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की गई। एनसीबी ने करिश्मा को आज भी बुलाया है। कहा जा रहा है कि दीपिका पादुकोण के सामने बैठाकर सवाल किए जाएंगे। उधर, एनसीबी ने देर रात क्षितिज रवि प्रसाद को हिरासत में ले लिया है। इससे पहले उसके घर छापा भी मारा था। क्षितिज के घर से गांजा बरामद हुआ है, हालांकि इसकी मात्रा काफी कम है। करण जौहर ने सफाई दी, कहा- क्षितिज धर्मा प्रोडक्शन के कर्मचारी नहीं करण जौहर ने क्षितिज रवि प्रसाद और उनके घर हुई पार्टी को लेकर एक बयान जारी किया। उन्होंने कहा कि कुछ न्यूज चैनल, प्रिंट मीडिया और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म गलत ढंग से और भ्रमित करने वाली रिपोर्टिंग कर रहे हैं कि 28 जुलाई, 2019 को मेरे घर हुई पार्टी में ड्रग्स का सेवन हुआ। मैं इसके बारे में 2019 में ही कह चुका है कि ये सभी आरोप झूठे हैं। मैं फिर से कहना चाहूंगा कि मैं न तो ड्रग्स लेता हूं और न ही इस तरह की किसी भी चीज के सेवन को बढ़ावा देता हूं। उन्होंने कहा कि कई मीडिया और न्यूज चैनल में बताया जा रहा है कि क्षितिज रवि प्रसाद और अनुभव चोपड़ा मेरे सहयोगी और मेरे करीबी हैं। मैं बताना चाहूंगा कि मैं इन्हें नहीं जानता और ये व्यक्तिगत तौर पर क्या करते हैं इसके लिए धर्मा प्रोडक्शन जिम्मेदार नहीं है। ये दोनों धर्मा प्रोडक्शन के कर्मचारी नहीं हैं। ये कुछ वक्त (अनुबंध पर) के लिए हमारे साथ जुड़े थे। रकुलप्रीत ने रिया से ड्रग्स के बारे में चैट करने की बात कबूली सूत्रों के मुताबिक, रकुलप्रीत ने रिया से ड्रग्स के बारे में चैट करने की बात कबूली, लेकिन खुद ड्रग्स लेने से इनकार किया। एक्ट्रेस ने कहा कि वे किसी भी मेडिकल टेस्ट के लिए तैयार हैं। कहा कि जो भी ड्रग्स पैडलर्स गिरफ्तार किए गए हैं, उनसे कभी नहीं मिलीं। किसी को भी सामने बैठाकर पूछताछ के लिए तैयार हैं। रकुलप्रीत ने भी रिया की ही तरह अपना बयान अपने हाथ से लिखा है। इस बीच एनसीबी ने कहा है कि रिया ही सुशांत के लिए अपने भाई शोविक से ड्रग्स का प्रबंध करवाती थी। दीपिका पादुकोण की मैनेजर करिश्मा प्रकाश से शुक्रवार को 4 घंटे पूछताछ की गई। दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और श्रद्धा कपूर से आज पूछताछ होगी दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और श्रद्धा कपूर से शनिवार को पूछताछ होगी। एनसीबी ने कहा है कि तीनों को वक्त नहीं दिया जाएगा। तीनों पर ड्रग्स लेने के आरोप हैं। बताया जा रहा है कि ड्रग्स केस में गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती ने पूछताछ में कई एक्ट्रेस के नाम लिए हैं। दीपिका से एनसीबी 4 सवाल कर सकती है 1. क्या उन्होंने ड्रग्स का सेवन किया। 2. यदि हां, तो उनसे यह पूछा जाएगा कि वे कब और कहां से ड्रग्स खरीदती थीं। 3. ड्रग्स के लिए भुगतान कैसे किया और किन लोगों के साथ ड्रग्स ली। 4. क्या उन्होंने ड्रग्स का अकेले सेवन किया या कुछ और लोग भी उनके साथ जुड़े हुए थे। दीपिका से पूछताछ के दौरान रणवीर के मौजूद रहने पर एनसीबी ने कहा एनसीबी ने कहा, 'हम किसी को भी पूछताछ के समय संदिग्ध / आरोपी के साथ रहने की अनुमति नहीं देते हैं। यदि आवश्यक हो तो चिकित्सा सहायता प्रदान की जा सकती है। ऑफिस के बाहर तक कोई उनके साथ आ सकता है। कुछ पूछताछ में उनका नाम आया है। इसी वजह से उन्हें बुलाया गया है।' गुरुवार को यह खबर आई थी कि दीपिका के पति रणवीर ने एनसीबी से अपील की है कि पूछताछ के दौरान वे दीपिका के साथ रहना चाहते हैं। रणवीर ने कहा है कि दीपिका को कभी-कभी घबराहट होती है। इसलिए पूछताछ के वक्त उनके साथ रहने की परमिशन दी जाए। (दीपिका से शनिवार को पूछताछ होगी...पूरी खबर यहां पढ़ें।) राखी सावंत का दावा- स्लिम दिखने के लिए कई एक्टर्स ड्रग्स लेते हैं राखी ने दावा किया है कि कई एक्टर्स ऐसे ड्रग्स लेते हैं, जिनसे उन्हें भूख न लगे। राखी ने बताया, 'मैंने देखा है कि कई एक्टर खुद को स्लिम और जवान बनाए रखने के लिए ड्रग्स लेते हैं। ज्यादातर वीड (गांजा) इस्तेमाल करते हैं। कई बड़े एक्टर चरस भी पीते हैं।' आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें रकुलप्रीत करीब 10.30 बजे NCB के ऑफिस पहुंचीं थीं। उन पर ड्रग्स लेने के आरोप हैं। [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/narcotics-control-bureau-summon-to-rakul-preet-singh-in-drugs-case-today-deepika-padukone-will-join-tomorrow-127752089.html

जिस वॉट्सऐप ग्रुप में दीपिका ने लिखा था ‘माल है क्या’, उसकी खुद ही एडमिन निकलीं; ग्रुप से इंडस्ट्री की कई हस्तियां जुड़ी थीं



		 जिस वॉट्सऐप ग्रुप में दीपिका ने लिखा था ‘माल है क्या’, उसकी खुद ही एडमिन निकलीं; ग्रुप से इंडस्ट्री की कई हस्तियां जुड़ी थीं 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
ड्रग्स मामले में दीपिका पादुकोण को लेकर नए खुलासे हो रहे हैं। 2017 के जिस वॉट्सऐप ग्रुप में दीपिका ने ‘हैश’ (हशीश) और ‘माल है क्या?’ जैसी लाइन लिखी थी, उस ग्रुप की वह खुद एडमिन थीं। भास्कर को सूत्रों ने बताया कि दीपिका के अलावा उनकी मैनेजर करिश्मा प्रकाश और रिया चक्रवर्ती की मैनेजर रहीं जया साहा भी इसकी एडमिन थीं। कुछ महीने पहले ही यह ग्रुप डिलीट किया गया। इस ग्रुप में कई नामचीन सितारे और उनके मैनेजर जुड़े थे। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) को ग्रुप की कई ड्रग चैट मिली हैं, जिसके आधार पर एनसीबी ड्रग सिंडिकेट ऑपरेट करने का केस दर्ज कर सकती है। ग्रुप में 12 मेंबर्स थे सूत्रों के मुताबिक, ग्रुप में 12 मेंबर थे। करिश्मा ने पूछताछ में बताया कि वह जाया साहा के अंडर में काम करती थी। दीपिका को लेकर उनसे कई बार बातचीत हुई। जया और दीपिका की मुलाकात भी करिश्मा ने ही करवाई थी। सूत्रों के अनुसार, करिश्मा ने दीपिका के लिए ड्रग्स खरीदने की बात कबूल कर ली है। ग्रुप की चैट से पता चला है कि सेलेब्रिटीज ड्रग्स की खरीदारी अपने स्टाफ या मैनेजर के जरिए करते थे। करिश्मा ने माना- दीपिका ने ग्रुप में शामिल किया था करिश्मा प्रकाश से एनसीबी से पूछताछ की। उसने ड्रग्स से जुड़े किसी भी मामले में शामिल होने से साफ मना किया है। सूत्रों के मुताबिक, करिश्मा से जैसे ही पूछताछ शुरू हुई, वह रोने लगी। एनसीबी ने उसके इस ग्रुप में शामिल होने के सबूत रखे तो उसने दीपिका को लेकर कई बड़े खुलासे किए। करिश्मा ने बताया कि इस ग्रुप में दीपिका ने ही उसे जबरन जोड़ा था। ग्रुप में दीपिका और करिश्मा प्रकाश के बीच हुई बातचीत सार्वजनिक हुई थी। जया को करिश्मा का सीनियर बताया जाता है। दीपिका और करिश्मा के बीच हुई बातचीत सुबह 10:04 बजे: दीपिका करिश्मा को लिखती हैं, ‘क्या तुम्हारे पास माल है?’ 10:05 बजे: करिश्मा लिखती हैं, ‘मेरे पास है, लेकिन घर में है। मैं बांद्रा में हूं।’ 10:05 बजे: अगले चैट में करिश्मा लिखती हैं, ‘क्या मैं अमित से कहूं, अगर तुम्हें चाहिए तो।’ (अमित कौन है, यह साफ नहीं है।) 10:07 बजे: दीपिका लिखती हैं, ‘Yes!! Pllleeeeasssee..’ 10:08 बजे: करिश्मा लिखती हैं, ‘अमित के पास है। वह उसे लेकर आ रहा है।’ 10:12 बजे: दीपिका लिखती हैं, ‘हैश न?‘ अगले चैट में वे लिखती हैं, ‘वीड (गांजा) नहीं।’ 10:14 बजे: करिश्मा लिखती हैं, ‘तुम कितने बजे कोको आ रही हो?’ (कोको मुंबई का एक बार है।) 10:15 बजे: दीपिका लिखती हैं, ‘11:30 या 12 बजे तक।’ 10:15 बजे: दीपिका आगे लिखती हैं, ‘शैल कितने बजे तक वहां पहुंच जाएगी?’ (शैल कौन है, यह साफ नहीं है।) 10:16 बजे: करिश्मा लिखती हैं, ‘मुझे लगता है कि उसने 11:30 कहा था, क्योंकि उसे 12 बजे किसी दूसरी जगह पर पहुंचना था।’ इन गंभीर धाराओं में केस दर्ज हो सकता है सेक्शन 8(c): जानबूझकर कोई ऐसी संपत्ति खरीदना या उसका इस्तेमाल करना, जो इस कानून का उल्लंघन हो।सेक्शन 20(b)(ii): अगर कोई कम मात्रा में प्रतिबंधित ड्रग्स बनाता, अपने पास रखता, बेचता, खरीदता या इस्तेमाल करता पाया जाता है।सेक्शन 29: साजिश रचने और किसी को ड्रग्स लेने के लिए उकसाने के दोषी पाए जाने पर भी सजा का प्रावधान है।सेक्शन 22: ड्रग्स की कम क्वांटिटी के लिए एक साल, ज्यादा क्वांटिटी के केस में 10 साल और कमर्शियल क्वांटिटी के लिए 20 साल तक की सजा दी जा सकती है।सेक्शन 27A: प्रतिबंधित ड्रग्स से जुड़ी एक्टिविटी को बढ़ावा देने या इसमें मदद करने के लिए कम से कम 10 साल की और अधिकतम 20 साल की सजा का प्रावधान। कोर्ट चाहे तो दो लाख रुपए से ज्यादा का जुर्माना भी वसूल सकती है। ऐसे करिश्मा से होते हुए दीपिका तक पहुंचा ड्रग्स का मामला करिश्मा प्रकाश ‘क्वान’ नाम की एक सेलिब्रिटी मैनेजमेंट कंपनी में काम करती हैं। यह कंपनी 40 से ज्यादा बॉलीवुड सेलेब्रिटीज को टैलेंट मैनेजर मुहैया करवाती है। रिया चक्रवर्ती की मैनेजर जया साहा भी इसी कंपनी के लिए काम करती हैं। एनसीबी, सीबीआई और ईडी की टीम जया से कई बार पूछताछ कर चुकी है। जांच के दौरान एनसीबी को जया और करिश्मा के बीच हुई चैट का पता चला। इसी के बाद मामला दीपिका तक पहुंचा। ऐसे एक्सट्रैक्ट हुई दीपिका की वॉट्सऐप चैट पुलिस विभाग से जुड़े एक अधिकारी ने नाम जाहिर न करने की शर्त पर भास्कर को बताया कि चैट के फॉर्मेट को देखकर कहा जा सकता है कि यह दीपिका की ओरिजनल चैट हो सकती है। इन चैट के नीचे लिखे सोर्स यह साबित करते हैं कि यह एक्ट्रेस या उनकी मैनेजर के मोबाइल फोन से नहीं, बल्कि एक सॉफ्टवेयर की मदद से एक्सट्रैक्ट किए गए हैं। आमतौर पर केंद्रीय जांच एजेंसियां इस तरह की चैट को इसी तरीके से एक्सट्रैक्ट कर सकती हैं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें एनसीबी के समन के बाद दीपिका पादुकोण बुधवार देर रात रणवीर सिंह के साथ गोवा से मुंबई पहुंची थीं। [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/local/maharashtra/news/deepika-padukone-manager-karishma-prakash-drug-connection-investigation-heres-latest-news-updates-narcotics-control-bureau-ncb-127752263.html

20 हजार करोड़ रुपए के टैक्स विवाद में वोडाफोन की जीत, 2016 में सिंगापुर की इंटरनेशनल कोर्ट गई थी कंपनी



		 20 हजार करोड़ रुपए के टैक्स विवाद में वोडाफोन की जीत, 2016 में सिंगापुर की इंटरनेशनल कोर्ट गई थी कंपनी 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन ने 20 हजार करोड़ रुपए के टैक्स विवाद के मामले में भारत सरकार को हराकर केस जीत लिया है। कंपनी ने शुक्रवार को बताया कि उसे सिंगापुर के एक इंटरनेशनल कोर्ट में 12 हजार करोड़ रुपए के बकाए और 7,900 करोड़ रुपए के जुर्माने के मामले में भारत सरकार के खिलाफ जीत मिली है। वोडाफोन के लिए यह बहुत ही राहत की बात है, क्योंकि कंपनी को भारत में 53 हजार करोड़ रुपए एजीआर के तौर पर अगले दस साल तक चुकाने हैं। कंपनी का शेयर 13.60% बढ़ा इस फैसले के बाद बीएसई में कंपनी का शेयर 13.60 फीसदी बढ़कर 10.36 रुपए पर बंद हुआ। वोडाफोन ने 2016 में भारत सरकार के खिलाफ सिंगापुर के इंटरनेशनल आर्बिट्रेशन सेंटर यानी अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता केंद्र के पास याचिका दाखिल की थी। यह विवाद लाइसेंस फीस और एयरवेव्स के इस्तेमाल पर रेट्रोएक्टिव टैक्स क्लेम को लेकर शुरू हुआ था। संधियों के खिलाफ है भारत सरकार की मांग इंटरनेशनल कोर्ट ने कहा कि भारत के टैक्स विभाग ने जो भी देनदारी, ब्याज और पेनाल्टी लगाई गई है, वह भारत और नीदरलैंड के बीच हुई इन्वेस्टमेंट ट्रीटी के नियमों फेयर गारंटी और बराबर के ट्रीटमेंट के खिलाफ है। वोडाफोन इंटरनेशनल होल्डिंग की ओर से वकील अनुराधा दत्त ने पैरवी की। सुप्रीम कोर्ट ने भी इसी तरह का फैसला दिया था उन्होंने कहा कि वोडाफोन की यह दूसरी जीत है। इससे पहले 2012 में इसी मामले में सुप्रीम कोर्ट ने भी इसी तरह का फैसला दिया था। इस फैसले के बाद वोडाफोन ने कहा कि अंत में हम न्याय पाने में सफल रहे हैं। टेलीकॉम कंपनी ने 20 हजार करोड़ रुपए में कैपिटल गेन, टैक्स, पेनाल्टी और ब्याज को लेकर यह मामला दायर किया था। क्या था मामला वोडाफोन ने हचिसन में साल 2007 में 11 अरब डॉलर में 67 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी थी। यूके की वोडाफोन ने भारत को 2012 में कोर्ट में चुनौती दी थी। हेग स्थित कोर्ट में 2016 में यह मामला वोडाफोन ने दायर किया था। दरअसल 2012 में भारत सरकार ने संसद से एक कानून को मंजूरी दी थी। जिसके तहत वह 2007 की डील पर टैक्स वसूल सकती थी। यह टैक्स इसलिए लगाया जा रहा था क्योंकि हचिसन उस समय एस्सार के साथ में थी। एस्सार भारतीय कंपनी है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Vodafone wins case of tax dispute of 20 thousand crores, case was against Singapore government in Singapore court [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/business/news/vodafone-wins-case-of-tax-dispute-of-20-thousand-crores-case-was-against-singapore-government-in-singapore-court-127752296.html

पंजाब में दिनभर बाजार बंद रहे, दिल्ली बॉर्डर पर जल्दी ही वापस लौट गए प्रदर्शनकारी, योगेंद्र यादव ने कहा- संसद का काम खत्म, सड़क का शुरू



		 पंजाब में दिनभर बाजार बंद रहे, दिल्ली बॉर्डर पर जल्दी ही वापस लौट गए प्रदर्शनकारी, योगेंद्र यादव ने कहा- संसद का काम खत्म, सड़क का शुरू 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
हाल ही में सदन से पास हुए किसान बिल को लेकर देशभर में शुक्रवार को किसानों ने विरोध प्रदर्शन किया। पंजाब और हरियाणा में बंद का सबसे ज्यादा असर देखने को मिला। किसान सुबह ही सड़क और रेलवे ट्रैक पर बैठ गए, जगह-जगह चक्का जाम और विरोध प्रदर्शन किया। यहां पूरे दिन बाजार बंद रहा। दिल्ली बॉर्डर और पश्चिमी यूपी में किसान प्रदर्शन के लिए सड़कों पर तो निकले लेकिन बंद का मिला जुला ही असर रहा। वे दोपहर बाद घर लौट गए। भास्कर की टीम किसान आंदोलन को कवर करने के लिए पंजाब, दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में ग्राउंड पर मौजूद रही। पढ़िए पंजाब से राहुल कोटियाल, पश्चिमी यूपी से पूनम कौशल और दिल्ली बॉर्डर से विकास कुमार की लाइव रिपोर्ट... पंजाब के मानसा में किसानों के आंदोलन का असर साफ दिखता है। आज पूरे शहर का बाज़ार बंद है सिर्फ केमिस्ट की कुछ दुकानें ही खुली हैं। पंजाब से लाइव रिपोर्ट... पंजाब के मानसा शहर में भारत बंद का असर साफ नजर आ रहा है। सिर्फ सड़कें ही नहीं रेल की पटरियां तक किसानों के आक्रोश की गवाही दे रही हैं। पंजाब के अलग-अलग 31 किसान संगठनों ने आज बंद का आह्वान किया है। इसमें सबसे प्रमुख भारतीय किसान यूनियन (उग्राहां) जो इस आंदोलन का यहां नेतृत्व कर रही है। किसानों ने कल से ही रेलवे ट्रैक पर कब्जा किया हुआ है। सारी ट्रेन बंद कर दी गई हैं। पंजाब के कई लोक कलाकारों ने भी किसानों का समर्थन किया है। जहां दलजीत दोसांज जैसे बड़े गायकों ने किसानों के समर्थन में सोशल मीडिया पर आवाज उठाई है वहीं, सिद्धू मूसेवाला जैसे गायक किसानों के समर्थन में सड़क तक उतर आए हैं। किसानों को सिर्फ लेफ्ट पार्टियों का ही नहीं बल्कि अकाली दल जैसी राइट विंग पार्टियों का भी समर्थन मिल रहा है। पंजाब में भाजपा के अलावा अन्य सभी पार्टियों ने किसानों की मांगों का समर्थन किया है। पंजाब बिजली बोर्ड के कर्मचारी भी किसानों के समर्थन में आंदोलन में शामिल हुए हैं। पंजाब-सिरसा हाईवे पूरी तरह से जाम है। हजारों की संख्या में किसान यहां इक्ट्ठा हुए हैं। इन किसानों को पंजाबी लोक कलाकारों का भी समर्थन मिल रहा है। अभी-अभी पंजाबी कलाकार सिद्धू मूसेवाला यहां किसानों के समर्थन के लिए आए हुए हैं। वे किसानों को संबोधित कर रहे हैं। केंद्र सरकार में सहयोगी अकाली दल खुद ही सड़कें जाम तो कर रही है लेकिन किसानों का उन पर विश्वास अब कम ही दिखता है। मानसा जिले के कैंचियां इलाके में अकाली दल ने ही रोड ब्लॉक की है। अकाली दल के झंडे तले कम ही किसान नजर आ रहे हैं। किसानों की सबसे ज्यादा संख्या भारतीय किसान यूनियन (उग्राहां) के जत्थों में ही दिखाई दे रही है। ज्यादातर किसान राजनीतिक दलों को अपने प्रदर्शनों से दूर रखते हुए सिर्फ किसान यूनियनों के झंडों के साथ ही सड़कों पर हैं। शाम पांच बजे के बाद प्रदर्शनकारी अपने घर के लिए निकल गए। कुछ दुकानें अब खुलने लगी हैं लेकिन अधिकांश बाजार अब तक बंद है। किसान यूनियन के प्रतिनिधियों का कहना है कि बंद का उनका आह्वान पूरी तरह सफल रहा और सिर्फ किसानों का ही नहीं बल्कि हर वर्ग का समर्थन उन्हें इस बंद के दौरान मिला। संसद का काम खत्म, सड़क का काम शुरू: योगेंद्र यादव यहां किसानों के साथ विरोध प्रदर्शन में स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव भी शामिल हुए। भास्कर रिपोर्टर राहुल कोटियाल के साथ विशेष बातचीत में योगेंद्र यादव ने कहा कि केंद्रीय कृषि मंत्री कहते हैं कि हमारे दरवाजे किसानों के लिए हमेशा खुले हैं लेकिन, उन्होंने तो विधेयक लाकर पहले ही ताला लगा दिया। उन्होंने बिल को पास करने से पहले किसी किसान बात नहीं की, यहां तक कि अपने सहयोगी अकाली दल और आरएसएस से जुड़े किसान संगठनों से भी बात नहीं की। क्योंकि इन्हें पता था कि इनका कोई साथ नहीं देगा, ये काम चोर दरवाजे से ही किया जा सकता है। आगे की रणनीति को लेकर योगेंद्र यादव ने कहा कि किसान जानता है कि सरकार का अहंकार कैसे तोड़ा जाता है। अब तो कानून बन गया, संसद का काम खत्म हो गया। अब सड़क का काम शुरू हो गया है, सड़क पर विरोध होगा और सरकार को घुटने पर लाएंगे। 27 सितंबर को हम इसको लेकर बैठक करने वाले हैं। दिल्ली बॉर्डर से लाइव रिपोर्ट... दिल्ली यूपी सीमा बॉर्डर पर सुबह से ही पुलिस की सरगर्मी देखी गई। कृषि बिल के विरोध में भारतीय किसान यूनियन की तरफ से यहां प्रदर्शन बुलाया गया है। दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर नोएडा गेट के आगे दोनों सड़कों पर सैकड़ों की संख्या में प्रदर्शनकारी जमा हैं। वे लगातार नारेबाजी कर रहे हैं। इसे देखते हुए सुरक्षा बढ़ा दी गई है। नोएडा के आसपास के इलाकों से ट्रेक्टर-ट्रॉलियों में सवार होकर किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। दिल्ली-नोएडा सड़क पर दोपहर की तीखी धूप में प्रदर्शनकारी किसान बीच सड़क पर बैठे हुए हैं। नोएडा के आसपास के इलाकों से ट्रेक्टर-ट्रॉलियों में सवार होकर आए करीब पांच सौ किसान 'मोदी सरकार मुर्दाबाद', 'किसान बिल वापिस लो... जैसे नारे लगा रहे हैं। प्रदर्शनकारियों में शामिल एक युवक ने कहा , 'हम किसानों ने मोदी सरकार को वोट दिया। सरकार बनवाई और अब यही मोदी सरकार किसानों को बर्बाद करने के लिए काम कर रही है। मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। पुलिस बल के साथ-साथ वाटर कैनन की भी व्यवस्था प्रशासन ने की है। दिल्ली-नोएडा बॉर्डर किसानों ने सड़क जाम कर दिया है। वे नारेबाजी कर रहे हैं। जेवर से यहां आए हरिनारायण कहते हैं, 'सरकार को ये कानून बनाना चाहिए कि न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम पर खरीद नहीं होगी। इतना करने में क्या जाता है? ये बड़े-बड़े व्यापारी हम किसानों से सस्ते पर खरीद लेंगे। हमने इस देश को पाला है और आज हम किसान ही सड़क पर हैं।' दोपहर बाद के 2 बजे हैं। अब यहां से प्रदर्शन करने वाले किसान वापस लौट रहे हैं। दिल्ली-नोएडा हाईवे जो अब तक बंद था वो फिर से शुरू हो गया है। दिल्ली पुलिस भी यहां से लौट रही है। पश्चिमी यूपी से लाइव... किसानों के भारत बंद में भारतीय किसान यूनियन भी शामिल है। लेकिन सुबह 12 बजे तक मुजफ्फरनगर जिले में बंद का असर नजर नहीं आ रहा है। सड़कों पर ट्रैफिक पहले की तरह चल रहा है। बाजार खुले हुए हैं। लोगों में चहल पहल है। लेकिन प्रदर्शन करते किसान नजर नहीं आ रहे हैं। किसान यूनियन के नेताओं ने हमें बताया था कि आज कम से कम 25 जगह प्रदर्शन होना है। मुझे अभी वो प्रदर्शन नहीं दिखा है। उत्तर प्रदेश के इस इलाके में किसानों में ऐसा रोष भी नहीं है जैसा हरियाणा और पंजाब के किसानों में हैं। अब दोपहर 12 बजे के बाद धीरे-धीरे यहां भी किसान आंदोलन के लिए इकट्ठे हो रहे हैं। भारतीय किसान यूनियन के नेता बिल के विरोध में नारेबाजी कर रहे हैं। मुजफ्फरनगर से सहारनपुर की ओर जाने वाले हाईवे पर जगह-जगह किसान सड़कों पर बैठे हैं और प्रदर्शन कर रहे हैं। यह प्रदर्शन पूरी तरह शांतिपूर्ण है। यहां किसानों ने हाईवे को जाम करने की कोशिश भी नहीं की। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में किसान आंदोलन का असर हरियाणा और पंजाब जैसा नहीं दिख रहा है, इसके जवाब में भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष और महेंद्र सिंह टिकैत के बेटे राकेश टिकैत कहते हैं, 'जिस तरह हरियाणा और पंजाब में किसान मंडियों पर निर्भर है उस तरह यहां किसान मंडियों पर निर्भर नहीं है क्योंकि इस इलाके में अधिकतर किसान गन्ने की खेती करते हैं। उन्होंने कहा लेकिन यहां के किसान पंजाब और हरियाणा के किसानों के साथ है और किसानों के भारत बंद में हिस्सा ले रहे हैं।' भारतीय किसान यूनियन ने मुजफ्फरनगर में प्रदर्शन शुरू कर दिया है। नेता माइक से किसानों को संबोधित कर रहे हैं। टिकैत जगह जगह घूम कर किसानों को संबोधित कर रहे हैं और उन्हें केंद्र सरकार द्वारा लाए जा रहे विधायकों के बारे में बता रहे हैं। उनका कहना है कि इन विधायकों के क़ानून बनने के बाद मंडी व्यवस्था कमज़ोर हो जाएगी और ये किसानों के हित में नहीं होगा। किसानों के साथ ही आम आदमी पार्टी के नेता भी यहां प्रोटेस्ट कर रहे हैं। यहां पुलिस भी पूरी तरह मुस्तैद नजर आ रही है। जगह जगह पुलिस रूट डायवर्ट कर रही है ताकि आंदोलन का असर हाईवे की ट्रैफिक पर न हो। किसानों के साथ ही आम आदमी पार्टी ओर से भी यहां प्रोटेस्ट किया जा रहा है। पार्टी के जिला उपाध्यक्ष रोहन त्यागी का कहना है कि जब तक किसानों का संघर्ष चलेगा आम आदमी पार्टी उनके साथ रहेगी। दोपहर तीन बजे के बाद यहां भी किसानों की भीड़ न के बराबर रह गई। प्रदर्शन में शामिल किसान अपने घर लौट गए। किसानों से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं... 1. पहली रिपोर्ट- किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी के घर से...:गुरनाम कहते हैं- 'मोदी सरकार या तो कानून वापस ले या किसानों को सीधे गोली मार दे' 2. दूसरी रिपोर्ट - किसानों ने कहा, अभी तो हम सिर्फ अपने घरों से निकले हैं और दिल्ली कांपने लगी है, ये कानून वापस नहीं हुए तो दिल्ली कूच होगी 3. तीसरी रिपोर्ट - किसान आंदोलन की जन्मभूमि में हरियाणा-पंजाब जैसा आक्रोश नहीं, लोग कहते हैं- अब यहां किसानों की नहीं, धर्म और सांप्रदायिकता की राजनीति होती है' 4. चौथी रिपोर्ट - जिन आढ़तियों को बिचौलिया बता रही है सरकार उन्हीं के पैसों से किसान बेटी की शादी से लेकर बच्चों की पढ़ाई का खर्च निकालता है, वरना उधार कौन देगा? 4. सरकार ने रबी की फसलों पर MSP बढ़ाया / किसान बिलों पर हंगामे के बीच गेहूं के समर्थन मूल्य में 50 रुपए, चना और सरसों में 225 रुपए प्रति क्विंटल का इजाफा 5. एमएसपी क्या है, जिसके लिए किसान सड़कों पर हैं और सरकार के नए कानूनों का विरोध कर रहे हैं? क्या महत्व है किसानों के लिए एमएसपी का? आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Haryana Punjab Farmers Protest News - Farmer Bill Protest Report Update | Bharat Bandh, Farmers Protest Today Live News Updates In Photos [...]

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/db-original/news/bharat-bandh-farmers-protest-today-live-news-updates-police-personnel-in-adequate-strength-are-deployed-across-punjab-and-haryana-127752169.html

मोदी सरकार सभी नागरिकों के खाते में 7500 रुपए ट्रांसफर कर रही है? एक्सपर्ट ने भास्कर को बताया - दावे के साथ वायरल हो रही लिंक रूस की है, इससे भारतीय यूजर के डेटा चोरी का खतरा



		 मोदी सरकार सभी नागरिकों के खाते में 7500 रुपए ट्रांसफर कर रही है? एक्सपर्ट ने भास्कर को बताया - दावे के साथ वायरल हो रही लिंक रूस की है, इससे भारतीय यूजर के डेटा चोरी का खतरा 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
क्या हो रहा है वायरल : सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है। इसमें दावा किया जा रहा है कि सरकार ने आखिरकार कोरोना काल में सभी नागरिकों को 7500 रुपए की राहत राशि देने का ऐलान कर दिया है। मैसेज का साथ एक लिंक भी है। दावा है कि इस पर क्लिक करके ही इस राशि का लाभ लिया जा सकता है। @PMOIndia @aajtak @LambaAlka @ndtvindia *The Government* has finally approved and have started giving out free _Rs.7,500_ Relief Funds to each citizen😍 Below is how to claim and get yours credit Instantly as I have just did nowhttps://t.co/MjhDBE2egU — zulfi khan (@zulfiikhan) September 20, 2020 और सच क्या है ? आमतौर पर सरकारी वेबसाइट के यूआरएल के आखिर में gov.in लिखा होता है। लेकिन, वायरल हो रही लिंक में ऐसा नहीं है। इसी से लिंक की विश्वसनीयता पर सवाल खड़ा होता है। अलग-अलग कीवर्ड सर्च करने से भी इंटरनेट पर हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली। जिससे पुष्टि होती हो कि भारत सरकार ने 7500 रुपए हर नागरिक को देने की घोषणा की है। वायरल हो रही लिंक पर क्लिक करने से ये पेज खुलता है। जहां से यूजर से उसकी नागरिकता के बारे में पूछा जाता है। इस सवाल का जवाब देने के बाद एक के बाद एक कई पेज खुलेंगे, जहां आपको सवालों के जवाबों पर क्लिक करना होगा। ये सवाल आपके खान - पान, हॉबी, जरूरतों से जुड़े होंगे। कुछ सवालों के जवाब देने के बाद वेबसाइट पर ये पेज खुलेगा और आपसे कहा जाएगा कि इस लिंक को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। यकीन मानिए शेयर करने के बाद भी आपके खाते में कोई राशि नहीं आएगी। क्योंकि फैक्ट चेक टीम ने पाठकों तक सच पहुंचाने के लिए ये पूरा प्रोसेस फॉलो किया है। तीन महीने पहले केंद्र सरकार के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ही इस दावे को फेक बताया जा चुका है। Claim- A whatsapp viral message claims to offer free Rs 7500 relief fund to each citizen.#PIBFactcheck: #Fake. The fraud link given is a Clickbait. Beware of such Fraudulent websites and whatsapp forwards. pic.twitter.com/qvaeDODsWk — PIB Fact Check (@PIBFactCheck) June 10, 2020 ‌वायरल हो रही लिंक कहां से आई है और इसे क्यों फॉरवर्ड किया जा रहा है ? इसका पता लगाने के लिए हमने साइबर एक्सपर्ट अविनाश जैन को यह मैसेज फॉरवर्ड किया। एक्सपर्ट की पड़ताल में सामने आया कि, वायरल हो रही लिंक फिशिंग डोमेन है। ये डोमेन रूस के सर्वर पर रजिस्टर्ड है। जो सवाल पूछे जा रहे हैं, उसके जरिए रूस का ये सर्वर हिंदुस्तान के यूजर्स का डेटा कलेक्ट कर रहा है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Fact Check : Is the Modi government going to give a relief fund of 7500 rupees to all citizens in the Corona era? 3 month old fake message is going viral again [...]

Click here to Read full Details Sources @ /no-fake-news/news/is-the-modi-government-going-to-give-a-relief-fund-of-7500-rupees-to-all-citizens-in-the-corona-era-3-month-old-fake-message-is-going-viral-again-127752385.html

आज दीपिका, श्रद्धा और सारा से ड्रग्स केस में पूछताछ और यूएन में मोदी का भाषण; बिहार में दीपावली से पहले चुनाव नतीजे



		 आज दीपिका, श्रद्धा और सारा से ड्रग्स केस में पूछताछ और यूएन में मोदी का भाषण; बिहार में दीपावली से पहले चुनाव नतीजे 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
यूएई में चल रहे आईपीएल और बॉलीवुड में चल रहे विवादों के बीच शुक्रवार को बिहार विधानसभा चुनाव का ऐलान हो गया। चलिए शुरू करते हैं आज का मॉर्निंग न्यूज ब्रीफ... आज इन 5 इवेंट्स पर नजर रहेगी 1. ड्रग्स केस में दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर और सारा अली खान से नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो पूछताछ करेगा। 2. IPL में कोलकाता नाइट राइडर्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच अबु धाबी में मुकाबला होगा। टॉस शाम 7 बजे होगा। मैच साढ़े सात बजे से शुरू होगा। 3. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज संयुक्त राष्ट्र महासभा में संबोधित करेंगे। 4. मोदी और श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के बीच वर्चुअल बाइलैटरल समिट हाेगी। 5. मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान किसान कल्याण योजना की शुरुआत करेंगे। अब कल की 6 महत्वपूर्ण खबरें 1. बिहार में 3 फेज में चुनाव बिहार की 243 सीटों पर तीन फेज में 28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को वोटिंग होगी। मंगलवार 10 नवंबर को नतीजे आएंगे। इस बार बिहार में 7.29 करोड़ वोटर हैं। वोटिंग सुबह 7 से शाम 5 की बजाय शाम 6 बजे तक होगी। कोरोना की वजह से चुनाव में 46 लाख मास्क, 7.6 लाख फेस शील्ड, 23 लाख जोड़े हैंड ग्लव्स और 6 लाख पीपीई किट्स का इस्तेमाल होगा। मध्यप्रदेश की 28 विधानसभा सीटों समेत 56 सीटों पर उपचुनाव का फैसला 29 सितंबर को हो सकता है। -पढ़ें पूरी खबर 2. बालासुब्रमण्यम नहीं रहे गायक एसपी बालासुब्रमण्यम का शुक्रवार को निधन हो गया। वे 74 साल के थे और कोरोना से जूझ रहे थे। वे 5 अगस्त को हॉस्पिटल में एडमिट हुए थे। बीते 48 घंटों से लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर थे। पद्मश्री और पद्मभूषण से सम्मानित बालासुब्रमण्यम ने 6 भाषाओं में 40 हजार से ज्यादा गाने गाए। सागर, एक-दूजे के लिए, साजन, मैंने प्यार किया और हम आपके हैं जैसी फिल्मों में उनके गाए गाने हिट हुए। -पढ़ें पूरी खबर 3. देशभर में किसानों का प्रदर्शन हाल ही में संसद से पास हुए किसान बिल के विरोध में देशभर में शुक्रवार को किसानों ने प्रदर्शन किया। पंजाब और हरियाणा में बंद का सबसे ज्यादा असर देखने को मिला। किसान सुबह से सड़कों और रेलवे ट्रैक पर बैठ गए। जगह-जगह चक्काजाम किया। दिल्ली बॉर्डर और पश्चिमी यूपी में किसान प्रदर्शन के लिए सड़कों पर तो निकले लेकिन बंद का मिलाजुला असर रहा। -पढ़ें पूरी खबर 4. ट्रोल हुए गावस्कर लॉकडाउन के दौरान विराट कोहली और अनुष्का शर्मा का एक वीडियो सामने आया था। इसमें अनुष्का बॉलिंग कर रही थीं और विराट बैटिंग कर रहे थे। गुरुवार रात IPL मैच में कमेंट्री के दौरान सुनील गावस्कर ने इसी बारे में एक टिप्पणी की और फिर सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल हुए। अनुष्का का भी कमेंट आया कि क्या इसमें मेरा नाम जोड़ना जरूरी था? ये घटिया बयानबाजी कब बंद होगी। -पढ़ें पूरी खबर 5. वोडाफोन ने 20 हजार करोड़ का केस जीता टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन ने 20 हजार करोड़ रुपए के टैक्स विवाद के मामले में सरकार से केस जीत लिया है। कंपनी ने शुक्रवार को बताया कि उसे सिंगापुर स्थित एक इंटरनेशनल कोर्ट में 12 हजार करोड़ रुपए के बकाए और 7,900 करोड़ रुपए के जुर्माने के मामले में भारत सरकार के खिलाफ जीत मिली है। यह विवाद लाइसेंस फीस और एयरवेव्स के इस्तेमाल पर रेट्रोएक्टिव टैक्स क्लेम को लेकर शुरू हुआ था। -पढ़ें पूरी खबर 6. जिस ग्रुप में ड्रग्स चैट हुई, उसकी एडमिन निकलीं दीपिका 2017 के जिस वॉट्सऐप ग्रुप में दीपिका पादुकोण ने ‘हैश’ (हशीश) और ‘माल है क्या?’ जैसी लाइन लिखी थी, उस ग्रुप की वह खुद एडमिन थीं। भास्कर को सूत्रों ने बताया कि दीपिका के अलावा उनकी मैनेजर करिश्मा प्रकाश और रिया चक्रवर्ती की मैनेजर रहीं जया साहा भी इसकी एडमिन थीं। कुछ महीने पहले ही यह ग्रुप डिलीट किया गया। -पढ़ें पूरी खबर अब 26 सितंबर का इतिहास... 1820: समाज सुधारक ईश्वरचंद विद्यासागर का जन्म। 1888: अंग्रेजी के साहित्यकार और नोबेल पुरस्कार सम्मानित टीएस इलियट का जन्म। 1923: अभिनेता देवानंद का जन्म। 2018: सुप्रीम कोर्ट ने 12 अंकों वाले आधार नंबर की वैधता को कायम रखा। ...और आखिर में जिक्र नेहरू-इंदिरा के बाद सबसे ज्यादा समय तक प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह का, जिनका 1932 में आज ही के दिन जन्म हुआ। वे आज 88 साल के हो गए। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Deepika sara shradha Questioned today In A Drugs Case, PM modi address UNGA today; Election in bihar before diwali [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/deepika-sara-shradha-questioned-today-in-a-drugs-case-pm-modi-address-unga-today-election-in-bihar-before-diwali-127754662.html

नेहरू-इंदिरा के बाद सबसे ज्यादा समय तक प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह का आज जन्मदिन; दो साल पहले सुप्रीम कोर्ट ने कायम रखी थी आधार की वैधता



		 नेहरू-इंदिरा के बाद सबसे ज्यादा समय तक प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह का आज जन्मदिन; दो साल पहले सुप्रीम कोर्ट ने कायम रखी थी आधार की वैधता 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
2004 से 2014 तक देश के प्रधानमंत्री रहे डॉ. मनमोहन सिंह का आज 89वां जन्मदिन है। देश के महान अर्थशास्त्रियों में से एक के रूप में पहचान रखने वाले मनमोहन सिंह का जन्म अविभाजित भारत के पंजाब प्रांत के एक गांव में हुआ था। डॉ. सिंह ने 1948 में पंजाब विश्वविद्यालय से मैट्रिक की पढ़ाई पूरी की। आगे की पढ़ाई ब्रिटेन के कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी से की। 1962 में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से डी.फिल किया। पंजाब यूनिवर्सिटी और दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स में पढ़ाया। डॉ. सिंह ने वित्त मंत्रालय के सचिव; योजना आयोग के उपाध्यक्ष; भारतीय रिजर्व बैंक के अध्यक्ष; प्रधानमंत्री के सलाहकार; विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के अध्यक्ष के रूप में भी काम किया। 1991 से 1996 तक वित्तमंत्री रहे और उन्होंने आर्थिक सुधारों के लिए व्यापक स्तर पर नीति बनाई। 1987 में उन्हें भारत का दूसरा सबसे बड़े नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से नवाजा गया। डॉ. सिंह 2004 से 2014 तक 10 साल 4 दिन प्रधानमंत्री रहे। देश में जवाहरलाल नेहरू (करीब 17 साल) और इंदिरा गांधी (करीब 11 साल) के बाद सबसे ज्यादा समय तक प्रधानमंत्री रहे। नरेंद्र मोदी पिछले छह साल से इस पद पर हैं और इस समय वे सबसे ज्यादा समय तक प्रधानमंत्री रहे नेताओं में सिंह के बाद चौथे नंबर पर आते हैं। इतिहास में आज को इन घटनाओं के लिए भी याद किया जाता है... 1087: विलियम द्वितीय इंग्लैंड के सम्राट बने।1777: अमेरिकी क्रांति: ब्रिटिश सैनिकों का फिलाडेल्फिया पर कब्जा।1820: प्रसिद्ध भारतीय समाज सुधारक ईश्वरचंद विद्यासागर का जन्म।1872: न्यूयाॅर्क सिटी में पहला मंदिर बना।1923: हिंदी फिल्म अभिनेता देवानंद का जन्म।1932: पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का जन्म।1950: संयुक्त राष्ट्र सैनिकों ने उत्तर कोरिया के सैनिकों से सोल को अपने कब्जे में लिया।1950: इंडोनेशिया ने संयुक्त राष्ट्र की सदस्यता ग्रहण की।1959: जापान के इतिहास में सबसे शक्तिशाली तूफान ‘वेरा’ से 4580 लोगों की मौत और 16 लाख लोग बेघर हुए।1960: अमेरिका में राष्ट्रपति पद के दो उम्मीदवारों जॉन एफ केनेडी और रिचर्ड निक्सन के बीच बहस का पहली बार टेलीविजन पर प्रसारण।1984: ब्रिटेन, हांगकांग को चीन के हवाले करने के लिए सहमत हुआ।1998: सचिन तेंदुलकर ने जिम्बाब्वे के खिलाफ एकदिवसीय क्रिकेट मैच में 18वां शतक लगाकर डेसमंड हेन्स का विश्व रिकार्ड तोड़ा।2009: फिलीपींस, चीन, वियतनाम, कंबोडिया, ला ओस और थाईलैंड में कैट्साना तूफान से 700 लोगों की मौत।2014: मेक्सिको के इगुआला में 43 छात्रों का सामूहिक अपहरण।2018: सुप्रीम कोर्ट ने 12 अंकों वाले आधार नंबर की वैधता को कायम रखा। लेकिन कहा कि बैंक अकाउंट्स, सेलफोन कनेक्शन और स्कूल एडमिशन के लिए इसे अनिवार्य नहीं किया जा सकता। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Today History for September 26th/ What Happened Today | Former PM ManMohan Singh Birthday | Sachin Tendulkar equals Desmond Haynes 17 ODI centuries | Devanand Birthday| SC validates Aadhaar [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/today-history-september-26th-manmohan-singh-birthday-sachin-tendulkar-equals-desmond-haynes-17-odi-centuries-devanand-birthday-127754661.html

मरीजों का आंकड़ा 59 लाख के पार; 24 घंटे में संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी, 85 हजार मरीज मिले, 93 हजार लोग ठीक हुए



		 मरीजों का आंकड़ा 59 लाख के पार; 24 घंटे में संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी, 85 हजार मरीज मिले, 93 हजार लोग ठीक हुए 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
देश में कोरोना मरीजों की संख्या 59 लाख से अधिक हो चुकी है। अब तक 59 लाख 1 हजार 571 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 48 लाख 46 हजार 168 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 9 लाख 61 हजार 159 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 93 हजार 410 मरीजों की मौत हो चुकी है। शुक्रवार को संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी। 24 घंटे के अंदर 85 हजार 465 नए मरीज बढ़े, जबकि 93 हजार 166 लोग ठीक होकर अपने घर गए। 1,093 मरीजों की मौत भी हो गई। ये आंकड़े covid19india.org के मुताबिक हैं। ओडिशा में मरीजों का आंकड़ा 2 लाख के पार ओडिशा देश का 8वां राज्य हो गया है, जहां संक्रमितों की संख्या 2 लाख से अधिक हो चुकी है। शुक्रवार को यहां 4,208 नए केस मिले। इसी के साथ संक्रमितों की संख्या 2 लाख 1 हजार 96 हो गई है। इनमें 1 लाख 61 हजार 44 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 820 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके पहले महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु,कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और पश्चिम बंगाल में संक्रमितों की संख्या 2 लाख से ज्यादा हो चुकी है। 24 घंटे के अंदर रिकॉर्ड 14 लाख से ज्यादा लोगों की जांच हुई पिछले 24 घंटे के अंदर रिकॉर्ड 14 लाख 92 हजार 409 लोगों की जांच हुई। कोरोना टेस्टिंग का ये आंकड़ा एक दिन में सबसे ज्यादा है। इसके पहले 19 सितंबर को 12 लाख लोगों की जांच हुई थी। अब हर 10 लाख की आबादी में मरीजों के मिलने की संख्या बढ़ गई है। अब इतनी आबादी में 4,210 लोग संक्रमित मिल रहे हैं। 20 सितंबर को 4200 मरीज मिलते थे। इतनी ही आबादी में मरने वालों की संख्या भी अब 67 हो गई है। कोरोना अपडेट्स 74 साल के सिंगर एसपी बालासुब्रमण्यम का शुक्रवार सुबह निधन हो गया। वे कोरोनावायरस संक्रमण से जूझ रहे थे। 5 अगस्त को हॉस्पिटल में एडमिट हुए बालू की हालत 48 घंटों से बेहद नाजुक बनी हुई थी।देश में कोरोना के चलते रोका गया योग ब्रेक शुक्रवार से शुरू कर दिया है। आयुष मंत्रालय ने वर्क प्लेस में लोगों को योग से परिचित करवाने के लिए 5 मिनट का योगा ब्रेक लागू किया था।छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की रफ्तार फिर बढ़ने लगी है। एक सप्ताह पहले तक जहां 10 दिनों में 10 हजार मरीज मिले। वहीं 5 दिनों में ही 10630 संक्रमित मिल चुके हैं। यहां रायपुर समेत 11 जिलों में लॉकडाउन लगाया गया है।दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की हालत अब पहले से बेहतर बताई जा रही है। उन्हें कोरोना के साथ ही डेंगू हो गया है। उन्हें एलएनजेपी हॉस्पिटल से मैक्स अस्पताल के आईसीयू में शिफ्ट किया गया है। लगातार पांचवां दिन जब 90 हजार से कम केस आए देश में गुरुवार को कोरोना संक्रमण के 82214 मामले आए। 77488 लोग ठीक हुए और 1144 लोगों की मौत हुई। छह दिन के बाद संक्रमितों की संख्या ठीक हुए मरीजों से ज्यादा रही। हालांकि, राहत की बात रही कि यह लगातार पांचवां दिन था, जब संक्रमितों की संख्या 90 हजार से कम रही। पांच राज्यों का हाल 1. मध्यप्रदेश राज्य में बगैर मास्क वालों पर सख्ती शुरू हो गई है। इसका असर राजधानी भोपाल के डिस्ट्रिक कोर्ट में देखने को मिला। यहां अदालत परिसर में बिना मास्क लगाए लोगों पर 500 रुपए के जुर्माने की कार्रवाई की गई है l पुलिस ने पहले दिन पांच लोगों को बिना मास्क लगाए अदालत परिसर में पकड़ा और प्रत्येक पर 500 रुपए का जुर्माना किया l शुक्रवार को एमपी नगर पुलिस ने भी 10 लोगों के खिलाफ मास्क ना पहनने पर चालानी कार्रवाई की है l 2. राजस्थान राज्य में शुक्रवार को कोरोना के सबसे ज्यादा 2,010 नए मामले सामने आए। अब तक 1 लाख 24 हजार 730 लोग राज्य में संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। वहीं,15 मरीजों की संक्रमण से मौत भी हो गई।राजस्थान में कोरोना से अब तक 1412 मरीजों की जान जा चुकी है। अब तक 29.94 लाख से ज्यादा सैंपल जांचे जा चुके हैं। 1 लाख 4 हजार 288 मरीज अभी तक रिकवर हो चुके हैं। 19 हजार 30 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। इस बीच, राज्य के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने निजी चिकित्सालयों को क्षमता के सापेक्ष 30% बेड कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए​ रिजर्व रखने के निर्देश दिए हैं। 3. बिहार बिहार में शुक्रवार को 1,632 नए केस मिले। हालांकि अच्छी बात है कि इससे ज्यादा लोगों को ठीक होने के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया। पिछले 24 घंटे में 1,810 लोग ठीक होकर अपने घर गए। 3 मरीजों की मौत हो गई। राज्य में अब तक 1 लाख 75 हजार 898 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 1 लाख 61 हजार 510 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 13 हजार 506 लोगों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 881 मरीजों की मौत हो चुकी है। 4. महाराष्ट्र महाराष्ट्र में शुक्रवार को संक्रमण के 17 हजार 794 नए मामले सामने आए। इसी के साथ संक्रमितों का आंकड़ा 13 लाख के पार हो गया। अब तक 13 लाख 757 लोग संक्रमित हो चुके हैं। राज्य में पिछले 24 घंटे में 416 लोगों की मौत हुई है। अब तक 34 हजार 761 लोग जान गंवा चुके हैं। 5. उत्तरप्रदेश राज्य में शुक्रवार को लगातार आठवें दिन नए पॉजिटिव केस की तुलना में डिस्चार्ज होने वाले मरीजों की संख्या अधिक रही। कोरोना सैंपल की टेस्टिंग में भी कमी नहीं की गई थी। बीते 24 घंटे में शुक्रवार को 4,519 नए मामले सामने आए और 6075 लोगों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है। राज्य में अब तक 3 लाख 78 हजार 533 लोग संक्रमित पाए जा चुके हैं। इनमें से 82.86% फीसदी यानी 3 लाख 13 हजार 686 मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। 59 हजार 397 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 5 हजार 450 लोगों की मौत हो चुकी है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें फोटो ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर की है। यहां कृषि बिल के विरोध में किसानों ने धरना दिया। सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी कोरोना से बचाव के लिए पीपीई किट पहने दिखे। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/coronavirus-outbreak-india-cases-live-news-and-updates-25-september-2020-127752040.html

दीपिका से आज पूछताछ होगी, एनसीबी ने 4 सवाल तैयार किए; करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शन के डायरेक्टर क्षितिज को हिरासत में लिया



		 दीपिका से आज पूछताछ होगी, एनसीबी ने 4 सवाल तैयार किए; करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शन के डायरेक्टर क्षितिज को हिरासत में लिया 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने ड्रग्स मामले में शुक्रवार को एक्ट्रेस रकुलप्रीत सिंह, दीपिका पादुकोण की मैनेजर करिश्मा प्रकाश और करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शन के डायरेक्टर क्षितिज रवि प्रसाद और अनुभव चोपड़ा से पूछताछ की। रकुलप्रीत और करिश्मा को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की गई। एनसीबी ने करिश्मा को आज भी बुलाया है। कहा जा रहा है कि दीपिका पादुकोण के सामने बैठाकर सवाल किए जाएंगे। उधर, एनसीबी ने देर रात क्षितिज रवि प्रसाद को हिरासत में ले लिया है। इससे पहले उसके घर छापा भी मारा था। क्षितिज के घर से गांजा बरामद हुआ है, हालांकि इसकी मात्रा काफी कम है। करण जौहर ने सफाई दी, कहा- क्षितिज धर्मा प्रोडक्शन के कर्मचारी नहीं करण जौहर ने क्षितिज रवि प्रसाद और उनके घर हुई पार्टी को लेकर एक बयान जारी किया। उन्होंने कहा कि कुछ न्यूज चैनल, प्रिंट मीडिया और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म गलत ढंग से और भ्रमित करने वाली रिपोर्टिंग कर रहे हैं कि 28 जुलाई, 2019 को मेरे घर हुई पार्टी में ड्रग्स का सेवन हुआ। मैं इसके बारे में 2019 में ही कह चुका है कि ये सभी आरोप झूठे हैं। मैं फिर से कहना चाहूंगा कि मैं न तो ड्रग्स लेता हूं और न ही इस तरह की किसी भी चीज के सेवन को बढ़ावा देता हूं। उन्होंने कहा कि कई मीडिया और न्यूज चैनल में बताया जा रहा है कि क्षितिज रवि प्रसाद और अनुभव चोपड़ा मेरे सहयोगी और मेरे करीबी हैं। मैं बताना चाहूंगा कि मैं इन्हें नहीं जानता और ये व्यक्तिगत तौर पर क्या करते हैं इसके लिए धर्मा प्रोडक्शन जिम्मेदार नहीं है। ये दोनों धर्मा प्रोडक्शन के कर्मचारी नहीं हैं। ये कुछ वक्त (अनुबंध पर) के लिए हमारे साथ जुड़े थे। रकुलप्रीत ने रिया से ड्रग्स के बारे में चैट करने की बात कबूली सूत्रों के मुताबिक, रकुलप्रीत ने रिया से ड्रग्स के बारे में चैट करने की बात कबूली, लेकिन खुद ड्रग्स लेने से इनकार किया। एक्ट्रेस ने कहा कि वे किसी भी मेडिकल टेस्ट के लिए तैयार हैं। कहा कि जो भी ड्रग्स पैडलर्स गिरफ्तार किए गए हैं, उनसे कभी नहीं मिलीं। किसी को भी सामने बैठाकर पूछताछ के लिए तैयार हैं। रकुलप्रीत ने भी रिया की ही तरह अपना बयान अपने हाथ से लिखा है। इस बीच एनसीबी ने कहा है कि रिया ही सुशांत के लिए अपने भाई शोविक से ड्रग्स का प्रबंध करवाती थी। दीपिका पादुकोण की मैनेजर करिश्मा प्रकाश से शुक्रवार को 4 घंटे पूछताछ की गई। दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और श्रद्धा कपूर से आज पूछताछ होगी दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और श्रद्धा कपूर से शनिवार को पूछताछ होगी। एनसीबी ने कहा है कि तीनों को वक्त नहीं दिया जाएगा। तीनों पर ड्रग्स लेने के आरोप हैं। बताया जा रहा है कि ड्रग्स केस में गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती ने पूछताछ में कई एक्ट्रेस के नाम लिए हैं। दीपिका से एनसीबी 4 सवाल कर सकती है 1. क्या उन्होंने ड्रग्स का सेवन किया। 2. यदि हां, तो उनसे यह पूछा जाएगा कि वे कब और कहां से ड्रग्स खरीदती थीं। 3. ड्रग्स के लिए भुगतान कैसे किया और किन लोगों के साथ ड्रग्स ली। 4. क्या उन्होंने ड्रग्स का अकेले सेवन किया या कुछ और लोग भी उनके साथ जुड़े हुए थे। दीपिका से पूछताछ के दौरान रणवीर के मौजूद रहने पर एनसीबी ने कहा एनसीबी ने कहा, 'हम किसी को भी पूछताछ के समय संदिग्ध / आरोपी के साथ रहने की अनुमति नहीं देते हैं। यदि आवश्यक हो तो चिकित्सा सहायता प्रदान की जा सकती है। ऑफिस के बाहर तक कोई उनके साथ आ सकता है। कुछ पूछताछ में उनका नाम आया है। इसी वजह से उन्हें बुलाया गया है।' गुरुवार को यह खबर आई थी कि दीपिका के पति रणवीर ने एनसीबी से अपील की है कि पूछताछ के दौरान वे दीपिका के साथ रहना चाहते हैं। रणवीर ने कहा है कि दीपिका को कभी-कभी घबराहट होती है। इसलिए पूछताछ के वक्त उनके साथ रहने की परमिशन दी जाए। (दीपिका से शनिवार को पूछताछ होगी...पूरी खबर यहां पढ़ें।) राखी सावंत का दावा- स्लिम दिखने के लिए कई एक्टर्स ड्रग्स लेते हैं राखी ने दावा किया है कि कई एक्टर्स ऐसे ड्रग्स लेते हैं, जिनसे उन्हें भूख न लगे। राखी ने बताया, 'मैंने देखा है कि कई एक्टर खुद को स्लिम और जवान बनाए रखने के लिए ड्रग्स लेते हैं। ज्यादातर वीड (गांजा) इस्तेमाल करते हैं। कई बड़े एक्टर चरस भी पीते हैं।' आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें रकुलप्रीत करीब 10.30 बजे NCB के ऑफिस पहुंचीं थीं। उन पर ड्रग्स लेने के आरोप हैं। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/narcotics-control-bureau-summon-to-rakul-preet-singh-in-drugs-case-today-deepika-padukone-will-join-tomorrow-127752089.html

28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को वोटिंग, 10 नवंबर को नतीजे; शाम 5 की बजाय 6 बजे तक वोटिंग होगी यानी 11 घंटे



		 28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को वोटिंग, 10 नवंबर को नतीजे; शाम 5 की बजाय 6 बजे तक वोटिंग होगी यानी 11 घंटे 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
आखिरकार बिहार में चुनाव का ऐलान हो ही गया। 243 सीटों पर तीन फेज में 28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को वोटिंग होगी। 10 नवंबर को नतीजे आएंगे। इसकी घोषणा करने शुक्रवार दोपहर साढ़े बारह बजे मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा मीडिया के सामने आए। नजर इस पर भी थी कि क्या मध्यप्रदेश की 28 विधानसभा सीटों समेत देशभर की 56 अलग-अलग सीटों पर उपचुनाव की घोषणा होगी? लेकिन इस पर फैसला 29 सितंबर तक टाल दिया गया है। लौटते हैं फिर बिहार की तरफ। 10 नवंबर को चुनाव के नतीजे आएंगे। यानी 14 नवंबर को मनाई जाने वाली दीपावली से चार दिन और 20 नवंबर से शुरू होने वाले छठ पर्व से दस दिन पहले यह साफ हो जाएगा कि बिहार में अगली सरकार किसकी बनेगी। नई सरकार के गठन और नए विधायकों की शपथ छठ के बाद ही होने की संभावना है। मौजूदा विधानसभा का टर्म 29 नवंबर तक है। अब सवाल-जवाब में सिलसिलेवार तरीके से जानते हैं कि चुनाव आयोग ने क्या घोषणाएं कीं... पहले फेज में कब-कहां वोटिंग होगी? बुधवार 28 अक्टूबर को 71 सीटों पर वोटिंग होगी। इसके लिए 31 हजार पोलिंग बूथ बनाए जाएंगे। दूसरे फेज में कब-कहां वोटिंग होगी? मंगलवार 3 नवंबर को 94 सीटों पर वोटिंग होगी। 42 हजार पोलिंग बूथ होंगे। तीसरे फेज में कब-कहां वोटिंग होगी? शनिवार 7 नवंबर को 78 सीटों पर मतदान होगा। इसके लिए 33.5 हजार पोलिंग बूथ बनाए जाएंगे। इस बार कितने वोटर, कितने बूथ? बिहार में 243 सीटों पर 7.29 करोड़ लोग वोट डालेंगे। इनमें 3.85 करोड़ पुरुष और 3.4 करोड़ महिला वोटर हैं। पिछले विधानसभा चुनाव के वक्त 6.7 करोड़ वोटर थे। 42 हजार पाेलिंग बूथ पर 1.73 लाख वीवीपैट का इस्तेमाल होगा। कोरोना ने चुनाव में क्या बदल दिया है? इस बारे में एक डिटेल्ड गाइडलाइन पहले ही जारी हो चुकी है। चुनाव आयोग ने आज इस बारे में सबसे बड़ी घोषणा यह की कि कोरोना की वजह से वोटिंग टाइम को एक घंटे बढ़ाया जा रहा है। नक्सल प्रभावित क्षेत्रों को छोड़कर सामान्य इलाकों में सुबह 7 से शाम 5 की बजाय सुबह 7 से शाम 6 के बीच वोटिंग होगी।आयोग ने दो और बातें कहीं, जिनका पहले जारी हो चुकी गाइडलाइन में भी जिक्र था। पहली- एक पोलिंग बूथ पर 1500 की जगह 1000 वोटर आएंगे। दूसरी- कोरोना के मरीज वोटिंग के दिन आखिरी घंटे में ही वोट डाल पाएंगे। कोरोना की वजह से क्या इंतजाम किए जा रहे हैं? इस बार बिहार चुनाव में 46 लाख मास्क, 7.6 लाख फेस शील्ड, 23 लाख जोड़े हैंड ग्लव्स और 6 लाख पीपीई किट्स का इस्तेमाल होगा। नामांकन के नियमों में क्या बदलाव हुआ? नामांकन के दौरान उम्मीदवार 5 की जगह 2 ही गाड़ियां साथ ले जा सकेंगे। पोस्टल बैलट की सुविधा कैसे मिलेगी? मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा है कि जिस जगह जरूरत और मांग होगी, वहां पोस्टल बैलट सुविधा दी जाएगी। कोरोना के दौर में दुनिया का सबसे बड़ा चुनाव मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि 60 से ज्यादा देशों ने कोरोना की वजह से चुनाव टाल दिए, लेकिन जैसे-जैसे दिन गुजरते गए न्यू नॉर्मल होता हो गया क्योंकि कोरोना के जल्दी खत्म होने के संकेत नहीं मिले। हम चाहते थे कि लोगों का लोकतांत्रिक अधिकार बना रहे। उनके स्वास्थ्य की भी हमें चिंता करनी थी। यह कोरोना के दौर में देश का ही नहीं, बल्कि दुनिया का पहला सबसे बड़ा चुनाव होने जा रहा है। बिहार चुनाव से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें... टेम्परेचर ज्यादा आया तो शाम से पहले वोट नहीं डाल सकेंगे; पढ़ें वोटर्स, राजनीतिक दल और चुनाव कर्मियों के लिए गाइडलाइनबिहार में आचार संहिता लागू होने के बाद कौन से काम रुकेंगे, कौन से चालू रहेंगे? 2015 में साथ लड़े थे राजद और जदयू 2015 के चुनाव में राजद जदयू और कांग्रेस साथ मिलकर महागठबंधन बनाया था। इस गठबंधन को 178 सीटें मिलीं थी। लेकिन, डेढ़ साल बाद ही नीतीश महागठबंधन से अलग होकर एनडीए में चले गए। इस चुनाव में एनडीए में भाजपा, लोजपा और हम (सेक्युलर) के साथ जदयू भी है। वहीं, पिछले चुनाव में एनडीए का हिस्सा रही रालोसपा महागठबंधन के साथ है। 2019 लोकसभा चुनाव में 223 विधानसभा सीटों पर आगे था एनडीए 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 में 39 सीटें एनडीए को मिली थीं। सिर्फ एक सीट पर कांग्रेस का उम्मीदवार जीता था। लोकसभा के नतीजों को अगर विधानसभा क्षेत्र के हिसाब से देखें तो एनडीए को 223 सीटों पर बढ़त मिली थी। इनमें से 96 सीटों पर भाजपा तो 92 सीटों पर जदयू आगे थी। लोजपा 35 सीटों पर आगे थी। एक सीट जीतने वाला महागठबंधन विधानसभा के लिहाज से 17 सीटों पर आगे था। इनमें 9 सीट पर राजद, 5 पर कांग्रेस, दो पर हम (सेक्युलर) जो अब एनडीए का हिस्सा हैं और एक सीट पर रालोसपा को बढ़त मिली थी। अन्य दलों में दो विधानसभा क्षेत्रों में एआईएमआईएम और एक पर सीपीआई एमएल आगे थी। मुख्यमंत्री पद के दावेदार नीतीश कुमार: 2010 के चुनाव में नीतीश एनडीए की ओर से तो 2015 में महागठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद का चेहरा थे। इस बार फिर वो एनडीए की ओर से सीएम फेस होंगे। पिछले 15 साल से राज्य में नीतीश की पार्टी सत्ता में है। इनमें 14 साल से ज्यादा नीतीश ही मुख्यमंत्री रहे हैं। तेजस्वी यादव: महागठबंधन की ओर से इस बार तेजस्वी यादव चेहरा हो सकते हैं। लालू यादव के जेल जाने के बाद महागठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी राजद का चेहरा तेजस्वी ही हैं। हाल ही में, राजद के पार्टी कार्यालय के बाहर चुनाव से जुड़ा जो पोस्टर लगाया गया उसमें अकेले तेजस्वी नजर आ रहे थे। पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का चेहरा पोस्टर से गायब था। चुनाव के बड़े मुद्दे कोरोना: कोरोना के बीच हो रहे इन चुनावों में कोरोना भी मुद्दा होगा। तेजस्वी यादव कोरोना को लेकर लगातार सरकार पर हमला कर रहे हैं। कोरोनाकाल में नीतीश कुमार के घर से बाहर नहीं निकलने को भी उन्होंने मुद्दा बनाया है। वहीं, नीतीश की ओर से सरकार द्वारा पिछले छह महीने में उठाए कदमों को गिनाया जा रहा है। किसान और खेती: केंद्र सरकार के कृषि से जुड़े दो नए बिल भी इन चुनावों में बड़ा मुद्दा होंगे। बेरोजगारी: राजद बेरोजगारी के मुद्दे को लगातार उठा रही है। प्रधानमंत्री के जन्मदिन को राजद ने राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस के रूप में मनाया। नीतीश सरकार लॉकडाउन के दौरान बिहार लौटे प्रवासियों से बिहार में ही रोजगार देने का दावा कर रही है। विकास: जदयू और भाजपा जहां पिछली केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से किए गए कामों को गिना रहे हैं। वहीं, राजद पिछले 15 साल में किए विकास के दावों को लगातार चुनौती दे रहा है। प्रवासी मजदूर: लॉकडाउन के दौरान बिहार लौटे प्रवासी मजदूरों का मुद्दा भी इस चुनाव में अहम होगा। सरकार जहां इन्हें प्रदेश में ही हर संभव मदद देने की बात कर रही है। वहीं, विपक्ष प्रवासियों के लिए समुचित इंतजाम नहीं करने पर सवाल उठा रहा है। राम मंदिर : पिछले 30 साल से चुनावी मुद्दा रहा राम मंदिर इस बार भी बड़ा मुद्दा बना रहेगा। फर्क सिर्फ इतना होगा कि इस बार भाजपा इसके शिलान्यास को अपनी बड़ी उपलब्धि के तौर पर गिनाएगी। चुनाव प्रचार के चेहरे नरेंद्र मोदी: भाजपा ने 2013 में नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित होने के बाद से हर चुनाव में मोदी ही भाजपा के लिए प्रचार का प्रमुख चेहरा रहे हैं। उनकी रैलियां भाजपा के पक्ष में माहौल बनाने का बड़ा जरिया रही हैं। इस बार बड़ी रैलियां होना मुश्किल है। ऐसे में मोदी की वर्चुअल रैलियां वोटर्स पर कितना असर डालती हैं ये देखना होगा। नीतीश कुमार: जदयू और उससे पहले समता पार्टी के दौर से ही नीतीश हर चुनाव प्रचार में पार्टी का सबसे बड़ा चेहरा रहे हैं। इस चुनाव में एनडीए गठबंधन उनके ही चेहरे पर ही चुनाव लड़ेगा। तेजस्वी यादव: चुनावी राजनीति में महज पांच साल का अनुभव रखने वाले तेजस्वी यादव के हाथ में इस बार के चुनाव प्रचार की कमान होगी। राजद के गठन के बाद ये पहला विधानसभा चुनाव होगा जब पार्टी लालू के बिना लड़ेगी। राहुल गांधी: राहुल गांधी भले कांग्रेस अध्यक्ष नहीं हैं लेकिन, चुनाव प्रचार में वो कितने सक्रिय रहते हैं इस पर नजर रहेगी। प्रियंका गांधी के चुनाव प्रचार पर भी सभी की नजर रहेगी। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की तबियत को देखते हुए पार्टी राहुल और प्रियंका गांधी को आगे कर सकती है। चिराग पासवान: लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान चुनाव प्रचार में अपनी पार्टी का सबसे बड़ा चेहरा होंगे। एनडीए युवाओं और दलितों को लुभाने के लिए उनका इस्तेमाल कर सकता है। हालांकि, पासवान और उनकी पार्टी की ओर से जिस तरह सीटों के लेकर बयान आ रहे हैं उससे तय है कि एनडीए में सीटों का बंटवारा इतना आसान नहीं होने वाला है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Bihar Election Date 2020: Election Commission, Bihar Vidhan Sabha Chunav Date Announcement Live News And Updates; Full schedule, Counting Of Votes, [Bihar Vidhan Sabha Election Dates List] [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/election-commission-press-conference-bihar-election-dates-news-and-updates-127752038.html

एयरफोर्स के फाइटर और ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट दिन-रात उड़ान भर रहे, एयरफोर्स ने कहा- दोनों मोर्चों पर ऑपरेशन को तैयार हैं



		 एयरफोर्स के फाइटर और ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट दिन-रात उड़ान भर रहे, एयरफोर्स ने कहा- दोनों मोर्चों पर ऑपरेशन को तैयार हैं 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
लद्दाख में चीन से बढ़ते तनाव के बीच यह आशंका बनी हुई है कि चीन और पाकिस्तान मिलकर भारत के खिलाफ खड़े हो सकते हैं। इस बीच भारतीय वायुसेना ने कहा है कि वह दोनों ही मोर्चों पर ऑपरेशन के लिए पूरी तरह तैयार है। न्यूज एजेंसी एएनआई पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) और चीन बॉर्डर पर पहुंची। यह एयरबेस पाकिस्तान से 50 किलोमीटर दूर और युद्ध के नजरिए से अहमियत रखने वाले दौलत बेग ओल्डी से 80 किलोमीटर की दूरी पर है। यहां पर ट्रांसपोर्ट, फाइटर एयरक्राफ्ट और हेलिकॉप्टर की एक्टिविटी दिन-रात जारी है। इस तरह की जा रही है तैयारी फॉरवर्ड एयरबेस पर खारडुंगला पास और श्योक नदी से होकर पहुंचा जाता है। यहां पर अभी सुखोई- 30 एमकेआई के ऑपरेशन जारी थे। इसके अलावा ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट सी-30जे सुपरहरकुलिस, ल्यूशिन-76 और एंटन-32 के ऑपरेशन दिन-रात जारी हैं।लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) के पास दौलत बेग ओल्डी और पूर्वी लद्दाख में स्थित बेसों में जवानों के लिए राशन और असहले की सप्लाई ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट कर रहे हैं। इसके साथ ही बेस पर जवान भी जा रहे हैं।पाकिस्तान के स्कार्दू एयरबेस से खतरे और पाकिस्तान-चीन के एकसाथ खड़े होने के सवाल पर फ्लाइट लेफ्टिनेंट स्तर के एक अफसर ने न्यूज एजेंसी से कहा कि एयरफोर्स पूरी तरह ट्रेंड है और दोनों मोर्चों पर ऑपरेशन को अंजाम दे सकती है। जून में स्कार्दू एयरबेस पर उतरा था चीन का एयरक्राफ्ट पीओके में स्कार्दू एयरबेस पर जून में चीन का एक री-फ्यूलर एयरक्राफ्ट उतरा था। हालांकि, भारत का फॉरवर्ड एयरबेस श्योक के किनारे है। इस नदी में गलवान नदी भी आकर मिलती है। गलवान में ही भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई थी। इस में 20 भारतीय जवान शहीद हुए थे और एक अमेरिकी रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के 60 से ज्यादा सैनिक मारे गए थे। हाल ही में राफेल ने लद्दाख में उड़ान भरी थी चीन से सीमा विवाद के बीच कुछ दिन पहले ही इंडियन एयरफोर्स में शामिल राफेल विमान ने लद्दाख में उड़ान भरी थी। 10 सितंबर को राफेल विमानों को वायुसेना में शामिल किया गया। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें भारत-चीन सीमा विवाद के बीच इंडियन एयरफोर्स का सुखोई लद्दाख क्षेत्र में उड़ता नजर आया। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/airforce-said-ready-for-undertaking-operations-on-both-china-pakistan-fronts-127752431.html

5.4 तीव्रता के भूकंप के दौरान लेह में भी झटके महसूस हुए, इसका केंद्र लेह से 129 किमी. दूर और जमीन से करीब 10 किमी. अंदर था



		 5.4 तीव्रता के भूकंप के दौरान लेह में भी झटके महसूस हुए, इसका केंद्र लेह से 129 किमी. दूर और जमीन से करीब 10 किमी. अंदर था 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
लद्दाख और लेह में शुक्रवार दोपहर भूकंप के झटके महसूस किए गए। नेशनल सेंटर फॉस सेस्मोलॉजी के मुताबिक रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 5.4 मैग्नीट्यूड मापी है। भूकंप 4.27 बजे आया। इसका केंद्र लेह से 129 किमी. दूर और जमीन से करीब 10 किमी. अंदर था। इस दौरान लोग घरों से बाहर निकल आए। Earthquake of Magnitude:3.6, Occurred on 25-09-2020, 17:29:05 IST, Lat: 34.86 & Long: 78.05, Depth: 10 Km ,Location: Ladakh for more information https://t.co/tXKsLBBEgL@ndmaindia pic.twitter.com/WMfyDQbvAP — National Centre for Seismology (@NCS_Earthquake) September 25, 2020 लेह के लोकल लोगों की ओर से शेयर किए गए पोस्ट के मुताबिक, झटके के बाद कई बिल्डिंग्स में दरारें आई। हालांकि, भूकंप से ज्यादा नुकसान या किसी के जान जाने की सूचना नहीं है। यह इस हफ्ते इस क्षेत्र में दूसरा भूकंप है। 4 दिन पहले जम्मू-कश्मीर में भूकंप आया था जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में मंगलवार को रिक्टर स्केल पर 3.6 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। इस बीच ऐसी खबरें भी सामने आईं थीं कि तेज धमाके या विस्फोट के बाद लोगों को झटके महसूस हुए थे। हालांकि, यूरोपियन-मेडिटेरियन सिस्मोलॉजिकल सेंटर (ईएमएससी) ने बताया कि श्रीनगर में भूकंप के झटके महसूस किए गए। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें नेशनल सेंटर फॉस सेस्मोलॉजी के मुताबिक लद्दाख और लेह में शुक्रवार दोपहर भूकंप के झटके महसूस हुए।- प्रतीकात्मक फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/earthquake-in-ladakh-leh-today-latest-update-127752378.html

भाजपा के पितृ पुरुष दीनदयाल उपाध्याय का जन्मदिन; 28 साल पहले नासा ने लॉन्च किया मार्स ऑर्बिटर



		 भाजपा के पितृ पुरुष दीनदयाल उपाध्याय का जन्मदिन; 28 साल पहले नासा ने लॉन्च किया मार्स ऑर्बिटर 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
आज का दिन दो महान हस्तियों का जन्मदिन है। एक तो हैं जनसंघ के संस्थापक सदस्य दीनदयाल उपाध्याय और दूसरे हैं महान रॉकेट वैज्ञानिक सतीश धवन। आज ही के दिन 1992 में नासा ने मंगल ग्रह पर छानबीन के लिए अपना ऑर्बिटर भेजा था। भारतीय जनसंघ के संस्थापक सदस्य दीनदयाल उपाध्याय का जन्म 25 सितंबर 1916 को मथुरा में हुआ था। बहुत ही कम उम्र में उनके माता-पिता का देहांत हो गया था। इन मुश्किल हालात में उन्होंने कॉलेज की पढ़ाई पूरी की और इसी दौरान 1937 में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े। जब श्यामाप्रसाद मुखर्जी ने संघ की मदद से भारतीय जनसंघ बनाया तो संघ ने संगठन का काम देखने उपाध्याय को राजनीति में भेजा। 15 साल जनसंघ के महामंत्री रहते हुए उन्होंने पार्टी की जड़ें मजबूत कीं। विचारधारा को आगे बढ़ाया और जन-जन तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। 1967 में उपाध्याय ने पार्टी के अध्यक्ष के तौर पर कामकाज संभाला। हालांकि, 11 फरवरी 1968 को रहस्यमयी परिस्थितियों में मुगलसराय रेलवे स्टेशन के पास उनका मृत शरीर मिला था। उनकी मृत्यु का कारण आज भी एक रहस्य बना हुआ है। सतीश धवनः 1972 में बने थे इसरो प्रमुख आज भारत चंद्रयान, मंगलयान के जरिए दुनिया के दिग्गज अंतरिक्ष विशेषज्ञ देशों में शामिल है तो इसका बड़ा श्रेय प्रोफेसर सतीश धवन को जाता है। उनका जन्म आज ही के दिन 1920 में हुआ था। प्रोफेसर धवन ने विक्रम साराभाई के बाद 1972 में इसरो प्रमुख का पद संभाला। उन्हें भारत में प्रायोगिक फ्लूड डायनमिक्‍स रिसर्च का पितामह माना जाता है। भारत की पहली सुपरसॉनिक विंड टनल IISc बेंगलुरू में लगाने का श्रेय उन्‍हें जाता है। उन्होंने ही INSAT, IRS और PSLV के रिमोट सेंसिंग और उपग्रह संचार कार्यक्रम का काम संभाला। भारतीय उपग्रह प्रक्षेपण केंद्र श्री हरिकोटा को अब प्रोफेसर सतीश धवन स्‍पेस सेंटर के नाम से जाना जाता है। नासा ने भेजा मार्स ऑर्बिटर अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा ने 1992 में आज ही के दिन मार्स ऑर्बिटर लॉन्च किया था। इस रोबोटिक स्पेस प्रोब का मिशन मार्स यानी मंगल ग्रह की छानबीन करना था। हालांकि, एक साल बाद इस मिशन से सभी तरह का कम्युनिकेशन खत्म हो गया। इस मिशन की नाकामी के बाद भी नासा ने मार्स ग्लोबल सर्वेयर (1996), फीनिक्स (2007) लॉन्च किए। इतिहास में आज के दिन को इन घटनाओं के लिए भी याद किया जाता है... 1340ः इंग्लैंड और फ्रांस ने निरस्त्रीकरण संधि पर हस्ताक्षर किए।1524ः वास्कोडिगामा आखिरी बार पुर्तगाल के वायसराय बनकर भारत आए।1639ः अमेरिका में पहले प्रिंटिंग प्रेस की शुरुआत।1654ः इंग्लैंड और डेनमार्क ने व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर किए।1846ः अमेरिकी सेना ने मेक्सिको के मोंटेरी पर कब्जा किया।1897ः ब्रिटेन में पहली बस सेवा की शुरुआत हुई।1911ः फ्रांसीसी युद्धपोत लिब्रीटे में टूलॉन हार्बर पर विस्फाेट से 285 लाेगों की मौत।1939ः प्रसिद्ध अभिनेता एवं फिल्म निर्माता-निर्देशक फिरोज खान का जन्म।1977ः फिल्म अभिनेत्री दिव्या दत्ता का जन्म।1981ः मध्य अमेरिकी देश बेलीज संयुक्त राष्ट्र में शामिल हुआ।2008ः चीन ने अंतरिक्ष यान ‘शेंझो-7’ का प्रक्षेपण किया।2008ः भारत के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पाकिस्तान के राष्ट्रपति जरदारी की यूएन में मुलाकात। दोनों देश शांति प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए राजी हुए।2014ः मैनहट्टन फेडरल कोर्ट में अमेरिकन जस्टिस सेंटर ने गुजरात के 2002 के दो अनाम दंगा पीड़ितों की ओर से मुकदमा किया। इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनकी अमेरिका यात्रा से ठीक एक दिन पहले मानव अधिकार उल्लंघनों पर जवाब देने के लिए समन भेजा था। मोदी 2002 में गुजरात के मुख्यमंत्री थे।2015ः सिंगापुर में प्रदूषण की वजह से स्कूलों को बंद करना पड़ा। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Today History for September 25th/ What Happened Today | Who was DeenDayal Upadhyay | Nasa Mass Orbiter 1992 | Aero Scientist Satish Dhavan Birthday [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/today-history-september-25th-deendayal-upadhyay-birthday-nasa-mass-orbiter-satish-dhavan-birthday-127751690.html

विदेश मंत्रालय ने कहा- एलएसी पर मौजूदा स्थिति को बदलने की एकतरफा कोशिश नहीं होने देंगे; चीन ने डोकलाम के पास परमाणु बॉम्बर और क्रूज मिसाइल तैनात किए



		 विदेश मंत्रालय ने कहा- एलएसी पर मौजूदा स्थिति को बदलने की एकतरफा कोशिश नहीं होने देंगे; चीन ने डोकलाम के पास परमाणु बॉम्बर और क्रूज मिसाइल तैनात किए 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
सीमा विवाद को लेकर भारत-चीन के बीच अगले राउंड की बातचीत जल्द हो सकती है। इससे पहले विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि डिसएंगेजमेंट एक मुश्किल (कॉम्प्लेक्स) प्रोसेस है, इसके लिए दोनों तरफ से सहमति के साथ आगे बढ़ने की जरूरत होगी। मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि अब इस बात का ध्यान रखा जाएगा कि एलएसी पर मौजूदा स्थिति को बदलने की एकतरफा कोशिश नहीं हो पाए। चीन ने भारतीय सीमा से 1150 किमी दूर हथियार तैनात किए पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर तनाव को कम करने के लिए आर्मी और डिप्लोमेटिक लेवल पर भले ही बातचीत चल रही हो, लेकिन चीन पीठ पीछे चाल चलने से बाज नहीं आ रहा है। चीन ने भूटान से लगे डोकलाम के पास अपने एच-6 परमाणु बॉम्‍बर और क्रूज मिसाइल को तैनात किया है। चीन इन हथियारों की तैनाती अपने गोलमुड एयरबेस पर कर रहा है, जो भारतीय सीमा से सिर्फ 1150 किलोमीटर दूर है। सीमा विवाद सुलझाने के लिए भारत-चीन के कॉर्प्स कमांडर अब तक 6 बार मीटिंग कर चुके हैं। कोर कमांडरों की बैठक के बाद भले ही दोनों पक्ष एलएसी पर मौजूदा स्थिति को बनाए रखने की कोशिश में हैं, लेकिन भारत सतर्क है। भारतीय सेना ने तय किया है चीन के पीछे हटने के साफ संकेत मिलने तक पैंगॉन्ग की ऊंची पहाड़ियों पर हमारे जवान डटे रहेंगे। दूसरी तरफ विदेश मंत्री एस जयशंकर का कहना है कि भारत और चीन एक अजीब (अन्प्रेसिडेन्टिड) स्थिति में हैं। इस बीच सीमा विवाद एक बड़ा मुद्दा है। यह बात अहम है कि दोनों देश एक-दूसरे की जरूरतों को भी समझते हैं। भारत-चीन को मिलकर समाधान तलाशना चाहिए। विदेश मंत्री ने वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की वर्चुअल कॉन्फ्रेंस में ये बात कही। ट्रम्प ने फिर मदद का ऑफर दिया, नोबेल पर नजर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने गुरुवार को कहा, "मैं जानता हूं कि भारत और चीन सीमा विवाद को लेकर मुश्किल में हैं, लेकिन उम्मीद है कि वे विवाद सुलझा लेंगे। इसमें हम कोई मदद कर सकें तो अच्छा लगेगा।" कयास लगाए जा रहे हैं कि ट्रम्प की नजर शांति के नोबेल प्राइज पर है। इसलिए, वे भारत-चीन के मामले में दखल का ऑफर एक बार रिजेक्ट होने के बाद फिर से दोहरा रहे हैं। नॉर्वे की संसद के एक सदस्य ने ट्रम्प को नोबेल के लिए नॉमिनेट किया है। यूएई और इजरायल के बीच डिप्लोमेटिक रिश्तों में मदद करने की वजह से ट्रम्प के नाम का प्रपोजल रखा गया है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें भूटान से लगे डोकलाम के पास चीन अपने गोलमुड एयरबेस पर हथियारों की तैनाती कर रहा है। (फाइल फोटो) [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/necessary-to-ensure-stability-on-ground-mea-on-sino-india-border-standoff-in-eastern-ladakh-127752048.html

सुरक्षाबलों ने अनंतनाग में लश्कर के दो आतंकी मार गिराए, दहशतगर्दों के साथ कल से चल रही थी मुठभेड़



		 सुरक्षाबलों ने अनंतनाग में लश्कर के दो आतंकी मार गिराए, दहशतगर्दों के साथ कल से चल रही थी मुठभेड़ 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
जम्मू-कश्मीर में अनंतनाग जिले के सिरहामा में गुरुवार सुबह दो आतंकी मारे गए। दोनों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े हुए थे। यहां उनकी सुरक्षाबलों के साथ बुधवार से एनकाउंटर चल रही है। उनके पास से भारी मात्रा में गोला-बारूद और हथियार बरामद किए गए हैं। इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। एक दिन पहले पुलवामा में एक आतंकी मारा गया था इससे पहले गुरुवार को पुलवामा जिले में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया था। मुठभेड़ त्राल क्षेत्र के मगहमा में हुई थी। उधर, बडगाम जिले में सीआरपीएफ पार्टी पर आतंकी हमले में एक जवान शहीद हुआ था। अगस्त और में कश्मीर में मुठभेड़ में मारे गए दहशतगर्द 17 सितंबर को श्रीनगर के बटमालू में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में 3 आतंकी मारे गए थे।29 अगस्त को पुलवामा के जदूरा इलाके में सुरक्षाबलों ने शनिवार तड़के तीन आतंकियों को मार गिराया। सेना का एक जवान शहीद हो गया।28 अगस्त को शोपियां के किलूरा इलाके में सुरक्षाबलों ने चार आतंकियों को मार गिराया। एक को गिरफ्तार किया गया। ये अल बद्र आतंकी संगठन से जुड़े थे।19 अगस्त को दक्षिण कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच दो मुठभेड़ हुई थीं। इस दौरान एक आतंकवादी मारा गया था। इसी दिन हंदवाड़ा के गनीपोरा में दो आतंकी मारे गए थे।17 और 18 अगस्त को बारामूला के करीरी इलाके में मुठभेड़ हुई थी। इस दौरान 3 आतंकियों को सुरक्षाबलों ने ढेर किया था। इनमें लश्कर के दो कमांडर सज्जाद उर्फ हैदर और उस्मान शामिल थे। हैदर बांदीपोरा हत्याओं का मुख्य साजिशकर्ता था। वह युवाओं को आतंकी संगठन में भर्ती करता था। विदेशी आतंकी उस्मान ने भाजपा नेता वसीम बारी, उसके पिता और भाई की हत्या की थी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें यह तस्वीर अनंतनाम में हुई मुठभेड़ के दौरान की है। यहां सुरक्षाबलों को मारे गए आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोला-बारूद और हथियार मिले हैं। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/jammu-and-kashmirsirhama-anantnag-encounter-updates-127752126.html

दीपिका से कल, रकुलप्रीत से आज ड्रग्स केस में पूछताछ; किसानों का भारत बंद और मोदी ने बताया कि वो कौन-सा पराठा खाते हैं



		 दीपिका से कल, रकुलप्रीत से आज ड्रग्स केस में पूछताछ; किसानों का भारत बंद और मोदी ने बताया कि वो कौन-सा पराठा खाते हैं 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
आईपीएल के रोमांच पर बॉलीवुड के विवाद भारी पड़ते दिख रहे हैं। वहीं, बिहार में भी राजनीतिक उठापटक तेज होती जा रही है। चलिए शुरू करते हैं मॉर्निंग न्यूज ब्रीफ... आज इन 4 इवेंट्स पर नजर रहेगी 1. भारतीय किसान यूनियन ने किसान बिल के विरोध में भारत बंद बुलाया है। 2. IPL में चेन्नई सुपरकिंग्स और दिल्ली कैपिटल्स आमने-सामने होंगे। टॉस शाम 7 बजे होगा। मैच साढ़े सात बजे से शुरू होगा। 3. रकुलप्रीत सिंह से नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो पूछताछ करेगा। 4. कंगना रनोट का ऑफिस तोड़े जाने के मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट में आज भी सुनवाई जारी रहेगी। अब कल की 6 महत्वपूर्ण खबरें 1. कोहली की फिटनेस, मोदी की रेसिपी फिट इंडिया मूवमेंट का एक साल पूरा होने के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को जानी मानी हस्तियों से बात की। क्रिकेटर विराट कोहली से चर्चा में मोदी ने पूछा कि क्या कैप्टन को भी योयो टेस्ट से गुजरना होता है? इस पर कोहली ने कहा, ‘इस टेस्ट में अगर मैं भी फेल हुआ तो सिलेक्शन नहीं हो पाएगा।’ वहीं, न्यूट्रिशन एक्सपर्ट रुजुता दिवेकर से बातचीत में मोदी ने अपनी एक रेसिपी बताई। उन्होंने कहा कि वे सहजन (मुनगा या ड्रमस्टिक) के पराठे खाते हैं। -पढ़ें पूरी खबर 2. बीएमसी तो बहुत तेज है बॉम्बे हाईकोर्ट ने गुरुवार को कंगना रनोट का ऑफिस तोड़े जाने के मामले में सुनवाई की। हाईकोर्ट ने कहा कि तोड़ी गई प्रॉपर्टी को यूं ही नहीं छोड़ा जा सकता। सुनवाई के दौरान बेंच ने बीएमसी पर तंज कसा कि आप तो बहुत तेज हैं, फिर आपको और वक्त क्यों चाहिए? इस पर कंगना ने ट्वीट किया, ‘माननीय हाईकोर्ट, मेरी आंखों में आंसू आ गए।’ -पढ़ें पूरी खबर 3. बीएसई का मार्केट कैप 5 दिन में 10 लाख करोड़ घटा शेयर बाजार में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा। भारी बिकवाली के बीच गुरुवार को बीएसई 1172.44 अंक तक नीचे चला गया था। बाद में 1114.82 अंक या 2.96% नीचे बंद हुआ। बीते 5 दिनों में बीएसई में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 10 लाख करोड़ रुपए घटकर 148 लाख करोड़ पर आ गया है। -पढ़ें पूरी खबर 4. ड्रग्स केस में आगे क्या होगा? ड्रग्स केस में वॉट्सऐप चैट सामने आने के बाद दीपिका पादुकोण से कल यानी शनिवार को पूछताछ होगी। इस मामले में वॉट्सऐप चैट को एविडेंस के तौर पर मंजूर किया जा सकता है। यदि जांच में यह साबित हो जाए कि एक्ट्रेस ड्रग्स सिंडीकेट का हिस्सा हैं तो सजा जरूर मिलेगी। उन्हें माफी भी मिल सकती है। 2012 में फरदीन खान भी इसी आधार पर कोर्ट से माफी ले चुके हैं कि वे आगे कभी ड्रग्स नहीं लेंगे। -पढ़ें पूरी खबर 5. राजनीति में जाने वाले 10 डीजीपी की कहानी बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय इन दिनों छाए हुए हैं। उन्होंने रिटायरमेंट से पांच महीने पहले ही वीआरएस लिया है। उनका दावा है कि उन्हें 14 अलग-अलग सीटों से चुनाव लड़ने का ऑफर मिला है। वे इकलौते डीजीपी नहीं हैं, जो राजनीति में आए हैं। 1980 के दशक में बिहार के भागलपुर में आंख फोड़वा कांड को लेकर सियासत काफी गरमाई थी। वहां के एसपी रहे विष्णु दयाल राम बाद में झारखंड के डीजीपी बने और अब पलामू से सांसद हैं। -पढ़ें पूरी खबर 6. IPL में रोहित का नया रिकॉर्ड मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा आईपीएल में किसी भी टीम के खिलाफ सबसे ज्यादा रन बनाने वालों की लिस्ट में सबसे ऊपर हो गए हैं। रोहित ने बुधवार को अबु धाबी में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 54 गेंद पर 80 रन बनाए। रोहित केकेआर के खिलाफ 26 मैच में 904 रन बना चुके हैं। यह किसी भी बल्लेबाज का एक टीम के खिलाफ सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है। -पढ़ें पूरी खबर अब 25 सितंबर का इतिहास 1524 - वास्कोडिगामा आखिरी बार वायसराय बनकर भारत आए। 1911 - फ्रांस के जंगी जहाज लिब्रीटे में टूलॉन हार्बर पर ब्लास्ट में 285 लाेगों की मौत। 1916 - भारतीय जनसंघ के संस्थापक सदस्य पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जन्म। 2010 - हिंदी के साहित्यकार कन्हैयालाल नंदन का निधन। जाने माने रॉकेट साइंटिस्ट सतीश धवन 1920 में आज ही के दिन जन्म हुआ। पढ़ें, उन्हीं की कही एक बात... आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Deepika To Be Questioned In A Drugs Case Tomorrow, rakul preet questioning today;farmers strike and Modi’s fitness secret in Paratha [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/deepika-to-be-questioned-in-a-drugs-case-tomorrow-rakul-preet-questioning-todayfarmers-strike-and-modis-fitness-secret-in-paratha-127751658.html

​​​​​​​सीआईसीए की बैठक में भारत ने कहा-आतंकवाद पर लुकाछिपी छोड़े पाकिस्तान, कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा था और रहेगा



		 ​​​​​​​सीआईसीए की बैठक में भारत ने कहा-आतंकवाद पर लुकाछिपी छोड़े पाकिस्तान, कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा था और रहेगा 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
पाकिस्तान ने कॉन्फ्रेंस ऑन इंटरेक्शन एंड कांफिडेंस बिल्डिंग मेजर्स इन एशिया (सीआईसीए) की बैठक में गुरुवार को कश्मीर का मुद्दा उठाया। 27 देशों के इस संगठन में यह मुद्दा उठाने पर भारत ने नाराजगी जाहिर की। इस बैठक में भारत की ओर से विदेश मंत्री एस जयशंकर मौजूद थे। विदेश मंत्रालय ने कहा- पाकिस्तान ने फिर से अपनी झूठी कहानी फैलाने के लिए एक वैश्विक मंच का गलत इस्तेमाल किया है। पाकिस्तान को जम्मू-कश्मीर और लद्दाख पर बोलने का कोई हक नहीं है। ये दोनों भारत का अभिन्न हिस्सा थे और रहेंगे। विदेश मंत्रालय ने कहा- पाकिस्तान आतंक का ग्लोबल एपिसेंटर हैं और यह भारत में आतंकियों गतिविधियों को बढ़ावा दे रहा है। हम पाकिस्तान को सलाह देते हैं कि वह आतंकवाद पर लुका छिपी करना छोड़े। इससे दोनों देश साथ मिल कर मुद्दों को सुलझा सकेंगे। पाकिस्तान ऐसे एजेंडों पर सीआईसीए जैसे अहम फोरम का ध्यान न भटकाए। ‘पाकिस्तान की टिप्पणी भारत के अंदरूनी मामलों में दखल’ पाकिस्तान की ओर से कश्मीर का मुद्दा पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने हटाया। इसके बाद भारत ने कहा कि पाकिस्तान ओर से सीआईसीए में कश्मीर पर की गई टिप्पणी भारत के अंदरूनी मामलों में दखल है। यह भारत की संप्रभुता और इसकी अखंडता के खिलाफ है। ऐसी हरकत सीआईसीए के सिद्धांतों के भी खिलाफ है। बैठक में दुनिया के कई देशों के विदेश मंत्रियों ने हिस्सा लिया। भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इस फोरम से जुड़े सभी देशों से साथ मिलकर काम करने की अपील की। सार्क देशों की बैठक में भी जयशंकर ने आतंक का मुद्दा उठाया जयशंकर ने गुरुवार को सार्क (साउथ एशिया एसोसिएशन फॉर रीजनल कोऑपरेशन) देशों की बैठक में भी आतंक का मुद्दा उठाया। उन्होंने कि कि बीते 35 सालों में सार्क काफी आगे बढ़ा है। हालांकि, आतंक और राष्ट्रीय सुरक्षा को नुकसान पहुंचाने वाली गतिविधियों से इसपर असर हुआ है। इससे सदस्यों देशों के बीच आपसी मेलजोल बढ़ाने की कोशिशों में रूकावट आई हैं। ऐसा माहौल में साथ मिलकर आगे बढ़ने का हमारा मकसद सफल नहीं होगा। ऐसे में जरूरी है कि हम साथ मिलकर आतंक और इसे पालने या समर्थन देने वाली ताकतों को हराएं। इस बैठक में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी भी मौजूद थे। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें विदेश मंत्री एस जयशंकर ने गुरवार को सीआईसीए की वर्चुअल मीटिंग में हिस्सा लिया। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी भी इसमें शामिल हुए। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /international/news/india-on-kashmir-issue-raised-by-pakistanindia-said-at-the-cica-meeting-kashmir-was-an-integral-part-of-india-and-will-remain-always-stop-overt-and-covert-on-this-issue-127750870.html

24 घंटे में संक्रमण के 82,214 मामले सामने आए और 77,488 लोग रिकवर हुए; छह दिन बाद मरीजों की संख्या फिर बढ़ी; देश में 58 लाख से ज्यादा केस



		 24 घंटे में संक्रमण के 82,214 मामले सामने आए और 77,488 लोग रिकवर हुए; छह दिन बाद मरीजों की संख्या फिर बढ़ी; देश में 58 लाख से ज्यादा केस 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
देश में 24 घंटे में संक्रमण के 82,214 मामले सामने आए हैं, जबकि 77,488 लोग ठीक हुए हैं। छह दिन के बाद संक्रमितों की संख्या रिकवर मरीजों से बढ़ी है। इसके साथ ही अब तक 58 लाख 12 हजार 398 मरीज मिल चुके हैं। इनमें 47 लाख 49 हजार 338 लोग ठीक हो चुके हैं। गुरुवार को 1097 लोगों की मौत हुई। मरने वालों की संख्या अब 92,270 हो गई है। ये आंकड़े covid19india.org के मुताबिक हैं। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को डेंगू हो गया है। लगातार प्लेटलेट्स गिरने के बाद उन्हें मैक्स अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया है। बुधवार को बुखार और ऑक्सीजन लेवल कम होने के बाद उन्हें एलएनजेपी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। 14 सितंबर को उन्होंने कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि की थी। वे अरविंद केजरीवाल सरकार में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के बाद संक्रमित होने वाले दूसरे मंत्री हैं। परमाणु वैज्ञानिक और परमाणु ऊर्जा आयोग के पूर्व अध्यक्ष डॉ. शेखर बसु का कोलकाता के एक निजी अस्पताल में गुरुवार को कोरोना से निधन हो गया। 68 साल के बसु की किडनी भी खराब थी। उन्हें देश के परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम में योगदान देने के लिए 2014 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था। 6 दिनों से नए मरीज की तुलना में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या ज्यादा तारीख नए मरीज ठीक हुए लोग 18 सितंबर 92,969 95,512 19 सितंबर 92,574 94,384 20 सितंबर 87,392 92,926 21 सितंबर 74,493 1,02,070 22 सितंबर 80,321 87,007 23 सितंबर 86,703 87,458 बंगाल में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन की इजाजत नहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को कहा कि कोरोना के चलते दुर्गा पूजा पंडालों में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन की इजाजत नहीं दी जाएगी। राज्य सरकार प्रत्येक पूजा समितियों को अनुदान के रूप में 50 हजार रुपए देगी। पूजा से पहले 2000 रुपए का अनुदान दिया जाएगा। ममता ने कहा- इस साल पंडाल को चारों ओर से खुला रखने की जरूरत है। पंडाल के गेट पर ही हैंड सैनिटाइजर रखा जाएगा। साथ ही मास्क लगाना अनिवार्य होगा। सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रखना होगा। छह दिन में 51 हजार एक्टिव केस कम हुए देश में बीते छह दिन से कोरोना के आंकड़े राहत दे रहे हैं। इस दौरान नए केस से ज्यादा मरीज ठीक हुए हैं। बुधवार को 86 हजार 703 संक्रमितों की पहचान हुई, जबकि 87 हजार 458 मरीज ठीक हो गए। अब 9.66 लाख मरीज ऐसे हैं, जिनका इलाज चल रहा है। 17 सितंबर को यह आंकड़ा सबसे ज्यादा 10.17 लाख था, यानी बीते छह दिन में 51 हजार एक्टिव केस कम हुए हैं। 12 सितंबर को सबसे ज्यादा 24 हजार एक्टिव केस बढ़े थे। दिल्ली कोरोना की दूसरी लहर के पीक से गुजर चुकी है: केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली कोरोना की दूसरी लहर के पीक से गुजर चुकी है। सितंबर में 4000 केस आना महामारी की दूसरी लहर का संकेत है। यह कोरोना के दूसरी लहर के संकेत है। उन्होंने कहा कि 1 जुलाई से 17 अगस्त तक स्थिति कंट्रोल में थी। हमने देखा कि मामले बढ़ रहे हैं और 17 सितंबर तक 4500 तक पहुंच गए। विशेषज्ञों का कहना है कि राजधानी में दूसरी वेव आ चुकी है। अब मामले कम हो रहे हैं। पिछले 24 घंटों में राजधानी में 3700 मामले सामने आए। राजधानी में 2.20 लाख से ज्यादा के सामने आ चुके हैं। हालांकि, एक्टिव केस सिर्फ 30 हजार 836 हैं और अब तक 5,087 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। कोरोना अपडेट्स ऑक्सीजन लेवल कम होने के बाद असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई को आईसीयू में शिफ्ट किया गया। 85 साल के गोगोई 25 अगस्त को कोरोना संक्रमित पाए गए थे।कर्नाटक के कांग्रेस विधायक बी नारायण राव की गुरुवार को कोरोना से मौत हो गई। उन्हें बेंगलुरु के हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। वे बीदर जिले के बसवकल्याण से विधायक थे। 65 साल के नारायण राव 1 सितंबर को संक्रमित मिले थे।रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी का बुधवार को कोरोना से निधन हो गया। वे 65 साल के थे। दिल्ली एम्स में उनका इलाज चल रहा था। वे कर्नाटक की बेलगाम लोकसभा सीट से सांसद थे।दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को बुधवार को बुखार और ऑक्सीजन लेवल कम होने की शिकायत के बाद दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में भर्ती कराया गया। 14 सितंबर को वे कोरोना संक्रमित पाए गए थे।इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने बताया कि 22 सितंबर को 9 लाख 53 हजार 683 सैंपल की जांच की गई। इसके साथ देश में अब तक 6 करोड़ 62 लाख 79 हजार 462 कोरोना सैंपल की जांच की जा चुकी है। पांच राज्यों का हाल 1. मध्यप्रदेश राज्य में गुरुवार को 2304 नए संक्रमित मिले, जबकि 2327 ठीक हुए। वहीं, 45 मरीजों ने दम तोड़ दिया। यहां अब तक 1 लाख 15 हजार 361 केस मिल चुके हैं। नए संक्रमितों में मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया, हरदीप सिंह डंग और भीकनगांव से कांग्रेस विधायक झूमा सोलंकी भी शामिल हैं। इन्हें मिलाकर अब तक सरकार के 13 मंत्री और पक्ष-विपक्ष के 44 विधायक संक्रमित हो चुके हैं। 2. राजस्थान राज्य में गुरुवार को संक्रमण के 1981 मामले मिले और 1965 लोग ठीक हुए। 27 जिले ऐसे हैं, जिनमें एक हजार से ज्यादा रोगी मिल चुके हैं। बाकी छह जिले- हनुमानगढ़ में 773, प्रतापगढ़ में 746, करौली में 799, सवाई माधोपुर में 820 और दौसा में 895 केस हैं। जयपुर में सबसे ज्यादा 19 हजार 1 पॉजिटिव मिल चुके हैं। जोधपुर में 18 हजार 227 हैं। राज्य में 1.22 लाख से ज्यादा केस हैं। अच्छी खबर यह है कि इनमें 1 लाख 2 हजार 330 मरीज ठीक हो चुके हैं। 3. बिहार. बिहार में गुरुवार को 1203 संक्रमित मिले। वहीं, 1154 लोग रिकवर हुए। राज्य में अब तक 1 लाख 74 हजार 266 मरीज मिल चुके हैं, जबकि 1 लाख 59 हजार 700 रिकवर हो चुके हैं। 28 सितंबर से 9 से 12 तक के स्टूडेंट्स शिक्षकों से मार्गदर्शन के लिए स्कूल जा सकेंगे। इसके लिए पैरेंट्स की अनुमति जरूरी है। इस दौरान प्रार्थना सत्र, खेलकूद और अन्य गतिविधि नहीं होगी। स्कूल स्टाफ की संख्या 50% से ज्यादा नहीं होगी। 4. महाराष्ट्र महाराष्ट्र में गुरुवार को 19 हजार 164 संक्रमित मिले और 17 हजार 184 लोग रिकवर हुए। वहीं, 459 लोगों की मौत हुई। अब तक 12 लाख 82 हजार 963 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 9 लाख 73 हजार 214 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 2 लाख 74 हजार 993 का इलाज चल रहा है। 5. उत्तरप्रदेश राज्य में गुरुवार को 4591 नए केस सामने आए, 4922 मरीज ठीक हो गए, जबकि 67 संक्रमितों की मौत हो गई। प्रदेश में अब तक 3 लाख 74 हजार 277 केस आ चुके हैं। इनमें 3 लाख 7 हजार 611 ठीक हो चुके हैं, 61 हजार 300 मरीजों का इलाज चल रहा है। वहीं, 5366 मरीजों की मौत हो चुकी है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से कोलकाता में दुर्गा पूजा समिति की बैठक के दौरान सर्टिफिकेट प्राप्त करने के बाद पूजारी। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/coronavirus-outbreak-india-cases-live-news-and-updates-24-september-2020-127749011.html

पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की तरफ से होगा दिल्ली में सम्मेलन, इसमें बताया जाएगा कैसे करें बिजनेस



		 पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की तरफ से होगा दिल्ली में सम्मेलन, इसमें बताया जाएगा कैसे करें बिजनेस 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
नई दिल्ली.अब भारत के सभी राज्यों में व्यवसाय करना आसान हो जाएगा। राज्यों के सामाजिक और आर्थिक विकास को और मजबूती दी जाएगी क्योंकि राज्य के विकास में ही राष्ट्र का विकास है। इसी उद्देश्य के साथ इस बार पीएचडी चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (पीएचडीसीसीआई) ‘द स्टेट कॉन्क्लेव-2018’ सम्मेलन करने जा रहा हैं। यह स्टेट कॉन्क्लेव 24 अगस्त 2018 को होटल ताज पैलेस, सरदार पटेल मार्ग, नई दिल्ली में आयोजित किया जा रहा है। इसका लक्ष्य भारत के राज्यों में सामाजिक व आर्थिक विकास को और मजबूत करना है।यह इस बार "मजबूत राज्य से मजबूत राष्ट्र की ओर’ के मकसद के साथ आएं हैं। यह कॉन्क्लेव राज्यों के संघीय ढांचे को मजबूत और सशक्त बनाने के मिशन को आगे बढ़ाने के उद्देश्य के तहत होगा। इस बार इस स्टेट कॉन्क्लेव का थीम स्टेट @न्यू इंडिया 2022 है, साथ ही "मजबूत राज्य से मजबूत राष्ट्र की ओर’ के स्लोगन के साथ कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है।इन राज्यों पर होगा फोकस :इस कॉन्क्लेव के फोकस राज्य - हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड और दिल्ली हैं। यहां इन राज्यों के मुख्यमंत्री और उद्योग प्रतिनिधिमंडल कॉन्क्लेव के सत्र और बी2जी बैठक में भाग लेंगे। सम्मेलन में उन संभावित निवेशकों के साथ सार्थक बातचीत पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा, जिन्होंने राज्य सरकार के साथ निवेश करने में रूचि दिखाई है। सम्मेलन में उद्योग के उन पार्टनर्स और निवेशकों की उपस्थिति होगी, जिनके इन राज्यों में पहले से ही कारोबार हैं। इस कॉन्क्लेव का उद्देश्य समस्याओं पर बातचीत करने और सरकारी-उद्योग इंटरफेस के आधार को मजबूत बनाना है। यह एक तरीके से "मेकिंग न्यू इंडिया’ के मिशन का समर्थन करता है। साथ ही यह फोकस राज्यों में उद्योगों की विशिष्ट समस्याओं पर चर्चा करने के लिए एक खास मंच होगी।स्टेट्स पर ही फोकस क्यों ?नीति स्तर पर किए गए शोध के आधार पर, पीएचडीसीसीआई इस निष्कर्ष पर पहुंचा है कि इन चार राज्यों को अत्यधिक सक्षम पाया गया था :1. निवेश करने के कारण: निवेश करने के उपलक्ष्य में ये चार राज्य हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड और दिल्ली उत्तम हैं। यहां व्यवसाय करने में आसानी है। साथ ही यहां स्ट्रटीजिक लोकेशन, इन्डस्ट्रीअल पावर, लैन्ड अवेलबिलिटी, लेबर रिफॉर्म, स्किल्ड मैनपावर, स्टेट पॉलिसी, सिंगल विंडो सिस्टम, टैक्सेशन और क्वालिटी ऑफ लाइफ बेहतर है।2. पॉलिसी : इन सभी चार राज्यों में, राज्य सरकारों ने व्यवस्थित रूप से एक नीति इन्वाइरन्मंट बनाया है जो निजी उद्यम को बढ़ावा देती है । साथ ही इन स्टेट को हर स्तर पर उत्तम भी बनाता है। प्रोत्साहन के एक सामान्य पैकेज के अलावा, निवेश को बढ़ावा देने के लिए क्षेत्र-विशिष्ट नीतियां तैयार की गई हैं।3. जनसांख्यिकी: सभी संबंधित प्रमुख संकेतक इन चार राज्यों का समर्थन करते हैं। यह भारत में सरकारी-उद्योग इंटरफ़ेस पर एक विशिष्ट रूप से महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। यह आधिकारिक प्रक्रियाओं को सरल बनाकर और निर्णय के स्तरों को पारदर्शी बनाता है। प्रौद्योगिकी के अधिक इंटरफ़ेस के साथ व्यवसायों के लिए एक मजबूत पारिस्थितिक तंत्र सुनिश्चित करता है। साथ ही, यह भारत के "इकोनॉमिक रिफॉर्म मिशन’ को भी समर्थन करता है, जिसमें एक शक्तिशाली मंच पर सरकार और उद्योग के उच्चतम क्षेत्रों को लाया जाता है।यह स्टेट कॉन्क्लेव-2018, सरकार और उद्योग दोनों पक्षों के प्रतिभागियों और सहयोगियों के लिए खास अवसर लेकर आ रहा है। इस साल यह स्टेट पॉलिसी कॉन्क्लेव-2018 अद्वितीय सम्मेलन के साथ काफी प्रभावशाली होने वाला है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें the state conclave 2018 organised by phd chamber of commerce and industry in delhi [...]

Click here to Read full Details Sources @ /indian-national-news-in-hindi/news/the-state-conclave-2018-organised-by-phd-chamber-of-commerce-and-industry-in-delhi-5940246.html

रणवीर सिंह की अर्जी- दीपिका कभी-कभी घबरा जाती हैं, सवाल-जवाब के दौरान मुझे साथ रहने की मंजूरी दी जाए



		 रणवीर सिंह की अर्जी- दीपिका कभी-कभी घबरा जाती हैं, सवाल-जवाब के दौरान मुझे साथ रहने की मंजूरी दी जाए 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में ड्रग्स एंगल की जांच कर रहे नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर, सारा अली खान और रकुलप्रीत सिंह से पूछताछ के लिए समन जारी किए हैं। इनसे 25 और 26 सितंबर को पूछताछ की जाएगी। दीपिका पादुकोण गुरुवार रात को गोवा से मुंबई पहुंचीं। पति रणवीर सिंह भी उनके साथ थे। सुरक्षा की वजह से वे करीब 45 मिनट तक एयरपोर्ट पर रहीं। एनसीबी दीपिका से शनिवार को पूछताछ करेगा। सूत्रों के मुताबिक, रणवीर ने एनसीबी को अर्जी लगाई है कि वह पूछताछ के दौरान दीपिका के साथ रहना चाहते हैं। इसमें कहा गया है कि उनकी पत्नी दीपिका को कभी-कभी घबराहट होती है। इसलिए उन्हें उनके साथ रहने की अनुमति दी जानी चाहिए। रणवीर ने कहा कि वह कानून का पालन करने वाले नागरिक हैं। नियमों को जानते हैं कि वह जांच के समय मौजूद नहीं रह सकते, फिर भी एनसीबी कार्यालय के अंदर तक की अनुमति दी जानी चाहिए। हालांकि, उनकी इस अपील पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। इससे पहले, दीपिका ने एनसीबी के नोटिस के जवाब में कहा कि वह पूछताछ में शामिल होंगी और जांच में सहयोग करेंगी। #WATCH Deepika Padukone along with Ranveer Singh arrives at Goa Airport, Panaji According to NCB, Padukone has submitted to join the investigation on 26th September, in connection with a drug case related to Sushant Singh Rajput death pic.twitter.com/wN8bOcYn6s — ANI (@ANI) September 24, 2020 सारा भी गोवा से मुंबई पहुंचीं सारा अली खान गोवा से मुंबई पहुंच गई हैं। उनके साथ उनकी मां अमृता सिंह भी थीं। सारा और दीपिका शूटिंग के लिए पिछले कुछ दिनों से गोवा में थीं। उधर, एक्ट्रेस रकुलप्रीत और दीपिका की मैनेजर करिश्मा प्रकाश से एनसीबी शुक्रवार को पूछताछ करेगा। (दीपिका, श्रद्धा, सारा और रकुलप्रीत के साथ अब आगे क्या होगा? पूरी खबर यहां पढ़ें) सारा अली खान गुरुवार शाम 5 बजे अपनी मां अमृता सिंह के साथ मुंबई एयरपोर्ट पहुंचीं। किस एक्ट्रेस को किस दिन समन? रकुलप्रीत सिंह और करिश्मा प्रकाश : 25 सितंबरदीपिका पादुकोण : 26 सितंबरसारा अली : 26 सितंबरश्रद्धा कपूर : 26 सितंबर रकुलप्रीत ने आज सुबह कहा था कि उन्हें समन नहीं मिला है। लेकिन, फिर NCB ने बताया कि रकुलप्रीत ने समन मिलने की बात मान ली है। उन्होंने अपना एड्रेस भी अपडेट करवा दिया है। इससे पहले समन नहीं मिलने की बात पर NCB ने कहा था कि एक्ट्रेस से कई प्लेटफॉर्म्स के जरिए कॉन्टैक्ट करने की कोशिश की गई, लेकिन बात नहीं हो पाई। उन्हें फोन भी किया गया, लेकिन रेस्पॉन्स नहीं मिला। अपडेट्स रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शोविक चक्रवर्ती की जमानत याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई 29 सितंबर तक टल गई। रिया पर आरोप हैं कि वे ड्रग्स पैडलर्स के कॉन्टैक्ट में थीं, सुशांत के लिए ड्रग्स भी अरेंज करती थीं। फिलहाल वे भायखला जेल में बंद हैं।फैशन डिजायनर सिमोन खंबाटा और रिया की पूर्व मैनेजर श्रुति मोदी से NCB ऑफिस में पूछताछ हुई।करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शन के एग्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर क्षितिज प्रसाद को NCB ने कल पेश होने का समन भेजा है।जांच एजेंसी ने मुंबई में 3 जगहों पर छापे भी मारे। इस बारे में अभी ज्यादा डिटेल नहीं मिल पाई है।टीवी एक्टर सनम जौहर और अबिगेल पांडे आज भी NCB के ऑफिस पहुंचे हैं। उनसे बुधवार को भी 5 घंटे तक सवाल-जवाब हुए थे।NDPS कोर्ट ने NCB को तलोजा जेल का दौरा करने, रिया के भाई शोविक और सुशांत के हेल्पर दीपेश सावंत के बयान दर्ज करने की इजाजत दे दी है। सिमोन खंबाटा करीब 9.30 बजे NCB के ऑफिस पहुंचीं। एक जैसा सिंडिकेट साबित हुआ तो क्या रिया जैसी धाराएं दीपिका पर भी लगेंगी? ड्रग्स केस में रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी हो चुकी है। NCB के एक अफसर ने बताया कि रिया और दीपिका के मामलों में कहीं से भी एक जैसा सिंडिकेट साबित हुआ एक जैसी धाराएं लगाकर एक जैसी सजा दी जा सकती है। रिया का मामला इस केस से मिलता है, क्योंकि टैलेंट मैनेजर जया साहा इन सभी के कॉन्टैक्ट में हैं और ड्रग्स का इंतजाम कराने की बात भी कह रही हैं। दीपिका की गिरफ्तारी के सवाल पर NCB चुप दीपिका और उनकी मैनेजर करिश्मा प्रकाश के चैट के स्क्रीनशॉट मिलने के बाद दीपिका को समन भेजा गया है। करिश्मा ने अपने वकील के जरिए से NCB से 25 सितंबर तक की छूट मांगी थी। वकील ने NCB से कहा कि करिश्मा बीमार हैं, इसलिए वे हाजिर नहीं हो पाएंगी। हालांकि, खबरें चलती रहीं कि वे गोवा में दीपिका के साथ हैं। NCB के डिप्टी डायरेक्टर (ऑपरेशन) कमल मल्होत्रा ने दीपिका की गिरफ्तारी की आशंका से जुड़े सवाल पर कुछ कहने से इनकार कर दिया। हैश, वीड... ये शब्द दीपिका और करिश्मा की चैट में थे। कयास लगाए जा रहे हैं कि हैश यानी हशीश और वीड यानी गांजे की बातचीत हुई थी। (दीपिका के चैट से जुड़ी पूरी खबर यहां पढ़ें) ड्रग्स की कितनी मात्रा पर कितनी सजा? गांजा: 1 किलो से कम बरामद हो तो छोटी मात्रा है। 1 किलो से 20 किलो के बीच इंटरमीडिएट मात्रा है। दोनों जमानती अपराध हैं। 20 किलो से ऊपर कमर्शियल मात्रा है। ये गैर जमानती है। चरस, कोकीन, मरिजुआना और हशीश: 100 ग्राम से कम छोटी मात्रा है। जमानत मिल जाती है। 100 ग्राम से 1 किलो तक हो तो जमानत फैक्ट्स के आधार पर मिलती है। 1 किलो से ऊपर होने पर जमानत नहीं मिलती। हेरोइन: 5 ग्राम से कम छोटी मात्रा है, यह जमानती अपराध है। 250 ग्राम से ज्यादा कमर्शियल मात्रा है। इसमें कम से कम 10 साल सजा का प्रावधान है। एनडीपीएस एक्ट के जानकार, सुप्रीम कोर्ट के वकील सुमीत वर्मा बता रहे हैं कि NCB की कार्रवाई का क्या आधार है... क्या सोशल मीडिया में ड्रग्स के सिर्फ लेन-देन की बात सजा का आधार बन सकती है? केस बन सकता है, NCB को चैटिंग को सबूत के तौर पर कोर्ट में साबित करना पड़ेगा। NCB को यह साबित करना होगा कि आरोपियों ने ड्रग्स खरीदी। पैसों का ट्रांजैक्शन भी दिखाना होगा। चैटिंग में हैश जैसे कोड के इस्तेमाल से केस बनेगा? केस तो बन जाएगा, लेकिन NCB को आरोपियों के मोबाइल के जरिए यह साबित करना होगा कि चैटिंग मजाक में नहीं की गई थी। जैन हवाला केस में भी डायरी के कोड वर्ड्स पर केस बना था। क्या ऐसी चैटिंग के आधार पर छापा मारा जा सकता है? बिल्कुल छापेमारी की जा सकती है। जांच को आगे बढ़ाने, बातचीत के लिंक को सही साबित करने और सबूत तलाशने के लिए जरूरी है। ड्रग्स जब्त नहीं हो तो क्या सिर्फ लेन-देन की बात पर केस बनेगा? ऐसे में ड्रग्स यूज करने का केस बनाया जा सकता है। इसमें एक साल की सजा या 20 हजार रुपए तक जुर्माना लगाया जा सकता है, लेकिन आरोपी कोर्ट में नशा छोड़ने की इच्छा जताए तो सजा नहीं मिलेगी, बल्कि नशा मुक्ति केंद्र भेजा जाएगा। क्या किसी आरोपी के बयान के आधार पर किसी को भी पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है? जांच आगे बढ़ाने के लिए ऐसा किया जा सकता है। क्या जब्ती के बिना किसी के बयान के आधार पर किसी और के खिलाफ केस बन सकता है? ऐसा किया जा सकता है। अगर व्यक्ति फैसिलिटेट कर रहा है और सबूत पेश कर रहा है तो उसके आधार पर भी NCB किसी और को गिरफ्तार कर सकता है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह गुरुवार रात को 9 बजे गोवा से मुंबई पहुंचे। सुरक्षा की वजह से दोनों को करीब 45 मिनट तक एयरपोर्ट पर रुकना पड़ा। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/narcotics-control-bureau-summons-deepika-shraddha-sara-and-rakul-preet-singh-in-drugs-related-case-linked-to-sushant-death-127748928.html

विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा- सीमा पार से होने वाला आतंक दक्षिण एशियाई देशों के लिए बड़ी चुनौती, इसे हल करने से ही विकास होगा



		 विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा- सीमा पार से होने वाला आतंक दक्षिण एशियाई देशों के लिए बड़ी चुनौती, इसे हल करने से ही विकास होगा 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
सार्क (साउथ एशिया एसोसिएशन फॉर रीजनल कोऑपरेशन) देशों के नेताओं की अनौपचारिक बैठक गुरुवार को न्यूयॉर्क में हुई। इसमें भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर और पाकिस्तान के विदेश मंत्री महमूद कुरैशी समेत दूसरे सदस्य देशों के विदेश मंत्री ने हिस्सा लिया। बैठक में भारत के विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा- सार्क देशों के सामने सीमा पार से होने वाला आतंकवाद, कनेक्टिविटी तोड़ना और व्यापार में रूकावट डालने जैसी चुनौतियां हैं। जब तक इन तीन चुनौतियों का हल नहीं ढूंढ़ा जाएगा साउथ एशिया क्षेत्र में शांति, समृद्धि और सुरक्षा बहाल नहीं होगी। सार्क में 8 सदस्य देश हैं। इनमें अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, भारत, मालदीव, नेपाल, पाकिस्तान और श्रीलंका शामिल हैं। 19 वां सार्क सम्मिट इस साल 15 से 19 नवम्बर के बीच पाकिस्तान में होने वाला था। हालांकि कश्मीर में इंडियन आर्मी के एक कैंप पर हुए हमले के बाद इसे टाल दिया गया है। ‘आतंक और इसका पालन पोषण करने वालों को हराएं’ भारतीय विदेश मंत्री के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव के मुताबिक, जयशंकर ने कहा कि बीते 35 सालों में सार्क काफी आगे बढ़ा है। हालांकि, आतंक और राष्ट्रीय सुरक्षा को नुकसान पहुंचाने वाली गतिविधियों से इसपर असर हुआ है। इससे सदस्यों देशों के बीच आपसी मेलजोल बढ़ाने की कोशिशों में रूकावट आई हैं। ऐसा माहौल में साथ मिलकर आगे बढ़ने का हमारा मकसद सफल नहीं होगा। ऐसे में जरूरी है कि हम साथ मिलकर आतंक और इसे पालने या समर्थन देने वाली ताकतों को हराएं। पाकिस्तान ने विवादित क्षेत्रों का मुद्दा उठाया पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने विवादित इलाकों का दर्जा बदलने का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि ऐसा करना संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) के नियमों का उल्लंघन है। ऐसे मामलों में जब कोई देश एकतरफा फैसला लेता है तो पूरे क्षेत्र में शांति कायम रखने की कोशिशों को नुकसान पहुंचता है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान इस साल सार्क सम्मिट अपने यहां करना चाहता है। यह इसे कराने में आ रही दिक्कतों को दूर करने के लिए काम करेगा। पाकिस्तान सार्क देशों के साथ मिलकर दक्षिण एशिया के देशों में आपसी सहयोग बढ़ाने के लिए काम करेगा। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने गुरुवार को सार्क देशों की ऑनलाइन बैठक में हिस्सा लिया। इस बैठक में पाकिस्तान के विदेश मंत्री भी शामिल हुए। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /international/news/s-jaishankar-virtual-saarc-meeting-today-update-external-affairs-minister-on-pakistan-cross-border-terrorism-127749417.html

विदेश मंत्रालय ने कहा- लद्दाख में दोनों ओर से डिसएंगेजमेंट की कोशिश जारी, लेकिन ऐसा करना मुश्किल



		 विदेश मंत्रालय ने कहा- लद्दाख में दोनों ओर से डिसएंगेजमेंट की कोशिश जारी, लेकिन ऐसा करना मुश्किल 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
लद्दाख में चीन के साथ चल रहे विवाद पर कमांडर लेवल की बातचीत में दोनों पक्षों ने एलएसी पर डिसएंगेजमेंट में दिलचस्पी दिखाई है। छठे स्टेज की बातचीत में दोनों देशों के सीनियर कमांडर्स को अपनी बातों को गहराई से रखने और दूसरे पक्षों को समझने का मौका मिला है। मौजूदा स्थिति में किसी भी तरह का बदलाव रोकने की कोशिश जारी है। यह तय करना जरूरी है कि वहां जमीनी स्तर पर स्थिरता कायम रहे। दोनों ओर से सभी तनाव वाले इलाकों में डिसएंगेजमेंट के लिए काम किया जा रहा है, लेकिन ऐसा करना मुश्किल है। इसमें दोनों ओर से सेना की टुकड़ियों को फॉरवर्ड लोकेशन्स से नियमित पोस्ट पर भेजना होता है। विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को यह बात कही। कमांडर लेवल की छठी मीटिंग 22 सितंबर को हुई थी लद्दाख सीमा पर तनाव के बीच भारत-चीन के कॉर्प्स कमांडर की छठी मीटिंग 22 सितंबर को हुई थी।चीन की तरफ चुशूल सेक्टर के मोल्डो में यह बातचीत हुई थी। न्यूज एजेंसी एएनआई के सूत्रों के मुताबिक मीटिंग में विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी भी शामिल हुए थे। यह पहला मौका था जब कॉर्प्स कमांडर लेवल की मीटिंग में कोई डिप्लोमेट शामिल हुआ था। भारत-चीन के बीच कॉर्प्स कमांडर के बीच पिछली मीटिंग करीब एक महीने पहले हुई थी। इसके अलावा ग्राउंड कमांडर स्तर की बातचीत करीब-करीब हर रोज हो रही है। बातचीत के बावजूद चीनी की घुसपैठ की कोशिशें जारी बातचीत के बावजूद चीन पूर्वी लद्दाख में बार-बार घुसपैठ की कोशिश कर रहा है। 29-30 अगस्त की रात पैंगॉन्ग झील इलाके के दक्षिणी छोर की पहाड़ी पर चीन ने कब्जा करने की कोशिश की थी, लेकिन भारतीय जवानों ने नाकाम कर दी। इसके बाद चीन ने 2 बार फिर ऐसी ही कार्रवाई की। 29 अगस्त से लेकर 8 सितंबर तक दोनों तरफ से 3 बार हवा में गोलियां भी चली थीं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें लद्दाख में जारी तनाव के बीच भारत-चीन के ग्राउंड कमांडर्स के बीच लगभग हर रोज मीटिंग हो रही है। (फाइल फोटो) [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/foreign-ministry-said-disengagement-efforts-continue-from-both-sides-in-ladakh-but-it-is-difficult-to-do-so-127749472.html

टीवी डिबेट में नजर आने वाले एडवोकेट बाबर कादरी की गोली मारकर हत्या; हमलावरों को पकड़ने के लिए इलाके की घेराबंदी की गई



		 टीवी डिबेट में नजर आने वाले एडवोकेट बाबर कादरी की गोली मारकर हत्या; हमलावरों को पकड़ने के लिए इलाके की घेराबंदी की गई 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
श्रीनगर जिले के हवल इलाके में गुरुवार शाम संदिग्ध आतंकवादियों ने एडवोकेट बाबर कादर की गोली मारकर हत्या कर दी। एक सीनियर पुलिस अफसर के मुताबिक, बाबर की मौके पर ही मौत हो गई। हमले के तुरंत बाद हमलावरों को पकड़ने के लिए पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी गई है। कादरी टीवी डिबेट में भी नजर आते रहे हैं। अधिकारी ने बताया कि बाबर को को हमले के तुरंत बाद एसकेआईएमएस हॉस्पिटल ले जाया गया। मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ. फारूक जान ने भी उनकी मौत की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि जब उन्हें हॉस्पिटल लाया गया, तब उनकी मौत हो चुकी थी। बाबर कादरी एक वकील, पैनलिस्ट, डिबेटर और एक लेखक भी थे। लाइव डिबेट में देश विरोधी नारे लगाए थे 2018 में रिपब्लिक टीवी पर लाइव डिबेट में कादरी ने देश विरोधी नारे लगाए थे, जिसके बाद टीवी भड़क गए थे और कादरी को तत्काल शो से चले जाने के लिए कहा था। शो में पाकिस्तान की ओर से लगातार किए जा रहे संघर्ष विराम उल्लंघन पर बहस चल रही थी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें कश्मीर के सीनियर पुलिस अफसर ने बताया कि बाबर की मौके पर ही मौत हो गई थी। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/militants-on-thursday-evening-shot-dead-advocate-babar-qadr-in-kashmirs-srinagar-district-127749442.html

हाईकोर्ट की बीएमसी को फटकार- आप तो बहुत तेज हैं, आपको समय क्यों चाहिए; एक्ट्रेस बोलीं- अदालत ने इतना सोचा, मेरे आंसू आ गए



		 हाईकोर्ट की बीएमसी को फटकार- आप तो बहुत तेज हैं, आपको समय क्यों चाहिए; एक्ट्रेस बोलीं- अदालत ने इतना सोचा, मेरे आंसू आ गए 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
बॉम्बे हाईकोर्ट ने गुरुवार को बीएमसी के खिलाफ लगाई गई कंगना रनोट की अर्जी पर सुनवाई की। एक्ट्रेस ने यह याचिका ऑफिस मणिकर्णिका फिल्म्स में तोड़फोड़ के खिलाफ लगाई थी। कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि तोड़ी गई प्रॉपर्टी को यूं ही नहीं छोड़ा जा सकता। इस पर कल सुनवाई होगी। सुनवाई के दौरान बेंच ने बीएमसी पर तंज कसा कि आप तो बहुत तेज हैं, फिर आपको और समय क्यों चाहिए। अगले हफ्ते अपना पक्ष लेकर पेश हों बीएमसी और राउत केस की सुनवाई के दौरान जस्टिस एसजे काठवल्ला और जस्टिस आरआई छागला की बेंच ने कहा कि मानसून में आप लोगों (बीएमसी) ने कार्रवाई की। ऐसे में और ज्यादा दिन सुनवाई नहीं टाल सकते। जब कार्रवाई करने की बात थी तो आपने बहुत तेजी दिखाई। जब जवाब देने की बात आई तो सुस्ती दिखाई जा रही है। किसी का घर तोड़ दिया गया है। हम बरसात के मौसम में उस ढांचे को इस तरह से रहने नहीं दे सकते। याचिकाकर्ता के वकील कल से यानी 25 सितंबर से इस केस पर अपना पक्ष रख सकते हैं। इसके बाद बेंच ने बीएमसी के अधिकारी और संजय राउत को अगले मंगलवार यानी 29 सितंबर तक अपना पक्ष रखने कोर्ट में हाजिर होने कहा। संजय राउत की ओर से उनके वकील प्रदीप थोरात मौजूद थे। इसके पहले मंगलवार 22 सितंबर को सुनवाई के दौरान बॉम्बे हाईकोर्ट ने एक्ट्रेस के ऑफिस पर बुलडोजर चलाने का आदेश देने वाले अधिकारी और शिवसेना के सांसद संजय राउत को पक्षकार बनाने की बात कही थी। कंगना की तरफ से संजय राउत के ‘उखाड़ दिया’ वाले बयान कि सीडी हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान दी गई थी, जिसके बाद हाईकोर्ट ने यह आदेश दिया। ‘मेरे आंसू आ गए’ कंगना ने ट्वीट किया, ‘माननीय हाईकोर्ट, मेरी आंखों में आंसू आ गए। मुंबई की बरसात में मेरा घर गिर रहा है। आपने मेरे टूटे हुए घर के बारे में इतना सोचा, यह मेरे लिए बहुत है। मेरे घावों पर मरहम लगाने के लिए धन्यवाद। मुझे वह सब वापस मिल गया, जो मैंने खोया था।’ Honourable Justice HC, this brought tears to my eyes, in the lashing rains of Mumbai my house is indeed falling apart, you thought about my broken house with so much compassion and concern means a lot to me,my heart is healed thank you for giving me back all that I had lost 🙏 https://t.co/zB9auZwzjX — Kangana Ranaut (@KanganaTeam) September 24, 2020 9 सितंबर को तोड़ा था ऑफिस बीमएसी ने कंगना की पाली हिल स्थित प्रॉपर्टी को अवैध निर्माण बताते हुए 9 सितंबर को तोड़फोड़ की थी। इसके बाद कंगना ने हरजाने की मांग करते हुए बीमएसी के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका लगाई थी। हाईकोर्ट ने ही संजय राउत के साथ-साथ आदेश जारी करने वाले अधिकारी को भी इस केस में पार्टी बनाया है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Kangana Ranaut got emotional as Bombay HC said that can't leave the demolished property as it is [...]

Click here to Read full Details Sources @ /entertainment/bollywood/news/kangana-ranaut-got-emotional-as-bombay-hc-said-that-cant-leave-the-demolished-property-as-it-is-127749316.html

मोदी ने विराट कोहली से योयो टेस्ट के बारे में पूछा, कोहली बोले- फिटनेस के लिए यह जरूरी, मैं भी इसमें फेल हुआ तो सिलेक्शन नहीं होगा



		 मोदी ने विराट कोहली से योयो टेस्ट के बारे में पूछा, कोहली बोले- फिटनेस के लिए यह जरूरी, मैं भी इसमें फेल हुआ तो सिलेक्शन नहीं होगा 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
फिट इंडिया मूवमेंट का एक साल पूरा होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खिलाड़ियों और दूसरे सेलेब्रिटीज से बात की। क्रिकेटर विराट कोहली चर्चा में मोदी ने पूछा कि टीम के लिए योयो टेस्ट हो रहा है, क्या कैप्टन को भी करना पड़ता है? इस पर कोहली ने कहा कि हम अपना फिटनेस लेवल बढ़ाना चाहते हैं, इसके लिए योयो टेस्ट जरूरी है। मैं भी इसमें फेल हुआ तो सिलेक्शन नहीं हो पाएगा। मोदी की विराट से बातचीत मोदी- दुबई से समय निकालकर जुड़े। आपका तो नाम ही विराट है। फिटनेस पर क्या कहेंगे? विराट- मैं भी जिंदगी में ट्रांजिशन से गुजरा। मुझे एक्सपीरियंस मिला कि जो रुटीन सही नहीं था, क्योंकि खेल काफी आगे बढ़ चुका था। जो सेल्फ रियलाइजेशन की बात थी। मुझे भी लगा कि फिटनेस प्रायोरिटी होनी चाहिए। प्रैक्टिस मिस हो जाए तो खराब नहीं लगता। फिटनेस सेशन मिस हो जाए तो बहुत बुरा लगता है। मोदी- दिल्ली के छोले-भटूरे मिस करते हैं? विराट- जहां से आता हूं, वहां का खान-पान बहुत असर नहीं डालता। हालांकि, अब फिटनेस के लिए बहुत कुछ बदलना पड़ा। अगर हम फिटनेस को इम्प्रूव नहीं करेंगे तो खेल में पीछे छूटते चले जाएंगे। शरीर और दिमाग दोनों का स्वस्थ रहना जरूरी है। रात को मीठा खाकर बिना कोई एक्टिविटी किए सो गए, ये गलत होता है। दिमाग में ये क्लीयर होना जरूरी है कि आप किसके लिए फिट रहना चाहते हैं? मोदी- आप लगातार एक्टिविटीज करते रहते हैं, थकते नहीं हैं? विराट- कोई भी एक्टीविटी करने पर थकना लाजिमी है। मैं भी थकता हूं। लेकिन, थकने के बाद मैं एक मिनट में दोबारा तैयार हो जाता हूं तो यह बड़ी बात होती है। टेस्ट क्रिकेट थकाऊ होता है। तीन दिन में प्लेयर्स को थकान होने लगती है। अगर खिलाड़ी फिट है तो वह तीसरे-चौथे-पांचवें दिन भी एफर्ट डाल सकता है। हमारे पास पहले भी स्किल थी, यही हमारी ताकत है। लेकिन पहले खिलाड़ी थकने की वजह से एफर्ट नहीं डाल पाते थे, लिहाजा हमारी टीम हार जाती थी। मिलिंद सोमण बोले- लोग पूछते हैं कि 55 की उम्र में इतना कैसे दौड़ लेता हूं कोहली से पहले मोदी ने एक्टर मिलिंद सोमण से बातचीत में उनके गाने ‘मेड इन इंडिया’ का जिक्र किया। प्रधानमंत्री ने सोमण से उम्र के बारे में पूछा। एक्टर ने कहा "लोग मुझसे कहते हैं कि 55 साल में इतना कैसे दौड़ लेते हो? मैं उनसे कहता हूं कि मेरी मां 81 साल की हैं। वो भी ये सब कर लेती हैं। मेरे दादाजी भी बहुत फिट थे। बैठने से आप कमजोर होते हैं। कोई भी व्यक्ति एक्सरसाइज से 3 किमी से 100 किमी तक दौड़ सकता है।" सोमण ने कहा, "मुझे एक्सरसाइज करना पसंद है। जो भी समय मिलता है, उसमें एक्सरसाइज करता रहता हूं। जिम नहीं जाता, मशीनों का इस्तेमाल नहीं करता। मैं 10 फीट के कमरे में फिट रह सकता हूं। मैं जब दौड़ता हूं तो जूते भी नहीं पहनता। आपके पास जो भी है, उसे लेकर भी आप खुद को फिट रख सकते हैं।" "आप खुद की एक्सरसाइज बना सकते हैं। लोगों को समझ में आना जरूरी है कि फिट रहना है। ये जानना जरूरी है कि आप किस चीज के लिए फिट रहना चाहते हैं, जैसे- पर्वतारोहण, खेलना या सामान्य जिंदगी के लिए। 40, 50, 60 की उम्र में जिंदगी खत्म नहीं होती। आप नई शुरुआत कर सकते हैं।" मोदी ने कहा- कोरोना के बीच फिजिकल एक्टिविटी जीवन का हिस्सा बनीं मोदी ने कहा कि फिट इंडिया मूवमेंट ने एक साल में ही लोगों की जिंदगी में जगह बना ली है। बड़ी बात ये है कि इस दौरान दुनिया कोरोना से भी जूझ रही है। खेलों को लेकर अवेयरनेस लगातार बढ़ रही है। रनिंग, स्वीमिंग, योग, जॉगिंग, एक्सरसाइज अब जीवन का हिस्सा बन चुके हैं। आज दुनियाभर में सेहत को लेकर जागरूकता है। फिजिकल एक्टीविटी पर WHO ने रिकमंडेशन भी जारी की है। 'जो परिवार एक साथ खेलता है, वह एक साथ फिट भी रहता है' मोदी ने कहा कि इस समय बड़े लेवल पर फिटनेस पर काम चल रहा है। ज्यादा से ज्यादा लोग फिटनेस से जुड़ें, इसकी कोशिशें जारी हैं। सब कुछ हेल्थ पर निर्भर है। स्वास्थ्य है, तभी भाग्य है, सफलता है। फिट होने पर एक आत्मविश्वास आता है। यही बात परिवार, समाज और देश पर भी लागू है। एक परिवार जो एक साथ खेलता है, एक साथ फिट भी रहता है। वही सफल भी होता है। कोई भी अच्छी आदत होती है, तो उसे माता-पिता ही सिखाते हैं। अब युवा माता-पिता को एक्सरसाइज के लिए प्रेरित करते हैं। हमारे यहां कहा गया है, मन चंगा तो कठौती में गंगा। 'देश जितना फिट होगा, उतना ही हिट होगा' प्रधानमंत्री ने कहा कि विस्तार ही जिंदगी है, सिकुड़ना मौत जैसा होता है। हमें बस इतना करना है कि अपनी रुचि के अनुसार कुछ चीजों को चुनना है और उसे नियमित रूप से करना है। मुझे भरोसा है कि फिट इंडिया मूवमेंट से ज्यादा से ज्यादा जुड़ेंगे। ये दरअसल हिट इंडिया मूवमेंट भी है। इंडिया जितना फिट होगा, उतना ही हिट होगा। मोदी बोले- मां पूछती हैं कि हल्दी ले रहे हो या नहीं? न्यूट्रिशन और फिटनेस एक्सपर्ट रुजुता दिवेकर ने हेल्दी फूड के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि आजकल अमेरिका में घी शब्द सबसे ज्यादा गूगल किया जा रहा है। मोदी ने कहा कि मैं सहजन (मुनगा या ड्रमस्टिक) के पराठे खाता हूं। हफ्ते में दो बार मां से बात होती है। वे एक ही बात पूछती हैं- हल्दी ले रहे हो न। स्वामी शिवध्यानम बोले- आश्रम युवाओं का जीवन बदल देता है मोदी से बातचीत में आध्यात्मिक गुरू शिवध्यानम ने कहा कि गुरुकुल में छोटी उम्र से बच्चे आकर रहते थे, वहां रहने का माहौल बनता था। हमारे आश्रम में भी यही तरीका है। योग सिर्फ अभ्यास नहीं, जीवन जीने की कला है। आश्रम ऐसा माहौल देता है कि योग की शिक्षाओं को जीवन में उतार सकें। आश्रम में सभी लोग अपना काम खुद करते हैं। लड़के-लड़कियां आते हैं, उन्होंने पहले कोई काम किया नहीं होता। जाते वक्त कहते हैं कि हमारा जीवन बदल गया। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें PM Narendra Modi Fit India Dialogue 2020 Live Updates: Modi Speaks Milind Soman, Virat Kohli [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/pm-narendra-modi-fit-india-dialogue-2020-live-updates-virat-kohli-127749221.html

ओएनजीसी टर्मिनल में लगी आग, 3 धमाके भी हुए, 25 फीट ऊंची लपटें उठी थीं; 4 घंटे में काबू पा लिया गया



		 ओएनजीसी टर्मिनल में लगी आग, 3 धमाके भी हुए, 25 फीट ऊंची लपटें उठी थीं; 4 घंटे में काबू पा लिया गया 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
गुजरात के सूरत में तेल और प्राकृतिक गैस निगम के प्लांट में गुरुवार तड़के करीब 3 बजे भीषण आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि उसकी लपटें करीब 7 किमी दूर से भी दिखाईं दे रही थीं। प्लांट में तीन धमाके भी हुए, जिससे आसपास के इलाके मेें अफरा-तफरी मच गई। करीब चार घंटे की मशक्कत के बाद फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पा लिया। हादसे में तीन कर्मचारियों के लापता होने की बात सामने आ रही है। प्रशासनिक अधिकारी अब भी मौके पर मौजूद हैं और अब हालात नियंत्रण में हैं। प्लांट के अधिकारी आग लगने के कारणों का पता लगा रहे हैं। 7 किमी दूर से भी दिखाई दीं आग की लपटें। 25 फीट तक उठीं लपटें प्लांट के आसपास रहने वाले गांववालों ने बताया कि उन्होंने तेज धमाके सुने और डर गए। उन्होंने आसमान में आग के गोले साफ-साफ देखे। आग की लपटें 25-30 फीट तक उठती दिखाईं दीं। सूरत के डीएम धवल पटेल का कहना है कि प्लांट में लगी आग फिलहाल ऑन साइट इमरजेंसी की स्थिति में है। उन्होंने कहा कि ऑफ साइट इमरजेंसी नहीं होने के कारण आसपास के लोगों को घबराने की कोई जरूरत नहीं है। आग पर अब पूरी तरह नियंत्रण पा लिया गया है। आग बुझने के बाद भी सुबह 7 बजे तक दिखा प्लांट से उठता धुंआ। इस तकनीक से भीषण हादसा टल गया आग मुंबई से सूरत तक आने वाली गैस पाइप के टर्मिनल में लगी थी। हालांकि, आग लगते ही वॉल्व बंद कर दिया गया था, जिससे गैस की सप्लाई रुक गई और एक भीषण हादसा टल गया। जहां आग लगी थी, वहां प्रेशर से गैस चिमनी द्वारा निकाल दी गई और इसी के चलते आग की लपटें 25-30 फीट ऊंचाई तक दिखाईं दीं। इसी तकनीक के इस्तेमाल से आग बढ़ने से रोक ली गई। प्लांट के मेन टर्मिनल से करीब 3 किमी दूर बनी चिमनी, जिसका उपयोग प्लांट में लगी आग को रोकने में किया जाता है। दुर्घटना स्थल से 3 किमी दूर चिमनी से गैस निकालकर जलाई गई प्लांट के मेन गेट के पास ही यह चिमनी बनाई गई है। यह प्लांट के मुख्य टर्मिनल से करीब 3 किमी दूर है। इसका उपयोग इमरजेंसी में गैस निकालकर हवा में ही गैस को जलाकर नष्ट करने के लिए किया जाता है। इससे प्लांट में भरी गैस बाहर निकाल दी जाती है, जिससे प्लांट में आग नहीं फैल पाती। वहीं, गैस निकालने के बाद उसे हवा में ही जला दिया जाता है, जिससे गैस वातावरण में न फैल सके। फायर ब्रिगेड की 15 से ज्यादा गाड़ियों ने बुझाई आग। करीब 19 किमी में फैला है प्लांट तेल और प्राकृतिक गैस निगम का यह प्लांट सूरत के पास स्थित हजीरा इंडस्ट्रियल एरिया में करीब 19 किमी एरिया में फैला है। बता दें, ओनजीसी कंपनी द्वारा एलपीजी, नेप्था, एसकेओ, एटीएफ और एचएसडीएन प्रोपेन गैसें बनाई जाती हैं। करीब 19 किमी एरिया में फैला है प्लांट। हजीरा इंडस्ट्रियल एरिया से हजारों लोगों की जीविका जुड़ी है हजीरा इंडस्ट्रियल एरिया में गैस के अलावा अन्य कई प्लांट भी हैं, जिनमें सूरत जिले के अलावा डुमस, भीमपोर, गवीयर, भाटपोर जैसे गांव के लोग भी हजारों की संख्या में फिक्स और कॉन्ट्रेक्ट पर काम करते हैं। हादसे के बाद यहां के 50 फीसदी से ज्यादा प्लांट आगामी आदेश तक के लिए बंद कर दिए गए हैं। प्लांट में एलपीजी, नेप्था, एसकेओ, एटीएफ और एचएसडीएन प्रोपेन गैसें बनाई जाती हैं। तीन कर्मचारी हैं लापता सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए मगदल्ला चौक से इच्छापुर तक का यातायात रोक दिया गया है। फायर ब्रिगेड के अधिकारियों ने बताया कि प्लांट के तीन कर्मचारी लापता हैं। इनमें एक सिक्युरिटी गार्ड, एक श्रमिक और एक लाइनमैन है। प्लांट के बाहर खड़े कर्मचारी। ऑन साइट इमरजेंसी है, घबराने की बात नहीं धवल पटेल घटना को लेकर साफ किया है कि किसी भी प्लांट में जब कोई भी बड़ा समस्या प्लांट के अंदर ही सीमित होती है तो इसे ऑन साइट इमरजेंसी कहते हैं, वहीं जब स्थिति आउट ऑफ कंट्रोल होकर प्लांट से बाहर तक फैल जाती है तो इसे ऑफ साइट इमरजेंसी कहा जाता है। हजीरा प्लांट करीब 19 एकड़ में फैला हुआ है। पीएम मोदी ने की बात हादसे की गंभीरता को देख प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नवसारी के सांसद और गुजरात भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सीआर पाटिल से फोन पर बात की और तत्काल जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉर्पोरेशन के प्लांट में गुरुवार तड़के लगी आग। 7 किमी दूर से ही लपटें दिख रही थीं। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /local/gujarat/news/fire-broke-out-at-ongc-gas-terminal-in-aazira-in-surat-127749173.html

कोहली बोले- फिटनेस के लिए छोले-भटूरे छोड़े; प्रधानमंत्री ने कहा- आपको और अनुष्का को आने वाली ‘शुभ घड़ी’ की शुभकामनाएं



		 कोहली बोले- फिटनेस के लिए छोले-भटूरे छोड़े; प्रधानमंत्री ने कहा- आपको और अनुष्का को आने वाली ‘शुभ घड़ी’ की शुभकामनाएं 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
बुधवार यानी 24 सितंबर को फिट इंडिया मूवमेंट का एक साल पूरा हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर कुछ सेलिब्रिटीज से वर्चुअली रूबरू हुए। इनमें टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली भी शामिल थे। कोहली को सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया में सबसे फिट क्रिकेटर्स में से एक माना जाता है। मोदी ने विराट से उनकी फिटनेस पर रोचक बातचीत की। इस दौरान योयो टेस्ट का भी जिक्र हुआ। योयो टेस्ट पर कोहली ने कहा- हम अपना फिटनेस लेवल बढ़ाना चाहते हैं। इसके लिए योयो टेस्ट जरूरी है। मैं भी इसमें फेल हुआ तो सिलेक्शन नहीं हो पाएगा। बातचीत के आखिर में मोदी ने कहा- मैं आपको और अनुष्का को आने वाली शुभ घड़ी के लिए बहुत शुभकामनाएं देता हूं। यहां हम आपको बता रहे हैं प्रधानमंत्री के सवाल और कोहली के जवाब। मोदी- दुबई से समय निकालकर जुड़े। आपका तो नाम ही विराट है। फिटनेस पर क्या कहेंगे? विराट- मैं भी जिंदगी में ट्रांजिशन से गुजरा। मुझे एक्सपीरियंस मिला कि रुटीन सही नहीं था, क्योंकि खेल काफी आगे बढ़ चुका था। जो सेल्फ रियलाइजेशन की बात थी। मुझे भी लगा कि फिटनेस प्रायोरिटी होनी चाहिए। प्रैक्टिस मिस हो जाए तो खराब नहीं लगता। फिटनेस सेशन मिस हो जाए तो बहुत बुरा लगता है। योयो टेस्ट की बात करें तो बाकी टीमों से हमारा फिटनेस लेवल कम है। आज टी-20 या वनडे हुआ तो ये तो एक दिन में खत्म हो जाते हैं। टेस्ट क्रिकेट 5 दिन चलता है। इसके लिए ज्यादा फिटनेस जरूरी है। योयो टेस्ट के लिए सबसे पहले मैं ही भागता हूं। अगर इसमें मैं भी फेल हो जाता हूं तो मैं भी सिलेक्ट नहीं हो पाऊंगा। मोदी- दिल्ली के छोले-भटूरे मिस करते हैं? विराट- जहां से आता हूं, वहां का खान-पान बहुत असर नहीं डालता। हालांकि, अब फिटनेस के लिए बहुत कुछ बदलना पड़ा। अगर हम फिटनेस को इम्प्रूव नहीं करेंगे तो खेल में पीछे छूटते चले जाएंगे। शरीर और दिमाग दोनों का स्वस्थ रहना जरूरी है। रात को मीठा खाकर बिना कोई एक्टिविटी किए सो गए, ये गलत होता है। दिमाग में ये क्लीयर होना जरूरी है कि आप किसके लिए फिट रहना चाहते हैं? खाने के बीच में समय देना बहुत जरूरी है। हम दिनभर खाते रहते हैं। पहले रात में 12.30 बजे तक डिनर लेता था। रात में मीठा खाकर सो जाता था। प्रायोरिटी तय करनी जरूरी है कि आपको करना क्या है। फिटनेस के फायदे हमें रोजमर्रा की जिंदगी में दिखते हैं। आज शरीर कितना तंदुरुस्त है और दिमाग कितना तंदुरुस्त है, ये दोनों चीजें मायने रखती हैं। इसका ध्यान रखना जरूरी है कि मुझे क्या बदलना है अपने अंदर। मेरी नानी की हेल्थ हमेशा फिट रहीं, क्योंकि उन्होंने हमेशा घर का सिंपल खाना खाया। मोदी- आप लगातार एक्टिविटीज करते हैं, थकते नहीं हैं? विराट- कोई भी एक्टीविटी करने पर थकना लाजिमी है। मैं भी थकता हूं। लेकिन थकने के बाद मैं एक मिनट में दोबारा तैयार हो जाता हूं तो यह बड़ी बात होती है। टेस्ट क्रिकेट थकाऊ होता है। तीन दिन में प्लेयर्स को थकान होने लगती है। अगर खिलाड़ी फिट है तो वह तीसरे-चौथे-पांचवें दिन भी एफर्ट डाल सकता है। हमारे पास पहले भी स्किल थी, यही हमारी ताकत है। लेकिन पहले खिलाड़ी थकने की वजह से एफर्ट नहीं डाल पाते थे, लिहाजा कई बार हमारी टीम हार जाती थी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें फोटो 20 दिसंबर 2017 का है। विराट कोहली और अनुष्का शर्मा शादी के बाद प्रधानमंत्री मोदी को रिसेप्शन का कार्ड देने पहुंचे थे। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/narendra-modi-virat-kohli-yo-to-test-talks-heres-latest-news-updates-from-fit-india-movement-2020-127749289.html

राजनाथ सिंह आज 7 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश में 43 पुलों का उद्घाटन करेंगे, सेना की मदद के लिए अहम जगहों पर बनाए गए हैं ये पुल



		 राजनाथ सिंह आज 7 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश में 43 पुलों का उद्घाटन करेंगे, सेना की मदद के लिए अहम जगहों पर बनाए गए हैं ये पुल 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह गुरुवार को देश के 7 राज्यों के सीमावर्ती इलाके में बने 43 पुलों का उद्घाटन करेंगे। ये पुल लद्दाख, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब और जम्मू-कश्मीर में बनाए गए हैं। सेना के बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन ने इन पुलों को रणनीतिक तौर पर अहम जगहों पर तैयार किया है। इनकी मदद से सेना की हथियारबंद टुकड़ियां जल्द सीमा पर फॉरवर्ड लोकेशन तक पहुंच सकती हैं। रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने बुधवार को इसकी जानकारी दी। चीन के साथ विवाद को देखते हुए भारत सीमाई इलाकों में कई दूसरे अहम प्रोजेक्ट्स पर भी काम कर रहा है। सभी पुलों का उद्घाटन ऑनलाइन होगा सभी पुलों का उद्घाटन ऑनलाइन किया जाएगा। इन्हें ऐसे समय में खोला जा रहा है, जब भारत और चीन की सेना लद्दाख में आमने-सामने हैं। खास बात है कि इनमें से 7 पुल लद्दाख में तैयार किए गए हैं। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर में 10, हिमाचल में दो, उत्तराखंड और अरूणाचल में आठ-आठ और सिक्किम और पंजाब में चार-चार पुल बनाए गए हैं। रक्षा मंत्री अरूणाचल में एक सुरंग की नींव भी रखेंगे रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक, राजनाथ अरुणाचल प्रदेश के नेचिफू में एक सुरंग की नींव भी रखेंगे। यह सुरंग तवांग की एक मुख्य सड़क पर बनाई जाएगी। हिमाचल प्रदेश के दारचा को लद्दाख से जोड़ने के लिए भी सड़क बनाई जा रही है। यह सड़क कई ऊंची बर्फीली चोटियों से होकर गुजरेगी। यह करीब 290 किमी. लंबी होगी। इसके तैयार होने के बाद करगिल तक सेना की पहुंच आसान होगी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें फोटो 18 जुलाई की है। उस समय रक्षा मंत्री राजनाथा सिंह ने जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा के फॉरवर्ड लोकेशन्स पर तैनात जवानों से मुलाकात की थी। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/rajnath-singh-will-inaugurate-43-bridges-in-seven-states-and-union-territories-these-bridges-have-been-built-at-important-places-to-help-the-army-127748627.html

76 साल पुराने आईएनएस विराट 28 को रिटायर होगा, इस पर तैनात जांबाज बोले- अगर म्यूजियम में तब्दील होता तो इतिहास जिंदा रहता



		 76 साल पुराने आईएनएस विराट 28 को रिटायर होगा, इस पर तैनात जांबाज बोले- अगर म्यूजियम में तब्दील होता तो इतिहास जिंदा रहता 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
भारतीय नाैसेना के 76 साल पुराने ऐतिहासिक जंगी जहाज आईएनएस विराट का विसर्जन 28 सितंबर को होगा। भास्कर टीम इसके विसर्जन की अंतिम गवाह बनी और मौके पर पहुंची। 2017 में इसे रिटायर करने के बाद कोच्चि में सबसे पहले इसके इंजन, जनरेटर निकाले गए। बाद में वायरिंग को निष्क्रिय कर पंखे, नेविगेशन उपकरण, रडार, ब्रिज रूम सहित दोबारा उपयोग में आने वाले तमाम उपकरण निकाल लिए गए हैं। 1944 में बने इस जहाज की प्लेट, डेक-रन-वे आज भी मजबूत स्थिति में है। बिजली नहीं होने के कारण अपर डेक से ग्राउंड डेक तक इसके तमाम फ्लोर पर अंधेरा पसरा हुआ है। 1944 में बने इस जहाज की प्लेट, डेक-रन-वे आज भी मजबूत स्थिति में है। अंदरूनी हिस्से में निचली डेक पर लाइब्रेरी, नेवी के कर्मचारियों के आवासीय कैबिन सब अस्त-व्यस्त है। इसमें जिम, अस्पताल, मैस रूम आदि हैं। भावनगर के एंकरेज क्षेत्र में पिरम आईलैंड की दक्षिण दिशा में खड़े इस जहाज में तैनात रहे लेफ्टिनेंट कमांडर आईएस चीमा और संजय कार्वे कहते हैं कि इसे विसर्जित करने की बजाय अगर म्यूजियम में तब्दील कर दिया जाता तो ज्यादा बेहतर होता। यह भारतीय मैरिटाइम इतिहास के जीवंत स्वरूप से लोगों को हमेशा रूबरू करवाते रहता। विसर्जन से पहले सभी सरकारी औपचारिकताएं पूरी की जाएंगी आईएनएस विराट को ऑनलाइन नीलामी में खरीदने वाले मुकेश पटेल ने बताया कि 28 सितंबर से अलंग के गहरे समुद्र क्षेत्र में इसके विसर्जन का काम शुरू होगा। गुरुवार से कस्टम, गुजरात मैरिटाइम बोर्ड (जीएमबी), गुजरात प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (जीपीसीबी) और एईआरबी सहित प्राधिकरण की जरूरी औपचारिकताओं को पूरा किया जाएगा। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें 2017 में इसे रिटायर करने के बाद कोच्चि में सबसे पहले इसके इंजन, जनरेटर निकाले गए। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/the-immersion-of-76-year-old-ins-virat-on-28th-said-that-the-history-would-have-been-alive-if-it-had-been-converted-into-a-museum-127749154.html

चीफ जस्टिस बोबडे की कोर्ट में चल रही थी सुनवाई, तभी आई सब्जीवाले की आवाज- आलू ले लो, प्याज ले लो



		 चीफ जस्टिस बोबडे की कोर्ट में चल रही थी सुनवाई, तभी आई सब्जीवाले की आवाज- आलू ले लो, प्याज ले लो 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
(पवन कुमार) कोरोना के कारण सुप्रीम कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मामलों की सुनवाई हो रही है। ऑनलाइन सुनवाई के दौरान ज्यादातर वकील घर, ऑफिस और कार में बैठकर दलीलें देते हैं। इस कारण कई बार तरह-तरह के अजीब वाकये भी पेश आते हैं। इससे गंभीर मामलों की सुनवाई के दौरान माहौल ही बदल जाता है। मंगलवार को भी ऐसा ही एक अजीब वाकया सामने आया। हुआ यूं कि चीफ जस्टिस एसए बोबडे की कोर्ट में सुनवाई चल रही थी। कई वकील कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े थे और सुनवाई में शामिल थे। इस बीच एक वकील दलील दे रहा था। तभी एक वकील के बैकग्राउंड से आवाज आई- ‘आलू ले लो....भिंडी ले लो....प्याज ले लो...।’ यह सुनते ही वकील और जज हंसने लगे। चीफ जस्टिस ने कहा- सभी वकीलों को म्यूट कर दें दरअसल, एक वकील अपने घर के जिस कमरे में बैठा था। उसके बाहर एक ठेले वाला चिल्ला-चिल्लाकर सब्जी बेच रहा था। इस बीच चीफ जस्टिस ने पूछा- ‘यह आवाज किस वकील के बैकग्रांउड से आ रही है।’ लेकिन किसी ने हामी नहीं भरी। इसके बाद चीफ जस्टिस ने अपने स्टाफ से कहा कि दलील पेश कर रहे वकील के अतिरिक्त अन्य सभी वकीलों को म्यूट कर दें। वकील गालिब-कबीर का नाम सुनकर सीजेआई बोबडे चौंक पड़े इसके बाद मामलों की रुटीन सुनवाई दोबारा शुरू की गई। दूसरी ओर देशभर में इलेक्ट्रानिक वोटिंग सिस्टम लागू करने की मांग को लेकर एक याचिका सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई थी। इस मामले की सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता के वकील गालिब-कबीर का नाम सुनकर सीजेआई बोबडे चौंक पड़े। बोले- ‘गालिब भी और कबीर भी। आपका नाम तो बड़ा दिलचस्प है। खैर बताइए कि आप क्या चाहते हैं।’ हालांकि, याचिकाकर्ता की सुनवाई पर सीजेआई ने कहा- ‘यह ऐसा मामला नहीं है, जिस पर कोर्ट आदेश दे। आप चाहे तो सरकार को ज्ञापन दे सकते हैं।’ जज ने कहा- माइक के पास आएं; वकील बोला- कोर्ट से आधा किमी ही दूर हूं, अभी पास आता हूं जस्टिस एएम खानविलकर की अध्यक्षता वाली पीठ के समक्ष मंगलवार को 12वीं कक्षा में कंपार्टमेंट वाले छात्रों के मामले की सुनवाई चल रही थी। इस दौरान जज को वकील विवेक तनखा की आवाज साफ सुनाई नहीं दे रही थी। जस्टिस ने कहा- ‘माइक के नजदीक आएं।’ जवाब में तनखा बोले ‘माय लॉर्ड, कोर्ट से आधा किमी दूर हूं। अभी कोर्ट के पास आ जाता हूं।’ आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें The hearing of Chief Justice Bobde was going on in the court, when the voice of the vegetable seller came - 'Take the potatoes ... Take the lady finger ... Take the onion' [...]

Click here to Read full Details Sources @ /db-original/columnist/news/the-hearing-of-chief-justice-bobde-was-going-on-in-the-court-when-the-voice-of-the-vegetable-seller-came-take-the-potatoes-take-the-lady-finger-take-the-onion-127749152.html

भगोड़े कारोबारी नीरव मोदी ने कहा- कांग्रेस को 456 करोड़ रुपए की रिश्वत देकर किया था घोटाला, जानिए क्या है इस दावे का सच



		 भगोड़े कारोबारी नीरव मोदी ने कहा- कांग्रेस को 456 करोड़ रुपए की रिश्वत देकर किया था घोटाला, जानिए क्या है इस दावे का सच 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
क्या हो रहा है वायरल: सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है। इसमें दावा किया जा रहा है कि 14,000 करोड़ रुपए का स्कैम करके विदेश भागने वाले कारोबारी नीरव मोदी ने अदालत को दिए बयान में कहा है कि उसने कांग्रेस की मदद से ये घोटाला किया। लंदन कोर्ट में नीरव मोदी का बयान... मैं भागा नहीं मुझे भगाया गया, 456 करोड़ कमिशन खाया कांग्रेस के नेताओं ने, मैंने अकेले नहीं खाया, सबको हिस्सा दिया। सब मिल कर चुकाये: नीरव मोदी। धड़कन बढ़ गई है चौकीदार को चोर बोलने वालों की।😃 — Harish Bisht (@HarishB76669660) September 23, 2020 और सच क्या है ? इंटरनेट पर हमने नीरव मोदी केस से जुड़ी पिछले 6 माह की सारी खबरें सर्च करनी शुरू कीं। हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली, जिससे सोशल मीडिया पर किए जा रहे दावे की पुष्टि होती हो।7 सितंबर को नीरव मोदी केस की लंदन के वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में सुनवाई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सुनवाई में नीरव के वकील ने भारत की न्याय प्रणाली पर सवाल उठाए थे और भारतीय जेलों की स्थित पर तीखे हमले किए थे। हालांकि, इस सुनवाई से जुड़ी किसी भी मीडिया रिपोर्ट में हमें वो बयान नहीं मिला, जो वायरल हो रहा है।पड़ताल के दौरान ही कुछ पिछले साल के सोशल मीडिया पोस्ट भी मिले। जिनमें आरोप वही है, बस कांग्रेस की जगह भाजपा का नाम है। इसी से स्पष्ट हो रहा है कि ये दावा मनगढ़ंत है। पहले इस बयान को भाजपा पर आरोप लगाते हुए वायरल किया गया और अब कांग्रेस पर। नीरव मोदी का लंदन कोर्ट मे बयान,भागा नही हूं भगाया गया हूं जिसकी कीमत 456 करोड़ रुपए जो सरकार के मंत्रियों से लेकर भाजपा नेताओं और अफसरों मे बंटा है?? क्या इस न्यूज़ को मीडिया वालों में हिम्मत है दिखाने की??#चौकीदार_ही_चोर_है #BJP_भगाओ_देश_बचाओ — RISHIKESH TATWAL💯%🔙 follow (@RishikeshTatwal) March 25, 2019 Times of India की वेबसाइट पर 23 मार्च, 2019 की खबर है। जिसमें नीरव मोदी द्वारा कोर्ट में दिए गए बयान का जिक्र है। खबर के अनुसार नीरव से जब पूछा गया कि क्या वो प्रत्यर्पण के लिए सहमत है? तो उसने स्पष्ट आवाज में कोर्ट से कहा - नहीं, मैं सहमत नहीं हूं। इस एक लाइन के बयान के अलावा नीरव मोदी के किसी बयान का जिक्र किसी भी मीडिया रिपोर्ट में हमें नहीं मिला। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Fact Check : Fugitive businessman Nirav Modi said - I have run abroad with the help of Congress, know what is the truth of this claim [...]

Click here to Read full Details Sources @ /no-fake-news/news/fugitive-businessman-nirav-modi-said-i-have-run-abroad-with-the-help-of-congress-know-what-is-the-truth-of-this-claim-127746516.html

11 साल पहले चंद्रयान ने चांद की सतह पर खोजा पानी; मंगलयान ने किया मंगल ग्रह की कक्षा में प्रवेश



		 11 साल पहले चंद्रयान ने चांद की सतह पर खोजा पानी; मंगलयान ने किया मंगल ग्रह की कक्षा में प्रवेश 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
आज का दिन अंतरिक्ष में भारतीय प्रयासों की एक बड़ी उपलब्धि के लिए जाना जाता है। 2009 में 24 सितंबर को ही नासा ने अपने जर्नल में इस बात की पुष्टि की कि चांद पर पानी है। हालांकि, इसरो के वैज्ञानिकों का दावा है कि उन्होंने नासा की घोषणा से तीन महीने पहले ही यह दावा कर दिया था। फिर भी, नासा के कंफर्मेशन के बाद भारतीय मिशन का महत्व और बढ़ गया। वहीं, इसके पांच साल बाद 2014 में देश के पहले मंगल मिशन ने सफलतापूर्वक मंगल ग्रह की कक्षा में प्रवेश किया था। अंतरिक्ष में भारतीय रिसर्च को देखते हुए यह दोनों ही उपलब्धियां बेहद खास है। इसके अलावा आज के दिन को इन घटनाओं के लिए भी याद किया जाता है... 1688ः फ्रांस ने जर्मनी के खिलाफ युद्ध की घोषणा की।1726ः ईस्ट इंडिया कंपनी को बम्बई, कलकत्ता और मद्रास में नगर निगम और महापौर अदालतों को बनाने के लिए अधिकृत किया गया।1789ः अमेरिका में अटॉर्नी जनरल का कार्यालय बनाया गया।1861ः भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में राष्ट्रवादी आन्दोलन की प्रमुख नेता मैडम भीखाजी कामा का जन्म।1932ः डॉ. भीमराव अंबेडकर और महात्मा गांधी के बीच पुणे की यरवडा सेंट्रल जेल में ‘दलितों’ के लिए विधानसभाओं में सीटें सुरक्षित करने को लेकर एक विशेष समझौता हुआ।1932ः बंगाल की क्रांतिकारी राष्ट्रवादी प्रीतिलता वाडेदार देश की आजादी के लिए प्राण न्यौछावर करने वाली पहली महिला बनीं।1948ः होंडा मोटर कंपनी की स्थापना।1950ः पूर्व भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी मोहिन्दर अमरनाथ का जन्म।1965ः यमन को लेकर सऊदी अरब और मिस्र के बीच समझौता।1968ः दक्षिण अफ्रीकी देश स्वाजीलैंड संयुक्त राष्ट्र में शामिल हुआ।1971ः ब्रिटेन ने जासूसी के आरोप में 90 रूसी राजनयिकों को निष्कासित किया।1978ः पूर्व सोवियत संघ ने भूमिगत परमाणु परीक्षण किया।1979ः घाना ने संविधान अपनाया।1990ः पूर्वी जर्मनी ने खुद को वारसा संधि से अलग किया।1996ः अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने संयुक्त राष्ट्र में व्यापक परमाणु परीक्षण प्रतिबंध संधि पर हस्ताक्षर किए।2003ः फ्रांस के राष्ट्रपति जैक्स शिराक ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की दावेदारी का समर्थन किया।2005ः आई.ए.ई.ए. ने ईरानी परमाणु कार्यक्रम के मुद्दे को सुरक्षा परिषद को सौंपने का निर्णय लिया।2007ः म्‍यांमार की सैन्‍य सरकार के खिलाफ राजधानी यांगून में एक लाख से अधिक लोग सड़कों पर उतरे।2008ः चीन और नेपाल ने दूरसंचार के क्षेत्र में एक अहम अनुबंध पर हस्‍ताक्षर किए।2008ः भारतीय क्रिकेटर कपिल देव को थलसेनाध्यक्ष जनरल दीपक कपूर ने एक समारोह में प्रादेशिक सेना में लेफ़्टिनेंट कर्नल की मानद पदवी प्रदान की।2008ः मद्रास उच्च न्यायालय ने राजीव गांधी हत्याकांड में नलिनी और दो अन्य दोषियों की समय पूर्व रिहाई सम्बन्धी याचिका खारिज की।2013ः पाकिस्तान के बलूचिस्तान में 7.7 तीव्रता के भूकंप से 515 लोगों की मौत। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Today History for September 24th/ What Happened Today | ISRO Chandrayan-1 finds water on Moon surface| Mangalyan entered in Mars orbit [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/today-history-september-24th-isro-chandrayan-1-finds-water-on-moon-surface-mangalyan-entered-in-mars-orbit-127748624.html

दीपिका पहली ए-लिस्टर सेलिब्रिटी जिनसे ड्रग्स केस में कल पूछताछ होगी; आज कोहली से फिटनेस पर बात करेंगे मोदी और UGC NET की शुरुआत



		 दीपिका पहली ए-लिस्टर सेलिब्रिटी जिनसे ड्रग्स केस में कल पूछताछ होगी; आज कोहली से फिटनेस पर बात करेंगे मोदी और UGC NET की शुरुआत 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
बॉलीवुड के ड्रग्स कनेक्शन वाले मामले में रिया, कंगना के बाद दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर, सारा अली खान और रकुलप्रीत सिंह भी जांच के घेरे में आ गई हैं। वहीं, अनुराग कश्यप के खिलाफ रेप केस दर्ज हुआ है। बहरहाल, चलिए शुरू करते हैं मॉर्निंग न्यूज ब्रीफ... आज इन 4 इवेंट्स पर रहेगी नजर 1. IPL में आज किंग्स इलेवन पंजाब और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बीच मैच होगा। टॉस शाम 7 बजे होगा। शाम साढ़े सात बजे से मैच शुरू होगा। 2. प्रधानमंत्री मोदी आज विराट कोहली और मिलिंद सोमण से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए फिटनेस के बारे में बातचीत करेंगे। 3. ड्रग्स केस में गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती की जमानत अर्जी और कंगना का दफ्तर ताेड़े जाने के मामले में आज बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई हो सकती है। मुंबई में बारिश की वजह से कल सुनवाई नहीं हो सकी थी। 4. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी आज और कल यूजीसी नेट कराएगी। इसमें चयनित उम्मीदवार असिस्टेंट प्रोफेसर और जूनियर रिसर्च फैलोशिप पाने की पात्रता हासिल करते हैं। 5. राजनाथ सिंह आज 7 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश में 43 पुलों का उद्घाटन करेंगे। इनसे देश की सीमाओं तक सेना की पहुंच आसान होगी। अब कल की 6 महत्वपूर्ण खबरें 1. 2017 की एक ड्रग्स चैट सामने आने के बाद दीपिका की मुश्किलें बढ़ीं ​​​​​​ सुशांत की मौत से जुड़े ड्रग्स मामले में दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर, सारा अली खान और रकुलप्रीत सिंह को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने बुधवार को समन जारी किया। यानी रकुलप्रीत को 24 सितंबर, दीपिका को 25 सितंबर, श्रद्धा और सारा को 26 सितंबर को एनसीबी के सामने पेश होना होगा। 2017 की ड्रग्स चैट सामने आने के बाद दीपिका जांच के घेरे में आई हैं। वे पहली ए-लिस्टर हैं, जिनसे पूछताछ होगी। -पढ़ें पूरी खबर 2. बनारस की बेटी शिवांगी सिंह अब उड़ाएगी राफेल बनारस की शिवांगी सिंह राफेल स्क्वाड्रन की पहली महिला फाइटर पायलट होंगी। फ्लाइट लेफ्टिनेंट शिवांगी इससे पहले मिग-21 उड़ा चुकी हैं। अब वे राफेल की 17 गोल्डन एरो स्क्वाड्रन में शामिल हो गई हैं। फ्लाइट लेफ्टिनेंट शिवांगी फिलहाल अंबाला में प्रशिक्षण ले रही हैं। शिवांगी 2017 में एयरफोर्स में शामिल हुई थीं। वे विंग कमांडर अभिनंदन के साथ भी काम कर चुकी हैं। -पढ़ें पूरी खबर 3. मोदी दुनिया के 100 सबसे असरदार लोगों में अमेरिका की टाइम मैगजीन ने पीएम नरेंद्र मोदी को दुनिया के 100 सबसे असरदार लोगों की लिस्ट में शामिल किया है, लेकिन तीखे कमेंट भी किए। टाइम के एडिटर कार्ल विक ने लिखा- भारत की 1.3 अरब की आबादी में ईसाई, मुस्लिम, सिख, बौद्ध, जैन और दूसरे धर्मों के लोग शामिल हैं। मोदी ने इन्हें संशय में डाल दिया है। उनकी हिंदू राष्ट्रवादी भाजपा ने न सिर्फ एलीटिज्म, बल्कि प्लूरलिज्म को भी खारिज कर दिया। -पढ़ें पूरी खबर 4. अनुराग कश्यप के खिलाफ रेप का केस दक्षिण भारतीय फिल्मों में काम कर चुकी एक एक्ट्रेस ने फिल्म डायरेक्टर-प्रोड्यूसर अनुराग कश्यप के खिलाफ रेप का मामला दर्ज करवाया है। मुंबई के विक्रोली पुलिस स्टेशन में मंगलवार रात एफआईआर दर्ज की गई। इसमें डायरेक्टर के खिलाफ महिला का अपमान करने की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। एक्ट्रेस का आरोप है कि कश्यप ने 2013 में वर्सोवा में एक लोकेशन पर रेप किया था। -पढ़ें पूरी खबर 5. क्या आपको होम या ऑटो लोन रीस्ट्रक्चर करवाना चाहिए? भारतीय रिजर्व बैंक ने लोन मोरेटोरियम की घोषणा की थी। यह मोरेटोरियम 31 अगस्त 2020 को खत्म हो गया, लेकिन अब भी हालात सुधरे नहीं है। ऐसे में बैंकों के अनुरोध को स्वीकार करते हुए रिजर्व बैंक ने उन्हें लोन रीस्ट्रक्चरिंग की इजाजत दी है। इससे हर बैंक को लोन पर रीपेमेंट पीरियड दो साल बढ़ाने की अनुमति मिली है। अब बैंकों ने इस पर काम शुरू कर दिया है। -पढ़ें पूरी खबर 6. सुशांत मामले से सुर्खियों में आए बिहार के डीजीपी पांडे ने लिया वीआरएस सुशांत मामले में जांच के दौरान मुंबई पुलिस की किरकिरी करने वाले बिहार के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेश्वर पांडेय ने वॉलंटरी रिटायरमेंट ले लिया है। उनका कहना है कि करियर में दाग न लगे, इसलिए उन्होंने नौकरी छोड़ दी। राजनीति में आने पर वे एक-दो दिन में फैसला लेंगे। भास्कर से हुई बातचीत में कहा- अब चुनाव के माहौल में किसी को इतना विवादित बना दीजिएगा, तो वह चुनाव कैसे कराएगा? -पढ़ें पूरी खबर अब 24 सितंबर का इतिहास 1688: फ्रांस ने जर्मनी के खिलाफ जंग का ऐलान किया। 1861: भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में राष्ट्रवादी आन्दोलन की प्रमुख नेता मैडम भीखाजी कामा का जन्म हुआ। 2014: भारत के ‘मंगलयान’ ने मंगल ग्रह की कक्षा में प्रवेश किया। 2009 में आज ही के दिन भारत के पहले मून मिशन चंद्रयान-1 ने चांद की सतह पर पानी की खोज की थी। इस पर पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने वैज्ञानिकों को बधाई देते हुए एक बात कही थी। पढ़ें उन्हीं के शब्दों में... आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Deepika is the first A-lister celebrity to be questioned in a drugs case tomorrow; Modi and UGC NET to talk to Kohli on fitness today [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/deepika-is-the-first-a-lister-celebrity-to-be-questioned-in-a-drugs-case-tomorrow-modi-and-ugc-net-to-talk-to-kohli-on-fitness-today-127748623.html

24 घंटे में 86,703 संक्रमित मिले और 87,458 रिकवर हुए; लगातार छठे दिन ठीक होने वालों की संख्या संक्रमितों से ज्यादा; देश में 57.30 लाख केस



		 24 घंटे में 86,703 संक्रमित मिले और 87,458 रिकवर हुए; लगातार छठे दिन ठीक होने वालों की संख्या संक्रमितों से ज्यादा; देश में 57.30 लाख केस 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
देश में 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 86,703 मामले मिले और 87,458 लोग रिकवर हुए। इसके साथ ही संक्रमितों की संख्या 57 लाख 30 हजार 184 हो गई है, जबकि 46 लाख 71 हजार 850 लोग रिकवर हो चुके हैं। लगातार छठे दिन रिकवर मरीजों की संख्या संक्रमितों से ज्यादा है। ये आंकड़े covid19india.org के मुताबिक हैं। बुधवार को 1,123 लोगों की मौत हुई। मरने वालों की संख्या 91 हजार 173 हो चुकी है। अच्छी खबर यह है कि हमारे देश में आबादी के अनुपात में कम मौतें हो रही हैं। प्रति 10 लाख की आबादी में भारत में 62 मरीज दम तोड़ रहे हैं, जबकि ब्राजील में सबसे ज्यादा 642 और अमेरिका में 615 हैं। दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को बुधवार को बुखार और ऑक्सीजन लेवल कम होने की शिकायत के बाद दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में भर्ती कराया गया। मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। 14 सितंबर को वे कोरोना संक्रमित पाए गए थे। सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा था- मैं सेल्फ आइसोलेट हो गया हूं। फिलहाल मुझे बुखार या दूसरी कोई समस्या नहीं है। मैं बिल्कुल ठीक हूं। 5 दिनों से नए मरीज की तुलना में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या ज्यादा तारीख नए मरीज ठीक हुए लोग 18 सितंबर 92,969 95,512 19 सितंबर 92,574 94,384 20 सितंबर 87,392 92,926 21 सितंबर 74,493 1,02,070 22 सितंबर 80,321 87,007 भारत में आबादी के अनुपात में मौतें कम कोरोना अपडेट्स केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार सुबह 9 बजे आंकड़े जारी किए। इसके मुताबिक, 22 सितंबर को 83 हजार 347 मरीज बढ़े। वहीं, 1085 लोगों ने दम तोड़ दिया। कुल संक्रमितों की संख्या 56 लाख 46 हजार 11 हो गई। वहीं, एक्टिव केस 9 लाख 68 हजार 377 हैं और ठीक हुए मरीजों की संख्या 45 लाख 87 हजार 614 पर पहुंच गई। उधर, अब तक 90 हजार 20 लोगों की जान जा चुकी है।इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने बताया कि 22 सितंबर को 9 लाख 53 हजार 683 सैंपल की जांच की गई। इसके साथ देश में अब तक 6 करोड़ 62 लाख 79 हजार 462 कोरोना सैंपल की जांच की जा चुकी है। पांच राज्यों का हाल 1. मध्यप्रदेश राज्य में बुधवार को 2346 नए संक्रमित मिले, जबकि 42 मरीजों ने दम तोड़ दिया। नए संक्रमितों में मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया, हरदीप सिंह डंग और भीकनगांव से कांग्रेस विधायक झूमा सोलंकी भी शामिल हैं। इन्हें मिलाकर अब तक सरकार के 13 मंत्री और पक्ष-विपक्ष के 44 विधायक संक्रमित हो चुके हैं। 2. राजस्थान राज्य में 27 जिले ऐसे हैं, जिनमें एक हजार से ज्यादा रोगी मिल चुके हैं। बाकी छह जिले- हनुमानगढ़ में 767, प्रतापगढ़ में 735, करौली में 788, सवाई माधोपुर में 807 और दौसा में 873 केस हैं। जयपुर में सबसे ज्यादा 18 हजार 620 पॉजिटिव मिल चुके हैं। जोधपुर में 17 हजार 919 हैं। राज्य में 1.20 लाख से ज्यादा केस हैं। अच्छी खबर यह है कि इनमें 1 लाख 365 मरीज ठीक हो चुके हैं। 3. बिहार. राज्य में 28 सितंबर से 9 से 12 तक के स्टूडेंट्स शिक्षकों से मार्गदर्शन के लिए स्कूल जा सकेंगे। इसके लिए पैरेंट्स की अनुमति जरूरी है। इस दौरान प्रार्थना सत्र, खेलकूद और अन्य गतिविधि नहीं होगी। स्कूल स्टाफ की संख्या 50% से ज्यादा नहीं होगी। उधर, राज्य में 24 घंटे में 1,598 नए केस बढ़े, जबकि 1,490 लोग ठीक हो गए। 1 संक्रमित ने दम तोड़ दिया। 4. महाराष्ट्र महाराष्ट्र में बुधवार को 21,029 संक्रमित मिले और 19 हजार 476 लोग रिकवर हुए। राज्य में अब तक 12 लाख 63 हजार 799 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 9 लाख 56 हजार 30 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 2 लाख 73 हजार 477 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। 5. उत्तरप्रदेश राज्य में बुधवार को 5143 नए केस सामने आए। वहीं, 6506 मरीज रिकवर हुए। प्रदेश में अब तक 3 लाख 69 हजार 686 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 2 लाख 2 हजार 689 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 61 हजार 698 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 5,299 मरीजों की मौत हो चुकी है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें पश्चिम बंगाल के कोलकाता में बुधवार को किसान बिल के खिलाफ प्रदर्शन करने आए किसान मास्क पहने नजर आए। किसानों ने सरकार का विरोध करने के लिए सब्जियों की माला पहन रखी थी। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/coronavirus-outbreak-india-cases-live-news-and-updates-23-september-2020-127746113.html

भारत के स्वदेशी लेजर गाइडेड एंटी टैंक मिसाइल का परीक्षण सफल, यह लेजर की मदद से टारगेट को लॉक और ट्रैक कर खत्म कर सकती है



		 भारत के स्वदेशी लेजर गाइडेड एंटी टैंक मिसाइल का परीक्षण सफल, यह लेजर की मदद से टारगेट को लॉक और ट्रैक कर खत्म कर सकती है 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
भारत ने स्वदेशी लेजर गाइडेड एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल ( एटीजीएम) का सफल परीक्षण किया है। एटीजीएम का परीक्षण मंगलवार को अहमदनगर के आर्मर्ड कॉर्प्स सेंटर एंड स्कूल (एसीसी एंड एस) के केके रेंज में किया गया। इसे अर्जुन टैंक पर रखकर फायर किया गया। टेस्ट फायर में इसने तीन किलोमीटर दूर टार्गेट को नेस्तनाबूद कर दिया। डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (डीआरडीओ) के कई संस्थानों ने मिलकर इसे तैयार किया है। रक्षा मंत्रालय ने बुधवार को इसकी जानकारी दी। यह मिसाइल लेजर की मदद से टारगेट को लॉक और ट्रैक कर सटीक निशाना लगा सकती है। इसे कई प्लेटफॉर्म से लॉन्च किया जा सकेगा। फिलहाल अर्जुन टैंक से फायर कर इसे टेस्ट किया गया है। इसमें हाई एक्सप्लोसिव एंटी टैंक (एचईएटी) वॉर हेड का इस्तेमाल किया गया है। यह बख्तरबंद टैंकों को भी तबाह कर सकती है। रक्षा मंत्री ने डीआरडीओ को बधाई दी रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मिसाइल का टेस्ट सफल रहने पर खुशी जाहिर की। उन्होंने ट्वीट किया- डीआरडीओ को अहमदनगर के केके रेंज (एसीसी एंड एस) में मेन बैटल टैंक (एमबीटी) से एटीजीएम का टेस्ट फायर करने के लिए बधाई। डीआरडीओ की टीम पर भारत को गर्व है। डीआरडीओ निकट भविष्य में हथियार का आयात कम करने के लिए लगातार कड़ी मेहनत कर रहा है। Congratulations to @DRDO_India for successfully conducting test firing of Laser Guided Anti Tank Guided Missile from MBT Arjun at KK Ranges (ACC&S) in Ahmednagar. India is proud of Team DRDO which is assiduously working towards reducing import dependency in the near future. pic.twitter.com/WuBivV7VYU — Rajnath Singh (@rajnathsingh) September 23, 2020 मिसाइल डेवलपमेंट प्रोग्राम के तहत तैयार किया गया एटीजीएम को डीआरडीओ के मिसाइल डेवलपमेंट प्रोग्राम के तहत तैयार किया गया है। इसे पुणे के आर्मामेंट रिसर्च एंड डेवलपमेंट एस्टेब्लिशमेंट (एआरडीई), पुणे के ही हाई एनर्जी रिसर्च लेबोरेट्री (एचईएमआरएल) और देहरादून के इंस्ट्रूमेंट रिसर्च एंड डेवलपमेंट एस्टेब्लिशमेंट (आइआरडीई) ने मिलकर तैयार किया है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें भारत ने मंगलवार को देश में तैयार लेजर गाइडेड एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल (एटीजीएम) का सफल परीक्षण किया। इसे डीआरडीओ की तीन संस्थाओं ने मिलकर तैयार किया है। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/mbt-arjun-drdo-made-in-india-laser-guided-anti-tank-guided-missile-successfully-tested-in-gujarat-ahmednagar-127746595.html

बडगाम जिले में आतंकवादियों ने सरपंच को घर में घुसकर गोली मारी, मौके पर मौत



		 बडगाम जिले में आतंकवादियों ने सरपंच को घर में घुसकर गोली मारी, मौके पर मौत 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले में बुधवार को आतंकवादियों ने एक सरपंच की गोली मारकर हत्या कर दी। मृतक की पहचान खग बडगाम के ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल (बीडीसी) के अध्यक्ष भूपिंदर सिंह के रूप में हुई है। यह जानकारी पुलिस ने दी है। इसके मुताबिक, सिंह पर खग गांव में हमला किया गया। दलवास में उनके घर पर गोली मारी गई। बाद में उन्होंने दम तोड़ दिया। पुलिस ने कहा कि निजी सुरक्षा के लिए उन्हें दो पीएसओ दिए गए थे। सिंह सुरक्षाकर्मियों को खग पुलिस स्टेशन में छोड़कर श्रीनगर के अलोचीबाग स्थित अपने घर की ओर रवाना हुए थे। अधिकारी ने कहा कि पुलिस को सूचित किए बिना वह अपने पैतृक गांव गए थे, जहां आतंकवादियों ने उन पर हमला किया। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Terrorists have killed BDC Chairman Of Khag, Budgam Bhupinder Singh in jammu and kashmir [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/terrorists-have-killed-bdc-chairman-of-khag-budgam-bhupinder-singh-in-jammu-and-kashmir-127746833.html

रेल राज्य मंत्री अंगड़ी का कोरोना की वजह से निधन, 12 दिन पहले उन्हें संक्रमण हुआ था; मोदी ने कहा- वे असाधारण थे



		 रेल राज्य मंत्री अंगड़ी का कोरोना की वजह से निधन, 12 दिन पहले उन्हें संक्रमण हुआ था; मोदी ने कहा- वे असाधारण थे 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी का बुधवार को कोरोना की वजह से निधन हो गया। 65 साल के अंगड़ी को 11 सितंबर को कोरोना हुआ था। उन्हें दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था। अंगड़ी कर्नाटक के बेलगाम से लोकसभा सदस्य थे। गुरुवार को उनका दिल्ली में अंतिम संस्कार होगा। उनके निधन के चलते गुरुवार को दिल्ली के ऑफिसों में राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा। पॉजिटिव पाए जाने के बाद अंगड़ी ने ट्वीट किया था- मैं कोरोना जांच के बाद संक्रमित पाया गया हूं। मेरी स्थिति ठीक है। डॉक्टरों की सलाह मान रहा हूं। मैं बीते दिनों मेरे संपर्क में आए सभी लोगों से अनुरोध करता हूं कि वे अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें। किसी भी तरह का लक्षण नजर आने पर जांच करवाएं। मोदी सरकार के पहले मंत्री जिनकी कोरोना से जान गई वे मंत्रिमंडल के पहले सदस्य हैं, जिनकी कोरोना से जान गई है। सुरेश अंगड़ी कर्नाटक के बेलगाम निर्वाचन क्षेत्र से चार बार लोकसभा सांसद रहे हैं। वे 2004, 2009, 2014 और 2019 में चुने गए थे। बेलगाम के कोप्पा गांव में जन्मे सुरेश अंगड़ी ने जिले के राजा लखमगौदा लॉ कॉलेज से कानून की डिग्री ली थी। कोरोना से जान गंवाने वाले कर्नाटक के दूसरे सांसद वे संक्रमण से जान गंवाने वाले कर्नाटक के दूसरे सांसद हैं। इससे पहले राज्यसभा सांसद अशोक गस्ती की संक्रमण की वजह से मौत हुई थी। मोदी सरकार में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी, आयुष मंत्री श्रीपद नायक, जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और संसदीय राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल और पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी संक्रमित हो चुके हैं। मोदी ने दुख जताया प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- सुरेश अंगड़ी असाधारण कार्यकर्ता थे, जिन्होंने कर्नाटक में पार्टी को मजबूत करने के लिए काफी मेहनत की थी। वे समर्पित सांसद और प्रभावशाली मंत्री थे। Shri Suresh Angadi was an exceptional Karyakarta, who worked hard to make the Party strong in Karnataka. He was a dedicated MP and effective Minister, admired across the spectrum. His demise is saddening. My thoughts are with his family and friends in this sad hour. Om Shanti. pic.twitter.com/2QDHQe0Pmj — Narendra Modi (@narendramodi) September 23, 2020 कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा- मैं हमेशा मुस्कुराते रहने वाले अंगड़ी जी को याद करता हूं। उनके बार में यह दुखद समाचार सुनकर काफी दुख हुआ। I remember the ever smiling Angadi-ji. Very pained at hearing this sad news. https://t.co/BtZ2bUXmqe — Jairam Ramesh (@Jairam_Ramesh) September 23, 2020 राष्ट्रपति ने कहा- सांसद अंगड़ी के निधन के समाचार से स्तब्ध हूं केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ सांसद श्री सुरेश अंगड़ी के असामयिक निधन के समाचार से स्तब्ध हूं। यह जन-सेवा के क्षेत्र की, विशेष रूप से कर्नाटक के लोगों के लिए एक त्रासद हानि है। मेरी शोक-संवेदना उनके शोकाकुल परिवार, सहकर्मियों और असंख्य सहयोगियों के साथ है। — President of India (@rashtrapatibhvn) September 23, 2020 गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- वे बिना स्वार्थ के सेवा करने के लिए याद रखे जाएंगे Deeply pained to learn about the passing away of MoS Railways and senior BJP leader from Karnataka, Shri Suresh Angadi ji. He will always be remembered for his selfless service to the nation and party. My deepest condolences are with his family. Om Shanti Shanti Shanti — Amit Shah (@AmitShah) September 23, 2020 ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षा को प्रोत्साहित करने में अद्वितीय योगदान रहा: लोकसभा अध्यक्ष केंद्रीय रेल राज्य मंत्री श्री सुरेश अंगड़ी जी के निधन पर शोक व्यक्त करता हूं। कार्य के प्रति सदैव समर्पित रहने वाले सुरेश जी का वंचित वर्गों के कल्याण, जनसेवा तथा ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षा को प्रोत्साहित करने में अद्वितीय योगदान रहा। शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना। pic.twitter.com/UfE6xXEBGi — Om Birla (@ombirlakota) September 23, 2020 अर्जुन राम मेघवाल ने कहा- उनके निधन से हतप्रभ रेल राज्यमंत्री श्री सुरेश अँगड़ी जी कर्नाटक से लगातार चार बार के सांसद रहे तथा बेहद समर्पित व लोकप्रिय जननेता थे।उनका आकस्मिक निधन की घटना हतप्रभ करने वाली है। एक लोकप्रिय जनसेवक का युं जाना समूचे देश के लिए अपूरणीय क्षति है। प्रभु दिवंगत आत्मा को श्री चरणों में स्थान दें। pic.twitter.com/6eUAEpOnzZ — Arjun Ram Meghwal (@arjunrammeghwal) September 23, 2020 आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें पॉजिटिव पाए जाने के बाद अंगड़ी ने ट्वीट किया था- मैं कोरोना जांच के बाद संक्रमित पाया गया हूं। मेरी स्थिति ठीक है। - फाइल फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/union-minister-suresh-angadi-died-due-to-corona-admitted-to-delhi-aiims-127746555.html

गोवा में शूटिंग कर रहीं दीपिका पादुकोण से शुक्रवार को पूछताछ होगी, श्रद्धा कपूर और सारा अली खान के घर समन देने पहुंची नारकोटिक्स ब्यूरो की टीम



		 गोवा में शूटिंग कर रहीं दीपिका पादुकोण से शुक्रवार को पूछताछ होगी, श्रद्धा कपूर और सारा अली खान के घर समन देने पहुंची नारकोटिक्स ब्यूरो की टीम 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
सुशांत की मौत से जुड़े ड्रग्स मामले में बॉलीवुड की कई एक्ट्रेस के नाम सामने आ रहे हैं। ड्रग्स चैट से जुड़ी जांच के बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने बुधवार को दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर, सारा अली खान और रकुल प्रीत सिंह को समन जारी कर दिया। एनसीबी के सूत्रों के मुताबिक, गोवा में शूटिंग कर रहीं दीपिका को पूछताछ के लिए 25 सितंबर को बुलाया जाएगा। रकुल प्रीत सिंह को 24 सितंबर, श्रद्धा कपूर और सारा अली खान को 26 सितंबर को पेश होना होगा। एनसीबी की टीम ने श्रद्धा और सारा अली को घर जाकर समन दे दिया है। दीपिका पादुकोण और उनकी मैनेजर करिश्मा प्रकाश के बीच 28 अक्टूबर 2017 को वॉट्सऐप पर हुई बातचीत सामने आई थी। इसमें दीपिका ‘hash’ और ‘weed’ जैसे शब्दों का इस्तेमाल कर रही हैं। प्रतिबंधित ड्रग्स से जुड़ी भाषा में hash का इस्तेमाल हशीश के लिए होता है। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि ड्रग्स केस में पहले से गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती ने श्रद्धा, सारा, रकुल और फैशन डिजाइनर सिमोन खम्बाटा समेत बॉलीवुड के 25 सेलेब्रिटीज के नाम एनसीबी को बताए थे। इस वजह से श्रद्धा, सारा, रकुल प्रीत सिंह को भी एनसीबी ने समन भेजा है। मुंबई में भारी बारिश के चलते बुधवार को हाईकोर्ट में छुट्टी कर दी गई उधर, ड्रग्स मामले में गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती ने मंगलवार को बॉम्बे हाईकोर्ट में जमानत की अर्जी लगाई थी। सुनवाई के लिए बुधवार का दिन तय हुआ था, लेकिन आज सुनवाई नहीं हो पाई। क्योंकि, मुंबई में तेज बारिश के चलते सड़कों पर पानी जमा हो गया है। ऐसे में हाईकोर्ट में छुट्टी कर दी गई। रिया के वकील सतीश मानशिंदे ने बताया कि अब गुरुवार को सुनवाई होगी। 16 दिन से जेल में बंद रिया की जमानत अर्जी स्पेशल कोर्ट (NDPS) ने 2 बार खारिज कर दी थी। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में ड्रग्स कनेक्शन की जांच कर रहे NCB ने 8 सितंबर को रिया को गिरफ्तार किया था। अगले दिन उन्हें भायखला जेल में शिफ्ट कर दिया था। रिया की ज्यूडिशियल कस्टडी 6 अक्टूबर तक रिया पर आरोप हैं कि वे ड्रग्स पैडलर्स के कॉन्टैक्ट में थीं, सुशांत के लिए ड्रग्स भी अरेंज करती थीं। भायखला जेल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मंगलवार को रिया की पेशी हुई थी। स्पेशल कोर्ट ने उनकी ज्यूडिशियल कस्टडी 6 अक्टूबर तक बढ़ा दी। ऐसे में अब रिया को हाईकोर्ट से उम्मीद है। रिया के साथ उनके भाई शोविक की ने भी हाईकोर्ट में जमानत अर्जी लगाई है। ड्रग्स केस में 20 लोग गिरफ्तार रिया और शोविक के साथ ही सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा, हेल्पर दीपेश सांवत और कई ड्रग्स पैडलर समेत 20 लोगों को NCB ने गिरफ्तार किया है। मिरांडा, सावंत और ड्रग्स पैडलर अब्दुल बासित परिहार की जमानत अर्जियां स्पेशल कोर्ट से खारिज होने के बाद इन्होंने हाईकोर्ट में अपील की थी। इनकी अर्जियों पर हाईकोर्ट में अगली सुनवाई 29 सितंबर को है। बॉलीवुड में ड्रग्स कनेक्शन से जुड़ी यह खबर भी पढ़ सकते हैं... दीपिका पादुकोण की वॉट्सऐप चैट के स्क्रीनशॉट्स सामने आए, नारकोटिक्स ब्यूरो अब दीपिका समेत 3 एक्ट्रेस को पूछताछ के लिए बुला सकता है आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Rhea Chakraborty Bail Hearing: Update On Sushant Singh Rajput Case | Bombay High Court To Hear Rhea Chakraborty Bail Application Today [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/rhea-chakraborty-bail-plea-in-drug-case-to-be-heard-in-bombay-high-court-today-127746190.html

10 दिन में ही खत्म हुआ संसद का मानसून सत्र, लोकसभा-राज्यसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित; विपक्ष की अपील- राष्ट्रपति कृषि बिल पर सहमति न दें



		 10 दिन में ही खत्म हुआ संसद का मानसून सत्र, लोकसभा-राज्यसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित; विपक्ष की अपील- राष्ट्रपति कृषि बिल पर सहमति न दें 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
संसद का मानसून सत्र 10 दिन में ही खत्म हुआ। लोकसभा और राज्यसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई है। इससे पहले, बुधवार को कृषि बिलों के विरोध में विपक्षी दलों के सांसदों ने संसद परिसर में प्रदर्शन किया और मार्च निकाला। मानसून सत्र 1 अक्टूबर तक चलने वाला था, लेकिन कोरोना महामारी के चलते इसमें कटौती कर दी गई। कोरोना के बीच सत्र 14 सितंबर से शुरू हुआ था। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने मेजर पोर्ट अथॉरिटीज बिल के पारित होने के बाद सदन को स्थगित कर दिया। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद थे। राज्यसभा की कार्यवाही भी समय से आठ दिन पहले बुधवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई। राज्यसभा के सभापति वेकैंया नाएडू ने कहा कि सदन के लिए 18 बैठकों होनी थी, लेकिन 10 ही हो सकीं। इस दौरान कुल 25 विधेयक पारित किए गए और छह विधेयक पेश हुए। इस सत्र के दौरान सदन की प्रोडक्टिविटी 100.47% रही है। पिछले तीन सत्र के दौरान ज्यादा काम हुआ जो कि इस सत्र में भी नजर आया। उधर, कृषि बिल के विरोध में राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने बुधवार शाम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। विपक्षी दलों ने राष्ट्रपति से आग्रह किया है कि वे विवादास्पद कृषि बिलों को अपनी सहमति न दें। आजाद ने कहा कि हमने राष्ट्रपति को बताया है कि बिल को राज्यसभा में सही तरीके से पास नहीं कराया गया है। यह असंवैधानिक है। Shri Ghulam Nabi Azad, Leader of Opposition, Rajya Sabha, called on President Kovind at Rashtrapati Bhavan. pic.twitter.com/L8a9toWB84 — President of India (@rashtrapatibhvn) September 23, 2020 राष्ट्रपति इन कृषि बिलों को वापस भेज दें: आजाद राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद आजाद ने कहा- सरकार को बिल लाने से पहले सभी पार्टियों, किसान नेताओं से सलाह लेनी चाहिए थी। संविधान को कमजोर कर दिया गया है। हमने राष्ट्रपति को एक प्रजेंटेशन दिया है कि कृषि बिलों को असंवैधानिक रूप से पारित किया गया। उन्हें इन बिलों को वापस भेज देना चाहिए। कोरोना प्रोटोकॉल की वजह से सिर्फ पांच नेताओं को मिलने की अनुमति दी गई थी। विपक्ष ने सोमवार को चिट्ठी लिखकर राष्ट्रपति से समय मांगा था। इससे पहले सांसदों ने मार्च भी निकाला। सभी ने किसान बचाओ, मजदूर बचाओ और लोकतंत्र बचाओ के नारे लगाए। सभी अपने हाथों में पोस्टर लिए हुए थे। विपक्ष ने लगातार तीसरे दिन राज्यसभा की कार्यवाही का बहिष्कार किया। #WATCH: MPs of Opposition parties march in Parliament premises in protest over farm bills. Placards of 'Save Farmers' & 'Save Farmers, Save Workers, Save Democracy' seen. Congress' Ghulam Nabi Azad, TMC's Derek O'Brien, and Samajwadi Party's Jaya Bachchan present, among others. pic.twitter.com/PIIxqciFpG — ANI (@ANI) September 23, 2020 सभापति को चिट्ठी लिखकर कहा- श्रम विधेयकों को पारित न करें विपक्षी दलों के सांसदों ने राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू को पत्र लिखकर कहा कि वह विपक्ष की अनुपस्थिति में श्रम से जुड़े तीन विधेयकों को सदन में पास न होने दें। हालांकि, तीनों विधेयक सदन में ध्वनिमत से पास हो गए। लोकसभा में ये बिल मंगलवार को पास हो गए थे। राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने 24 घंटे का उपवास तोड़ा कृषि बिलों के विरोध में विपक्षी सांसदों ने रविवार को राज्यसभा में रूलबुक फाड़ दी और उपसभापति का माइक तोड़ने की कोशिश की थी। सांसदों के इस व्यवहार से दुखी हरिवंश ने मंगलवार सुबह 24 घंटे का उपवास रखने का ऐलान किया था। आज सुबह उन्होंने जूस पीकर उपवास खत्म किया। जेडीयू नेता ललन सिंह ने हरिवंश को जूस पिलाकर उपवास तुड़वाया। 18 दिन का मानसून सत्र आज 10वें दिन ही खत्म किया जा सकता है संसद का मानसून सत्र आज खत्म किया जा सकता है। संसदीय कार्य राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने कहा है कि सरकार ने संसद की कार्यवाही आज स्थगित करने की सिफारिश करने का फैसला लिया है। लेकिन, इससे पहले लोकसभा में कुछ अहम मुद्दे निपटाने होंगे। 2 मंत्रियों समेत 30 सांसदों और संसद के कई कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटिव आने की चिंताओं की वजह से सरकार 18 दिन का सत्र 10 दिन में ही खत्म करना चाहती है। पिछले हफ्ते लोकसभा की बिजनेस एडवाइजरी कमेटी की बैठक में सभी पार्टियों ने सत्र छोटा करने पर सहमति जताई थी। 14 सितंबर से शुरू हुए मानसून सत्र का शेड्यूल वैसे 1 अक्टूबर तक है। सोनिया-राहुल विदेश से लौटे, संसद आना तय नहीं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी मानसून सत्र शुरू होने से पहले ही मेडिकल चेकअप के लिए विदेश चली गई थीं। राहुल गांधी भी उनके साथ गए थे। दोनों मंगलवार को दिल्ली लौट आए, लेकिन आज संसद आएंगे या नहीं, इस बारे में कुछ तय नहीं है। न्यूज एजेंसी एएनआई के सूत्रों के मुताबिक सोनिया और राहुल विदेश में रहते हुए भी कांग्रेस नेताओं के संपर्क में थे। पार्टी नेता अहमद पटेल ने कहा था कि कृषि बिलों पर विरोध की स्ट्रैटजी सोनिया-राहुल के निर्देशों पर ही तैयार की गई थी। तीसरे कृषि विधेयक समेत 7 बिल बिना विरोध पास हुए संसद में विपक्ष के बायकॉट के बीच मंगलवार को तीसरा कृषि विधेयक भी पास हो गया...वह भी बिना किसी विरोध के। सोमवार को राज्यसभा से 8 सांसदों के निलंबन के विरोध में मंगलवार को कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दलों ने दोनों सदनों का बायकॉट कर दिया। इसकी वजह से संसद में महज साढ़े तीन घंटे में 7 विधेयक पास हो गए। इनमें एसेंशियल कमोडिटीज (अमेंडमेंट) बिल भी था। इसके जरिए सरकार ने अनाज, दलहन, तिलहन, खाद्य तेल, आलू और प्याज को जरूरी वस्तुओं की लिस्ट से हटा दिया और स्टॉक लिमिट भी खत्म कर दी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें कृषि बिलों के विरोध में विपक्ष के सांसदों ने संसद परिसर में प्रदर्शन किया। इस दौरान किसान बचाओ, मजदूर बचाओ, लोकतंत्र बचाओ के नारे लगाए। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/parliament-monsoon-session-rajya-sabha-and-lok-sabha-news-and-updates-23-september-2020-127746033.html

सूबे की सरकार ने प्राइवेट लैब की टेस्टिंग फीस घटाई, विदेश से आने वाले हर यात्री के लिए एंटीजन टेस्ट अनिवार्य



		 सूबे की सरकार ने प्राइवेट लैब की टेस्टिंग फीस घटाई, विदेश से आने वाले हर यात्री के लिए एंटीजन टेस्ट अनिवार्य 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
पंजाब में कोरोना काल में प्राइवेट लैबोरेट्रीज की मुनाफाखोरी पर नकेल कसने के लिए प्रदेश की सरकार ने कोविड टेस्टिंग के रेट घटा दिए हैं। स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने बताया कि कोई भी प्राइवेट लैब कोविड के आरटी-पीसीआर टेस्ट के लिए 1 हजार 600 रुपए (समेत जीएसटी टेक्स, कागजी कार्यवाही और रिपोर्टों) से अधिक पैसे नहीं ले सकती। सभी प्राइवेट लैब को कोविड 19 के ट्रूनेट टेस्ट के लिए 2 हजार रुपए और सीबी नेट टेस्ट का रेट 2 हजार 400 रुपए तय किए गए हैं। दूसरी ओर विदेश से आने वाले लोगों के लिए रैपिड एंटीजन टेस्टिंग किट से जांच करानी जरूरी कर दी गई है। स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने बताया कि सभी प्राइवेट लैबोरेटरीज को कोविड टेस्टों के रेटों को लिखित रूप में दिखाने के लिए भी हिदायत की गई है जिससे रेट आसानी से पढ़े जा सकें। घर जाकर नमूने लेने के लिए अलग से खर्चा लैब द्वारा निर्धारित किया जा सकता है, लेकिन प्राइवेट लैब को सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा। निजी लैब कोविड-19 के टेस्टों के नतीजों के आंकड़े राज्य सरकार के साथ सांझे करेंगी और समय पर आईसीएमआर पोर्टल पर अपलोड करेंगी। सैंपल रैफरल फार्म (एसआरएफ) के मुताबिक नमूना लेते समय टैस्ट करवाने वाले व्यक्ति की पहचान, पता और प्रमाणित मोबाइल नंबर नोट करना लाजमी है। नमूना लेते समय आरटी-पीसीआर ऐप्प और डाटा अपलोड किया जाना चाहिए। उधर, स्वास्थ्य मंत्री ने जानकारी दी कि आरएटी के बाद विदेश से आने वाले लोग अपने जिलों के प्रोटोकोल के अनुसार भारत पहुंचने से 5वें दिन कोविड-19 के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट कराएंगे। अगर रिपोर्ट निगेटिव आती है तो घरेलू एकांतवास खत्म हो जाएगा। ऐसे व्यक्ति अगले 7 दिन के लिए अपनी स्वास्थ्य की खुद निगरानी करेंगे और अगर कोई लक्षण दिखाई देता है तो वह स्वास्थ्य विभाग को रिपोर्ट करेंगे। अगर कोविड-19 के लिए आरटी-पीसीआर पॉजिटिव पाया जाता है तो उनकी डॉक्टरी तौर पर जांच की जाएगी और पंजाब कोविड-19 प्रबंधन प्रोटोकोल का पालन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि यह संशोधित दिशा निर्देश पंजाब के सभी डिप्टी कमीशनरों और सिविल सर्जनों को जारी किए गए हैं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू सरकार की नई गाइडलाइन के बारे में बात करते हुए। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /local/punjab/news/punjab-fight-with-covid-19-state-government-reduced-the-testing-fees-of-private-lab-made-rat-necessary-for-every-traveler-coming-from-abroad-127746512.html

प्रधानमंत्री मोदी ने आज 7 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बातचीत की, कहा- देश में करीब 700 जिले हैं, लेकिन 7 राज्यों के 60 जिले ही चिंता की वजह हैं



		 प्रधानमंत्री मोदी ने आज 7 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बातचीत की, कहा- देश में करीब 700 जिले हैं, लेकिन 7 राज्यों के 60 जिले ही चिंता की वजह हैं 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को सात राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक की। इनमें महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, दिल्ली और पंजाब शामिल हैं। मोदी ने कहा- देश में करीब 700 जिले हैं, लेकिन इनमें से सिर्फ 7 राज्यों के 60 जिले ही चिंता की वजह हैं। मैं इन राज्यों के मुख्यमंत्रियों को सलाह देता हूं कि वे 7 दिन तक जिला और ब्लॉक स्तर पर लोगों से वर्चुअल कॉन्फ्रेंस करें। उन्होंने कहा कि जिन राज्यों ने संक्रमण रोकने में बेहतर काम किया है, हमें उनसे सीखना है। असरकारी ढंग से लोगों तक संदेश पहुंचाना भी जरूरी है, क्योंकि ज्यादातर संक्रमण के मामले बिना लक्षण वाले हैं। ऐसी स्थिति में अफवाह फैल सकती हैं। लोगों के मन में यह संदेह पैदा हो सकता है कि टेस्टिंग करवाना बुरा है। कुछ लोग इस संक्रमण से होने वाले खतरे को कम आंकने की भूल भी कर सकते हैं। मोदी बोले कि भारत ने महामारी के इस कठिन समय यह सुनिश्चित किया है कि दुनिया भर में जीवन बचाने वाली दवाएं पहुंच सके। हमें एक राज्य से दूसरे राज्य में आसानी से दवाएं पहुंचाने के लिए साथ मिलकर काम करना होगा। प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों के साथ आठवीं बार बैठक की देश में 25 मार्च को लॉकडाउन लगने के बाद से प्रधानमंत्री की यह अलग-अलग राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ आठवीं बैठक थी। इस दौरान कोरोना के हालात पर चर्चा हुई। यह मीटिंग अनलॉक-4 के खत्म होने के 7 दिन पहले की गई। देश में बुधवार तक कोरोना के 56 लाख से ज्यादा केस सामने आ चुके हैं। वहीं, 90 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। देश के 63% मरीज इन 7 राज्यों में हैं राज्य केस मौतें महाराष्ट्र 12.42 लाख 33,407 आंध्रप्रदेश 6.39 लाख 5,461 कर्नाटक 5.33 लाख 8,228 तमिलनाडु 5.52 लाख 8,947 दिल्ली 2.43 लाख 5,051 पंजाब 1.01 लाख 2,926 पिछली 7 मीटिंग कब-कब हुईं, तब क्या स्थिति थी? मीटिंग की तारीख क्या चर्चा हुई कोरोना के केस कोरोना से मौतें 20 मार्च मोदी ने सोशल डिस्टेंसिंग और 22 मार्च के जनता कर्फ्यू पर फोकस किया। 249 5 2 अप्रैल 9 मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा हुई। मोदी ने कहा- लॉकडाउन के बाद धीरे-धीरे छूट देना ही बेहतर होगा। 2,543 72 11 अप्रैल लॉकडाउन 30 अप्रैल तक बढ़ाने पर सहमति बनी। मीटिंग में शामिल 10 मुख्यमंत्रियों ने समर्थन किया। 8,446 288 27 अप्रैल हॉटस्पॉट के बाहर 4 मई को लॉकडाउन खोलने पर सहमति बनी। पांच राज्य 3 मई के बाद भी लॉकडाउन बढ़ाने के फेवर में थे। 29,451 939 11 मई मोदी ने मुख्यमंत्रियों से कहा- 15 मई तक बताएं कि अपने राज्य में कैसा लॉकडाउन चाहते हैं। 70,768 2,294 16-17 जून प्रधानमंत्री ने कोरोना से बचाव के तरीकों, लॉकडाउन के असर, अनलॉक-1, इकोनॉमी और रिफॉर्म्स की बात की। 3,67,263 12,262 18 अगस्त मोदी ने कहा कि 72 घंटे के फॉर्मूले पर बात की। उन्होंने कहा कि 72 घंटे में संक्रमित व्यक्ति के आस-पास वालों की भी टेस्टिंग हो जानी चाहिए। 2766627 53015 आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें प्रधानमंत्री मोदी ने इससे पहले अगस्त में महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, बिहार, गुजरात, पंजाब, तमिलनाडु और कर्नाटक के मुख्यमंत्रियों से बात की थी। - फाइल फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/prime-minister-narendra-modis-meeting-chief-ministers-of-7-states-on-countrys-covid-19-caseload-127746200.html

सोशल मीडिया पर दावा- पीएम मोदी ने कोरोना काल में उद्योगपतियों के साथ मनाया जन्मदिन, लेकिन वायरल हो रहे वीडियो की सच्चाई तीन साल पुरानी है



		 सोशल मीडिया पर दावा- पीएम मोदी ने कोरोना काल में उद्योगपतियों के साथ मनाया जन्मदिन, लेकिन वायरल हो रहे वीडियो की सच्चाई तीन साल पुरानी है 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
क्या हो रहा है वायरल: सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ लोगों के साथ सेलिब्रेशन करते दिख रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि ये वीडियो 17 सितंबर, 2020 का है। यानी मोदी जी के इस साल के जन्मदिन सेलिब्रेशन का। वीडियो के साथ कैप्शन लिखा जा रहा है- साहब मना रहे अपना जन्मदिन उद्योगपतियों के साथ गिलास टकराकर साहब मना रहे अपना जन्मदिन उद्योगपतियों के साथ गिलास टकराकर देश का युवा कर रहा आत्महत्या बेरोजगारी से तंग आकर... pic.twitter.com/yLx39uVQcg — NeerajYadav (@NeerajYadav158) September 17, 2020 और सच क्या है? अलग-अलग की वर्ड सर्च करने से भी इंटरनेट पर हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली। जिससे पुष्टि होती हो कि पीएम मोदी ने उनका जन्मदिन इस साल उद्योगपतियों के साथ मनाया।वायरल हो रहे वीडियो की फ्रेम को हमने गूगल पर रिवर्स इमेज के जरिए सर्च किया। ANI के यूट्यूब चैनल पर भी हमें यही वीडियो मिला। लेकिन, यहां ये वीडियो 6 जुलाई, 2017 को अपलोड किया गया है। स्पष्ट है कि वीडियो का इस साल मनाए गए पीएम मोदी के जन्मदिन से कोई संबंध नहीं है। यूट्यूब पर दिए गए डिस्क्रिप्शन से पता चलता है कि वीडियो इजरायल का है। और इसमें पीएम मोदी इजरायल के एक वॉटर फिल्टर प्लांट के उद्घाटन में हिस्सा ले रहे हैं। वीडियो में पीएम मोदी ग्लास में भरकर उसी प्लांट का पानी पीते दिख रहे हैं। वीडियो में पीएम मोदी के बाईं तरफ इजरायल के राष्ट्रपति बेंजामिन नेतन्याहू भी खड़े दिख रहे हैं।ANI के ट्विटर हैंडल पर उसी इवेंट की फोटो भी 6 जुलाई, 2017 को अपलोड की गई है। जिसका वीडियो हाल ही का बताकर शेयर किया जा रहा है। Prime Minister Narendra Modi given a demonstration of a mobile water filtration plant, at Dor beach in Haifa, Israel #IndiaIsraelFriendship pic.twitter.com/E88gKuAqkE — ANI (@ANI) July 6, 2017 आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Fake News Expose : PM Modi celebrated his birthday with industrialists with great pomp even in Corona period? Know the truth of viral video [...]

Click here to Read full Details Sources @ /no-fake-news/news/fake-news-expose-pm-modi-celebrated-his-birthday-with-industrialists-with-great-pomp-even-in-corona-period-know-the-truth-of-viral-video-127743256.html

मोदी दुनिया के 100 सबसे असरदार लोगों में शामिल, लेकिन टाइम ने लिखा- भाजपा ने मुसलमानों को टारगेट किया, विरोध दबाने के लिए महामारी का बहाना मिला



		 मोदी दुनिया के 100 सबसे असरदार लोगों में शामिल, लेकिन टाइम ने लिखा- भाजपा ने मुसलमानों को टारगेट किया, विरोध दबाने के लिए महामारी का बहाना मिला 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
अमेरिका की टाइम मैगजीन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दुनिया के 100 सबसे असरदार लोगों की लिस्ट में शामिल किया है। लेकिन, कई तीखे कमेंट भी किए हैं। टाइम के एडिटर कार्ल विक ने लिखा है कि भारत की 1.3 अरब की आबादी में ईसाई, मुस्लिम, सिख, बौद्ध, जैन और दूसरे धर्मों के लोग शामिल हैं। नरेंद्र मोदी ने इन्हें संशय में डाल दिया है। 'विरोध को दबाने के लिए भाजपा को महामारी का बहाना मिल गया' विक लिखते हैं, "भारत के ज्यादातर प्रधानमंत्री हिंदू समुदाय (देश की 80% आबादी) से रहे हैं, लेकिन सिर्फ मोदी इस तरह काम कर रहे हैं जैसे उनके लिए कोई और मायने ही नहीं रखता। मोदी एम्पावरमेंट के वादे के साथ सत्ता में आए। उनकी हिंदू राष्ट्रवादी भाजपा ने न सिर्फ एलीटिज्म, बल्कि प्लूरलिज्म को भी खारिज कर दिया। इसमें खासतौर से मुसलमानों को टारगेट किया गया। विरोध को दबाने के लिए महामारी का बहाना मिल गया और इस तरह दुनिया का सबसे वाइब्रेंट लोकतंत्र अंधेरे में चला गया।" आयुष्मान खुराना भी लिस्ट में शामिल आयुष्मान खुराना अकेले भारतीय एक्टर हैं, जिन्हें इस साल टाइम की 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की लिस्ट में जगह मिली है। उनके लिए दीपिका पादुकोण ने लिखा है कि आयुष्मान उन कैरेक्टर्स में भी बहुत अच्छी तरह ढल गए जो बहुत स्टीरियोटाइप समझे जाते हैं। उन्होंने कई यादगार फिल्में दी हैं। शाहीन बाग की दादी को भी जगह नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में हुए प्रदर्शन में शामिल रहीं 82 साल की बिल्किस बानो को भी टाइम की लिस्ट में जगह दी गई है। पत्रकार राणा अय्यूब ने उनके बारे में लिखा है कि बिल्किस एक हाथ में तिरंगा थामे और दूसरे हाथ से माला जपती हुई सुबह 8 बजे से लेकर रात 12 बजे तक धरने पर बैठी रही थीं। गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई का भी नाम भारतीय मूल के पिचाई भी टाइम की लिस्ट में शामिल किए गए हैं। उनके बारे में कहा गया है कि भारत से आकर अमेरिका में काम करने और 1 ट्रिलियन डॉलर की कंपनी का सीईओ बनने तक की उनकी कहानी खास है। यह दिखाती है कि हम अपनी सोसाइटी के लिए क्या इच्छा रखते हैं। उन्होंने अपनी कुदरती खूबियों का बखूबी इस्तेमाल किया। टाइम की लिस्ट में शामिल 10 बड़ी हस्तियां नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्रीडोनाल्ड ट्रम्प, अमेरिका के राष्ट्रपतिजो बाइडेन, अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में उम्मीदवारकमला हैरिस, अमेरिका की उपराष्ट्रपति उम्मीदवारनैन्सी पेलोसी, अमेरिका के हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव की स्पीकरशी-जिनपिंग, चीन के राष्ट्रपतिनाओमी ओसाका, जापान की टेनिस खिलाड़ीसुंदर पिचाई, गूगल के सीईओआयुष्मान खुराना, एक्टररविंद्र गुप्ता, कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में क्लीनिकल माइक्रोबायोलॉजी के प्रोफेसर आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें टाइम ने कहा है कि मोदी एम्पावरमेंट के वादे के साथ सत्ता में आए, लेकिन उनकी हिंदू राष्ट्रवादी भाजपा ने प्लूरलिज्म को खारिज कर दिया। (फाइल फोटो) [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/narendra-modi-ayushmann-khurrana-in-time-magazine-list-of-100-know-who-are-most-influential-people-127746307.html

1952 में 'चेकर्स' नाम के कुत्ते ने बनाया रिचर्ड निक्सन को अमेरिका का उपराष्ट्रपति; भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध खत्म करने की घोषणा



		 1952 में
इस समय अमेरिका में राष्ट्रपति चुनावों की गहमागहमी है। 3 नवंबर को वोटिंग होनी है। आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। ऐसे में चेकर्स स्पीच को याद करना महत्वपूर्ण है। पूर्व राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन ने यह स्पीच 23 सितंबर 1952 को दी थी। यह अमेरिकी इतिहास के सबसे चर्चित भाषणों में से एक है और इसके केंद्र में है चेकर्स नाम का एक कुत्ता। किस्सा उस समय का है जब रिचर्ड निक्सन रिपब्लिकन पार्टी से उपराष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ रहे थे। न्यूयॉर्क पोस्ट में खबर छपी कि रिचर्ड निक्सन ने एक सीक्रेट फंड बनाया है और कैम्पेन में आ रहे फंड का निजी इस्तेमाल हो रहा है। इस पर खूब विवाद हुआ। रिपब्लिकन पार्टी के कई नेताओं ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार ड्वाइट डी आइजनहावर से कहा कि निक्सन का टिकट वापस ले लें। इन आरोपों पर निक्सन ने हॉलीवुड के अल कैपिटन थिएटर से अपनी सफाई पेश की। इसमें उन्होंने कैम्पेन फंड का पूरा हिसाब पेश किया। साथ ही कहा कि डोनेशन के तौर पर उन्हें एक ऐसी चीज मिली है, जिसे वे कैम्पेन को नहीं दे सकते। यह एक काला और सफेद अमेरिकन कॉकर स्पैनियल कुत्ता है- चेकर्स। इसे उनकी बेटी बहुत प्यार करती है। आलोचक कुछ भी कहें, वह कुत्ता किसी को नहीं देंगे। यह स्पीच कई मायनों में खास थी। अमेरिका के राजनीतिक इतिहास में यह पहला टेलीवाइज्ड भाषण था। इसे 6 करोड़ लोगों ने अपने ड्राइंग रूम में देखा और सुना। इससे लोग इतने प्रभावित हुए कि निक्सन के उपराष्ट्रपति बनने की राह आसान हो गई। वे 1961 तक अमेरिका के उपराष्ट्रपति रहे। फिर 1969 से 1973 तक राष्ट्रपति भी रहे। 1965: भारत-पाकिस्तान का युद्ध खत्म हुआ 1965 के युद्ध के बाद पाकिस्तानी टैंक पर सवार भारतीय जवान। 1947 में आजाद होने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच संघर्ष चलता रहा। खासकर कश्मीर को लेकर। 1965 में पाकिस्तान को लग रहा था कि भारत में प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री कमजोर हैं। इस वजह से उसने कश्मीर और पश्चिमी सीमा पर कुछ इलाकों में कब्जा करने की चाल चली थी। जवाब में भारत ने पश्चिमी सीमा पर मोर्चा खोला और पाकिस्तान को पीछे धकेलने पर मजबूर किया। संयुक्त राष्ट्र की पहल पर पांच हफ्ते के भीषण युद्ध के बाद 23 सितंबर को ही युद्ध खत्म करने की घोषणा की गई। 1889ः मारियो गेम बनाने वाली कंपनी निन्तेंडो की शुरुआत निन्तेंडो का बेमिसाल कैरेक्टर है सुपर मारियो। जुलाई में सुपर मारियो के 1985 का एक दुर्लभ वर्जन नीलामी के दौरान 1.14 लाख डॉलर में बिका। फुसाजिरो यामाउचि ने 1889 में जापानी गेमिंग कंपनी निन्तेंडो कोप्पई बनाई। यह क्योटो में थी। यह उस समय हानाफुडा कार्ड्स बनाती थी और उसे बेचती थी। 1981 में डॉन्की कॉन्ग के तौर पर आर्केड गेम से निन्तेंडो ने इलेक्टॉनिक और वीडियो गेम्स इंडस्ट्री में नाम कमाया। निन्तेंडो ने ही मारियो और सुपर मारियो भी बनाया, जो एक समय में बच्चों के बीच बहुत ज्यादा लोकप्रिय रहा। मजे की बात यह है कि यह गेम्स आज के मॉर्टल कॉम्बेट गेम्स से पूरी तरह अलग है। आज के दिन को इन घटनाओं के लिए भी याद किया जाता है... 1739ः रूस और तुर्की के बीच बेलग्रेड शांति समझौते पर हस्ताक्षर।1803ः ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी ने असाय के युद्ध में मराठा सेना को हराया।1857ः युद्धपोत लेफर्ट फिनलैंड की खाड़ी में आए भीषण तूफान में गायब हुआ, 826 लोग मारे गए।1929ः बाल विवाह निरोधक विधेयक (सारदा कानून) पारित।1955ः पाकिस्तान ने बगदाद समझौते पर हस्ताक्षर किए।1958ः ब्रिटेन ने क्रिसमस द्वीप पर वायुमंडलीय परमाणु परीक्षण किया।1970ः अब्दुल रजाक बिन हुसैन मलेशिया के प्रधानमंत्री बने।1979ः सोमालिया के संविधान को राष्ट्रपति ने मंजूरी दी।1986ः अमेरिकी कांग्रेस ने गुलाब को अमेरिका का राष्ट्रीय फूल घोषित किया।1992ः यूगोस्लाविया का संयुक्त राष्ट्र संघ से निष्कासन।1993ः दक्षिण अफ्रीका में अश्वेतों को सरकार बनाने की प्रक्रिया में शामिल होने का अधिकार मिला।1998: भारतीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने मुलाकात की और दोनों देश कश्मीर पर बातचीत को राजी हो गए।2004ः हैती में तूफान के बाद आई बाढ़ में कम से कम 1,070 लोगों की मौत।2009ः इसरो ने उपग्रह शन सैट-2 समेत कुल सात उपग्रह अंतरिक्ष की कक्षा में स्थापित किए।2009ः छत्तीसगढ़ के कोरबा में 820 फीट लंबी चिमनी गिरने से 40 से ज्यादा लोगों की मौत हुई।2014: भारतीय सेना ने कहा कि चीनी सैनिक लद्दाख के चूमार क्षेत्र में तीन किमी तक अंदर घुस आए हैं।2016ः भारत ने फ्रांस के साथ 36 रफाल फाइटर जेट्स खरीदने की डील पर साइन किए।2017ः राजस्थान में कौशलेंद्र प्रपन्नाचार्य फलाहारी महाराज को दुष्कर्म मामले में गिरफ्तार किया गया।2018ः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया की सबसे बड़ी हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम लॉन्च की। इसे मोदीकेयर भी कहा गया। जन्मदिन 1908ः रामधारी सिंह दिनकर (कवि)1935: प्रेम चोपड़ा (फिल्म अभिनेता)1957: कुमार सानू (बॉलीवुड सिंगर)1985: अंबाती रायुडू आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Today History for September 23rd/ What Happened Today | 1952 Richard Nixon delivered Checkers Speech| 1965 India Pakistan war ended| 1889 Nintendo incepted | 2018 Modicare launched in India | 2016 India France inked Rafale deal [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/today-history-september-23rd-richard-nixon-delivered-checkers-speech-india-pakistan-war-ended-nintendo-formed-modicare-launched-india-fransh-inked-rafale-deal-127745691.html

ठाणे के भिवंडी में तीन मंजिला इमारत गिरने के 45 घंटे बाद मलबे से एक व्यक्ति को जिंदा निकाला गया; अब तक 40 की मौत



		 ठाणे के भिवंडी में तीन मंजिला इमारत गिरने के 45 घंटे बाद मलबे से एक व्यक्ति को जिंदा निकाला गया; अब तक 40 की मौत 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
महाराष्ट्र के ठाणे स्थित भिवंडी में हुए हादसे में मरने वालों की संख्या 40 हो गई है। यहां सोमवार तड़के तीन मंजिला बिल्डिंग गिर गई थी। मलबे में 10 से ज्यादा लोगों के फंसे होने की आशंका थी। इस बीच, स्थानीय रहवासियों ने 19 लोगों को मलबे से बाहर निकाला था। मंगलवार को बचाव दल ने 45 घंटे बाद 42 साल के एक व्यक्ति को जिंदा निकाला। खालिद अब्दुल खान को जैसे ही बाहर निकाला, वे खड़े हो गए। इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। हालांकि, अस्पताल से उन्हें कुछ देर बाद छुट्टी दे दी गई। इसके बाद वे दूसरे लोगों की मदद के लिए हादसे वाले स्थान पर पहुंच गए। खान समेत अब तक 25 लोगों को इस मलबे से जिंदा निकाला गया है। टीडीआरएफ के सदस्य मेरे लिए फरिश्ते की तरह थे खान ने बताया कि मलबे में फंसे होने के दौरान मैंने टीडीआरएफ टीम के सदस्य की आवाज सुनी। वे अंदर फंसे किसी भी इंसान की तलाश कर रहे थे और उन्हें आवाज दे रहे थे। यह आवाज बचाव टीम में शामिल अक्षय पाटिल की थी। आवाज सुनने के बाद मेरे अंदर यह विश्वास जगा कि मैं जिंदा बचाया जा सकता हूं। ऐसा लग रहा था जैसे भगवान ने उसे मुझे बचाने के लिए भेजा था। टीडीआरएफ के सदस्य मेरे लिए फरिश्ते की तरह थे। स्थानीय लोग भी बचाव कार्य में जुटे हैं। इससे पहले, यह हादसा सोमवार तड़के 3.40 बजे हुआ। इस समय ज्यादातर लोग सो रहे थे। बताया जाता है कि मुंबई में पिछले दिनों हुई भारी बारिश की वजह से बिल्डिंग कमजोर हो चुकी थी। इसमें 21 परिवार रहते थे। एनडीआरएफ की टीम ने सोमवार सुबह मलबे से एक बच्चे को सुरक्षित निकाल लिया था। बिल्डिंग के चारों तरफ घना इलाका है। सरकार ने कहा- अवैध निर्माण पर कार्रवाई तय हो महाराष्ट्र सरकार में गृह निर्माण मंत्री जितेन्द्र आव्हाण ने कहा कि 1986 में इस बिल्डिंग का निर्माण हुआ था। इसे खाली करने का नोटिस दिया गया था। कानूनी झंझट के कारण इसे खाली नहीं किया गया। कुछ दिन पहले मैंने इसको लेकर एक मीटिंग की थी। मैं इस बात को दोहरा रहा हूं कि अवैध निर्माण को लेकर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। जब तक इलाके के पुलिस और वार्ड ऑफिसर पर जिम्मेदारी तय नहीं होती तब तक ऐसी चीजें नहीं रुकेंगी। बिल्डिंग जर्जर हालत में थी, कई बार नोटिस भी दिया गया। राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने शोक जताया राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने हादसे पर दुख जताया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं। रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। प्रभावित लोगों को हरसंभव सहायता देने की कोशिशें की जा रही हैं।’’ Saddened by the building collapse in Bhiwandi, Maharashtra. Condolences to the bereaved families. Praying for a quick recovery of those injured. Rescue operations are underway and all possible assistance is being provided to the affected. — Narendra Modi (@narendramodi) September 21, 2020 फंसे लोगों को निकालने के लिए राहत और बचावकार्य जारी है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें ठाणे में जिस वक्त हादसा हुआ, तब लोग सो रहे थे। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/three-storied-building-collapses-in-bhiwandi-thane-near-mumbai-of-maharashtra-many-people-lost-life-127739245.html

2019 के टॉपर कार्तिकेय गुप्ता से जानिए पेपर सॉल्व करने की स्ट्रैटजी, साथ ही उन कॉमन मिस्टेक्स के बारे में, जो आपको बेहतर स्कोर करने से रोक सकती हैं



		 2019 के टॉपर कार्तिकेय गुप्ता से जानिए पेपर सॉल्व करने की स्ट्रैटजी, साथ ही उन कॉमन मिस्टेक्स के बारे में, जो आपको बेहतर स्कोर करने से रोक सकती हैं 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
जेईई एडवांस 2020 परीक्षा 27 सितंबर को देश के 212 शहरों में सुबह 9 से 12 बजे तक और दोपहर 2:30 से 5:30 बजे तक होने जा रही है। चूंकि, अब परीक्षा में सिर्फ 4 दिन ही बाकी हैं। तो जाहिर है कैंडिडेट्स की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी होगी। हालांकि, सिलेबस की तैयारी के अलावा भी कई सारी लर्निंग्स ऐसी हैं, जिन्हे परीक्षा में बेहतर स्कोर करने के लिए समझना बहुत जरूरी है। परीक्षा हॉल में प्रवेश के बाद कुछ ऐसी गलतियां होती हैं। जिन्हें करने का मलाल आपको एग्जाम के बात होता है। ये बहुत ही कॉमन मिस्टेक हैं, जिन्हें अधिकतर स्टूडेंट्स करते ही हैं। आप इन गलतियों से बच सकते हैं, जेईई एडवांस परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करने वाले कैंडिडेट्स के अनुभवों के जरिए। आपके इसी काम को आसान बनाने के लिए हमने बात की है जेईई एडवांस- 2019 के टॉपर कार्तिकेय गुप्ता से। वे बता रहे हैं कि पेपर सॉल्व करने की कौन-सी स्ट्रैटजी आपके लिए बेहतर साबित होगी। और किन गलतियों से आपको बचना है। 23 सितंबर से 26 सितंबर तक क्या करें? हर यूनिट को एक बार रिवाइज कर लें। क्योंकि, कई बार एग्जाम में सवाल को देखकर एकदम दिमाग में यह क्लिक नहीं हो पाता कि ये किस टॉपिक से पूछा गया है। इसलिए आखिरी समय में हर यूनिट पर एक नजर डालना जरूरी है। मॉक टेस्ट में कम मार्क्स आने से अगर आपको टेंशन होती है, तो इन आखिर के 4 दिनों में मॉक टेस्ट न दें। क्योंकि, इस समय माइंड को फ्रेश और तनावमुक्त रखना बहुत जरूरी है। एग्जाम हॉल में प्रवेश के बाद... कॉन्सेंट्रेशन बनाए रखने के लिए आपका कंफर्टेबल होना बहुत जरूरी है। मामूली दिखने वाली समस्याएं भी परीक्षा के दौरान कैंडिडेट का ध्यान भटकाती हैं। इससे बचने के लिए 3 पॉइंट की इस चेक लिस्ट को फॉलो करें जहां आप बैठे हैं, वहां हद से ज्यादा कूलिंग या ज्यादा गर्मी न हो।सीट 3 घंटे कंफर्टेबल बैठने लायक हो।सीट के पास कोई विंडो नहीं होनी चाहिए, जिससे वॉइस डिस्टरबेंस आ रहा हो। पेपर मिलने के बाद के 15 मिनट पेपर शुरू होने से 30 मिनट पहले कैंडिडेट को कम्प्यूटर अलॉट हो जाता है। क्वेश्चन पेपर 15 मिनट पहले मिलता है। यही वह समय है, जब आपको पेपर सॉल्व करने की स्ट्रैटजी बनानी है। सारे सेक्शन पर एक नजर डालें। फिर तय करें कि सबसे आसानी से आप पेपर के किस हिस्से को सॉल्व कर सकते हैं। उसी से शुरूआत करें। मैथ्स से शुरुआत करना बैड आइडिया हो सकता है जेईई एडवांस में मैथ्स के सवाल अन्य सेक्शन की तुलना में ज्यादा समय लेते हैं। इसलिए मैथ्स से शुरुआत करना बैड आइडिया हो सकता है। क्योंकि लंबा समय बीतने के बाद भी कम सवाल हल हो पाते हैं, तो आप पैनिक होंगे। इस पैनिक से बचने के लिए अधिकतर स्टूडेंट्स पहले केमिस्ट्री को अटेंप्ट करना ही पसंद करते हैं। यही सही भी है। श्योर रहें, कि कौन-सा टॉपिक मजबूत है और कौन- सा कमजोर हर कैंडिडेट की कुछ वीकनेस होती हैं और कुछ स्ट्रेंथ। चूंकि अब पेपर में सिर्फ 4 दिन बचे हैं तो ये इस बात को लेकर पैनिक होने का समय नहीं है कि कुछ टॉपिक आप अच्छे से कवर नहीं कर पाए। स्थिति को स्वीकार करते हुए श्योर रहें कि आपका कौन-सा टॉपिक मजबूत है और कौन-सा कमजोर। इससे पेपर अटेंप्ट करते वक्त आपको तय करने में आसानी होगी कि किन सवालों को पहले सॉल्व करना है। रीडिंग मिस्टेक और अटेंटिव न रहने से होता है बड़ा नुकसान जाहिर है स्टूडेंट्स का पूरा फोकस सवालों को हल करने पर ही रहता है। लेकिन, जेईई एडवांस के पेपर में कई बार ऑप्शन कंफ्यूजिंग होते हैं। इसलिए सवाल को पढ़ना भी उतना ही जरूरी हो जाता है, जितना उसे सॉल्व करना। छोटी-छोटी रीडिंग मिस्टेक्स भी आपके स्कोर का बड़ा नुकसान कर सकती हैं। सवाल को ठीक से पढ़ना और सवाल को न भूलना बहुत जरूरी है। इसे दो उदाहरणों से समझिए। एक नजर में एग्जाम पैटर्न जेईई एडवांस में कैंडिडेट्स को दो पेपर सॉल्व करने होते हैं। पेपर-1 और पेपर-2 । हर पेपर के लिए कैंडिडेट को 3 घंटे का समय दिया जाएगा। पेपर-1 के बाद 2 घंटे का ब्रेक होगा। सभी सवाल फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स पर आधारित होंगे। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें JEE Advance 2020 : Get to know the paper solving strategy from 2019 topper Karthikeya Gupta, as well as the common mistakes that can stop you from scoring better [...]

Click here to Read full Details Sources @ /career/news/jee-advance-2020-get-to-know-the-paper-solving-strategy-from-2019-topper-karthikeya-gupta-as-well-as-the-common-mistakes-that-can-stop-you-from-scoring-better-127743153.html

रिया से दीपिका तक ड्रग्स चैट में फंसा बॉलीवुड; IPL के ओपनिंग मैच को देखने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बना; हरिवंश की चाय से इम्प्रेस हुए मोदी



		 रिया से दीपिका तक ड्रग्स चैट में फंसा बॉलीवुड; IPL के ओपनिंग मैच को देखने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बना; हरिवंश की चाय से इम्प्रेस हुए मोदी 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
एक अच्छी खबर। कोच्चि के अनंतु विजयन की 300 रुपए के टिकट पर 12 करोड़ रुपए की लॉटरी खुली। वहीं, दूसरी तरफ ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती की ज्यूडिशियल कस्टडी 6 अक्टूबर तक बढ़ गई। चलिए, शुरू करते हैं आज की मॉर्निंग न्यूज ब्रीफ... आज इन 5 इवेंट्स पर रहेगी नजर 1. कंगना रनोट का ऑफिस तोड़ने के मामले की बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई। 2. आईपीएल में आज कोलकाता नाइट राइडर्स और मुंबई इंडियंस आमने-सामने होंगी। टॉस शाम 7 बजे होगा। मैच शाम साढ़े 7 बजे शुरू होगा। 3. प्रधानमंत्री मोदी कोरोना के मुद्दे पर मुख्यमंत्रियों के साथ रिव्यू मीटिंग कर सकते हैं। 4. सुदर्शन टीवी मामले में सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई होगी। 5. एनसीबी आज जया साहा को गिरफ्तार कर सकती है। फिल्म निर्माता मधु मोंटिना से ड्रग्स मामले में पूछताछ हो सकती है। अब कल की 6 महत्वपूर्ण खबरें 1. निलंबित सांसदों के लिए चाय लेकर पहुंचे हरिवंश कृषि बिलों के विरोध में हंगामा करने पर राज्यसभा से निलंबित 8 विपक्षी सांसदों ने संसद परिसर में रातभर धरना दिया, जो सुबह 11 बजे खत्म हुआ। राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश सुबह चाय लेकर पहुंचे, लेकिन सांसदों ने चाय पीने से मना कर दिया। हालांकि, मोदी ने हरिवंश की प्रशंसा की। इस बीच, लोकसभा से भी विपक्ष ने बायकॉट किया और 8 सांसदों का निलंबन वापस लेने की मांग की। -पढ़ें पूरी खबर 2. दीपिका पादुकोण की वॉट्सऐप चैट के स्क्रीनशॉट्स में ड्रग्स का जिक्र नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने ड्रग्स चैट मामले में दीपिका पादुकोण और उनकी मैनेजर करिश्मा प्रकाश के बीच हुई बातचीत का खुलासा किया है, जो 28 अक्टूबर 2017 को हुई थी। अगर दीपिका जांच के घेरे में आती हैं तो उनके खिलाफ गंभीर धाराओं में मामला दर्ज हो सकता है। इस बीच, नारकोटिक्स ब्यूरो अब दीपिका समेत 3 एक्ट्रेस को पूछताछ के लिए बुला सकता है। -पढ़ें पूरी खबर 3. क्या मोदी के लिए बिहार में फायदेमंद साबित होगा किसान बिल? 2016 के नवंबर में मोदी सरकार ने नोटबंदी का फैसला लागू किया। इसके बाद यूपी चुनाव में भारी बहुमत से चुनाव जीता। अब बिहार में चुनाव होना है। केंद्र सरकार किसानों से संबंधित तीन विधेयक लेकर आई है। तीनों को लेकर देशभर में विरोध जारी है। मगर इस बीच, भाजपा इन्हीं विधेयकों के बूते बिहार विधानसभा चुनाव में जीत की राह खोज रही है। क्या ऐसा हो पाएगा? -पढ़ें पूरी खबर 4. महाराष्ट्र सरकार मुश्किल में, उद्धव-आदित्य और पवार को मिला नोटिस चुनावी हलफनामे को लेकर राकांपा प्रमुख शरद पवार, महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे, आदित्य ठाकरे और बारामती से राकांपा सांसद सुप्रिया सुले समेत कुछ अन्य नेताओं को इनकम टैक्स का नोटिस मिला है। शरद पवार ने इसकी पुष्टि करते हुए तंज कसा कि वे (केंद्र सरकार) मुझे बहुत चाहते हैं। नोटिस के बाद भाजपा और महाराष्ट्र सरकार के बीच विवाद बढ़ेगा। -पढ़ें पूरी खबर 5. गूगल के लिए पेटीएम कैसे बन गया 'गैम्बलिंग ऐप'? 18 सितंबर को गूगल प्ले स्टोर से पेटीएम को कुछ घंटों के लिए हटा दिया था। गूगल के मुताबिक, पेटीएम अपने ऐप से 'स्पोर्ट्स गैम्बलिंग' को प्रमोट कर रहा था। इसलिए उसे भारतीय कानून और गूगल की पॉलिसी के तहत हटाया गया। पेटीएम ने कहा- गूगल हमारे देश के कानून से ऊपर उठकर पॉलिसी बना रहा है। मनमाने ढंग से उन्हें लागू कर रहा है। -पढ़ें पूरी खबर 6. आईपीएल का ओपनिंग मैच टीवी पर 20 करोड़ लोगों ने देखा आईपीएल के 13वें सीजन का पहला मैच चेन्नई सुपरकिंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच खेला गया। इसे टीवी पर 20 करोड़ लोगों ने देखा। यह एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है। बीसीसीआई सचिव जय शाह ने ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल के आंकड़ों को शेयर करते हुए लिखा कि किसी भी खेल को टीवी पर इतने दर्शक नहीं मिले हैं। आईपीएल इस बार बिना दर्शकों के यूएई में खेला जा रहा है। -पढ़ें पूरी खबर अब 23 सितंबर का इतिहास 1857: रूसी युद्धपोत लेफर्ट फिनलैंड की खाड़ी में आए भीषण तूफान में गायब हुआ, 826 लोग मारे गए। 1908: हिंदी के प्रसिद्ध कवि रामधारी सिंह दिनकर का जन्म हुआ। 1965: भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध विराम की घोषणा हुई। 1973: नोबेल सम्मानित कवि पाब्लो नेरुदा का निधन हुआ। 1983: प्रसिद्ध कवि और साहित्यकार सर्वेश्वर दयाल सक्सेना का निधन हुआ। जाते-जाते जिक्र हिंदी के प्रसिद्ध कवि रामधारी सिंह दिनकर का। आज ही के दिन 1908 में उनका जन्म हुआ था। पढ़िए उनकी बहुचर्चित कविता समर शेष है की चंद पंक्तियां.... आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Bollywood stuck in drugs chat from Riya to Deepika; World record made in the first match of IPL; Modi was impressed by the Deputy Chairman's tea [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/bollywood-stuck-in-drugs-chat-from-riya-to-deepika-world-record-made-in-the-first-match-of-ipl-modi-was-impressed-by-the-deputy-chairmans-tea-127745692.html

24 घंटे में संक्रमण के 80,321 मामले सामने आए और 87,007 लोग ठीक हुए; अब तक 90 हजार से ज्यादा मौतें और 56.40 लाख केस



		 24 घंटे में संक्रमण के 80,321 मामले सामने आए और 87,007 लोग ठीक हुए; अब तक 90 हजार से ज्यादा मौतें और 56.40 लाख केस 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
देश में 24 घंटे में कोरोना के 80,321 मरीज मिले, जबकि 87,007 लोग रिकवर हुए हैं। इसके साथ ही कोरोना मरीजों की संख्या 56 लाख 40 हजार 441 हो गई है। अब तक 45 लाख 81 हजार 746 मरीज ठीक हो चुके हैं। मंगलवार को 1056 लोगों ने दम तोड़ा। मरने वालों की संख्या 90,021 हो चुकी है। उधर, बिहार में अब तक 1 लाख 57 हजार 56 मरीज रिकवर हो चुके हैं। राज्य में 28 सितंबर से 9वीं से 12वीं तक के सरकारी और प्राइवेट स्कूल खोल दिए जाएंगे। बिहार के शिक्षा विभाग ने उच्च-स्तरीय बैठक के बाद यह फैसला किया। लेकिन, स्कूलों को कोरोना महामारी के मद्देनजर विभाग द्वारा जारी गाइडलाइंस का सख्ती से पालन करना होगा। जानकारी के अनुसार, छात्रों को सप्ताह में केवल दो दिन स्कूल आने के लिए कहा जाएगा। केवल 50% शिक्षक और अन्य कर्मचारी ही स्कूल आएंगे। कोरोना अपडेट्स सोमवार को 14 राज्यों में नए संक्रमितों से ज्यादा ठीक हो गए। इनमें उत्तरप्रदेश, दिल्ली, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक, तेलंगाना, बिहार, केरल, जम्मू-कश्मीर, पुडुचेरी, त्रिपुरा, दादरा-नागर हवेली और मिजोरम शामिल हैं।महाराष्ट्र में सोमवार को 159 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित मिले, पांच की मौत हो गई। राज्य में अब तक 21,311 पुलिसकर्मी संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 222 पुलिसकर्मियों की मौत हो चुकी है।दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने सोमवार को बताया कि राज्य में अभी लगभग 1 हजार आईसीयू बेड उपलब्ध है। इसकी संख्या लगातार बढ़ाने की कोशिश की जा रही है।केंद्र ने ऑक्सीजन सिलेंडर ले जा रही गाड़ियों को बगैर परमिट यात्रा करने की मंजूरी दी है। ऐसी गाड़ियों को अब परमिट लेने की जरूरत नहीं होगी। कोरोना के बढ़ते मामलों और राज्यों में ऑक्सीजन सिलेंडर की बढ़ती डिमांड को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। यह छूट 31 मार्च 2021 तक जारी रहेगी। 12 राज्यों में 81% मरीज ठीक हुए 12 राज्य ऐसे हैं, जहां ठीक हुए मरीजों की दर 81% से ज्यादा है। इनमें से अंडमान-निकोबार, दादरा-नगर हवेली और बिहार में तो रिकवरी रेट 90% से ज्यादा है। देश में अब तक 43.95 लाख मरीज ठीक हुए हैं और रिकवरी 80.12% तक पहुंच गया है। पांच राज्यों का हाल 1. मध्यप्रदेश राज्य में मंगलवार को 2544 नए मरीज मिले। 2412 संक्रमित ठीक हो गए, जबकि 28 ने दम तोड़ दिया। अब तक 1 लाख 10 हजार 711 संक्रमित पाए जा चुके हैं। इनमें 86 हजार 30 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 22 हजार 646 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते 2035 मरीजों की मौत हो चुकी है। 2. राजस्थान राज्य में 24 घंटे के अंदर 1,912 नए केस मिले। 1528 लोग ठीक हुए और 15 मरीजों की मौत हो गई। अब तक 1 लाख 18 हजार 793 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। राहत की बात है कि इनमें 98 हजार 812 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 18 हजार 614 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते 1,367 लोगों की मौत हो चुकी है। 3. बिहार राज्य में 24 घंटे में 1,609 नए केस बढ़े, जबकि 1,232 लोग ठीक हो गए। 3 संक्रमितों ने दम तोड़ दिया। अब तक 1 लाख 71 हजार 465 लोग संक्रमित हो चुके हैं। राहत की बात है कि इनमें 1 लाख 57 हजार 56 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 13 हजार 535 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 873 लोगों की मौत हो चुकी है। 4. महाराष्ट्र महाराष्ट्र में लगातार दूसरे दिन मंगलवार को संक्रमितों से ज्यादा लोग ठीक हुए। 24 घंटे में जहां 18 हजार 390 नए मामले सामने आए, वहीं रिकॉर्ड 20 हजार 206 लोगों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। राज्य में अब तक 12 लाख 42 हजार 770 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 9 लाख 36 हजार 554 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 2 लाख 72 हजार 410 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। 5. उत्तरप्रदेश राज्य में मंगलवार को 5650 नए केस सामने आए। वहीं, 6589 मरीज रिकवर हुए। प्रदेश में अब तक 3 लाख 64 हजार 543 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 2 लाख 96 हजार 183 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 63 हजार 148 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 5,212 मरीजों की मौत हो चुकी है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें नई दिल्ली के इंडोर स्पोर्ट्स कंपलेक्स क्वारैंटाइन सेंटर में एक बच्चे के साथ खेलती स्वास्थ्यकर्मी। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/coronavirus-outbreak-india-cases-live-updates-22-september-127742859.html

श्रीनगर में विस्फोट के बाद लोगों ने झटके महसूस किए; सिस्मोलॉजिकल सेंटर ने इसे 3.6 तीव्रता का भूकंप बताया



		 श्रीनगर में विस्फोट के बाद लोगों ने झटके महसूस किए; सिस्मोलॉजिकल सेंटर ने इसे 3.6 तीव्रता का भूकंप बताया 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में मंगलवार को रिक्टर स्केल पर 3.6 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। इस बीच ऐसी खबरें भी सामने आ रही हैं कि तेज धमाके या विस्फोट के बाद लोगों को झटके महसूस हुए। हालांकि, यूरोपियन-मेडिटेरियन सिस्मोलॉजिकल सेंटर (ईएमएससी) ने बताया कि श्रीनगर में भूकंप के झटके महसूस किए गए। Felt #earthquake (#भूकंप) M3.6 strikes 11 km NW of #Srīnagar (#India) 43 min ago. Please report to: https://t.co/1kOFTjoaTw pic.twitter.com/tYPn8InntF — EMSC (@LastQuake) September 22, 2020 श्रीनगर के जिला मजिस्ट्रेट और विकास आयुक्त शाहिद चौधरी ने ट्वीट किया- यह डरावना था। उम्मीद है कि सभी लोग सुरक्षित हैं। एक्सपर्ट्स ने भूकंप की ही पुष्टि की है। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी (एनसीएस) ने भी कहा कि रात 9.40 बजे जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में भूकंप के झटके महसूस किए गए। This was scary. Hope everyone is safe. #EARTHQUAKE — Shahid Choudhary (@listenshahid) September 22, 2020 आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी (एनसीएस) ने भी कहा कि रात 9.40 बजे जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में भूकंप के झटके महसूस किए गए। -फाइल फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/an-earthquake-36-magnitude-on-the-richter-scale-hit-srinagar-in-jammu-and-kashmir-on-tuesday-127743997.html

पांच साल में प्रधानमंत्री मोदी ने 58 विदेश यात्राएं कीं, इसमें 517 करोड़ रु. खर्च हुए, अमेरिका-रूस और चीन के 5 दौरे भी शामिल



		 पांच साल में प्रधानमंत्री मोदी ने 58 विदेश यात्राएं कीं, इसमें 517 करोड़ रु. खर्च हुए, अमेरिका-रूस और चीन के 5 दौरे भी शामिल 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते 5 साल में 58 देशों का दौरा किया है। इस पर 517 करोड़ रु. खर्च हुए हैं। उन्होंने सबसे ज्यादा पांच-पांच बार अमेरिका और रूस के दौरे किए हैं। पीएम मोदी ने भारत के साथ सीमा विवाद में उलझे चीन का भी 5 बार दौरा किया। उन्होंने सिंगापुर, जर्मनी, फ्रांस, संयुक्त अरब अमीरात और श्रीलंका की यात्राएं भी की हैं। विदेश राज्य मंत्री वी. मुरलीधरन ने मंगलवार को राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में यह जानकारी दी। प्रधानमंत्री का आखिरी विदेश दौरा नवम्बर 2019 में हुआ था। उस समय वह ब्रिक्स देशों (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और साउथ अफ्रीका) के सम्मिट में शामिल होने ब्राजील गए थे। इसी महीने उन्होंने थाईलैंड का दौरा भी किया था। कोरोना महामारी की वजह से इस साल प्रधानमंत्री का कोई विदेश दौरा नहीं हुआ। दौरों के मामले पर प्रधानमंत्री का बचाव करने की कोशिश की विदेश राज्य मंत्री ने संसद में विदेश दौरे पर हुए खर्च को लेकर प्रधानमंत्री का बचाव करने की भी कोशिश की। उन्होंने कहा- पीएम के इन दौरों से दूसरे देशों में द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर भारत के विचारों की समझ बढ़ी। इससे ट्रेड और इन्वेस्टमेंट, टेक्नोलॉजी, रक्षा सहयोग समेत कई क्षेत्रों में आर्थिक संबंध मजबूत हुए। 2014 से 2018 के बीच पीएम के दौरे पर 2 हजार करोड़ रु. खर्च हुए दिसंबर 2018 में सरकार ने 2014 के बाद से प्रधानमंत्री के विदेश दौरों पर 2 हजार करोड़ रु. खर्च होने की जानकारी दी थी। इसमें उनके चार्टर्ड फ्लाइट, प्लेन की देखरेख और हॉटलाइन सुविधा पर आने वाला खर्च शामिल था। उस समय विदेश मंत्री रहे जनरल वीके सिंह ने बताया था कि 1583.18 करोड़ रुपए प्रधानमंत्री मोदी के प्लेन की देखरेख पर खर्च हुए थे। वहीं, 15 जून 2014 और 3 दिसंबर 2018 के बीच उनके चार्टर्ड फ्लाइट्स पर 429.25 करोड़ और हॉटलाइन सुविधाओं पर 9.11 करोड़ रु. का खर्च आया था। पीएम के दौरों पर विपक्ष भी सवाल उठा चुका है पीएम मोदी के विदेश दौरों पर विपक्षी पार्टियां कई बार सवाल उठा चुकी हैं। विपक्ष ने समय-समय पर उनके विदेश दौरों की टाइमिंग पर भी सवाल किए हैं। पिछले साल लोकसभा चुनाव से पहले अप्रैल-मई में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने देश के कृषि क्षेत्र में संकट होने के बावजूद प्रधानमंत्री के विदेश दौरे पर जाने का मुद्दा उठाया था। हालांकि, इसके बावजूद चुनाव में पीएम मोदी की अगुआई वाली भाजपा ने बहुमत हासिल किया था। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें प्रधानमंत्री मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की यह फोटो 28 अप्रैल 2018 की है। उस समय मोदी चीन के दौरे पर पहुंचे थे। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/517-crores-on-58-foreign-visits-of-prime-minister-modi-in-five-years-expenses-incurred-made-5-visits-to-america-russia-and-china-127743532.html

जम्मू-कश्मीर पुलिस का दावा- पाकिस्तान ने एलओसी पर रात में ड्रोन भेजे, इससे आतंकियों की मदद के लिए राइफल-पिस्टल गिराए गए



		 जम्मू-कश्मीर पुलिस का दावा- पाकिस्तान ने एलओसी पर रात में ड्रोन भेजे, इससे आतंकियों की मदद के लिए राइफल-पिस्टल गिराए गए 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
जम्मू कश्मीर के अखनूर में बॉर्डर के पास से सुरक्षाबलों ने हथियारों की खेप बरामद की। जम्मू कश्मीर पुलिस ने मंगलवार को बताया कि पाकिस्तान कश्मीर के आतंकियों तक हथियार पहुंचाने के लिए ड्रोन्स का इस्तेमाल कर रहा है। सोमवार रात भी नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर अखनूर से सटे एक गांव में हथियार गिराए गए। इनमें दो एके-47 राइफल, इसकी 90 राउंड गोलियां, तीन मैगजीन और एक स्टार पिस्टल शामिल थे। शुरुआती सबूतों से लगता है कि हथियारों को कश्मीर पहुंचाने में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की भूमिका है। अखनूर में बॉर्डर के 12 किमी. के दायरे में दो जगहों पर हथियार मिले इससे पहले, सुरक्षाबलों को सोमवार रात सीमा पार से आतंकियों के लिए हथियार भेजे जाने की जानकारी मिली थी। इसके बाद सर्च ऑपरेशन चलाकर सुरक्षाबलों ने हथियार बरामद किए। अखनूर में बॉर्डर के 12 किमी. के दायरे में दो जगहों पर हथियार मिले हैं। जुलाई में भी सेना ने एक ड्रोन शूट करके गिराया था जम्मू-कश्मीर के कठुआ के पनसर इलाके में बीएसएफ ने जुलाई में एक पाकिस्तानी ड्रोन को शूट करके गिराया था। पाकिस्तान में बने इस ड्रोन के जरिए आतंकियों को हथियार पहुंचाने की कोशिश हो रही थी। इसमें एक अमेरिकी राइफल, दो मैग्जीन और दूसरे हथियार थे। ये कंसाइनमेंट किसी अली भाई के नाम पर आया था। पिछले साल 5 अगस्त को जम्मू- कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद से ही पाकिस्तान की ओर से ड्रोन के जरिए हथियार भेजने की कोशिश हो रही है। 2019 अक्टूबर में ड्रोन के जरिए आतंकियों को सैटेलाइट फोन भेजने की बात भी सामने आई थी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें जम्मू-कश्मीर के अखनूर में बॉर्डर से 12 किमी. के दायरे में दो जगहों से सुरक्षाबलों ने इन हथियारों को बरामद किया। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/jammu-and-kashmir-police-claim-pakistan-sent-drones-at-night-on-loc-it-dropped-rifles-and-pistols-to-help-terrorists-127743476.html

चीन बोला- दोनों देशों में फ्रंटलाइन पर ज्यादा सैनिकों को न भेजने पर सहमति बनी; भारत ने कहा- पीछे हटने की शुरुआत चीन करे



		 चीन बोला- दोनों देशों में फ्रंटलाइन पर ज्यादा सैनिकों को न भेजने पर सहमति बनी; भारत ने कहा- पीछे हटने की शुरुआत चीन करे 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
भारत और चीन के बीच लद्दाख में जारी तनाव को कम करने के लिए छठवीं बार सोमवार को सैन्य (कॉर्प्स कमांडर्स) स्तर पर बातचीत हुई। चीन के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने मंगलवार रात कहा कि चीन और भारत दोनों में फ्रंटलाइन पर ज्यादा सैनिक भेजे जाने को रोकने के लिए सहमति बनी है। इसके साथ ही दोनों पक्ष ग्राउंड पर मौजूदा स्थिति को बदलने पर एकपक्षीय फैसला नहीं लेने के लिए तैयार हुए हैं। दोनों देश इस बात के लिए भी राजी हो गए हैं कि आगे से ऐसा कोई एक्शन नहीं लिया जाएगा जिससे स्थिति और ज्यादा बिगड़े। China, #India both agree to stop sending more troops to frontline, refrain from unilaterally changing the situation on the ground, and avoid taking any actions that may complicate the situation, China’s National Defense Ministry spokesperson said on Tue night pic.twitter.com/XXYc2C6T6k — Global Times (@globaltimesnews) September 22, 2020 दोनों देशों के बीच लगातार बातचीत जारी करने को लेकर सहमति बनी इससे पहले, सोमवार को हुई बैठक में पहली बार इसमें विदेश मंत्रालय के अफसर भी शामिल हुए। 13 घंटे तक चली बातचीत में भारत ने चीन से कहा कि वह पूर्वी लद्दाख में उन पोजिशन पर वापस जाए, जो अप्रैल-मई 2020 के पहले थीं। इसके लिए डेडलाइन तय हो। बैठक में दोनों देशों के बीच तनाव को दूर करने के लिए सातवें राउंड की बैठक को लेकर भी सहमति बनी। बैठक में 14 कॉर्प्स चीफ लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह और लेफ्टिनेंट जनरल पीजीके मेनन ने हिस्सा लिया। मेनन अगले महीने लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर की जगह लेने जा रहे हैं। वहीं,चीन की तरफ से दक्षिण जिन जियांग सैन्य क्षेत्र के कमांडर मेजर जनरल लियू लिन आए। खास बात ये है कि इस बैठक में पहली बार विदेश मंत्रालय के ईस्ट एशिया मामलों के संयुक्त सचिव नवीन श्रीवास्तव भी शामिल हुए। बैठक सोमवार को सुबह 10 बजे से रात 11 बजे तक चली। भारत ने कड़ा रूख अपनाया भारत ने साफ कहा कि चीन को सभी विवादित पॉइंट से फौरन पीछे हटना चाहिए। इसके अलावा, पीछे हटने की शुरुआत चीन करे, क्योंकि विवाद की वजह चीनी सेना है। बैठक में कहा गया कि अगर चीन पूरी तरह से वापस जाने और पहले जैसी स्थिति बहाल नहीं करेगा, तो भारतीय सेना सर्दियों में भी सीमा पर डटी रहेगी। चीन ने पैन्गॉग त्सो के दक्षिणी इलाके को खाली करने को कहा चीन ने कहा, 'भारत को पैन्गॉग त्सो के दक्षिणी इलाके की उन पोजिशन को खाली करना चाहिए, जिन पर 29 अगस्त के बाद कब्जा किया है।' उधर, भारत ने भी अप्रैल-मई 2020 के पहले की स्थिति को बहाल करने पर जोर दिया। मीटिंग का एजेंडा पहले तय किया गया था कॉर्प्स कमांडर्स की बैठक के पहले भारत ने मीटिंग का एजेंडा और मुद्दे पहले तय कर लिए थे। इन पर पिछले हफ्ते एक हाई-लेवल की मीटिंग में चर्चा हुई थी। इसमें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, सीडीएस जनरल बिपिन रावत और आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकंद नरवणे शामिल हुए थे। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें सैन्य स्तर की यह बातचीत एलएसी के पास चीन के इलाके मोल्डो में हुई। बैठक 13 घंटे चली। इस दौरान सीमा पर सेना अलर्ट पर थी। लद्दाख में सीमा के नजदीक सुखोई जेट ने उड़ान भरी। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/india-china-ladakh-border-tension-latest-news-udpate-commander-level-talks-today-on-eastern-ladakh-127743217.html

रिपोर्ट में दावा- भारत से सटी सीमा पर चीन ने 3 साल में 13 नए सैन्य ठिकाने बनाए, इनमें 5 एयर डिफेंस यूनिट्स और 5 हेलिपैड



		 रिपोर्ट में दावा- भारत से सटी सीमा पर चीन ने 3 साल में 13 नए सैन्य ठिकाने बनाए, इनमें 5 एयर डिफेंस यूनिट्स और 5 हेलिपैड 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
चीन ने भारत से सटी सीमा के नजदीक पिछले 3 साल में 13 नए सैन्य ठिकाने बनाए हैं। इनमें तीन एयरबेस, 5 एयर डिफेंस यूनिट्स और पांच हेलिपैड शामिल हैं। चीन ने 2017 में हुए डोकलाम विवाद के बाद इन ठिकानों को तैयार करना शुरू किया था। हालांकि, जो पांच हेलिपैड तैयार हुए हैं उनमें से चार को बनाने का काम इस साल जून में उस वक्त शुरू हुआ था, जब लद्दाख में दोनों देशों के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई थी। यह दावा अमेरिकी सिक्योरिटी एंड इंटेलिजेंस कंसल्टेंसी स्ट्राटफोर ने मंगलवार को जारी अपनी रिपोर्ट में किया। सैन्य ठिकानों की संख्या दुगनी कर रहा चीन रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसा लगता है कि डोकलाम विवाद के बाद चीन ने अपनी रणनीति बदल दी। उसने भारत की सीमा से सटे जगहों पर सैन्य ठिकानों की संख्या दोगुनी करनी शुरू कर दी है। चीन की मिलिट्री ने पहले से मौजूद एयरबेस पर चार एयर डिफेंस सिस्टम लगाए हैं। इसने कई रनवे तैयार किए हैं और लड़ाकू विमानों को छिपाने के लिए शेल्टर्स भी बनाए हैं। वह अपने सैन्य ठिकानों पर तैनात किए जाने वाले लड़ाकू विमानों की संख्या में भी इजाफा कर रहा है। चीन ने एलएसी के पास मिसाइल साइट बनाईं ओपन सोर्स सैटेलाइट की इमेज के आकलन से कई नई बातें पता चली हैं। चीन ने तिब्बत में मानसरोवर झील के किनारे सतह से सतह पर वार करने वाली मिसाइल साइट बना ली है। इसके अलावा, डोकलाम और सिक्किम के विवादित इलाकों में भी ऐसी ही साइट तैयार कर रहा है। स्ट्राटफोर की रिपोर्ट के मुताबिक, 2016 से पहले तक तिब्बत के पास चीन का सिर्फ एक हेलिपैड और एक एयर डिफेंस साइट था। पिछले एक साल के अंदर इसने चार एयरबेस, चार हेलिपैड और एक एयर डिफेंस साइट तैयार की हैं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें बेल्जियम की सिक्योरिटी एंड इंटेलिजेंस कंसल्टेंसी स्ट्राटफोर ने दावा किया कि चीन भारत से सटी सीमा पर अपनी ताकत दोगुनी करना चाहता है।- फाइल फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ /international/news/india-china-lac-standoff-news-update-people-liberation-army-builds-thirteen-military-air-bases-on-line-of-actual-control-in-last-three-years-127743236.html

मोदी 24 को लोगों से फिटनेस को लेकर बातचीत करेंगे, विराट कोहली और एक्टर मिलिंद सोमण भी तंदुरुस्ती के राज बताएंगे



		 मोदी 24 को लोगों से फिटनेस को लेकर बातचीत करेंगे, विराट कोहली और एक्टर मिलिंद सोमण भी तंदुरुस्ती के राज बताएंगे 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 सितंबर को लोगों से फिटनेस को लेकर बात करेंगे। इस कार्यक्रम को फिट इंडिया डायलॉग नाम दिया गया है। प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देशभर में फिटनेस को बढ़ावा देने वाले लोगों से रूबरू होंगे। पिछले साल अगस्त में फिट इंडिया मूवमेंट शुरू हुआ था। From encouraging people to include physical activities in their daily life then to seeing them live a fit life now, we've come a long way. 2 days to go for you to join us in a new journey. #FitIndiaMovement #NewIndiaFitIndia @KirenRijiju @DGSAI @RijijuOffice @PIB_India @PMOIndia pic.twitter.com/WUlWtV9ySR — Fit India Movement (@FitIndiaOff) September 22, 2020 विराट कोहली भी होंगे शामिल इस कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे लोग देश और प्रधानमंत्री से अपनी फिटनेस के राज साझा करेंगे। प्रधानमंत्री भी फिटनेस को लेकर अपनी सोच को देश के साथ शेयर करेंगे। इस कार्यक्रम में जितने लोग हिस्सा ले रहे हैं, उनमें भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और मॉडल-अभिनेता मिलिंद सोमण भी शामिल हैं। फिट इंडिया मूवमेंट के एक साल फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत 29 अगस्त 2019 को की गई थी। यह प्रधानमंत्री की खुद की पहल थी, इसपर अमल करने की जिम्मेदार खेल और युवा कल्याण मंत्रालय को दी गई थी। कोरोना की वजह से फिट इंडिया मूवमेंट की सालगिरह अगस्त की बजाय सितंबर में हो रही है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें 24 सितंबर को फिट इंडिया मूवमेंट की पहली वर्षगांठ होगी, फिट इंडिया डायलॉग के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोगों से बात करेंगे। (फाइल फोटो) [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/on-september-24-the-fit-india-movement-is-going-to-begin-under-the-fit-india-dialog-prime-minister-modi-will-talk-to-the-people-of-the-country-on-fitness-127743094.html

राज्यसभा के बाद लोकसभा से भी विपक्ष का बायकॉट, कहा- 8 सांसदों का निलंबन वापस लेने समेत 4 मांगें पूरी की जाएं



		 राज्यसभा के बाद लोकसभा से भी विपक्ष का बायकॉट, कहा- 8 सांसदों का निलंबन वापस लेने समेत 4 मांगें पूरी की जाएं 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
संसद के मानसून सत्र का मंगलवार को नौवां दिन है। संसद के दोनों सदनों में विपक्षी दलों के 8 सांसदों के निलंबन का मुद्दा उठा। इसके अलावा, कृषि बिलों के विरोध में कांग्रेस और दूसरे विपक्षी दलों ने राज्यसभा के बाद लोकसभा की कार्यवाही का भी बायकॉट किया। राज्यसभा सांसद गुलाम नबी आजाद ने कहा कि जब तक सांसदों का निलंबन वापस नहीं लिया जाता और कृषि बिल से जुड़ी चिताएं दूर नहीं होतीं, तब तक संसद सत्र का बायकॉट जारी रखेंगे। इस बीच, कृषि से जुड़ा तीसरा एसेंशियल कमोडिटीज (अमेंडमेंट) बिल राज्यसभा में पास हो गया। प्रह्लाद जोशी ने कहा- एक सदन की घटना पर दूसरे सदन में चर्चा नहीं हो सकती केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने लोकसभा में कहा, 'कांग्रेस के दांत खाने के और हैं, दिखाने के और। वे सदन में एक बात कहते हैं और सदन के बाहर दूसरी बात कहते हैं। जो लोग प्रदर्शन कर रहे हैं, वे किसान नहीं हैं। ये लोग कांग्रेस से जुड़े हैं। देश यह बात जानता है। यह बदलाव किसानों की मदद करेगा। उनकी आय बढ़ेगी।' लोकसभा में संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा, 'एक सदन में क्या होता है, इसकी चर्चा दूसरे सदन में कभी नहीं हो सकती। यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि अब इस पर चर्चा की जा रही है। उपसभापति की पिटाई करने की हद तक ये लोग गए, पर मैं इसकी चर्चा नहीं करना चाहता।' दरअसल, कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा था कि राज्यसभा और लोकसभा जुड़वा भाई जैसे हैं... अगर एक परेशान है तो दूसरा चिंतित होगा ही। हमारे मुद्दे कृषि बिल से जुड़े हैं। हम चाहते हैं कि इन्हें वापस लिया जाए। अगर तोमरजी इसे वापस ले लें तो हमें सत्र को आगे चलाने में कोई समस्या नहीं है। विपक्ष की 4 मांगें- सरकार ऐसा बिल लाए जिससे कोई प्राइवेट खरीदार MSP से नीचे किसानों की उपज नहीं खरीद सके।स्वामीनाथन कमीशन की सिफारिशों के आधार पर MSP तय की जाए।एफसीआई जैसी सरकारी एजेंसियां किसानों की उपज MSP से नीचे नहीं खरीदें।8 सांसदों का निलंबन वापस लिया जाए। विपक्ष के बायकॉट के बाद भी राज्यसभा की कार्यवाही चलती रही। वेंकैया नायडू की अपील- सदन में चर्चा जारी रखें राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने मंगलवार को विपक्ष के बायकॉट पर कहा, "बायकॉट के फैसले पर फिर से विचार करें और सदन में चर्चा जारी रखें। सांसदों के व्यवहार की वजह से उनके खिलाफ कार्रवाई की गई। हम किसी सदस्य के खिलाफ नहीं हैं। सांसदों के निलंबन से मैं भी खुश नहीं हूं।"केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि निलंबित सांसद अपने व्यवहार पर माफी मांग लें तो निलंबन वापस लेने पर विचार किया जाएगा। हमें उम्मीद है कि सदन में इस तरह के हंगामे का कांग्रेस भी विरोध करेगी।एनसीपी नेता शरद पवार ने कहा, 'वह सांसदों के निलंबन के खिलाफ चल रहे आंदोलन का हिस्सा बनेंगे। इनके समर्थन में एक दिन का उपवास करेंगे।'8 निलंबित सांसदों ने आज सुबह 11 बजे अपना धरना खत्म कर दिया। वे संसद परिसर में गांधी प्रतिमा के सामने सोमवार दोपहर से धरने पर बैठे थे। (निलंबित सांसदों ने रात भर धरना दिया- पूरी खबर यहां पढ़ें) इन तीन विधेयकों का हो रहा विरोध, तीनों लोकसभा और राज्यसभा में पास फार्मर्स प्रोड्यूस ट्रेड एंड कॉमर्स (प्रमोशन एंड फेसिलिटेशन) बिल।फार्मर्स (एम्पावरमेंट एंड प्रोटेक्शन) एग्रीमेंट ऑफ प्राइस एश्योरेंस एंड फार्म सर्विसेज बिल।एसेंशियल कमोडिटीज (अमेंडमेंट) बिल। कृषि बिलों पर हंगामे के बीच सरकार ने रबी की फसलों का MSP बढ़ाया कृषि बिलों के विरोध के बीच केंद्र ने पहली बार समय से पहले सितंबर में ही रबी की 6 फसलों का MSP 6% तक बढ़ा दिया है। गेहूं का MSP 50 रुपए बढ़ाकर 1975 रुपए प्रति क्विंटल कर दिया गया है। लोकसभा की कार्यवाही के दौरान कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सोमवार को बताया कि यह फैसला कैबिनेट की आर्थिक मामलों की समिति ने लिया है। (सरकार ने रबी की 6 फसलों पर MSP बढ़ाया- पूरी खबर यहां पढ़ें) विपक्ष की 18 पार्टियों ने राष्ट्रपति को पत्र लिखा दूसरी ओर कांग्रेस समेत 18 विपक्षी पार्टियों ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर कृषि बिलों पर साइन नहीं करने की अपील की। उधर, देश में कृषि बिलों के खिलाफ प्रदर्शन भी तेज हो गए हैं। पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में किसान संगठनों ने 25 सितंबर को किसान कर्फ्यू की बात कही है। राजस्थान के किसान इसमें शामिल होने पर 23 सितंबर को फैसला करेंगे। हालांकि, राज्य में सोमवार को सभी 247 कृषि मंडियां बंद रखी गईं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें बायकॉट करने के बाद विपक्षी सांसदों ने संसद परिसर में नारेबाजी की। उनकी मांग है कि सरकार ऐसा बिल लाए जिससे MSP से नीचे फसलों की खरीद नहीं हो सके। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/parliament-monsoon-session-rajya-sabha-and-lok-sabha-news-and-updates-22-september-2020-127742923.html

याचिकाकर्ता की दलील- मुसलमानों को आस्तीन का सांप कहा जा रहा, सुप्रीम कोर्ट बोला- कोई प्रोग्राम पसंद नहीं तो उपन्यास पढ़िए



		 याचिकाकर्ता की दलील- मुसलमानों को आस्तीन का सांप कहा जा रहा, सुप्रीम कोर्ट बोला- कोई प्रोग्राम पसंद नहीं तो उपन्यास पढ़िए 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
सुदर्शन टीवी के विवादास्पद कार्यक्रम यूपीएससी जिहाद कार्यक्रम के खिलाफ दायर याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को सुनवाई हुई। कोर्ट ने याचिकाकर्ता से कहा कि आपको कोई कार्यक्रम पसंद नहीं तो उसे न देखें। उसकी जगह उपन्यास पढ़ लें। जस्टिस डीवाई चंद्रचूड की अध्यक्षता वाली पीठ ने सुदर्शन टीवी के हलफनामे पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि उनसे यह जानकारी मांगी गई थी कि वे अपने कार्यक्रम में क्या बदलाव करेंगे, यह नहीं पूछा था कि किस चैनल ने क्या चलाया? सुदर्शन टीवी की ओर से वकील विष्णु शंकर जैन ने कहा कि उन्हें कार्यक्रम के प्रसारण की अनुमति मिले। वे कार्यक्रम के प्रसारण के लिए प्रोग्रामिंग के कोड का पालन करेंगे। कोर्ट ने चैनल द्वारा सभी एपिसोड देखने की पेशकश को भी ठुकरा दिया। ‘पूरी याचिका नहीं पढ़ी जाती’ जस्टिस चंद्रचूड ने कहा, हम एपिसोड नहीं देखेंगे। अगर 700 पन्नों की किताब के खिलाफ कोई याचिका हो तो वकील कोर्ट में यह दलील नहीं देते कि जज को पूरी किताब पढ़नी चाहिए। मामले की अगली सुनवाई बुधवार को होगी। जामिया के तीन छात्रों की ओर से वकील शादान फरासत ने कहा कि लोगों को मुसलमानों के खिलाफ भड़काया जा रहा है। उन्हें आस्तीन का सांप तक कहा जा रहा है। जस्टिस चंद्रचूड ने कहा कि अगर आपको कोई कार्यक्रम पसंद नहीं है तो न देखें, बल्कि कोई उपन्यास पढ़ें। अगर कार्यक्रम किसी जकात फाउंडेशन के खिलाफ है तो हम समय बर्बाद नहीं करेंगे। कार्यक्रम मुसलमानों को दुश्मन बता रहा- याचिकाकर्ता फरासत ने कहा कि बहु-सांस्कृतिक समाज में न्यायपालिका की जिम्मेदारी है कि व्यक्तिगत सम्मान की रक्षा हो। यह कार्यक्रम मुसलमानों को दुश्मन बता रहा है। इस तरह की हेट स्पीच की वजह से ही हिंसक घटनाएं होती हैं। मुसलमानों को प्रतीकात्मक रूप में दाढ़ी व हरी टी-शर्ट में दिखाया जा रहा है। जस्टिस चंद्रचूड ने कहा कि कोर्ट अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता में इस हद तक दखल नहीं दे सकती। हम इस कार्यक्रम की प्रस्तुति पर बहुत विस्तार में नहीं जा सकते। हम यह नहीं कह सकते कि दाढ़ी और हरी टीशर्ट वाले व्यक्ति का चित्र न दिखाया जाए। डिजिटल मीडिया के मद्देनजर दिशा-निर्देश जारी करने की जरूरत: केंद्र सुदर्शन टीवी मामले में केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट ने एक हलफनामा दायर किया है। केंद्र सरकार ने अपने हलफनामे के माध्यम से कहा है कि वेब आधारित डिजिटल मीडिया को नियंत्रित किया जाना चाहिए। जिसमें वेब पत्रिकाएं और वेब आधारित समाचार चैनल और वेब आधारित समाचार पत्र शामिल होते हैं। ये मौजूदा समय में पूरी तरह से अनियंत्रित हैं। डिजिटल मीडिया स्पेक्ट्रम और इंटरनेट का उपयोग करता है, जोकि सार्वजनिक संपत्ति है। मौजूदा समय में बड़े पैमाने पर डिजिटल मीडिया का विस्तार हो चुका है। जहां पर बहुत से बेतुके विडियो, बेतुकी खबरें और तथ्य चलाए जाते हैं। जिससे लोग प्रभावित होते हैं। ऐसे में कानूनी तौर पर इसके लिए दिशा-निर्देश व नियम तय करने जरूरी हैं। हमने सरकार को दान की जानकारी दी: जकात फाउंडेशन सुदर्शन टीवी के यूपीएससी जिहाद कार्यक्रम से विवादों में आए जकात फाउंडेशन ने सफाई में कहा कि उन्हें दान में मिले 30 करोड़ रुपए में सिर्फ 1.5 करोड़ उन संस्थाओं से मिले हैं, जिन्हें गलत बताया जा रहा है। उन्होंने अपने सभी विदेशी दानदाताओं की जानकारी सरकार को दी है। सरकार ने उन्हें कभी चंदा लेने से मना नहीं किया। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें जस्टिस चंद्रचूड ने कहा कि कोर्ट अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता में इस हद तक दखल नहीं दे सकती। कार्यक्रम की प्रस्तुति पर बहुत विस्तार में नहीं जा सकते। -फाइल फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/justice-chandrachud-said-on-the-petition-if-you-do-not-like-any-program-do-not-watch-read-any-novel-127742953.html

8 निलंबित सांसद पूरी रात धरने पर रहे; सुबह उपसभापति चाय लेकर पहुंचे तो सांसदों ने मना कर दिया; 2 बार बिहार का जिक्र कर मोदी बोले- हरिवंश जी बड़े दिल वाले हैं



		 8 निलंबित सांसद पूरी रात धरने पर रहे; सुबह उपसभापति चाय लेकर पहुंचे तो सांसदों ने मना कर दिया; 2 बार बिहार का जिक्र कर मोदी बोले- हरिवंश जी बड़े दिल वाले हैं 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
कृषि बिलों के विरोध में हंगामा करने पर राज्यसभा से निलंबित 8 विपक्षी सांसद रातभर धरने पर बैठे रहे। आज सुबह करीब 11 बजे उन्होंने धरना खत्म कर दिया। कई नेताओं ने बताया कि इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है, जब संसद परिसर में रातभर प्रदर्शन चला हो। हालांकि, विधानसभाओं में ऐसा होता रहा है। धरना दे रहे सांसदों के लिए राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश आज सुबह की चाय लेकर पहुंचे, लेकिन सांसदों ने उनकी चाय पीने से मना कर दिया। #WATCH: Rajya Sabha Deputy Chairman Harivansh brings tea for the Rajya Sabha MPs who are protesting at Parliament premises against their suspension from the House. #Delhi pic.twitter.com/eF1I5pVbsw — ANI (@ANI) September 22, 2020 दिलचस्प बात ये भी है कि उपसभापति से असंसदीय व्यवहार करने की वजह से ही सांसदों को निलंबित किया गया है। इन सांसदों ने रविवार को कृषि बिलों के विरोध में राज्यसभा में हंगामा किया था। सदन की रूलबुक फाड़ दी और माइक तोड़ने की कोशिश भी की थी। मोदी ने 2 बार बिहार का जिक्र कर कहा- हरिवंश जी से प्रेरणा मिलती है प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा, "हरिवंश जी उन लोगों के लिए चाय लेकर पहुंचे, जिन्होंने कुछ दिन पहले उन पर हमला किया, उन्हें बेइज्जत किया। इससे पता चलता है कि हरिवंश जी कितने विनम्र और बड़े दिल वाले हैं। मैं देश की जनता के साथ उन्हें बधाई देता हूं।" मोदी ने दूसरे ट्वीट में कहा "बिहार की महान धरती सदियों से हमें लोकतंत्र के मूल्यों की सीख दे रही है। इस खूबसूरत परंपरा को आगे बढ़ाते हुए बिहार के सांसद और राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश जी हमें प्रेरणा दे रहे हैं। आज सुबह उन्होंने जो किया, उससे लोकतंत्र से प्यार करने वाले हर आदमी को गर्व होगा।" For centuries, the great land of Bihar has been teaching us the values of democracy. In line with that wonderful ethos, MP from Bihar and Rajya Sabha Deputy Chairperson Shri Harivansh Ji’s inspiring and statesman like conduct this morning will make every democracy lover proud. — Narendra Modi (@narendramodi) September 22, 2020 हंगामे, धरने के जवाब में हरिवंश 24 घंटे का उपवास रखेंगे राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने सभापति वेंकैया नायडू और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को चिट्ठी लिखी है। उन्होंने सदन में विपक्ष के रवैए से हुए अपमान पर दुख जताया है। इसके विरोध में उन्होंने 24 घंटे का उपवास रखने का ऐलान किया है। हरिवशं की चिट्ठी पर मोदी ने कहा है कि इसमें सच्चाई भी है और संवेदनाएं भी। सभी देशवासी इसे जरूर पढ़ें। आप के सांसद ने कहा- किसान विरोधी कानून बिना वोटिंग पास हुआ आप के सांसद संजय सिंह ने ट्वीट कर कह, "यह व्यक्तिगत रिश्ते निभाने का वक्त नहीं है। हम किसानों के लिए धरने पर बैठे हैं। उपसभापति जी मिलने आए, हमने उनसे भी कहा कि संविधान को ताक पर रखकर किसान विरोधी काला कानून बिना वोटिंग के पास किया गया, जबकि भाजपा अल्पमत में थी और आप भी इसके लिये जिम्मेदार हैं।" उप सभापति जी को हमने कहा “किसान विरोधी काला क़ानून वापस लो” pic.twitter.com/pUpKfyyxQg — Sanjay Singh AAP (@SanjayAzadSln) September 22, 2020 2 सांसदों की उम्र 65 से ज्यादा, डायबिटिक भी हैं धरने पर बैठे सांसदों ने अपने-अपने घरों से तकिया और कंबल ही नहीं, बल्कि मच्छर भगाने की दवा भी मंगवा ली। इमरजेंसी के लिए मौके पर एक एंबुलेंस की व्यवस्था भी की गई है। उनकी बड़ी चिंता अपने दो साथियों- कांग्रेस के रिपुन बोरा और सीपीआई के ई करीम को लेकर है, क्योंकि दोनों की उम्र 65 साल से ज्यादा है और दोनों ही डायबिटीज के पेशेंट हैं। इन 8 सांसदों का निलंबन हुआ है डेरेक ओ’ब्रायन- तृणमूलडोला सेन- तृणमूलरिपुन बोरा- कांग्रेसराजीव सातव- कांग्रेससैयद नजीर- कांग्रेससंजय सिंह- आपई करीम- सीपीआईकेके रागेश- सीपीआई दूसरे विपक्षी दलों के नेताओं के घर से खाना आया सस्पेंड हुए सांसदों को सपोर्ट करने के लिए सोमवार रात दूसरे विपक्षी दलों के सांसद भी पहुंचे। एक सांसद ने बताया कि विपक्ष के नेताओं के घरों से बारी-बारी से खाने-पीने की चीजें आ रही हैं, ताकि धरने पर बैठे लोगों का शुगर लेवल कम नहीं हो। शिवसेना के संजय राउत, एनसीपी की सुप्रिया सुले, डीएमके की कनिमोझी और तिरुचि सिवा धरना दे रहे सांसदों के लिए इडली लेकर पहुंचे। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें निलंबित सांसदों का धरना जारी है। राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश उनके लिए सुबह की चाय लेकर पहुंचे थे। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/rajya-sabha-deputy-chairman-harivansh-brought-tea-for-the-rajya-sabha-mps-who-are-protesting-against-their-suspension-127742840.html

पूर्व चीफ जस्टिस गोगोई ने कहा- अगर बच्चे पैदा करने पर कोई रोक नहीं, तो उनके भूखे रहने पर सरकार जिम्मेदार नहीं, जानिए इस दावे का सच



		 पूर्व चीफ जस्टिस गोगोई ने कहा- अगर बच्चे पैदा करने पर कोई रोक नहीं, तो उनके भूखे रहने पर सरकार जिम्मेदार नहीं, जानिए इस दावे का सच 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
क्या हो रहा है वायरल : सोशल मीडिया पर रंजन गोगोई नाम के ट्विटर हैंडल से किए गए एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट शेयर किया जा रहा है। ट्वीट में लिखा है, 'अगर, बच्चा पैदा करना व्यक्तिगत अधिकार है, अगर इस पर रोक नहीं लगाई जा सकती, तो फिर उनके भूखे रहने पर सरकार जिम्मेदार कैसे है' और सच क्या है ? रंजन गोगोई का बताकर वायरल हो रहे बयान को सर्च करने पर पता चला कि ये मैसेज सोशल मीडिया पर कई यूजर शेयर कर रहे हैं। अगर बच्चे पैदा करना व्यक्तिगत अधिकार है , जिस पर रोक नहीं लगाई जा सकती है! तो फिर उनके भूखे, बेरोजगार रहने पर सरकार जिम्मेदार क्यों ? — अलखनंदा (@Alakhnanda5) September 21, 2020 जिस ट्विटर हैंडल का ट्वीट वायरल हो रहा है। उस पर ब्लू टिक नहीं है। इसी से स्पष्ट हो रहा है ये पूर्व चीफ जस्टिस का ऑफिशियल ट्विटर हैंडल नहीं है।ट्विटर सर्च करने पर हमें पता चला कि रंजन गोगोई का ट्विटर पर कोई अकाउंट ही नहीं है। न्यूज एजेंसी या नामचीन हस्तियों द्वारा कई बार रंजन गोगोई से संबंधित ट्वीट किए गए। इसमें किसी भी ट्विटर हैंडल को टैग नहीं किया गया है। I congratulate Justice Ranjan Gogoi Ji on taking oath as the Chief Justice of India. His experience, wisdom, insight and legal knowledge will benefit the country greatly. My best wishes for a fruitful tenure. pic.twitter.com/UGT3SIjEms — Narendra Modi (@narendramodi) October 3, 2018 Delhi: Former Chief Justice of India Ranjan Gogoi takes oath as Rajya Sabha MP. President Ram Nath Kovind nominated him to the Rajya Sabha. pic.twitter.com/pnQ2uTWVfH — ANI (@ANI) March 19, 2020 अलग-अलग कीवर्ड सर्च करने से भी इंटरनेट पर हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली। जिससे पुष्टि होती हो कि पूर्व चीफ जस्टिस ने जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कोई बयान दिया है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Fact check: Former Chief Justice Gogoi said - It is not the government's responsibility to starve children, but those who produce them, know the truth of this statement going viral [...]

Click here to Read full Details Sources @ /no-fake-news/news/fact-check-former-chief-justice-gogoi-said-it-is-not-the-governments-responsibility-to-starve-children-but-those-who-produce-them-know-the-truth-of-this-statement-going-viral-127739721.html

मोदी ने कहा- संयुक्त राष्ट्र भरोसे के संकट से जूझ रहा है, बड़े सुधारों के बिना मौजूदा चुनौतियों का मुकाबला नहीं कर सकता



		 मोदी ने कहा- संयुक्त राष्ट्र भरोसे के संकट से जूझ रहा है, बड़े सुधारों के बिना मौजूदा चुनौतियों का मुकाबला नहीं कर सकता 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र (यूएन) भरोसे के संकट से जूझ रहा है और इस पर गौर किया जाना चाहिए। प्रधानमंत्री ने यह बात चार मिनट के एक वीडियो मैसेज में कही। यह मैसेज संयुक्त राष्ट्र महासभा की 75वीं सालगिरह पर हो रहे कार्यक्रम में यूएन हेडऑफिस से मंगलवार तड़के तीन बजे लाइव टेलिकास्ट किया गया। मोदी का यह मैसेज पहले से रिकॉर्ड किया हुआ था। उन्होंने कहा, “हम पुरानी व्यवस्था के साथ आज की चुनौतियों से मुकाबला नहीं कर सकते। बड़े सुधार नहीं हुए तो यूएन पर भरोसा खत्‍म होने का खतरा है। उन्‍होंने कहा कि आज की दुनिया आपस में जुड़ी हुई है, इसलिए हमें ऐसा बहुपक्षीय व्यवस्था चाहिए, जिसमें आज की वास्तविकता झलकती हो, सभी की आवाज सुनी जाती हो, जो वर्तमान चुनौतियों से निपटता हो और मानव कल्याण पर फोकस करता हो।’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत इस दिशा में सभी देशों के साथ मिलकर काम करने को तैयार है। यूएन की तारीफ भी की मोदी ने यूएन को आईना दिखाने के साथ ही उसकी तारीफ भी की। उन्होंने कहा कि यूएन ने भारत की वसुधैव कुटुम्बकम की सोच को दर्शाया है। यह सोच दुनिया को एक परिवार की तरह देखने की है। यूएन के कारण आज दुनिया एक बेहतर जगह है। हम उन सभी को श्रद्धांजलि देते हैं, जिन्होंने शांति और विकास के लिए काम किया। इसमें भारत ने आगे रहकर योगदान दिया। मोदी ने कहा, आज हम जो काम कर रहे हैं उसे स्वीकार किया जा रहा है, लेकिन टकराव रोकने, विकास तय करने, जलवायु परिवर्तन, असमानता घटाने और डिजिटल टेक्नोलॉजी का लाभ लेने जैसे मुद्दों पर अभी और काम करने की जरूरत है। महासभा का स्पेशल सेशन शुरू यूएन की 75वीं सालगिरह पर एक स्पेशल सेशन बुलाया गया है। सोमवार से इसकी वर्चुअल बैठक शुरू हुई है। कोरोना महामारी के कारण पहली बार यूएन के कार्यक्रम वर्चुअल हो रहे हैं। इसमें सभी देशों के राष्ट्राध्यक्ष वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सभा को संबोधित करेंगे। भारत यूएन सुरक्षा परिषद का अस्थायी सदस्य है भारत को इसी साल जून में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य चुना गया। महासभा में शामिल 193 देशों में से 184 देशों ने भारत का समर्थन किया था। भारत दो साल के लिए अस्थाई सदस्य चुना गया है। भारत के साथ आयरलैंड, मैक्सिको और नॉर्वे भी अस्थाई सदस्य चुने गए। भारत इससे पहले 1950-51, 1967-68, 1972-73, 1977-78, 1984-85, 1991-92 और 2011-12 में संयुक्त राष्ट्र महासभा का अस्थायी सदस्य चुना गया था। सुरक्षा परिषद में कुल 15 देश संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कुल 15 देश हैं। इनमें पांच स्थायी सदस्य हैं। ये हैं- अमेरिका, रूस, फ्रांस, ब्रिटेन और चीन। 10 देशों को अस्थाई सदस्यता दी गई है। हर साल पांच अस्थायी सदस्य चुने जाते हैं। अस्थाई सदस्यों का कार्यकाल दो साल होता है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें प्रधानमंत्री मोदी ने यूएन की तारीफ भी की। उन्होंने कहा- यूएन ने भारत की वसुधैव कुटुम्बकम की सोच को दर्शाया है। -फाइल फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/narendra-modi-video-message-to-united-nations-heres-latest-news-updates-127742961.html

2 महिला अफसरों को पहली बार वॉरशिप पर तैनात करेगी नौसेना, ये हेलिकॉप्टरों को ऑपरेट करेंगी; राफेल को भी पहली महिला पायलट जल्द मिलेगी



		 2 महिला अफसरों को पहली बार वॉरशिप पर तैनात करेगी नौसेना, ये हेलिकॉप्टरों को ऑपरेट करेंगी; राफेल को भी पहली महिला पायलट जल्द मिलेगी 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
भारतीय नौसेना के इतिहास में पहली बार दो महिला अफसर सब लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी और सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह को वॉर शिप पर तैनात किया जाएगा। इन दोनों को हेलिकॉप्टर स्ट्रीम में ऑब्जर्वर (एयरबोर्न टैक्टिशियंस) के पद के लिए चुना गया है। नौसेना में अब तक महिला अफसरों को फिक्स्ड विंग एयरक्राफ्ट तक सीमित रखा गया था। महिला अफसरों को जंगी जहाजों पर तैनाती की खबर ऐसे वक्त में सामने आई है, जब भारतीय वायुसेना ने भी महिला लड़ाकू पायलट को राफेल विमानों की फ्लीट को ऑपरेट करने के लिए शॉर्टलिस्ट किया है।अंबाला में भारतीय वायुसेना के राफेल स्क्वॉड्रन को पहली महिला फाइटर पायलट जल्द मिल जाएगी। वायुसेना की 10 महिला फाइटर पायलट प्रशिक्षण से गुजर रही हैं। इनमें से एक 17 स्क्वाड्रन के साथ राफेल जेट उड़ाएगी। फिलहाल, यह पायलट एयरफोर्स का मिग-21 एयरक्राफ्ट उड़ाती हैं। 10 सितंबर को अंबाला में 5 राफेल एयरक्राफ्ट को भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया था। भारत ने फ्रांस से 36 राफेल जेट खरीदे हैं। इनमें पांच भारत आ चुके हैं। बाकी 2021 के आखिर तक भारतीय वायु सेना के हिस्सा होंगे। नौसेना में 17 अफसरों को 'विंग्स' से सम्मानित किया गया सब लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी और सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह समेत 17 अफसरों को सोमवार को 'ऑब्जर्वर' के रूप में स्नातक होने पर "विंग्स" से सम्मानित किया गया। यह कार्यक्रम कोच्चि में आईएनएस गरुड़ पर हुआ। इनमें 13 अफसर रेगुलर बैच से हैं और चार महिला महिला अफसर शॉर्ट सर्विस कमीशन से हैं। ये अफसर भारतीय नौसेना और भारतीय तटरक्षक बल के समुद्री टोही जहाजों और पनडुब्बी-रोधी जंगी जहाजों में तैनात होंगे। सब लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी। इस प्रोग्राम में रियर एडमिरल एंटनी जॉर्ज ने कहा था कि यह एक ऐतिहासिक अवसर है। इनमें पहली बार महिलाओं को हेलिकॉप्टर ऑपरेशन की ट्रेनिंग दी जा रही है। 91 वें रेगुलर कोर्स और 22 वें एसएससी ऑब्जर्वर कोर्स के अफसरों को एयर नेविगेशन, फ्लाइंग प्रोसिजर, एयर वॉरफेयर, एंटी-सबमरीन वॉरफेयर का प्रशिक्षण दिया गया। सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह (बाएं) और सब लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी (दाएं)। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/indian-navy-news-today-update-sub-lieutenant-kumudini-tyagi-and-sub-lieutenant-riti-singh-deployed-on-navy-warships-127739706.html

निलंबित 8 सांसद पूरी रात संसद परिसर में धरने पर बैठे रहे, गाना गाकर विरोध जताया; 18 विपक्षी पार्टियों ने राष्ट्रपति से कृषि बिलों पर साइन नहीं करने की अपील की



		 निलंबित 8 सांसद पूरी रात संसद परिसर में धरने पर बैठे रहे, गाना गाकर विरोध जताया; 18 विपक्षी पार्टियों ने राष्ट्रपति से कृषि बिलों पर साइन नहीं करने की अपील की 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
संसद सत्र के नौवें दिन लोकसभा और राज्यसभा में कृषि बिलों को लेकर हंगामा हुआ। राज्यसभा की कार्यवाही शुरू होते ही सभापति वेंकैया नायडू ने सोमवार को 8 विपक्षी सांसदों को सदन की कार्यवाही से पूरे सत्र के लिए निलंबित कर दिया। इस बीच, कांग्रेस समेत 18 विपक्षी पार्टियों ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर बिलों पर साइन नहीं करने की अपील की। उधर, संसद परिसर स्थित गांधी प्रतिमा पर निलंबित सांसद डेरेक ओ’ब्रायन, राजीव सातव, संजय सिंह, केके रागेश, रिपुन बोरा, डोला सेन, सैयद नजीर हुसैन और इलामारन करीम रात भर धरने पर रहे। उन्होंने गाना गाकर विरोध जताया। #WATCH: Suspended Trinamool Congress MP Dola Sen sings a song in the Parliament premises. 8 suspended Rajya Sabha MPs are protesting at Gandhi statue against their suspension from the House. pic.twitter.com/o1LXmni7Sp — ANI (@ANI) September 21, 2020 राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने सोमवार देर शाम इन निलंबित सांसदों से मिलने पहुंचे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि रविवार को दो कृषि बिलों को बिना वोटिंग के पास कर दिया, जबकि विपक्षी सांसद विरोध कर रहे थे। इस मामले में सरकार और उपसभापति गलत थे, जबकि विपक्ष के सांसदों को सजा दी गई। सांसदों ने न उपसभापति को और न ही मार्शल को हाथ लगाया। दरअसल, रविवार को कृषि से जुड़े दो विधेयक राज्यसभा में पास हुए थे। चर्चा के दौरान इन विपक्षी सांसदों ने वेल में आकर नारेबाजी और हंगामा किया था और उपसभापति हरिवंश का माइक निकालने की कोशिश की थी। इन सभी पर उपसभापति के साथ असंसदीय व्यवहार करने का आरोप है। (पूरी खबर यहां पढ़ें) कांग्रेस, एनसीपी और टीएमसी समेत 18 पार्टियों ने राष्ट्रपति से अपील की कांग्रेस, एनसीपी, टीएमसी, एसपी समेत 18 पार्टियों ने राष्ट्रपति को एक पत्र लिखा। इसमें कृषि बिल मामले में हस्तक्षेप करने की अपील की। विपक्ष का आरोप है कि केंद्र सरकार इन बिलों के जरिए देश में अपना एजेंडा लागू करना चाहती है। दरअसल, राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के बाद यह बिल कानून बन जाएंगे।उधर, कांग्रेस ने इन बिलों के विरोध में 24 सितंबर से राष्ट्रव्यापी आंदोलन की घोषणा की है। कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि प्रजातंत्र का गला घोंटा जा रहा है। पहले नोटबंदी से व्यापार बंदी और अब कृषि बिलों से खेत बंदी की जा रही है। हमने जन आंदोलन की तैयारी कर ली है। अगले 72 घंटे में कांग्रेस राज्यों में और फिर राजभवन के सामने प्रदर्शन करेगी। रविवार को टीएमसी सांसद डेरेक ओ’ब्रायन ने उपसभापति के सामने रूल बुक फाड़ दी थी। अपडेट्स... सभापति वेंकैया ने उपसभापति हरिवंश पर कार्रवाई की मांग को खारिज कर दिया। कृषि मंत्री के जवाब पर बहस की मांग खारिज होने पर 12 विपक्षी दलों ने रविवार को हरिवंश के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दिया था। वेंकैया ने कहा कि कल जो राज्यसभा में हुआ, उसे अच्छा नहीं कहा जा सकता।पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ट्वीट किया, ‘‘8 सांसदों को निलंबित किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। ये सरकार के तानाशाही रवैये को दिखाता है। इससे यह भी पता चलता है कि सरकार का लोकतांत्रिक मूल्यों में विश्वास नहीं है। हम फासिस्ट सरकार के खिलाफ संसद और सड़क पर लड़ते रहेंगे।’’ Suspension of the 8 MPs who fought to protect farmers interests is unfortunate & reflective of this autocratic Govt’s mindset that doesn’t respect democratic norms & principles. We won't bow down & we'll fight this fascist Govt in Parliament & on the streets.#BJPKilledDemocracy — Mamata Banerjee (@MamataOfficial) September 21, 2020 फिल्म इंडस्ट्री में ड्रग्स और दूसरे मुद्दों को लेकर भाजपा सांसद रूपा गांगुली कुछ देर के लिए संसद में धरने पर बैठ गईं। उनका कहना था कि मुंबई फिल्म इंडस्ट्री लोगों की जान लेती है, उन्हें ड्रग्स एडिक्ट बनाती है और महिलाओं को बेइज्जत करती है। फिर भी मुंबई पुलिस चुप बैठी रहती है। रूपा गांगुली संसद परिसर में धरने पर बैठीं। शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल के साथ पार्टी के नेताओं ने किसान बिलों के मुद्दे पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। मीटिंग के बाद सुखबीर सिंह बादल ने बताया कि उन्होंने राष्ट्रपति पर बिलों को की मांग की है। किसान बिलों के विरोध में अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर ने पिछले हफ्ते मोदी कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया था। सुप्रिया सुले ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की तारीफ की एनसीपी की सांसद सुप्रिया सुले ने सोमवार को लोकसभा में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की तारीफ की। उन्होंने कहा, 'कोरोना के दौर में जब पूरी दुनिया कठिन दौर से गुजर रही है, मैं सोचती हूं कि वित्त मंत्रालय नियमित तौर पर दूसरे विभागों से अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। हमारे बीच में गहरे मतभेद हो सकते हैं, लेकिन मैं वित्त मंत्री और उनके राज्य मंत्री को बधाई देती हूं। दो लोग ऐसे रहे जो ऐसी चीजों के लिए बिल लेकर आए जिन्हें तत्काल ठीक करने की जरूरत थी।' आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें निलंबन के बाद भी सांसद राज्यसभा से बाहर आने को तैयार नहीं थे, फिर विरोध जताते हुए संसद परिसर में धरने पर बैठ गए। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/parliament-monsoon-session-rajya-sabha-and-lok-sabha-news-and-updates-21-september-2020-127739435.html

कंगना ने दीपिका पर कसा तंज; नए तरह का कोरोना टेस्ट आ रहा है; अब महिला फाइटर पायलट भी उड़ाएंगी राफेल



		 कंगना ने दीपिका पर कसा तंज; नए तरह का कोरोना टेस्ट आ रहा है; अब महिला फाइटर पायलट भी उड़ाएंगी राफेल 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
देश में कोरोना के मरीजों का आंकड़ा 55 लाख के पार हो चुका है। अच्छी खबर यह है कि ठीक होने वाले मरीजों की संख्या भी 44 लाख के पार हो चुकी है। बहरहाल, शुरू करते हैं मॉर्निंग न्यूज ब्रीफ... आज इन 5 इवेंट्स पर रहेगी नजर 1. आईपीएल में आज राजस्थान रॉयल और चेन्नई सुपरकिंग्स आमने-सामने होंगे। टॉस शाम 7 बजे होगा। मैच साढ़े सात बजे शुरू होगा। 2. कंगना रनोट के ऑफिस को बीएमसी द्वारा तोड़ने के मामले में मुंबई हाईकोर्ट में सुनवाई होगी। 3. मराठा आरक्षण को लेकर पुणे समेत राज्य के कुछ हिस्सों में प्रदर्शन का ऐलान। 4. सीएम योगी उत्तर प्रदेश में फिल्म सिटी निर्माण को लेकर आज बैठक करेंगे। फिल्म जगत के 25 लोग शामिल होंगे। 5. सीएम शिवराज सिंह चौहान राज्य के 63 हजार किसानों-मछली पालने वालों को क्रेडिट कार्ड देंगे। फसल के कर्ज के लिए सहकारी समितियों को 800 करोड़ रु. की मदद दी जाएगी। अब कल की 8 महत्वपूर्ण खबरें 1. राज्यसभा के 8 विपक्षी सांसद पूरे सत्र के लिए निलंबित राज्यसभा सभापति वेंकैया नायडू ने सोमवार को 8 विपक्षी सांसदों को सदन की कार्यवाही से पूरे सत्र के लिए निलंबित कर दिया। इनमें डेरेक ओ’ब्रायन, राजीव सातव, संजय सिंह, केके रागेश, रिपुन बोरा, डोला सेन, सैयद नजीर हुसैन और इलामारन करीम शामिल हैं। सभी पर उपसभापति के साथ असंसदीय व्यवहार करने का आरोप है। निलंबित 8 सांसदों ने संसद परिसर में गाना गाकर विरोध जताया। -पढ़ें पूरी खबर 2. पहली बार 2 महिला अफसरों को वॉर शिप पर तैनात करेगी नौसेना भारतीय नौसेना पहली बार दो महिला अफसर सब लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी और सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह को वॉर शिप पर तैनात करेगी। दोनों को हेलिकॉप्टर स्ट्रीम में ऑब्जर्वर के पद के लिए चुना गया है। नौसेना में अब तक महिला अफसरों को फिक्स्ड विंग एयरक्राफ्ट तक सीमित रखा गया था। वहीं, अंबाला में भारतीय वायुसेना के राफेल स्क्वॉड्रन को पहली महिला फाइटर पायलट जल्द मिल जाएगी। -पढ़ें पूरी खबर 3. दीपिका पादुकोण ने अपनी मैनेजर से मंगाई थी ड्रग बॉलीवुड ड्रग कनेक्शन में सोमवार को दीपिका पादुकोण का नाम सामने आया। यह दावा दो न्यूज चैनलों ने अपनी रिपोर्ट में तीन साल पुरानी चैट के आधार पर किया है। इसके मुताबिक, दीपिका ने चैट पर 'माल है क्या' लिखकर अपनी मैनेजर करिश्मा प्रकाश से हशीश (ड्रग) मंगाई थी। एनसीबी ने इस संबंध में दीपिका की मैनेजर करिश्मा प्रकाश को पूछताछ के लिए समन भेजा है। -पढ़ें पूरी खबर 4. 6 महीने बाद स्कूल खुलने पर 6 राज्यों से ग्राउंड रिपोर्ट अनलॉक-4 में 21 सितंबर से स्कूल खुल गए। कुछ राज्यों ने स्कूल खुलने की अनुमति दी तो कई राज्यों ने अभी स्कूल बंद रखने का फैसला लिया। अभी सिर्फ 9वीं से 12वीं तक के बच्चों को गाइडेंस के लिए स्कूल आने को कहा गया है। हालांकि, स्कूल खुलने पर स्टूडेंट्स की संख्या बहुत कम दिखी। पढ़िए दैनिक भास्कर की ग्राउंड रिपोर्ट... -पढ़ें पूरी खबर 5. बैंक खाते से गायब हो जाएगी रकम, ये है नया बैंकिंग फ्रॉड यस बैंक के कस्टमर के पेटीएम से 42,368 रुपए ट्रांसफर हो गए। हालांकि, कस्टमर का न तो पेटीएम खाता है और न ही इंटरनेट बैंकिंग सुविधा। 11 ट्रांजेक्शन में कस्टमर के इन पैसों का 6 दिनों में ट्रांसफर किया गया। मगर, बैंक कहता है कि यह कस्टमर की गलती है और उसी ने सब लीक किया है। दरअसल, ये है नया बैंकिंग फ्रॉड। -पढ़ें पूरी खबर 6. भारत के पहले पेपर-स्ट्रिप कोविड-19 टेस्ट 'फेलुदा' को मंजूरी ड्रग रेगुलेटर ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने 30 मिनट से कम समय में कोविड-19 की सटीक टेस्ट रिपोर्ट देने वाले पेपर-बेस्ड टेस्ट स्ट्रिप को मंजूरी दे दी है। काउंसिल ऑफ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च और टाटा ग्रुप की रिसर्च टीम ने इसे डेवलप किया है। फिल्ममेकर सत्यजीत रे के काल्पनिक जासूसी चरित्र फेलुदा पर इसका नाम रखा गया है। -पढ़ें पूरी खबर 7. महाराष्ट्र में हादसा: भिवंडी में तीन मंजिला इमारत गिरी, 13 की मौत महाराष्ट्र में ठाणे स्थित भिवंडी में सोमवार तड़के तीन मंजिला बिल्डिंग गिरने से 13 लोगों की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक, घटना सोमवार तड़के 3.40 बजे हुई। बिल्डिंग में 21 परिवार रहते थे। स्थानीय नागरिकों ने 19 लोगों को बाहर निकाल लिया था। -पढ़ें पूरी खबर 8. मेरठ की गीता ने 50 हजार रुपए से बिजनेस शुरू किया, अब टर्नओवर 7 करोड़ मेरठ की गीता सिंह एक पब्लिक रिलेशन कंपनी चलाती हैं। 50 हजार से बिजनेस शुरू किया था। अब उनकी कंपनी का टर्नओवर 7 करोड़ रुपए है। करीब 50 लोग इस कंपनी में काम करते हैं। इस कंपनी के 200 से ज्यादा क्लाइंट्स हैं। पिछले महीने उन्होंने एस्टोनिया(यूरोप) में भी अपना ऑफिस खोला है। -पढ़ें पूरी खबर अब 22 सितंबर का इतिहास 1792: फ्रांस गणराज्य की स्थापना की घोषणा हुई। 1949: सोवियत रूस ने पहला परमाणु बम का टेस्ट किया, जो सफल रहा। 2011: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और पटौदी के नवाब मंसूर अली खान पटौदी का निधन हुआ। अब आखिर में जिक्र गुरु नानक देव का। आज ही के दिन 1539 में करतारपुर में उनका निधन हुआ था। उन्होंने ही लंगर प्रथा शुरू की थी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें A new type of corona test is coming; Kangana case hearing in High Court today; Rafael will now also be flown as a female fighter pilot [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/a-new-type-of-corona-test-is-coming-kangana-case-hearing-in-high-court-today-rafael-will-now-also-be-flown-as-a-female-fighter-pilot-127740650.html

40 साल पहले इराक ने ईरान पर किया था हमला; 1994 में शुरू हुआ था फ्रेंड्स का ब्रॉडकास्ट



		 40 साल पहले इराक ने ईरान पर किया था हमला; 1994 में शुरू हुआ था फ्रेंड्स का ब्रॉडकास्ट 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
ईरान और इराक के बीच 1980 में युद्ध उस समय शुरू हुआ, जब इराक ने ईरान से सटी सीमा से घुसपैठ की। इराक का दावा था कि युद्ध की शुरुआत ईरान ने की, उसने नहीं। यह युद्ध 1988 तक चला और उसके बाद सीजफायर हुआ। हालांकि, दोनों देशों के बीच राजनयिक रिश्ते 16 अगस्त 1990 को औपचारिक शांति समझौते से बहाल हुए। इस युद्ध का कारण क्षेत्रीय और राजनीतिक विवाद थे। इराक का राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन चाहता था कि शा अल-अरब नदी के दोनों किनारों पर उसके देश का कब्जा हो। सद्दाम ईरान की इस्लामिक क्रांतिकारी सरकार इराक की बहुसंख्यक शिया आबादी को बगावत के लिए उकसाने वाली कोशिशों से भी चिंतित था। उस समय ईरान और अमेरिका के रिश्ते अच्छे नहीं थे, इस वजह से इराक ने इसका लाभ उठाने की कोशिश की। यूरोप का कोई भी देश इस युद्ध में शामिल नहीं हुआ, लेकिन हथियारों से उन्होंने इराक की मदद जरूर की। दोनों देशों को जान-माल का कितना नुकसान हुआ, यह तो सामने नहीं आ सका, लेकिन दोनों ही देशों में युवा पीढ़ी के हाथ में हथियार जरूर आ गए। दस लाख से ज्यादा लोगों की मौत का अनुमान है। माइकल फैराडे का जन्मदिन माइकल फैराडे का जन्म 22 सितंबर 1791 को इंग्लैंड में हुआ। उन्होंने फिजिक्स और केमिस्ट्री में जो सिद्धांत पेश किए, वह आज भी फैराडे के लॉ के नाम से पढ़ाए जाते हैं। फैराडे ने ही इलेक्ट्रोमैग्नेटिज्म का कंसेप्ट पेश किया। और, आज हम स्पीकर का इस्तेमाल करते हैं या किसी भी इलेक्ट्रिक मोटर का, तो उसमें फैराडे का योगदान होता है। फैराडे कोई रईस घर के बहुत पढ़े-लिखे परिवार से नहीं थे। बल्कि वे तो बुक बाइंडिंग का काम करते थे। विज्ञान में रुचि थी इसलिए रॉयल सोसायटी में वैज्ञानिकों के भाषण सुनने चले जाते थे। 1812 में उन्हें वैज्ञानिक हंफ्री डेवी को सुनने को मिले। लेक्चर सुनकर फैराडे ने उस पर टिप्पणी लिखी और हंफ्री को भेजी। वह इतना बढ़िया लिखा था कि हंफ्री ने फैराडे को अपना असिस्टेंट बना लिया। फैराडे ने मैग्नेटिक फील्ड से बिजली का करंट बनाकर दिखाया। पहली इलेक्ट्रिक मोटर और डायनमो बनाया। इलेक्ट्रिसिटी और केमिकल बॉन्डिंग का संबंध समझाया। इतने बड़े फिजिसिस्ट होने के बाद भी फैराडे की पहली पहचान एक केमिस्ट के तौर पर थी। 1820 में फैराडे ने कार्बन और क्लोरीन का पहला कम्पाउंड बनाया। बेंजीन की व्याख्या की। रॉयल सोसायटी ऑफ लंदन के लिए एक असाइनमेंट के दौरान टेलीस्कोप के लिए ऑप्टिकल ग्लास की क्वालिटी सुधारी। जो 1845 में उन्हें डायमैग्नेटिज्म की थ्योरी तक ले गया। लोकप्रिय अमेरिकी शो फ्रेंड्स शुरू हुआ फ्रेंड्स 1994 से 2004 तक नेशनल ब्रॉडकास्टिंग कंपनी (एनबीसी) नेटवर्क पर प्रसारित हुआ एक अमेरिकी टीवी सिटकॉम है, जिसकी एक समय पूरी दुनिया में युवाओं के बीच लोकप्रियता थी। इसने छह एमी अवार्ड्स जीते, जिसमें आउटस्टैंडिंग कॉमेडी सीरीज शामिल थी। नील्सन रेटिंग में लगातार वह टॉप 5 में रहा और आठवां सीजन तो टॉप पर रहा। फ्रेंड्स छह युवाओं की कहानी है, जो न्यूयॉर्क शहर के ग्रीनविच विलेज में एक-दूसरे के पड़ोसी हैं या रूममेट्स। इस शो को डेविड क्रेन और मार्ता कॉफमैन ने बनाया था। फ्रेंड्स के फिनाले को 52 मिलियन लोगों ने देखा। अब भी यह चैनल ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर देखा जाता है। इतिहास में आज के दिन को इन घटनाओं के लिए भी याद किया जाता है... 1539ः सिख संप्रदाय के पहले गुरु गुरु नानक देव का करतारपुर में निधन। उन्होंने ही 'लंगर' की प्रथा शुरू की थी।1789ः अमेरिकी कांग्रेस ने पोस्टमास्टर जनरल के कार्यालय को अधिकृत किया।1792ः फ्रांस गणराज्य की स्थापना की घोषणा हुई।1888: नेशनल जियोग्राफिक सोसायटी ने नेशनल जियोग्राफिक मैग्जीन शुरू की थी। शुरुआत में यह अमेरिका तक सीमित थी, लेकिन धीरे-धीरे इसने दुनियाभर का कवरेज करना शुरू किया और यह दुनियाभर में लोकप्रिय हो गई। 1926 में इसका सर्कुलेशन 10 लाख कॉपी का था और यह रंगीन तस्वीरें छापने वाली पहली मैग्जीन थी।1903ः अमेरिकी नागरिक इटालो मार्चिनी को आइसक्रीम कोन के लिए एक पेटेंट दिया गया।1914ः मद्रास बंदरगाह पर जर्मन युद्धपोत इम्देन ने बमबारी की।1949ः तत्कालीन सोवियत रूस ने पहले परमाणु बम का सफलतापूर्वक परीक्षण किया।1955ः ब्रिटेन में टेलीविजन का व्यावसायीकरण शुरू हुआ। इसमें प्रत्येक घंटे सिर्फ छह मिनट ही विज्ञापन के प्रसारण की अनुमति दी गयी और रविवार सुबह में इसे चलाने की इजाजत नहीं थी।1961ः अमेरिकी राष्ट्रपति जॉन एफ कैनेडी ने शांति कोर की स्थापना के लिए कांग्रेस के कानून पर साइन किए।1966ः अमेरिकी यान ‘सर्वेयर 2’ चंद्रमा की सतह से टकराया।1988: कनाडा की सरकार ने द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान जापान और कनाडा के नागरिकों की नजरबंदी के लिए माफी मांगी और मुआवजा देने का भी वादा किया।1992: संयुक्त राष्ट्र महासभा ने बोस्निया और हर्जेगोविना के बीच युद्ध में भूमिका के लिए यूगोस्लाविया को निष्कासित किया।2002: फ्रांस ने आइवरी कोस्ट में अपनी सेना भेजी।2006: अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के कंस्ट्रक्शन मिशन पर गया अटलांटिस स्पेश क्राफ़्ट सकुशल अमेरिका के केनेडी स्पेस सेंटर पर उतरा।2007: नासा के एअर क्राफ़्ट ने मंगल ग्रह पर गुफाओं जैसी सात आकृतियों का पता लगाया।2011: योजना आयोग (अब नीति आयोग) ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामे में शहरों में 965 रुपए और गावों में 781 रुपए प्रति महीना खर्च करने वाले व्यक्ति को गरीब मानने से इनकार किया। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Today History for September 22nd/ What Happened Today | 1980 Iraq Iran war begun| Sitcom Friends begun on US Television | Great Physicist Michael Faraday Birthday| Sikh Guru Guru Nanak Death Anniversary [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/today-history-september-22nd-iraq-iran-war-begun-1980-sitcom-friends-begun-on-us-television-michael-faraday-birthday-guru-nanak-death-anniversary-127742509.html

24 घंटे के अंदर रिकॉर्ड 1 लाख से ज्यादा मरीज ठीक हुए, 74 हजार नए संक्रमित मिले और 1056 लोगों ने दम तोड़ा; देश में अब तक 55.60 लाख केस



		 24 घंटे के अंदर रिकॉर्ड 1 लाख से ज्यादा मरीज ठीक हुए, 74 हजार नए संक्रमित मिले और 1056 लोगों ने दम तोड़ा; देश में अब तक 55.60 लाख केस 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच, पिछले 4 दिनों से राहत देने वाले आंकड़े सामने आ रहे हैं। सोमवार को लगातार चौथा दिन रहा जब देश में नए मरीजों से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी। पिछले 24 घंटे के अंदर रिकॉर्ड 1 लाख 2 हजार 70 लोग ठीक होकर अपने घर गए। अब तक एक दिन में ठीक होने वालों का ये सबसे ज्यादा आंकड़ा है। इसके पहले 18 सितंबर को 95 हजार 373 लोग ठीक हुए थे। अब तक 44 लाख 92 हजार 134 लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं, 74 हजार 493 लोग संक्रमित पाए गए। अब तक 55 लाख 60 हजार 105 लोग संक्रमित पाए जा चुके हैं। 4 दिनों में एक्टिव केस 10.20 लाख से घटकर 9.75 लाख हो गए 18 सितंबर को देश में एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 10 लाख 20 हजार से अधिक हो गई थी। पिछले 4 दिनों में इसमें 45 हजार मामलों में गिरावट हुई। अब देश में 9 लाख 75 हजार 688 मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है। मरने वालों का आंकड़ा 88 हजार के पार देश में संक्रमण से जान गंवानों वालों का आंकड़ा 88 हजार के पार हो गया। पिछले 24 घंटे के अंदर 1 हजार 56 संक्रमितों ने दम तोड़ दिया। अब तक 88 हजार 965 लोगों की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के मुताबिक हैं। कोरोना अपडेट्स सोमवार को देश के 14 राज्यों में संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई। इनमें उत्तर प्रदेश, दिल्ली, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक, तेलंगाना, बिहार, केरल, जम्मू कश्मीर, पुडुचेरी, त्रिपुरा, दादरा एंड नागर हवेली और मिजोरम शामिल हैं। महाराष्ट्र में पहली बार रिकॉर्ड 32 हजार 7 लोगों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया, जबकि 15 हजार 738 नए संक्रमित मिले। महाराष्ट्र में सोमवार को 159 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित मिले, 5 की मौत हो गई। राज्य में अब तक 21,311 पुलिसकर्मी संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 222 पुलिसकर्मियों की मौत हो चुकी है।दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने सोमवार को बताया कि राज्य में अभी लगभग 1 हजार आईसीयू बेड उपलब्ध है। इसकी संख्या लगातार बढ़ाने की कोशिश की जा रही है।आंध्र प्रदेश में सोमवार को संक्रमण के 6,235 नए मामले दर्ज हुए हैं। राज्य में अब तक 6 लाख 31 हजार 749 लोग संक्रमित हो चुके हैं। संक्रमण के चलते 5 हजार 410 लोगों की मौत हो गई।केंद्र सरकार ने ऑक्सीजन सिलेंडर ले जा रही गाड़ियों को बगैर परमिट के यात्रा को मंजूरी दी है। ऐसी गाड़ियों को अब परमिट लेने की जरूरत नहीं होगी। कोरोना के बढ़ते मामलों और राज्यों में ऑक्सीजन सिलेंडर की बढ़ती डिमांड को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। यह छूट 31 मार्च 2021 तक जारी रहेगी। 12 राज्यों में 81% मरीज ठीक हुए 12 राज्य ऐसे हैं, जहां ठीक हुए मरीजों की दर 81% से ज्यादा है। इनमें टॉप-3 में अंडमान-निकोबार, दादरा-दमन दीव और बिहार हैं। इन तीनों राज्यों में रिकवरी रेट 90% से ज्यादा है। वहीं, 9 राज्य में 81% से 90% के बीच है। इस तरह देश में अब तक 43.95 लाख मरीज ठीक हुए हैं और रिकवरी 80.12% तक पहुंच गया है। पांच राज्यों का हाल 1. मध्यप्रदेश राज्य में सोमवार को 2,523 नए मरीज मिले। 2,244 संक्रमित ठीक हो गए जबकि 37 ने दम तोड़ दिया। अब तक 1 लाख 8 हजार 167 संक्रमित पाए जा चुके हैं। इनमें 83 हजार 618 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 22 हजार 542 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते 2007 मरीजों की मौत हो चुकी है। 2. राजस्थान राज्य में पिछले 24 घंटे के अंदर 1,892 नए केस मिले। 1,815 लोग ठीक हुए और 16 मरीजों की मौत हो गई। अब तक 1 लाख 16 हजार 881 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। राहत की बात है कि इनमें 97 हजार 284 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 18 हजार 245 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते 1,352 लोगों की मौत हो चुकी है। 3. बिहार राज्य में सोमवार को संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी। पिछले 24 घंटे में 1,314 नए केस बढ़े, जबकि 1,381 लोग ठीक हो गए। 6 संक्रमितों ने दम तोड़ दिया। अब तक 1 लाख 69 हजार 856 लोग संक्रमित हो चुके हैं। राहत की बात है कि इनमें 1 लाख 55 हजार 824 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 13 हजार 161 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 870 लोगों की मौत हो चुकी है। 4. महाराष्ट्र महाराष्ट्र में सोमवार को मरीजों के रिकवर होने का रिकॉर्ड बना। पिछले 24 घंटे में जहां 15 हजार 738 नए मामले सामने आए, वहीं रिकॉर्ड 32 हजार 7 लोगों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। अब तक एक दिन में ठीक होने वालों का ये सबसे ज्यादा आंकड़ा है। राज्य में अब तक 12 लाख 24 हजार 380 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 9 लाख 16 हजार 348 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 2 लाख 74 हजार 623 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 33 हजार 15 लोगों की मौत हो चुकी है। 5. उत्तरप्रदेश राज्य में सोमवार को 4,618 नए केस सामने आए। अच्छी बात है कि नए केस से करीब दो हजार ज्यादा यानी 6,320 मरीजों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया। प्रदेश में अब तक 3 लाख 58 हजार 893 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 2 लाख 89 हजार 594 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 64 हजार 164 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 5,135 मरीजों की मौत हो चुकी है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें फोटो आगरा के ताजमहल की है। 6 महीने बाद सोमवार से इसे टूरिस्ट के लिए फिर से खोल दिया गया। पहले ही दिन बड़ी संख्या में विदेशी और स्थानीय टूरिस्ट घूमने पहुंचे और अलग-अलग पोज में फोटो क्लिक करवाई। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/coronavirus-outbreak-india-cases-live-updates-maharashtra-pune-madhya-pradesh-indore-rajasthan-uttar-pradesh-haryana-punjab-bihar-novel-corona-covid-19-death-toll-india-today-21-september-mumbai-delhi-coronavirus-news-127739541.html

सरकार ने संसद में कहा- संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के 5 स्थाई सदस्यों में से 4 भारत को सिक्योरिटी काउंसिल में शामिल करने के पक्ष में



		 सरकार ने संसद में कहा- संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के 5 स्थाई सदस्यों में से 4 भारत को सिक्योरिटी काउंसिल में शामिल करने के पक्ष में 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) के पांच स्थाई देशों में से चार ने भारत को स्थाई सीट देने का समर्थन किया है। विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने सोमवार को संसद में इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा, 'यूएनएससी का विस्तार होने पर भारत को स्थाई सदस्यता मिलने की ज्यादा संभावना है।' हालांकि, भारत के पक्ष में किन देशों ने आवाज उठाई है इसके बारे में उन्होंने कुछ नहीं कहा। उन्होंने कहा कि मई 2015 में भारत के प्रधानमंत्री के चीन के दौरे के दौरान चीन ने भी यूएनएससी में भारत को शामिल करने का समर्थन किया था। उस समय जारी साझा बयान में कहा गया था कि चीन एक विकासशील राष्ट्र के तौरे पर अंतरराष्ट्रीय मामलों में भारत के दर्जे को अहम समझता है। यह यूएन सुरक्षा परिषद में भारत के शामिल होने का समर्थन करता है। सुरक्षा परिषद में कुल 15 देश यूएनएससी में कुल 15 देश हैं। इनमें पांच स्थायी सदस्य हैं। ये अमेरिका, रूस, फ्रांस, ब्रिटेन और चीन हैं। 10 देशों को अस्थाई सदस्यता दी गई है। हर साल पांच अस्थायी सदस्य चुने जाते हैं। अस्थाई सदस्यों का कार्यकाल दो साल का होता है। परिषद के स्थाई सदस्य किसी भी प्रस्ताव को वीटो कर सकते हैं। दुनिया की मौजूदा हालात को देखते हुए यूएनएससी में स्थाई देशों की संख्या ज्यादा करने की मांग तेज रही है। भारत, ब्राजील, साउथ अफ्रीका और जापान इसमें शामिल होने के लिए मजबूत दावेदार माने जा रहे हैं। यूनएससी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शांति बहाल रखने और सुरक्षा के लिए काम करता है। अभी यूएनएसी का अस्थाई सदस्य है भारत भारत इस साल जुलाई में 8 साल में 8वीं बार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य चुना गया था। वोटिंग में संयुक्त राष्ट्र महासभा के 193 देशों ने हिस्सा लिया था। इनमें से 184 देशों ने भारत का समर्थन किया था। भारत फिलहाल दो साल के लिए यूएनएसी का अस्थाई सदस्य है। सुरक्षा परिषद में अस्थाई सदस्य चुनने का मकसद यह होता है कि वहां क्षेत्रीय संतुलन बना रहे। अफ्रीका और एशिया-प्रशांत देशों के लिए तय दो सीटों पर तीन उम्मीदवार जिबूती, भारत और केन्या हैं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कुल 15 देश हैं। इनमें पांच स्थायी और 10 अस्थाई सदस्य हैं। हर साल पांच अस्थाई सदस्य चुने जाते हैं। -फाइल फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/government-said-in-parliament-four-out-of-five-permanent-members-of-the-un-security-council-in-favor-of-including-india-in-the-security-council-127739959.html

दो दिन पहले गिरफ्तार हुए अल कायदा आतंकियों ने कहा- पश्चिम बंगाल के कई राज्यों में फैला है आतंकी संगठन का नेटवर्क



		 दो दिन पहले गिरफ्तार हुए अल कायदा आतंकियों ने कहा- पश्चिम बंगाल के कई राज्यों में फैला है आतंकी संगठन का नेटवर्क 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने कहा है कि पश्चिम बंगाल के कई राज्यों में आतंकी संगठन अलकायदा का नेटवर्क फैला है। यह खुलासा अल कायदा के 6 आतंकियों ने पूछताछ में किया है, जिन्हें शनिवार को मुर्शिदाबाद से गिरफ्तार किया गया था। एनआईए ने पश्चिम-बंगाल के मालदा के रहने वाले दो ऐसे लोगों की पहचान की है, जो गिरफ्तार आतंकियों के लिए काम करते हैं। इन आतंकियों का नेटवर्क राज्य के दूसरे जिलों में भी फैला है। एनआईए के सूत्रों के मुताबिक, जिस जगह से 6 आतंकियों को पकड़ा गया, वहां मालदा के रहने वाले दो आतंकी भी ठहरे थे। हालांकि, वे जांच एजेंसी के अधिकारियों के पहुंचने से पहले शुक्रवार सुबह वहां से निकल गए थे। कोच्चि की अदालत में पेश किए गए थे आतंकी एनआईए ने पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद और केरल के एर्नाकुलम में 18 और 19 सितंबर की रात छापेमारी कर नौ आतंकियों को गिरफ्तार किया था। इनमें मुर्शीद हसन, मोसारफ हुसैन और याकूब बिस्वास को एर्नाकुलम जिले में अलग-अलग जगहों से गिरफ्तार किया गया था जबकि छह अन्य को मुर्शिदाबाद से गिरफ्तार किया गया। इन्हें रविवार को कोच्चि की एक अदालत में पेश किया गया था। जांच एजेंसी ने कोर्ट में कहा था कि आतंकी संगठन अलकायदा के आतंकी हमले की साजिश का मुख्य आरोपी मुर्शीद हसन है। इसने दक्षिण और पूर्वी भारत में कई जगहों की यात्रा की थी। वह अलकायदा की कट्टरपंथी विचारधारा से प्रेरित है। बड़ी घटना अंजाम देने की साजिश रच रहे थे आतंकी जांच एजेंसी को सूचना मिली थी कि कुछ संदिग्ध बड़ी आपराधिक घटना की साजिश रच रहे हैं। इसके लिए वे फंड जुटा रहे हैं और युवाओं की भर्ती कर रहे हैं। आरोपी को एनआईए की मांग पर 22 सितंबर सुबह 11 बजे तक रिमांड पर सौंपा गया है। 22 सितंबर को आरोपी को स्पेशल कोर्ट में पेश किया जाएगा। आतंकियों के गिरोह को पकड़ने के लिए एनआईए और अन्य एजेंसियों ने 11 सितंबर से ऑपरेशन शुरू किया था। एक आतंकी के घर में सीक्रेट चैम्बर मिला अधिकारियों ने कहा कि मुर्शिदाबाद से गिरफ्तार अबु सूफियान के घर पर एक कमरे में 10x7 फीट का सीक्रेट चैम्बर मिला। छापेमारी के दौरान कई इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स और बल्ब का एक बोर्ड भी मिला। सूफियान की पत्नी का कहना है कि चैम्बर टॉयलेट के सैप्टिक टैंक के लिए खोदा गया था। हमने पुलिस को इस बारे में बताया है। हथियार, विस्फोटक और कवच भी मिले यह गिरोह पैसे जुटाने में लगा था। गिरोह के कुछ सदस्य हथियार और गोला-बारूद खरीदने के लिए दिल्ली जाने वाले थे। छापेमारी के दौरान बड़ी मात्रा में डिजिटल डिवाइस, दस्तावेज, जिहादी साहित्य, धारदार हथियार, फायर आर्म्स, घर में ही बने कवच और एक्सप्लोसिव डिवाइस जब्त की गई हैं। एजेंसी ने कहा- कई चैट, फोटो और वीडियो से पता चला है कि इन लोगों ने देश विरोधी गतिविधियों के लिए साजिश रची है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Main accused in al-Qaeda terror plot had travelled to many places in South, East India [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/main-accused-in-al-qaeda-terror-plot-had-travelled-to-many-places-in-south-east-india-127737327.html

सर्च ऑपरेशन में 7 साल पहले आपदा में अपनी जान गंवाने वाले 4 लोगों के कंकाल मिले, डीएनए सैम्पल से होगी पहचान; 3,183 अब भी लापता



		 सर्च ऑपरेशन में 7 साल पहले आपदा में अपनी जान गंवाने वाले 4 लोगों के कंकाल मिले, डीएनए सैम्पल से होगी पहचान; 3,183 अब भी लापता 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
केदारनाथ त्रासदी में जान गंवाने वाले 4 लोगों के कंकाल सर्च ऑपरेशन के दौरान बरामद हुए हैं। इन्हें हिमालयन मंदिर के रास्ते में रामबाड़ा के ऊपर से बरामद किया गया। रुद्रप्रयाग एसपी नवनीत सिंह भुल्लर ने बताया कि इलाके में पुलिस और स्टेट डिजास्टर रिस्पॉन्स टीम द्वारा ज्वाइंट ऑपरेशन चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हिंदु रीति-रिवाज से कंकाल के अंतिम संस्कार से पहले हेल्थ डिपार्टमेंट ने उनके डीएनए सैम्पल लिए हैं। उनकी पहचान करने के लिए त्रासदी के दौरान लापता हुए लोगों के परिवार के सदस्यों से डीएनए सैंपल्स को मिलाया जाएगा। कंकाल मिलने के बाद सर्च ऑपरेशन खत्म हो गया उन्होंने बताया कि उत्तराखंड हाईकोर्ट के निर्देश पर बुधवार को चलाया गया सर्च ऑपरेशन कंकाल के बरामद होने के साथ खत्म हो गया। इसके साथ ही अब तक सर्च ऑपरेशन के दौरान 703 लोगों के अवशेष बरामद किए जा चुके हैं, जबकि 3,183 लोग अब भी लापता हैं। टीम में पुलिस, एसडीआरएफ और हेल्थ डिपार्टमेंट के 60 लोग शामिल सर्च ऑपरेशन में लगी टीम में पुलिस, एसडीआरएफ और हेल्थ डिपार्टमेंट के 60 लोग शामिल थे। टीम ने समुद्र की ऊंचाई से 14 हजार फीट की ऊंचाई पर सर्च ऑपरेशन चलाया। ऐसा ही सर्च ऑपरेशन पिछले दिनों भी मंदिर के पास चलाया गया था, जिसमें कई लोगों के कंकाल बरामद हुए थे। त्रासदी में करीब 10 हजार मौतें हुईं और लगभग 3 हजार लापता हुए थे केदारनाथ इलाके में 14 जून 2013 से 17 जून 2013 के बीच भारी बारिश हुई थी। बादल फटने की वजह से चोराबाड़ी झील फूट गई थी। इससे इलाके में अचानक बाढ़ की स्थिति बन गई। कई सड़कें, बिल्डिंग और अन्य स्ट्रक्चर बह गए और करीब 10 हजार लोगों की जान गई और करीब 3 हजार से ज्यादा लोग लापता हुए थे। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें केदारनाथ इलाके में 14 जून 2013 से 17 जून 2013 के बीच भारी बारिश हुई थी। बादल फटने और बाढ़ की वजह से करीब 10 हजार लोगों की जान चली गई थी। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/skeletal-remains-of-4-persons-found-near-kedarnath-127739899.html

कोरोना को हराकर लौटी 65 साल की मां को बेटे और बहू ने घर में रखने से इनकार किया, घर पर ताला लगाकर घूमने चले गए



		 कोरोना को हराकर लौटी 65 साल की मां को बेटे और बहू ने घर में रखने से इनकार किया, घर पर ताला लगाकर घूमने चले गए 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
जिस मां ने बेटे को चलना सिखाया। अपना दूध पिलाया। वही मां जब बूढ़ी हो गई तो बेटे और बहू ने उसे घर में रखने से इनकार कर दिया। वह भी तब जब मां कोरोना जैसी खतरनाक बीमारी से लड़कर वापस आई। रिश्तों को शर्मसार करने वाली यह घटना तेलंगाना के निजामाबाद की है। पुलिस के मुताबिक, यहां एक 65 साल की बुजुर्ग महिला को कुछ दिन पहले कोरोना हो गया था। सरकारी हॉस्पिटल में इलाज चला। महिला ने बीमारी को हरा दिया। हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के बाद महिला वापस अपने घर पहुंची तो बेटे ने उसे रखने से इनकार कर दिया। पुलिस ने समझाया तब जाकर बहू-बेटे मां को रखने को तैयार हुए बेटे और बहू ने अपनी मां को बाहर छोड़कर घर पर ताला लगा दिया और हैदराबाद घूमने चले गए। तीन दिनों तक घर के बाहर ही बुजुर्ग महिला पड़ी रही। आस-पास के लोगों ने खाने-पीने को दिया। सूचना पुलिस को मिली तो पुलिस ने महिला के बेटे और बहू को बुलाकर उनकी काउंसलिंग की। तब जाकर वह मां को साथ रखने के लिए तैयार हुए। सालभर पहले ओल्ड एज होम में छोड़ दिया था पुलिस के मुताबिक, साल भर पहले ही बेटे और बहू ने अपनी मां को एक ओल्ड ऐज होम में छोड़ दिया था। यहां रहने के लिए टेम्परेरी सुविधा थी। ओल्ड एज होम में रहने वाली सभी बुजुर्ग महिलाओं की कोरोना जांच हुई। इसमें तीन बुजुर्ग महिलाएं संक्रमित मिलीं। कोरोना से ठीक होने के बाद महिला वापस अपने घर गई थी। तेलंगाना में 1.72 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित तेलंगाना में अब तक 1 लाख 72 हजार 608 लोग संक्रमित पाए जा चुके हैं। इनमें 1 लाख 41 हजार 930 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 29 हजार 636 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 1,042 मरीजों की मौत हो चुकी है। राज्य सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, मरने वाले सबसे ज्यादा बुजुर्ग हैं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें बुजुर्ग महिला को सालभर पहले भी बेटे और बहू ने ओल्ड एज होम में छोड़ दिया था। इस बार भी बीमारी से उबरने के बाद घर के बाहर छोड़ दिया। (प्रतीकात्मक फोटो) [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/the-65-year-old-mother-who-returned-after-defeating-corona-refused-to-keep-her-son-and-daughter-in-law-in-the-house-went-to-lock-the-house-127739888.html

किसान बिलों पर हंगामे के बीच गेहूं के समर्थन मूल्य में 50 रुपए, चना और सरसों में 225 रुपए प्रति क्विंटल का इजाफा



		 किसान बिलों पर हंगामे के बीच गेहूं के समर्थन मूल्य में 50 रुपए, चना और सरसों में 225 रुपए प्रति क्विंटल का इजाफा 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
संसद में किसान बिलों पर विपक्ष के हंगामे के बीच सरकार ने सोमवार को रबी की 6 फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) बढ़ा दिया। गेहूं के समर्थन मूल्य में 50 रुपए /प्रति क्विंटल का इजाफा किया है। कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया। सबसे ज्यादा मसूर का समर्थन मूल्य बढ़ाया फसल पहले- MSP (रु/प्रति क्विंटल) अब- MSP (रु/प्रति क्विंटल) अंंतर (रु/प्रति क्विंटल) गेहूं 1925 1975 50 जौ 1525 1600 75 सरसों 4425 4650 225 चना 4875 5100 225 कुसुम 5215 5327 112 मसूर 4800 5100 300 सरकार हर फसल सीजन से पहले CACP यानी कमीशन फॉर एग्रीकल्चर कॉस्ट एंड प्राइसेज की सिफारिश पर MSP तय करती है। यदि किसी फसल की बंपर पैदावार हुई है तो उसकी बाजार में कीमतें कम होती हैं, तब MSP किसानों के लिए फिक्स एश्योर्ड प्राइज का काम करती है। MSP क्या है? MSP वह गारंटेड मूल्य है जो किसानों को उनकी फसल पर मिलता है। भले ही बाजार में उस फसल की कीमतें कम हों। इसके पीछे तर्क यह है कि बाजार में फसलों की कीमतों में होने वाले उतार-चढ़ाव का किसानों पर असर न पड़े। उन्हें न्यूनतम कीमत मिलती रहे। अभी चर्चा में क्यों? केंद्र सरकार खेती-किसानी के क्षेत्र में सुधार के लिए तीन विधेयक लाई है। विपक्ष इन विधेयकों के खिलाफ है। उसे चिंता है कि कहीं MSP की व्यवस्था बंद नहीं हो जाए। दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर साफ कर चुके हैं कि MSP खत्म नहीं होगा। मोदी ने आज भी कहा कि जिन लोगों को कंट्रोल अपने हाथ से निकलता नजर आ रहा है, वे किसानों को गुमराह कर रहे हैं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें सरकार ने गेहूं के MSP में पिछले साल 85 रुपए का इजाफा किया था, मौजूदा समर्थन मूल्य 1925 रुपए प्रति क्विंटल था। (प्रतीकात्मक फोटो) [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/narendra-modi-government-may-increase-minimum-support-price-msp-of-rabi-crops-today-127739684.html

6 राज्यों में ज्यादातर प्राइवेट स्कूल बंद; जो खुले, वहां भी गिने-चुने बच्चे पहुंचे; जयपुर में पेरेंट्स से पेपर साइन कराने के बाद बच्चों को एंट्री



		 6 राज्यों में ज्यादातर प्राइवेट स्कूल बंद; जो खुले, वहां भी गिने-चुने बच्चे पहुंचे; जयपुर में पेरेंट्स से पेपर साइन कराने के बाद बच्चों को एंट्री 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
अनलॉक-4 में 21 सितंबर से स्कूल खुले। कुछ राज्यों ने स्कूल खुलने की अनुमति दी है तो कई राज्यों ने अभी स्कूल बंद रखने का फैसला लिया है। अभी सिर्फ 9वीं से 12 वीं तक के बच्चों को गाइडेंस के लिए स्कूल आने को कहा गया है। करीब 6 महीने बाद स्कूल खुलने पर स्टूडेंट्स की संख्या बहुत कम दिखी। जयपुर में तो एक स्कूल ने परिजन से लेटर साइन कराकर बच्चों को स्कूल में एंट्री दी। जिन राज्यों में स्कूल खुले, वहां दैनिक भास्कर की टीम ने ग्राउंड पर पड़ताल की कि स्कूलों का माहौल कैसा रहा। दैनिक भास्कर की ग्राउंड रिपोर्ट... मध्य प्रदेश भोपाल: ज्यादातर प्राइवेट स्कूल बंद रहे। प्राइवेट स्कूल प्रबंधन और अभिभावकों के बीच असमंजस की स्थिति बनी हुई है। कार्मल कान्वेंट, सागर पब्लिक स्कूल, आईपीएस, द संस्कार वैली और जवाहर लाल नेहरू हायर सेकंडरी स्कूल 21 सितंबर को नहीं खुले। इनका कहना है कि अभिभावकों से बातचीत करने के बाद तय किया है कि फिलहाल ऑनलाइन पढ़ाई ही कराई जाएगी, स्कूल नहीं खोले जाएंगे। शहर के कुछ सरकारी स्कूल खुले और वहां बच्चों को पूरे ऐहतियात के साथ प्रवेश दिया गया। लेकिन, बच्चों की संख्या काफी कम रही। कार्मल कॉन्वेंट के प्रशासनिक अधिकारी संतोष बोस ने बताया कि फिलहाल स्कूल नहीं खोलेंगे। अभिभावक भी अभी तैयार नहीं हैं। वे ऑनलाइन पढ़ाई से खुश हैं। अगर अभिभावकों के साथ बातचीत में स्कूल खोलने की सहमति बनती है तो उसकी सूचना स्कूल की तरफ से दी जाएगी। भोपाल के जवाहर लाल नेहरू हायर सेकंडरी स्कूल के वाइस प्रिंसिपल सुनील पाठक ने बताया कि डाउट क्लीयरिंग में ये साफ नहीं है कि कितने बच्चे बुलाए जा सकते हैं। फिलहाल हमने स्कूल नहीं खोलने का निर्णय लिया है। इस संबंध में डीईओ से भी बात करेंगे। ऑनलाइन क्लासेस जारी हैं और बच्चों के डाउट भी क्लीयर हो रहे हैं। भोपाल के कार्मल कॉन्वेंट स्कूल प्रबंधन ने फिलहाल स्कूल को बंद रखने का निर्णय लिया है। इंदौर: सरकारी स्कूल सोमवार को आंशिक रूप से खुल गए। 9वीं से 12वीं तक बच्चे स्कूल में गाइडेंस के लिए आ सकते हैं। ज्यादातर प्राइवेट स्कूलों ने स्टूडेंट्स को नहीं बुलाया। कैंब्रिज इंटरनेशनल स्कूल की प्रिंसिपल प्रभा दिनोदरे ने बताया कि करीब 7 महीने बाद खुले स्कूल में सुबह सिर्फ 10 बच्चे पहुंचे। हम पेरेंट्स को मैसेज भेज रहे हैं। हो सकता है कल से कुछ और बच्चे स्कूल आएं। डाउट क्लीयर करने के लिए जिन बच्चों को बुलाया जाएगा, उसका अलग से टाइम टेबल तय किया जा रहा है। जिससे एक साथ बहुत सारे बच्चे न आएं। चंडीगढ़: सोमवार को सिर्फ सरकारी स्कूल ही खुले। वहां बच्चों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बैठाया गया। निजी स्कूल नहीं खुले। इस बारे में निजी स्कूलों के संगठन का कहना है कि हमने पेरेंट्स के बीच सर्वे कराया था, जिसमें 80 से 90% पेरेंट्स बच्चों को स्कूल भेजने को राजी नहीं थे, लिहाजा स्कूल नहीं खोले गए। निजी स्कूलों का कहना है कि ऑनलाइन स्टडी जारी रहेगी। समय-समय पर पेरेंट्स के फीडबैक लिए जाएंगे। अगर पेरेंट्स की बड़ी संख्या बच्चों को स्कूल भेजने को राजी हुई तभी स्कूल खोले जाएंगे। चंडीगढ के सरकारी स्कूल में एंट्री देने से पहले छात्रों के हाथ सैनिटाइज कराते टीचर। राजस्थान जयपुर: कई बड़े निजी स्कूल 21 सितंबर को खुले,लेकिन छात्रों की संख्या न के बराबर रही। अमेरिकन स्कूल के प्रिंसिपल और स्कूल एजुकेशन परिवार के अध्यक्ष अनिल शर्मा ने बताया कि हमने पहले दिन 9वीं से 12वीं के 65 फीसदी बच्चों को ही बुलाया गया था, लेकिन बहुत कम बच्चे आए। पहले दिन ज्यादातर स्कूलों में स्टूडेंट्स नहीं पहुंचे। कुछ स्कूलों ने बच्चों के बैठने की व्यवस्था स्कूल के प्रेयर ग्राउंड में की थी। जयपुर के आगरा रोड स्थित केशव ग्लोबल एकेडमी में बच्चों को परिवार से साइन करवाए गए लेटर के बाद ही एंट्री दी गई। जहां बच्चे को एक रजिस्टर, पेन, पानी की बोतल और सैनिटाइजर साथ लाने के लिए कहा गया है। साथ ही स्कूल में बच्चों को मास्क हटाने की भी अनुमति नहीं दी गई। ज्यादातर स्कूल प्रबंधनों का कहना है कि गार्जियन अभी बच्चों को स्कूल भेजने को तैयार नहीं है। इसलिए ऑनलाइन पढ़ाई पर जोर रहेगा। बहुत जरूरत पड़ने पर ही बच्चों को स्कूल बुलाया जाएगा। जोधपुर में भी ज्यादातर निजी स्कूल बंद रहे। जयपुर के स्कूल में परिवार द्वारा साइन किए गए लेटर के बाद ही मिली बच्चों को एंट्री। पंजाब केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी अनलॉक के दिशा-निर्देशों में आंशिक संशोधन करते हुए पंजाब सरकार ने 9वीं से 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को अपने पेरेंट्स की लिखित इजाजत के साथ स्कूल जाने की परमिशन दी है। इसके साथ राज्य सरकार ने यह भी कहा कि जिलों में स्कूल खोलने का फैसला डीसी अपने स्तर पर ले सकते हैं। पंजाब में भी लुधियाना और जालंधर में निजी स्कूलों में स्टूडेंट्स नहीं पहुंचे। स्कूल प्रबंधन का कहना है कि डाउट क्लीयरेंस के लिए बच्चों को बुलाया जाय या ऑनलाइन ही उनके डाउट क्लीयर किए जाएं, यह पेरेंट्स से बात करके ही यह तय किया जाएगा। सरकारी स्कूलों में भी ज्यादातर वही छात्र स्कूल आए, जिनके बोर्ड परीक्षा से जुड़े कुछ काम थे। हरियाणा हरियाणा में पानीपत, जींद, सोनीपत, हिसार, भिवानी, गुड़गांव, फरीदाबाद, महेंद्रगढ़, रेवाड़ी, चरखी दादरी, रोहतक समेत लगभग सभी 22 जिलों में सरकारी स्कूल खुल गए हैं। अभी स्कूलों में सिर्फ सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक ही एक-एक बच्चे का डाउट क्लीयर करवाया जाएगा। सरकारी स्कूलों में इक्का-दुक्का बच्चे नजर आए। लेकिन, ज्यादातर प्राइवेट स्कूलों में स्टूडेंट्स नहीं पहुंचे। बिहार बिहार में सोमवार को स्कूल नहीं खुले। 9वीं से 12वीं तक छात्र डाउट क्लीयर करने और प्रैक्टिकल क्लासेस के लिए कब से स्कूल आएं, यह तय करने के लिए 22 को शिक्षा विभाग की बैठक होगी। पटना के डीएम कुमार रवि ने कहा कि शिक्षा विभाग की गाइडलाइन के बाद ही स्कूलों में गतिविधि की अनुमति दी जाएगी। बॉल्डविन एकेडमी के प्राचार्य राजीव रंजन ने बताया 9 से 12वीं तक के बच्चों के रिस्पॉन्स मांगे थे। 11वीं-12वीं के 400 में सिर्फ 8 के अभिभावकों ने स्कूल भेजने की बात कही। 9वीं-10वीं के 400 में 53 ने सहमति दी। संत जेवियर्स हाई स्कूल के प्राचार्य फादर क्रिस्टू ने बताया कि 9वीं-10वीं के 297 बच्चों में 151 ने हां कहा है। डॉन बॉस्को एकेडमी के उप प्राचार्य एरिक जॉन डी रोजैरियो ने बताया कि अधिकतर अभिभावक स्कूल भेजने के लिए तैयार नहीं है। गुजरात, झारखंड और यूपी समेत कई राज्यों में अभी स्कूल नहीं खुलेंगे उत्तर प्रदेश, दिल्ली, गुजरात, छत्तीसगढ़ और झारखंड समेत कई राज्यों ने फिलहाल स्कूल बंद रखने का फैसला लिया है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें 21 सितंबर से 6 महीने बाद स्कूल खुले जरूरी, लेकिन ज्यादार प्राइवेट स्कूल बंद रहे। इंदौर के कैंब्रिज इंटरनेशनल स्कूल में सिर्फ 10 बच्चे ही पहुंचे। यही हाल दूसरे स्कूलों के भी रहे। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/schools-reopen-ground-report-update-latest-news-and-updates-from-madhya-pradesh-rajasthan-bihar-punjab-gujarat-jharkhand-127739710.html

9वीं-12वीं तक के स्कूल, हायर एजुकेशनल इंस्टीट्यूट खुल सकेंगे; 100 लोगों की मौजूदगी में कल्चरल, पॉलिटिकल और एकेडमिक इवेंट्स भी हो सकेंगे



		 9वीं-12वीं तक के स्कूल, हायर एजुकेशनल इंस्टीट्यूट खुल सकेंगे; 100 लोगों की मौजूदगी में कल्चरल, पॉलिटिकल और एकेडमिक इवेंट्स भी हो सकेंगे 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच अनलॉक-4 के तहत आज से देश में कई बड़े बदलाव हाेंगे। आज से कई राज्यों में 9वीं से 12वीं तक के स्कूल आंशिक तौर पर खुल जाएंगे। कई हायर एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स में भी क्लास लगने लगेंगी। इसके लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने पहले ही स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोटोकॉल (एसओपी) जारी कर दिया है। इसके साथ ही, देश में अब स्पोर्ट्स, कल्चरल, पॉलिटिकल, सोशल, रिलीजियस, एकेडमिक, एंटरटेनमेंट से जुड़े इवेंट्स भी शुरू हो जाएंगे। हालांकि, इन इवेंट्स में 100 से ज्यादा लोगों की मौजूदगी नहीं होनी चाहिए। अगर किसी इवेंट में 100 से ज्यादा लोग पाए जाते हैं तो इसे कराने वालों पर गाइडलाइन के उल्लंघन का मामला बनेगा और कानूनी कार्रवाई होगी। गुजरात, झारखंड और यूपी समेत कुछ राज्यों में स्कूल नहीं खुलेंगे उत्तर प्रदेश, दिल्ली, उत्तराखंड, कर्नाटक, गुजरात, केरल, झारखंड समेत कई राज्यों ने फिलहाल स्कूल बंद रखने का फैसला लिया। इन राज्यों की सरकारों ने इसके लिए नोटिस भी जारी कर दिए हैं। पंजाब में भी अभी स्कूल नहीं खुलेंगे। हालांकि, यहां सरकार ने हायर एजुकेशनल इंस्टीट्यूट खोलने की मंजूरी जरूर दे दी है। इसी तरह राजस्थान सरकार ने सिर्फ छात्रों को स्कूल में गाइडेंस के लिए जाने की अनुमति दी है। यहां क्लास नहीं चलेंगी। एमपी, बिहार, हरियाणा समेत कुछ राज्यों में खुलेंगे स्कूल मध्यप्रदेश, हरियाणा, नगालैंड, मेघालय, आंध्र प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, बिहार समेत कुछ अन्य राज्यों में स्कूल खोलने की मंजूरी सरकार ने दी है। नियमों का पालन कराने की जिम्मेदारी कार्यक्रम कराने वालों पर केंद्र सरकार ने कहा है कि स्पोर्ट्स, कल्चरल, पॉलिटिकल, सोशल, रिलीजियस, एकेडमिक और एंटरटेनमेंट से जुड़े जो भी कार्यक्रम होंगे उनमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। इवेंट में शामिल होने वाले सभी लोगों को मास्क पहने रहना होगा। नियमों को तोड़ने पर कार्यक्रम कराने वालों पर कार्रवाई होगी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Schools Reopening Unlock 4 Update | Schools Reopen from Today State-Wise Status Update; Madhya Pradesh, Bihar, Haryana, Jharkhand and Gujarat [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/unlock-4-schools-up-to-9th-12th-higher-educational-institute-will-open-cultural-political-academic-events-will-be-in-the-presence-of-100-people-sports-activity-also-approved-127736850.html

श्रद्धा कपूर और सारा अली खान से नारकोटिक्स ब्यूरो पूछताछ कर सकता है; रिपोर्ट्स में दावा- रिया ने दोनों के नाम लिए थे



		 श्रद्धा कपूर और सारा अली खान से नारकोटिक्स ब्यूरो पूछताछ कर सकता है; रिपोर्ट्स में दावा- रिया ने दोनों के नाम लिए थे 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले से जुड़े ड्रग्स केस में एक्ट्रेस श्रद्धा कपूर और सारा अली खान को इसी हफ्ते पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) दोनों को समन भेज सकता है। बताया जा रहा है कि सुशांत की गर्लफ्रेंड रहीं रिया चक्रवर्ती ने पूछताछ में श्रद्धा और सारा के नाम लिए हैं। एनसीबी ने रिया को 2 दिन की पूछताछ के बाद 8 सितंबर को गिरफ्तार किया था। वे मुंबई की भायखला जेल में हैं। ड्रग्स केस में रिया समेत 20 लोग गिरफ्तार रिया की जमानत अर्जी 2 बार खारिज हो चुकी है। उन पर आरोप हैं कि वे सुशांत के लिए ड्रग्स अरेंज करती थीं। ड्रग्स केस में एनसीबी ने रिया और उनके भाई शोविक समेत अब तक 20 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें सुशांत के स्टाफ के लोग और कुछ ड्रग्स पैडलर भी शामिल हैं। सुशांत केस में ड्रग्स कनेक्शन का खुलासा रिया के वॉट्सऐप चैट सामने आने के बाद हुआ था। चैट में ड्रग्स खरीदने की बातचीत पता चली थी। रिपोर्ट्स में दावा- रिया ने एनसीबी को 25 सेलेब्रिटीज के नाम बताए मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रिया ने श्रद्धा और सारा समेत बॉलीवुड के 25 सेलेब्रिटीज के नाम एनसीबी को बताए हैं। इन पर ड्रग्स लेने या ड्रग्स के नेटवर्क से जुड़े होने के आरोप हैं। सुशांत की पूर्व मैनेजर से पूछताछ जारी एक्टर की मैनेजर रहीं श्रुति मोदी से एनसीबी की टीम आज सवाल-जवाब कर रही है। एक्टर की टैलेंट मैनेजर रहीं जया साहा को भी बुलाया गया है। पिछले हफ्ते एनसीबी की टीम का एक सदस्य कोरोना पॉजिटिव आने की वजह से श्रुति और जया से पूछताछ पूरी नहीं हो पाई थी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें श्रद्धा कपूर (बाएं) और सारा अली खान। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/sushant-singh-rajput-death-case-drug-case-investigation-update-ncb-summon-sara-ali-khan-and-shraddha-kapoor-127739602.html

भारत-चीन के कॉर्प्स कमांडर के बीच आज मोल्डो में मीटिंग हो रही; इस लेवल की बातचीत में पहली बार विदेश मंत्रालय का अफसर शामिल



		 भारत-चीन के कॉर्प्स कमांडर के बीच आज मोल्डो में मीटिंग हो रही; इस लेवल की बातचीत में पहली बार विदेश मंत्रालय का अफसर शामिल 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
लद्दाख सीमा पर तनाव के बीच भारत-चीन के कॉर्प्स कमांडर की आज छठी मीटिंग हो रही है। चीन की तरफ चुशूल सेक्टर के मोल्डो में यह बातचीत चल रही है। न्यूज एजेंसी एएनआई के सूत्रों के मुताबिक आज की मीटिंग में विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी भी शामिल हैं। पहली बार कॉर्प्स कमांडर लेवल की मीटिंग में कोई डिप्लोमेट शामिल हुआ है। भारत डिसएंगेजमेंट और डी-एस्क्लेशन का दबाव डालेगा आज की मीटिंग में भारत इस बात पर जोर देगा कि पूर्वी लद्दाख में चीन डिसएंगेजमेंट और डी-एस्क्लेशन यानी सैनिकों को पीछे हटाने और तनाव कम करने के कदम एक साथ उठाए। भारत-चीन के बीच कॉर्प्स कमांडर के बीच पिछली मीटिंग करीब एक महीने पहले हुई थी। इसके अलावा ग्राउंड कमांडर स्तर की बातचीत करीब-करीब हर रोज हो रही है। बातचीत के बावजूद चीन पूर्वी लद्दाख में बार-बार घुसपैठ की कोशिश कर रहा है। 29-30 अगस्त की रात पैंगॉन्ग झील इलाके के दक्षिणी छोर की पहाड़ी पर चीन ने कब्जा करने की कोशिश की थी, लेकिन भारतीय जवानों ने नाकाम कर दी। इसके बाद चीन ने 2 बार फिर ऐसी ही कार्रवाई की। 29 अगस्त से लेकर 8 सितंबर तक दोनों तरफ से 3 बार हवा में गोलियां भी चली थीं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें लद्दाख में जारी तनाव के बीच भारत-चीन के ग्राउंड कमांडर्स के बीच लगभग हर रोज मीटिंग हो रही है। (फाइल फोटो) [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/india-china-standoff-update-india-china-commander-level-meeting-today-latest-news-updates-127739568.html

लॉकडाउन के दौरान विदेशों में 50% बढ़ गया भारतीयों का काला धन और मोदी सरकार कुछ नहीं कर पाई? जानिए वायरल मैसेज का सच



		 लॉकडाउन के दौरान विदेशों में 50% बढ़ गया भारतीयों का काला धन और मोदी सरकार कुछ नहीं कर पाई? जानिए वायरल मैसेज का सच 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
क्या हो रहा है वायरल: सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है। इसमें दावा किया जा रहा है कि स्विस बैंक में जमा भारतीयों का काला धन 50 फीसदी बढ़ गया है। मैसेज के साथ खबर की एक कटिंग भी वायरल हो रही है। इसे शेयर करते हुए लोग केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साध रहे हैं। सोशल मीडिया यूजर पोस्ट कर रहे हैं कि लॉकडाउन के दौरान भी विदेशों में भारतीयों का काला धन बढ़ता रहा। और सरकार कुछ नहीं कर पाई। लुटेरी हो गयी सरकार. काला धन लाने के बजाय सरकार काला धन बढ़ा रही 1 साल में रिकॉर्ड 50% की बढ़ोतरी pic.twitter.com/y5x7mF98cz — Rahul ambadas dongare (@AmbadasRahul) September 12, 2020 और सच क्या है ? सबसे पहले हमने अलग-अलग की वर्ड के जरिए ऐसी खबरें सर्च करनी शुरू कीं। जिनसे दावे की पुष्टि होती हो। खासकर लॉकडाउन के दौरान की खबरें। ऐसी कोई खबर हमें नहीं मिली।न्यूज एजेंसी PTI की 25 जून, 2020 की खबर से पता चलता है कि स्विस बैंक में जमा भारतीयों के पैसों में 6% की गिरावट हुई है। गिरावट का यह डेटा 2019 का है। इकोनॉमिक टाइम्स की वेबसाइट पर हमें 2 साल पुरानी एक खबर मिली। जिसमें स्विस बैंक में भारतीयों की जमा रकम में 50% की बढ़ोतरी के बारे में बताया गया है। PTI की खबर से पता चलता है कि सच्चाई वायरल मैसेज से बिल्कुल उलट है। स्विस बैंकों में भारतीयों का पैसा बढ़ नहीं, घट रहा है। भारतीयों का कालाधन 50% बढ़ने वाली खबर 2 साल पुरानी है, जिसे हाल का बताकर शेयर किया जा रहा है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Fact Check: Did black money of Indians continue to accumulate abroad even in lockdown? Know the truth of viral messages [...]

Click here to Read full Details Sources @ /no-fake-news/news/did-black-money-of-indians-continue-to-accumulate-abroad-even-in-lockdown-know-the-truth-of-viral-messages-127733622.html

आज से 40 क्लोन ट्रेनें शुरू होंगी; आम लोगों के लिए खुल जाएगा ताजमहल; यौन शोषण के आरोप पर अनुराग कश्यप ने तोड़ी चुप्पी



		 आज से 40 क्लोन ट्रेनें शुरू होंगी; आम लोगों के लिए खुल जाएगा ताजमहल; यौन शोषण के आरोप पर अनुराग कश्यप ने तोड़ी चुप्पी 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
मोदी सरकार की ओर से लाए गए कृषि विधेयकों पर देशभर में किसान संगठनों का विरोध जारी है। वहीं, राजनाथ सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में किसानों से वादा किया कि APMC और MSP खत्म नहीं की जा रही है। बहरहाल, शुरू करते हैं मॉर्निंग न्यूज ब्रीफ... आज इन 7 इवेंट्स पर रहेगी नजर 1. अनलॉक 4.0 के तहत आज से कई राज्यों में 9वीं से बारहवीं तक के स्कूल आंशिक तौर पर खुल जाएंगे। कई हायर एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स में भी क्लासेस शुरू हो जाएंगी। देश में अब स्पोर्ट्स, कल्चरल, पॉलिटिकल, सोशल, धार्मिक, एकेडमिक, एंटरटेनमेंट से जुड़े इवेंट्स भी होने लगेंगे। 2. इंडियन रेलवे आज से 40 क्लोन ट्रेनें चलाने जा रहा है। इन ट्रेनों का शेड्यूल जारी कर दिया गया है। 3. IPL में आज रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच मुकाबला होगा। शाम 7 बजे टॉस होगा। साढ़े सात बजे से मैच शुरू होगा। 4. 188 दिन बाद आज से पर्यटकों के लिए खुलेगा ताजमहल और आगरा का किला। 5. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार में नौ हाईवे प्रोजेक्ट्स की नींव रखेंगे। 6. आज रात से रायपुर में लॉकडाउन शुरू होगा। छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल जगदलपुर विमान सेवा का ऑनलाइन उद्घाटन करेंगे। 7. भारत और चीन के बीच कॉर्प्स-कमांडर स्तर की छठे दौर की बातचीत होगी। सरकारी सूत्रों ने यह जानकारी दी है। अब कल की 7 महत्वपूर्ण खबरें 1. राज्यसभा में कृषि से जुड़े दो बिल पास, टीएमसी सांसद ने फाड़ दी रूल बुक केंद्र सरकार ने रविवार को खेती से जुड़े दो बिल राज्यसभा में पास करा लिए। राष्ट्रपति के दस्तखत के बाद ये कानून बन जाएंगे। हालांकि, सदन में बिल पर वोटिंग के दौरान विपक्ष ने हंगामा किया। टीएमसी सांसद ओ’ब्रायन ने रूल बुक तक फाड़ दी। 12 विपक्षी दलों ने उपसभापति हरिवंश सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस पेश किया। -पढ़ें पूरी खबर 2. भारत का एलएसी के पास छह नई चोटियों पर कब्जा भारतीय सेना ने मगर हिल, गुरुंग हिल, रेचेन ला, रेजांग ला, मोखपारी और फिंगर 4 के पास स्थित एक चोटी पर कब्जा कर लिया है। अब जवान ऊंचाई से ही चीन पर नजर रख सकेंगे। चोटियों पर भारत के कब्जे बाद चीन ने 3 हजार अतिरिक्त सैनिकों की तैनाती भी की है। -पढ़ें पूरी खबर 3. बिहार की राजनीति को बदलने का दावा करने वाले प्रशांत किशोर अब गायब? प्रशांत किशोर ने 'बात बिहार की' नाम से एक मुहिम की शुरुआत की थी। बिहार की राजनीति को बदलने का दावा भी किया था। मगर उनकी राजनीति से एक्शन अब गायब है। जानकारों के मुताबिक, प्रशांत किशोर ने पूरी ताकत पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी को चुनाव जिताने में लगा रखी है। -पढ़ें पूरी खबर 4. आखिर किसानों के लिए एमएसपी का क्या महत्व है? केंद्र सरकार खेती-किसानी के क्षेत्र में सुधार के लिए तीन विधेयक लाई है। इन्हें लेकर पंजाब और हरियाणा समेत कुछ राज्यों में किसान नाराज हैं। उन्हें अपनी उपज पर मिलने वाले न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की चिंता है। आखिर किसानों के लिए एमएसपी का क्या महत्व है? -पढ़ें पूरी खबर 5. ट्रम्प को जहरीले कैमिकल वाले लिफाफे भेजे गए अमेरिकी जांच एजेंसियों के मुताबिक, हाल के कुछ दिनों में व्हाइट हाउस और कुछ डिपार्टमेंट्स को रिसिन नामक खतरनाक कैमिकल वाले लिफाफे भेजे गए। इस साजिश को अंजाम देने के लिए लोकल पोस्टल सिस्टम का इस्तेमाल किया गया। अमेरिकी खुफिया एजेंसी को शक है कि यह लिफाफे कनाडा से भेजे गए हैं। -पढ़ें पूरी खबर 6. दुनिया के सबसे बड़े कोरोना केयर सेंटर से रिपोर्ट यहां मरीजों के लिए खाने का बंदोबस्त राधा स्वामी सत्संग न्यास की ओर से किया जा रहा है। दिन में तीन बार काढ़ा, दो बार चाय, गरम पानी और भोजन मुफ्त देते हैं। डॉ. रीता बताती हैं कि सबसे मुश्किल होता है, पीपीई किट पहनकर मरीजों को देखना और घरवालों को ये समझाना कि हम यहां ठीक हैं। -पढ़ें पूरी खबर 7. यौन शोषण के आरोपों को अनुराग कश्यप ने बेबुनियाद बताया फिल्ममेकर अनुराग कश्यप पर एक्ट्रेस पायल घोष ने यौन शोषण के गंभीर आरोप लगाए थे। अनुराग ने ट्वीट किया, 'थोड़ी तो मर्यादा रखिए मैडम। बस यही कहूंगा की जो भी आरोप हैं आपके सब बेबुनियाद हैं। मैडम दो शादियां की हैं, अगर वो जुर्म है तो मंजूर है और बहुत प्रेम किया है, वो भी कबूलता हूं।' -पढ़ें पूरी खबर अब 21 सितंबर का इतिहास 1961: अमेरिका में बने बोइंग सीएच-47 चिनूक ने पहली बार उड़ान भरी। इसका इस्तेमाल इराक और अफगानिस्तान के युद्धों में बड़े पैमाने पर अमेरिकी फौजों ने किया। 2004: ग्लोबल फैसलों में अपना प्रभाव बढ़ाने के लिए ब्राजील, भारत, जर्मनी और जापान ने मिलकर यूएन सिक्योरिटी काउंसिल की स्थायी सीट के लिए प्रयास करने की ठानी। 2018: यूएन महासभा में भारत ने पाकिस्तान से विदेश मंत्री स्तर की बातचीत रद्द कर दी थी। क्योंकि, कश्मीर में आतंकियों ने भारतीय सीमा पर एक जवान की हत्या कर दी थी। जाते-जाते जिक्र स्टीफन एडविन किंग का, जो डरावनी, अलौकिक, रहस्य, विज्ञान और कल्पना के एक अमेरिकी लेखक थे। आज उनका जन्मदिन है। पढ़िए किताबों को लेकर उनका एक विचार। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें 40 clone trains will start from today; Taj Mahal will open for common people; Anurag Kashyap breaks silence on sexual abuse allegations [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/40-clone-trains-will-start-from-today-taj-mahal-will-open-for-common-people-anurag-kashyap-breaks-silence-on-sexual-abuse-allegations-127739032.html

24 घंटे में 82559 संक्रमित मिले और 88966 लोग रिकवर हुए, लगातार तीसरे दिन ठीक होने वाले मरीजों की संख्या ज्यादा; देश में अब तक 54.80 लाख केस



		 24 घंटे में 82559 संक्रमित मिले और 88966 लोग रिकवर हुए, लगातार तीसरे दिन ठीक होने वाले मरीजों की संख्या ज्यादा; देश में अब तक 54.80 लाख केस 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
देश में रविवार को 82,559 मरीज मिले और 88,966 लोग ठीक हुए। लगातार तीसरे दिन ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ी है। इसके साथ ही देश में संक्रमण के 54 लाख 80 हजार 779 केस मिल चुके हैं, जबकि 43 लाख 88 हजार 690 लोग रिकवर हो चुके हैं। वहीं, 24 घंटे में 1093 लोगों की जान गई। अब तक मरने वालों की संख्या 87,867 हो चुकी है। शनिवार को 92,574 संक्रमित मिले थे, जबकि 94,384 ठीक हुए। वहीं, शुक्रवार को 92,969 केस मिले थे और 95,512 ठीक हुए थे। भारत अब मरीजों के ठीक होने के मामले में पहले नंबर पर हो गया है। यहां अब तक अन्य देशों की तुलना में सबसे ज्यादा मरीज ठीक हुए हैं। अमेरिका अब दूसरे नंबर पर पहुंच गया है। (भारत में 100 संक्रमितों में से 79 रिकवर, पूरी खबर पढ़ें) मरने वालों का आंकड़ा 86 हजार के पार देश में मरने वालों की संख्या अब 86 हजार 926 हो गई है। अभी 10 लाख 16 हजार 389 मरीज ऐसे हैं, जिनका इलाज चल रहा है। ये मरीज घर में रहकर या फिर अस्पताल में अपना इलाज करा रहे हैं। इनमें करीब 9000 मरीजों की हालत गंभीर है। कर्नाटक में नहीं खुलेंगे स्कूल-कॉलेज कर्नाटक सरकार ने फिलहाल स्कूल-कॉलेज खोलने पर रोक लगा दी है। केंद्र ने अनलॉक 4.0 के तहत 21 सितंबर से 9वीं-12वीं तक के स्टूडेंट्स को गाइडेंस लेने के लिए स्कूल जाने की छूट दी थी। इसके अलावा कई हायर एजुकेशनल इंस्टीट्यूट को भी खोलने की मंजूरी दे दी थी। इस पर कर्नाटक सरकार ने कहा कि राज्य में संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐसे में छात्रों को स्कूल और कॉलेज भेजना ठीक नहीं होगा। कोरोना अपडेट्स : छत्तीसगढ़ में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए अब लगभग हर प्रमुख जिले में लॉकडाउन लगाया जा रहा है। रविवार को जारी आदेश के मुताबिक रायगढ़, जशपुर, जांजगीर, बलौदाबाजार जिले में लॉकडाउन लगाया जा रहा है। प्रदेश में रविवार शाम तक की स्थिति में 37,489 एक्टिव मरीज हैं। कोरबा में 23 सिंतबर से 2 अक्टूबर तक लॉकडाउन रहेगा। कोरोना के लिए बनाए जा रहे ऑक्सफोर्ड वैक्सीन का आखिरी और फेज-3 ट्रायल सोमवार से पुणे में शुरू हो जाएगा। इसके लिए 150 से 200 वॉलंटियर्स डोज लेने के लिए तैयार हैं। रेलवे ने शनिवार को कहा कि कोऑपरेटिव और प्राइवेट बैंकों के 10% कर्मचारियों को मुंबई की सबअर्बन ट्रेनों में यात्रा करने की इजाजत दी जाएगी। कोरोना महामारी के चलते सबअर्बन ट्रेनों में यात्रा करने पर प्रतिबंध था। नेशनलाइज्ड बैंकों के कर्मचारियों को पहले से ही ट्रेनों में यात्रा करने की इजाजत है।छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं।अनलॉक 4.0 की गाइडलाइन में मिली छूट के तहत पंजाब सरकार ने 21 सितंबर से राज्य में हायर एजुकेशनल इंस्टीट्यूट खोलने का फैसला लिया है।केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने लोकसभा में एक सवाल के जवाब में बताया कि लॉकडाउन के दौरान चलाई गई श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 97 प्रवासी मजदूरों की सफर के दौरान मौत हुई। गोयल ने कहा कि ये आंकड़े राज्य सरकारों की ओर से मिले हैं। पांच राज्यों का हाल 1. मध्यप्रदेश राज्य में संक्रमितों की संख्या 1 लाख 3 हजार 65 हो गई है। राज्य में केस के दोगुना होने की दर बढ़ गई है। अब 42 दिन में दोगुने मरीज मिल रहे हैं। सितंबर के 18 दिनों में भोपाल में 5000 से ज्यादा केस आए हैं। मध्यप्रदेश में अब तक 79,158 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 1,943 की मौत हो चुकी है। 2. राजस्थान रविवार को रिकॉर्ड 1865 संक्रमित मिले। अब यहां 1 लाख 14 हजार 989 केस हो गए हैं। 95 हजार 469 ठीक हो चुके हैं। 1336 की मौत हो चुकी है। राज्य सरकार ने अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमितों से परिवार को मिलने की इजाजत दे दी है। हालांकि, मरीज से मिलने वाले को पीपीई किट, ग्लव्स और फेस मास्क पहनना होगा। 3. बिहार रविवार को 1555 नए मरीज मिले और 1487 ठीक हो गए। तीन संक्रमितों ने दम तोड़ दिया। राज्य में अब तक 1 लाख 68 हजार 542 लोग संक्रमित हो चुके हैं। 864 की मौत हो चुकी है। 13 हजार 234 संक्रमितों का इलाज चल रहा है। 4. महाराष्ट्र रविवार को 20 हजार 627 केस आए। यहां अब तक 12 लाख 8 हजार 642 केस आ चुके हैं। 8 लाख 84 हजार 341 संक्रमित ठीक हो चुके हैं। 2 लाख 91 हजार 238 का इलाज चल रहा है, जबकि 32 हजार 671 की मौत हो चुकी है। 5. उत्तरप्रदेश रविवार को 5758 संक्रमित मिले, जबकि 6584 ठीक हो गए, जबकि 94 की मौत हो गई। राज्य में 3 लाख 54 हजार 275 केस आ चुके हैं। 2 लाख 83 हजार 274 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 5047 की मौत हो चुकी है। अभी 65 हजार 954 संक्रमितों का इलाज चल रहा है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें यह फोटो महाराष्ट्र की है। रविवार को कोरोनावायरस के चलते एक लड़की मास्क पहने नजर आई। राज्य में 12 लाख से ज्यादा संक्रमित मिल चुके हैं। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/coronavirus-outbreak-india-cases-live-updates-maharashtra-pune-madhya-pradesh-indore-rajasthan-uttar-pradesh-haryana-punjab-bihar-novel-corona-covid-19-death-toll-india-today-mumbai-delhi-coronavirus-news-127736604.html

अहमदाबाद में दिव्य भास्कर ने निकाला 80 पन्नों का संस्करण, भास्कर समूह के मेगा एडिशन में एक नया माइलस्टोन जुड़ा



		 अहमदाबाद में दिव्य भास्कर ने निकाला 80 पन्नों का संस्करण, भास्कर समूह के मेगा एडिशन में एक नया माइलस्टोन जुड़ा 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
दैनिक भास्कर समूह के मेगा एडिशन देश में ट्रेंड सेटर बन गए हैं। इंदौर में 128 पन्नों, भोपाल में 72, होशंगाबाद में 60 और बिलासपुर में 54 पन्नों के बाद अब गुजरात में भी एक नया माइलस्टोन स्थापित हुआ। दिव्य भास्कर अहमदाबाद ने 80 पेजों का मेगा एडिशन निकाल कर कोरोना संकटकाल के प्रभाव को कम करने के भास्कर समूह की जज्बे को आगे बढ़ाया है। मौजूदा दौर में अखबार पाठकों और विज्ञापनदाताओं दोनों की जरूरतों के लिए सबसे भरोसेमंद माध्यम है। अहमदाबाद में दिव्य भास्कर 80 पन्नों के मेगा एडिशंस में यही भागीदारी उत्साहजनक रूप में देखने में आई है। इससे यह भी स्पष्ट होता है कि गुजरात की प्रगति ने फिर से गति पकड़ ली है। यह विशेष संस्करण मौजूदा महामारी के कारण बने माहौल से लड़ने के लिए भी जरूरी सकारात्मक सोच पैदा कर रहा है। गुजरात के स्टेट एडिटोरियल हेड देवेंद्र भटनागर कहते हैं, "यह वास्तव में समूह के लिए एक खास माइलस्टोन है, क्योंकि गुजरात के समझदार पाठक केवल सर्वश्रेष्ठ की उम्मीद करते हैं और हम अपनी संपादकीय श्रेष्ठता के वादे को पूरा करने में जरूर कामयाब हुए है।" इसी पर बात करते हुए, प्रेसिडेंट हरीश भाटिया ने कहा, "अहमदाबाद में 80 पन्नों का यह मेगा एडिशन इंदौर, भोपाल, होशंगाबाद और बिलासपुर की सफलता को आगे बढ़ा रहा है। इससे स्पष्ट रूप से यह भी समझ आता है कि दैनिक भास्कर अपने प्रभाव क्षेत्र वाले सभी बाजारों में विज्ञापन के खर्च पर पकड़ बनाने में सक्षम है। यह ट्रेंड सेटिंग अप्रोच अर्नेस्ट यंग (EY) की रिपोर्ट पर भी मोहर है, जिसमें कहा गया है कि देश की इकोनॉमी को पटरी पर लाने की अगुआई टियर-2 और टियर-3 शहर ही कर रहे हैं।” गुजरात के हेड संजीव चौहान बताते हैं कि, “दिव्य भास्कर अहमदाबाद के विशेष मेगा एडिशन के लिए विज्ञापनदाताओं में भारी जोश है और उनकी प्रतिक्रिया काफी उत्साहजनक है। इस अंक के लिए रियल एस्टेट, ज्वेलरी, ऑटोमोबाइल, एफएमसीजी, इलेक्ट्रॉनिक्स और सोशल सेक्टर जैसी कैटेगरीज के विज्ञापनदाता साथ आए हैं।" आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें After setting new milestones with 128 pages edition in Indore, 72-page in Bhopal, 60page in Hoshangabad and 54 pages in Bilaspur, the Bhaskar Group’s fight against the impact of the Corona continues with Divya Bhaskar’s 80-page edition in Ahmedabad on Sunday 20 september [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/dainik-bhaskar-group-continues-the-momentum-with-mega-editions-of-80-pages-of-divya-bhaskar-in-ahmedabad-127737091.html

1981 में यूएन ने शुरुआत की इंटरनेशनल डे ऑफ पीस की, इस बार की थीम 'शेपिंग पीस टुगेदर'; आज वर्ल्ड अल्जाइमर्स डे भी



		 1981 में यूएन ने शुरुआत की इंटरनेशनल डे ऑफ पीस की, इस बार की थीम
1981 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने इंटरनेशनल डे ऑफ पीस की स्थापना की थी। दो दशक बाद 2001 में महासभा ने सर्वसम्मति से इस दिन को 24 घंटे अहिंसा और सीजफायर की अवधि के तौर पर मनाने का फैसला किया। यूनाइटेड नेशंस सभी राष्ट्रों और लोगों को अहिंसा का महत्व बताने के लिए यह दिन मनाता है। इस दिन शांति के आदर्शों को मजबूती दी जाती है। यह दिन महात्मा गांधी की अहिंसा की सीख को याद करने का दिन भी है। यूएन का कहना है कि इस साल हम एक-दूसरे के दुश्मन नहीं है, बल्कि कोविड-19 के रूप में हमारा एक साझा दुश्मन सामने है, जिसने पूरी दुनिया को बेचैन कर दिया है। इस साल इंटरनेशनल डे ऑफ पीस की थीम है- शेपिंग पीस टुगेदर। वैसे, यह दिन सिर्फ बाहरी शांति ही नहीं, बल्कि अंदरुनी शांति की भी बात करता है। 1949: मणिपुर का भारत में विलय 15 अगस्त 1947 को ब्रिटिश राज खत्म होने से कुछ दिन पहले ही मणिपुर के राजा ने 11 अगस्त को भारत का शासन स्वीकार कर लिया था, पर राज्य में अंदरुनी संप्रभुता हासिल कर ली थी। मणिपुर स्टेट कान्सटीट्यूशन एक्ट 1947 लागू हुआ, जिससे राज्य को अपना अलग संविधान मिला। मणिपुर में कई लोग भारत में विलय चाहते थे। मणिपुर इंडिया कांग्रेस भी बनी। भारत सरकार ने अलग संविधान को मान्यता नहीं दी। आखिर, महाराजा पर दबाव बना और उन्होंने 21 सितंबर 1949 को भारत सरकार के साथ मर्जर एग्रीमेंट साइन किया। यह एग्रीमेंट 15 अक्टूबर को लागू हुआ। कई सालों तक केंद्र का सीधा शासन यहां रहा, लेकिन 1972 में मणिपुर को भारत में अलग राज्य का दर्जा मिला। पूरी दुनिया में हर साल 21 सितंबर को वर्ल्ड अल्जाइमर्स डे मनाया जाता है। इसका उद्देश्य अल्जाइमर और डिमेंशिया के बारे में जागरुकता बढ़ाना है। अल्जाइमर्स में दिमाग में होने वाली नर्व सेल्स के बीच होने वाला कनेक्शन कमजोर हो जाता है। धीरे-धीरे यह रोग दिमाग के विकार का रूप लेता है और याददाश्त को खत्म करता है। व्यक्ति सोचना भी बंद कर देता है। 1906 में डॉ. एलोइस अल्जाइमर ने इस रोग के बारे में पता लगाया था, इस वजह से इस रोग को उनका नाम दिया गया था। उन्होंने मानसिक रोग से पीड़ित एक महिला के दिमाग में कोशिकाओं में बदलाव नोटिस किया था। स्टडी में पता चलता है कि जिन लोगों को अल्जाइमर्स होता है उन्हें कार्डियोवस्कुलर रोग भी होते हैं। आज का दिन इन घटनाओं की वजह से भी याद किया जाता है- 1784ः अमेरिका का पहली बार दैनिक अखबार (पेनसिल्वेनिया पैकेट एंड जनरल एडवरटाइजर) छपा।1961: अमेरिका में बने बोइंग सीएच-47 चिनूक ने पहली बार उड़ान भरी। इसका इस्तेमाल इराक और अफगानिस्तान के युद्धों में बड़े पैमाने पर अमेरिकी फौजों ने किया।1964: दक्षिण यूरोपीय द्वीपीय देश माल्टा को अंग्रेजों ने 1814 में पेरिस संधि के तहत अपनी कॉलोनी बनाया था। देश ने 1964 में 21 सितंबर को आजादी हासिल की। पहले तो इंग्लैंड की महारानी को राष्ट्र प्रमुख के तौर पर स्वीकार किया, लेकिन 13 दिसंबर 1974 को खुद को रिपब्लिक घोषित किया।1966ः मिहीर सेन ने बासफोरस चैनल तैरकर पार किया।1984ः ब्रुनेई संयुक्त राष्ट्र में शामिल हुआ।1991ः आर्मेनिया को सोवियत संघ से स्वतंत्रता मिली।1996: प्रेसिडेंट बिल क्लिंटन ने डिफेंस ऑफ मैरिज एक्ट पर साइन किए। इसमें सेम सेक्स मैरिज को मान्यता न देने का प्रावधान था, लेकिन इस आधार पर उनके साथ भेदभाव नहीं किया जा सकता था। यूएस सुप्रीम कोर्ट ने 2013 और 2015 में फैसलों से इसे रद्द कर दिया।2000ः भारत और ब्रिटेन के बीच बेहतर संबंध के लिए लिबरल डेमोक्रेटिक फ्रेंड्स ऑफ इंडिया सोसायटी की स्थापना।2004: ग्लोबल फैसलों में अपना प्रभाव बढ़ाने के लिए ब्राजील, भारत, जर्मनी और जापान ने मिलकर यूएन सिक्योरिटी काउंसिल की स्थायी सीट के लिए प्रयास करने की ठानी। सबने मिलकर यूएन सुधारों पर काम करने का संकल्प लिया।2008ः रिलायंस के कृष्णा गोदावरी बेसिन में तेल उत्पादन शुरू हुआ।2013: केन्या के नैरोबी में वेस्टगेट मॉल पर अल-शबाब आतंकी समूह के सदस्यों ने हमला किया था। कुछ घंटों तक चली मुठभेड़ में आतंकियों ने 63 शॉपर्स की हत्या कर दी थी। केन्या के सुरक्षा बलों ने बंधकों को रिहा किया और चार आतंकियों को भी मार गिराया।2018: भारत ने यूएन महासभा के दौरान पाकिस्तान के साथ विदेश मंत्री स्तर की बातचीत रद्द कर दी थी। दरअसल, कश्मीर में भारतीय सीमा पर एक जवान की हत्या कर दी थी और पाकिस्तान आतंकियों का महिमा मंडन कर रहा था। इससे ही भारत नाराज था। कहा गया कि आतंकवाद और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकते। आज जन्मदिन 1947: स्टीफन किंग (अमेरिकी लेखक, हॉरर किताबों को लेकर पहचान)1955: गुलशन ग्रोवर (भारतीय फिल्म अभिनेता)1980: करीना कपूर (भारतीय फिल्म अभिनेत्री)1954: शिंजो आबे (जापान के पूर्व प्रधानमंत्री)1979: क्रिस गेल (वेस्ट इंडीज के क्रिकेटर)1991: दीपिका पल्लीकल कार्तिक (भारतीय स्क्वाश खिलाड़ी) आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Today History for September 21st/ What Happened Today | 1981 International Peace Day| World Alzheimer's Day| 1949 Manipur became part of India| 2018 Westgate Mall attack in Kenya [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/today-history-september-21st-international-peace-day-world-alzheimers-day-manipur-became-part-of-india-westgate-mall-attack-in-kenya-127739033.html

12 विपक्षी दलों ने उपसभापति के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दिया; वोटिंग के दौरान वेल में विपक्ष की नारेबाजी, टीएमसी सांसद ओ’ब्रायन ने रूल बुक फाड़ी



		 12 विपक्षी दलों ने उपसभापति के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दिया; वोटिंग के दौरान वेल में विपक्ष की नारेबाजी, टीएमसी सांसद ओ’ब्रायन ने रूल बुक फाड़ी 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
राज्यसभा में रविवार को केंद्र सरकार ने खेती से जुड़े दो बिल ध्वनिमत से पास करा लिए। राष्ट्रपति के दस्तखत के बाद ये कानून बन जाएंगे। सदन में बिल पर वोटिंग के दौरान विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। उधर, कृषि मंत्री के जवाब पर बहस की मांग खारिज होने पर 12 विपक्षी दलों ने राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस पेश किया है। करीब 100 लोगों के दस्तखत किया हुआ प्रस्ताव संसद के नोटिस ऑफिस में सबमिट किया गया है। कांग्रेस के राज्यसभा सांसद अहमद पटेल ने कहा कि राज्यसभा के उप-सभापति को लोकतांत्रिक परंपराओं की रक्षा करनी चाहिए, लेकिन इसके बजाय, उनके रवैये ने आज लोकतांत्रिक परंपराओं और प्रक्रिया को नुकसान पहुंचाया है। हंगामा इतना हुआ कि मार्शल बुलाने पड़े जो विधेयक पास कराए गए उनमें फार्मर्स एंड प्रोड्यूस ट्रेड एंड कॉमर्स (प्रमोशन एंड फैसिलिटेशन) बिल और फार्मर्स (एम्पावरमेंट एंड प्रोटेक्शन) एग्रीमेंट ऑन प्राइस एश्योरेंस एंड फार्म सर्विस बिल शामिल हैं। इन पर वोटिंग के दौरान विपक्षी सांसदों ने वेल में जाकर जमकर नारेबाजी की। तृणमूल सांसद डेरेक ओ’ब्रायन ने उपसभापति हरिवंश का माइक तोड़ने की कोशिश की। उन्होंने सदन की रूल बुक फाड़ दी। सदन की कार्यवाही जारी रखने के लिए मार्शलों को बुलाना पड़ा। 10 मिनट तक सदन की कार्यवाही स्थगित करने के बाद फिर से वोटिंग प्रक्रिया शुरू हुई और हंगामे के बीच ही विधेयकों को सरकार ने पास करा लिया। They have broken every rule of the Parliament. It was a historic day, in the worst sense of the word. They cut RSTV feed so the country couldn't see. They censored RSTV: TMC MP Derek O'Brien after uproar in the House on farm bills https://t.co/VltTgKOx5w — ANI (@ANI) September 20, 2020 सदन स्थगित होने के बाद भी डटे रहे विपक्षी सांसद सदन स्थगित होने के बाद भी विपक्षी सांसदों ने विरोध में सदन नहीं छोड़ा। सदन का सैनिटाइजेशन अटका रहा और लोकसभा की कार्यवाही टालनी पड़ी। राज्यसभा में हंगामे को लेकर उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू के आवास पर बैठक हुई। इसमें उप सभापति हरिवंश सिंह, संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी और केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल मौजूद थे। सदन में हंगामा करने वाले विपक्षी सांसदों पर अब कार्रवाई की तैयारी उपसभापति हरिवंश के साथ अभद्रता करने वाले सांसदों के खिलाफ सोमवार को संसद में प्रस्ताव लाया जाएगा। प्रस्ताव संसदीय मामलों के मंत्री प्रह्लाद जोशी पेश करेंगे। इसे राज्यसभा की कार्यवाही के रूल 256 के तहत लाया जाएगा। इसके जरिए उपसभापति से दुर्व्यवहार करने वाले सांसदों को निलंबित करने की मांग की जाएगी। पीएम मोदी ने दी बधाई, फिर कहा- एमएसपी और सरकारी खरीद जारी रहेगी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा से दोनों बिल पास होने के बाद आठ ट्वीट किए। किसानों को बधाई दी। उन्होंने कहा, ''भारत के कृषि इतिहास में आज एक बड़ा दिन है। संसद में अहम विधेयकों के पारित होने पर मैं अपने परिश्रमी अन्नदाताओं को बधाई देता हूं। यह न केवल कृषि क्षेत्र में आमूलचूल परिवर्तन लाएगा, बल्कि इससे करोड़ों किसान सशक्त होंगे।'' एक दूसरे ट्वीट में उन्होंने एक बार फिर से किसानों को भरोसा दिलाया कि एमएसपी और सरकारी खरीददारी पहले की तरह जारी रहेगी। भारत के कृषि इतिहास में आज एक बड़ा दिन है। संसद में अहम विधेयकों के पारित होने पर मैं अपने परिश्रमी अन्नदाताओं को बधाई देता हूं। यह न केवल कृषि क्षेत्र में आमूलचूल परिवर्तन लाएगा, बल्कि इससे करोड़ों किसान सशक्त होंगे। — Narendra Modi (@narendramodi) September 20, 2020 कृषि मंत्री बोले, किसानों की जिंदगी बदल जाएगी कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सदन के पटल पर विधेयक रखते हुए कहा कि दोनों बिल ऐतिहासिक हैं, इनसे किसानों की जिंदगी बदल जाएगी। किसान देशभर में कहीं भी अपना अनाज बेच सकेंगे। मैं उन्हें विश्वास दिलाता हूं कि बिलों का संबंध न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) से नहीं है। कांग्रेस ने विरोध किया, राहुल बोले- मोदी जी किसानों को गुलाम बना रहे कांग्रेस ने इसका जोरदार विरोध शुरू कर दिया है। कांग्रेस सांसद प्रताप सिंह बाजवा ने कहा कि वह और उनकी पार्टी किसानों के डेथ वॉरंट पर साइन नहीं करेंगे। राहुल गांधी ने भी ट्वीट करके सरकार पर निशाना साधा। मोदी सरकार के कृषि-विरोधी ‘काले क़ानून’ से किसानों को: 1. APMC/किसान मार्केट ख़त्म होने पर MSP कैसे मिलेगा? 2. MSP की गारंटी क्यों नहीं? मोदी जी किसानों को पूँजीपतियों का ‘ग़ुलाम' बना रहे हैं जिसे देश कभी सफल नहीं होने देगा।#KisanVirodhiNarendraModi — Rahul Gandhi (@RahulGandhi) September 20, 2020 वाईएसआरसीपी सांसद ने कहा- कांग्रेस दलालों के साथ खड़ी वाईएसआरसीपी सांसद पीपी रेड्‌डी ने कांग्रेस पर जोरदार पलटवार किया। उन्होंने सदन में कहा, ''कांग्रेस के पास इस बिल के विरोध का कोई कारण नहीं है। कांग्रेस दलालों के साथ खड़ी है। उन्‍होंने कांग्रेस का चुनावी घोषणापत्र लहराते हुए कहा कि यह पार्टी किसानों हित के नाम पर पाखंड कर रही है। कांग्रेस ने भी यही वादे घोषणापत्र में किए थे जिन्हें इस बिल में रखा गया है।'' रेड्‌डी के इस बयान पर कांग्रेस ने हंगामा किया। सांसद आनंद शर्मा ने रेड्‌डी से माफी मांगने को कहा। केजरीवाल बोले- सब मिलकर बिल का विरोध करें आम आदमी पार्टी ने भी किसानों से जुड़े बिल का विरोध किया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करके सभी विपक्षी दलों से इस बिल के विरोध में वोटिंग करने को कहा। आप सांसद संजय सिंह ने बिल को काला कानून बताया। यह भी कहा कि आने वाले समय में कृषि पूंजीपतियों के हाथ में चली जाएगी। आज पूरे देश के किसानों की नज़र राज्य सभा पर है। राज्य सभा में भाजपा अल्पमत में है। मेरी सभी ग़ैर भाजपा पार्टियों से अपील है कि सब मिलकर इन तीनों बिलों को हरायें, यही देश का किसान चाहता है। https://t.co/NcEX4aYFQz — Arvind Kejriwal (@ArvindKejriwal) September 20, 2020 सदन में कौन-क्या बोला? केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया की तरफ से बिल का स्वागत किया। कहा, आज का दिन किसानों को न्याय देने का दिन है।आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कहा ये काला कानून है। आप किसानों को धोखा दे रहे हैं। देश की जनता को धोखा दे रहे हैं। आप देश के किसानों की आत्मा बेचने का काम कर रहे हैं।शिवसेना सांसद संजय राउत ने पूछा कि क्या सरकार यह स्पष्ट करेगी कि इस बिल को लागू करने के बाद किसानों की आय डबल हो जाएगी? किसान आत्महत्या नहीं करेंगे? उनके बच्चे भूखे नहीं नहीं रहेंगे? इस बिल को लेकर केवल पंजाब-हरियाणा में किसान प्रदर्शन कर रहे हैं। पूरे देश में किसान नहीं प्रदर्शन कर रहे हैं। इसका मतलब ये है कि बिल को लेकर केवल भ्रम है। सरकार को इन चीजों को स्पष्ट करना चाहिए।बसपा के सांसद सतीश चंद्र मिश्र ने कहा कि किसान एमएसपी को लेकर संशय में हैं। उन्हें डर है कि कहीं ये एमएसपी खत्म तो नहीं हो जाएगी। सरकार को इन मुद्दों को क्लियर करना चाहिए। इसके अलावा मंडी समिति में पूर्व की तरह बिक्री जारी रहेगी या नहीं? अकाली दल के सांसद नरेश गुजराल ने बिल को वापस सिलेक्ट कमेटी के पास भेजने की मांग की। कहा कि, इस बिल में कई खामियां हैं। इसे बिल से जुड़े सभी लोगों से चर्चा करने के बाद ही पास किया जाए। वाईएसआरसीपी सांसद पीपी रेड्‌डी ने कहा कि कांग्रेस के पास इस बिल के विरोध का कोई कारण नहीं है। कांग्रेस दलालों के साथ खड़ी है।आरजेडी के सांसद प्रो. मनोज कुमार झा ने कहा, '' प्रधानमंत्री मोदी कहते हैं कि किसान बिल पर कुछ लोग गुमराह कर रहे हैं, जबकि हकीकत ये है कि आपने तो सबकी राहें ही गुम कर दी हैं। बिल में कई चीजें स्पष्ट नहीं हैं। ये किसान विरोधी बिल है।''डीएमके सांसद टीकेएस एलंगोवन ने भी कृषि विधेयकों का विरोध किया। उन्होंने कहा, देश के कुल जीडीपी में कम से कम 20% का योगदान करने वाले किसानों को इन विधेयकों के जरिए गुलाम बनाया जाएगा। यह किसानों को मार देगा और उन्हें एक वस्तु बना देगा।समाजवादी पार्टी के सांसद राम गोपाल यादव ने कहा कि ऐसा लगता है कि सत्ताधारी पार्टी इन बिल पर चर्चा ही नहीं करना चाहती है। ये केवल इन बिल को पास कराने के लिए इसे पेश कर रहे हैं। यही नहीं, इस बिल को रखने से पहले किसानों के किसी संगठन से चर्चा भी नहीं की।तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने 2022 तक किसानों की इनकम डबल करने का वादा किया है, लेकिन मौजूदा दर के हिसाब से तो 2028 तक डबल नहीं हो सकता। आपके (प्रधानमंत्री) वादों से आपकी विश्वसनीयता कम होती जा रही है।माकपा, तृणमूल कांग्रेस, द्रमुक ने विधेयकों में संशोधन की मांग की। इसे राज्यसभा की सिलेक्ट कमेटी के पास भेजने का प्रस्ताव रखा।कांग्रेस ने बिल का विरोध किया। कांग्रेस सांसद प्रताप सिंह बाजवा ने कहा कि वह और उनकी पार्टी किसानों के डेथ वॉरंट पर साइन नहीं करेंगे।भाजपा सांसद भूपेंद्र यादव ने कांग्रेस से पूछा कि जब आपकी सरकार थी तो साल दर साल ग्रामीण क्षेत्रों की आय क्यों कम हुई? आप इस बिल का क्यों विरोध कर रहे हैं? पंजाब-हरियाणा में प्रदर्शन, दिल्ली में हाई अलर्ट बिलों को लेकर पंजाब-हरियाणा के किसान प्रदर्शन कर रहे हैं। रविवार को भी बड़ी संख्या में किसान सड़कों पर उतरे। उधर, हंगामे की संभावना को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने राज्य में अलर्ट जारी कर दिया है। हरियाणा-पंजाब बॉर्डर पर पुलिस की तैनाती बढ़ा दी गई है ताकि किसान दिल्ली में बवाल न हो सके। इसी मुद्दे पर शिरोमणि अकाली दल की मंत्री हरसिमरत कौर ने कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है। बिल लोकसभा से पास हो चुके हैं। क्या हैं ये विधेयक? कृषि सुधारों के लिए द फार्मर्स प्रोड्यूस ट्रेड एंड कॉमर्स (प्रमोशन एंड फेसिलिटेशन) बिल 2020; द फार्मर्स (एम्पावरमेंट एंड प्रोटेक्शन) एग्रीमेंट ऑफ प्राइज एश्योरेंस एंड फार्म सर्विसेस बिल 2020 और द एसेंशियल कमोडिटीज (अमेंडमेंट) बिल 2020 लाया गया है।इन तीनों ही कानूनों को केंद्र सरकार ने लॉकडाउन के दौरान 5 जून 2020 को ऑर्डिनेंस की शक्ल में लागू किया था। तब से ही इन पर बवाल मचा हुआ है। केंद्र सरकार इन्हें अब तक का सबसे बड़ा कृषि सुधार कह रही है। लेकिन, विपक्षी पार्टियों को इसमें किसानों का शोषण और कॉर्पोरेट्स का फायदा दिख रहा है। आप यह खबर भी पढ़ सकते हैं... भास्कर एक्सप्लेनर:एमएसपी क्या है, जिसके लिए किसान सड़कों पर हैं और सरकार के नए कानूनों का विरोध कर रहे हैं? क्या महत्व है किसानों के लिए एमएसपी का? आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें राज्यसभा में वोटिंग के दौरान टीएमसी सांसद डेरेक ओ’ब्रायन ने वेल पर जाकर सदन की रूल बुक फाड़ दी। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/agriculture-minister-tomar-introduced-2-bills-related-to-farming-in-rajya-sabha-said-these-will-change-the-lives-of-farmers-they-have-no-relation-with-msp-127736630.html

पाकिस्तान सालों से सिखों की आबादी खत्म करने में जुटा; भारत को तोड़ने के लिए खालिस्तानी आतंकवाद को बढ़ावा दे रहा



		 पाकिस्तान सालों से सिखों की आबादी खत्म करने में जुटा; भारत को तोड़ने के लिए खालिस्तानी आतंकवाद को बढ़ावा दे रहा 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
पाकिस्तान दशकों से हत्या, दुष्कर्म, अपहरण और महिलाओं के जबरन विवाह के जरिए सिख आबादी को खत्म कर रहा है। फिर भी यह खालिस्तानी आतंकवाद और दुनियाभर में अलगाववादी मूवमेंट को हवा दे रहा है, ताकि वह भारत को तोड़ने की अपनी मंशा में कामयाब हो सके। एक्सपर्ट टेरी मिल्वेस्की ने ये बातें कही हैं। उन्होंने हाल ही में इस विषय पर एक रिपोर्ट जारी की, जिसमें उन्होंने कहा कि खालिस्तानी आतंकियों को पाकिस्तान आर्थिक मदद देता है। ये आतंकी भारत और कनाडा की सुरक्षा के लिए खतरा बने हुए हैं। 18 सितंबर को दिल्ली मुख्यालय के थिंक-टैंक लॉ एंड सोसायटी एलायंस की ओर से किए गए वेबिनार ‘खालिस्तानी आतंकवाद और कनाडा’ में वे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल हुए। मिल्वेस्की ने कहा कि उनकी रिपोर्ट ने खालिस्तानी आतंकियों और पाकिस्तान को बेनकाब कर दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक, यह ऐसा है जैसे भारत-पाकिस्तान बंटवारे के दिन अभी खत्म नहीं हुए हैं। यही कारण है कि पाकिस्तान में सिख आबादी तेजी से घट रही है। पाकिस्तान में अभी भी सिखों का जबरन धर्म परिवर्तन कराया जाता है। गुरुद्वारों पर हमले किए जाते हैं। उनका अपहरण और हत्याएं की जाती हैं। खालिस्तानी जनमत संग्रह कराना चाहते हैं उन्होंने कहा कि खालिस्तानी आतंकवादियों ने 35 साल पहले एयर इंडिया के विमान में विस्फोट किया था, जिसमें कई लोग मारे गए थे। कनाडा ने अब तक की सबसे बड़ी मास किलिंग देखी। उसके पीड़ितों को अब तक न्याय नहीं मिल पाया है। खालिस्तानी इस साल नवंबर में अलग खालिस्तान के लिए जनमत संग्रह कराना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने नक्शा भी प्रस्तावित किया था। कनाडा सरकार का कहना है कि इसे मान्यता नहीं दी जाएगी। हालांकि, यह चेतावनी दी गई है कि जनमत से अतिवादी विचारधारा को हवा मिल सकती है। प्रस्तावित खालिस्तान नक्शे में भारत के कई हिस्सों को शामिल किया गया था। इसमें राजस्थान के कुछ भू-भाग, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और दिल्ली का पूरा हिस्सा शामिल था। खालिस्तान के नक्शे में पाकिस्तान का हिस्सा नहीं प्रस्तावित नक्शे में एक इंच भी पाकिस्तान की जमीन नहीं थी। मिल्वेस्की ने कहा- नक्शे में लाहौर शामिल होना चाहिए था, जहां से महाराजा रणजीत सिंह ने एक साम्राज्य चलाया और ननकाना साहिब, जहां गुरु नानक देव जी का जन्म हुआ था। सिख इतिहास वाले भूमि के उन हिस्सों को क्यों छोड़ा जा रहा है? इसका उत्तर यह है कि जो लोग खालिस्तान के लिए आंदोलन कर रहे हैं, वे पाकिस्तान के समर्थन के बिना अभियान नहीं चला सकते। वे अपने आकाओं को नाराज नहीं करना चाहते। पाकिस्तान भी खालिस्तान को समर्थन देता रहा है रिपोर्ट के मुताबिक, उन्होंने कनाडा में देखा कि पाकिस्तान ने 15 अगस्त को भारतीय मिशन के सामने प्रदर्शन के दौरान खालिस्तान को खुला समर्थन दिया था। हालांकि, दोनों पक्ष समर्थन छिपाने की कोशिश करते हैं, लेकिन वे हर बार उजागर हो जाते हैं। मिल्वेस्की ने कनाडा जैसे उदारवाद देशों की भी आलोचना की है, जो एयर इंडिया हादसे को लेकर खालिस्तानियों पर कार्रवाई करने की बजाए, खालिस्तानी आतंकियों के अपने नागरिकों पर हमला करने और मारने का इंतजार कर रहा है। यूके के हाउस ऑफ लॉर्ड्स के सदस्य, रेमी रेंजर ने रिपोर्ट के लिए मिल्वेस्की को धन्यवाद दिया और कहा कि उनकी विश्वसनीयता ने इसे और भी ज्यादा मजबूत बना दिया है। खालिस्तानियों ने अपने गुरुओं की विरासत को नुकसान पहुंचाया रेमी रेंजर ने कहा- खालिस्तानी चरमपंथी सिख गुरुओं के लिए अपमान की तरह हैं। वे पूरी तरह से गुमराह हो गए हैं, जो पाकिस्तान के इशारे पर काम करते हैं और लोगों को धर्म के नाम पर बांटते हैं। भारत के दुश्मनों के लिए काम करके खालिस्तानियों ने अपने गुरुओं का अपमान किया है, जिन्होंने भारत को एकजुट करने के लिए काम किया। उन्होंने अपने गुरुओं की विरासत को नुकसान पहुंचाया है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें 15 अगस्त को कनाडा में भारतीय मिशन के सामने खालिस्तानियों ने प्रदर्शन किया, जिसका पाकिस्तान ने खुलकर समर्थन किया था। -फाइल फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/canadian-expert-says-pak-kills-sikhs-but-funds-fuels-khalistani-terror-elsewhere-127736847.html

कृषि बिल के विरोध में हंगामे पर राजनाथ ने कहा- राज्यसभा में जो हुआ वह राजनीतिक स्वार्थ साधने की कोशिश; वादा- एमएसपी खत्म नहीं होगी



		 कृषि बिल के विरोध में हंगामे पर राजनाथ ने कहा- राज्यसभा में जो हुआ वह राजनीतिक स्वार्थ साधने की कोशिश; वादा- एमएसपी खत्म नहीं होगी 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
राज्यसभा में रविवार को किसान बिल पर हुए हंगामे के करीब साढ़े नौ घंटे बाद मोदी सरकार के छह बड़े मंत्रियों ने एक साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इसमें दो मंत्री राजनाथ सिंह और मुख्तार अब्बास नकवी करीब 15 मिनट बोले। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- राज्यसभा में आज जो कुछ भी हुआ है, वह दुखद था। मैं जानता हूं कि सदन की कार्यवाही चलाने के लिए सत्तापक्ष की जिम्मेदारी बनती है, लेकिन यह जिम्मेदारी विपक्ष की भी बनती है। उन्होंने कहा कि मैं भी किसान हूं और किसानों से वादा करता हूं कि मिनिमम सपोर्ट प्राइस (एमएसपी) किसी भी कीमत पर खत्म नहीं होगी। केवल निहित राजनीतिक स्वार्थ साधने की जो कोशिश की जा रही है वह ठीक नहीं है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में राजनाथ के अलावा नरेंद्र सिंह तोमर, प्रह्लाद जोशी, मुख्तार अब्बास नकवी, पीयूष गोयल और थावरचंद गहलोत भी मौजूद रहे। राज्यसभा में रविवार सुबह करीब 10 बजे विपक्षी दलों ने जमकर हंगामा किया। मोदी के मंत्रियों ने शाम 5:30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस की। राजनाथ सिंह ने और क्या कहा? मैं मानता हूं कि यह बिल किसान और कृषि जगत के लिए जरूरी है। इससे किसानों की आमदनी बढ़ेगी। हमने वादा किया था कि हम किसान की आमदनी बढ़ाएंगे। हमने ऐसा किया भी है।किसानों के बीच गलतफहमी पैदा की जा रही है। हकीकत यह है कि दोनों बिल लागू होने के बाद हमारा किसान उसकी फसल पूरी आजादी के साथ बेच सकेगा, जहां वह बेचना चाहता है। हमारी सरकार ने एमएसपी बढ़ाया है।राज्यसभा में उपसभापति के साथ जो व्यवहार हुआ है वह गलत है। रूल बुक को फाड़ना, आसंदी के ऊपर चढ़ जाना, जहां तक मैं जानता हूं, संसदीय इतिहास में ऐसी घटना न कभी लोकसभा में हुई, न ही राज्यसभा में। यह राज्यसभा में होना तो और भी बड़ी बात है।संसदीय लोकतंत्र में मर्यादाओं का महत्व होता है। इस प्रकार की जो भी कार्यवाही की गई है मैं उसकी निंदा करता हूं।मैं स्पष्ट करता हूं कि इस तरह की कार्यवाही से उनकी छवि पर तो आंच आई है, मगर मुझे गहरी चोट पहुंची है। यह चेयरमैन ही फैसला लेंगे कि जिन्होंने गलत व्यवहार किया है उनके खिलाफ क्या एक्शन लेना है। रविवार को किसान बिल पर विपक्ष ने हंगामा किया था राज्यसभा में रविवार को केंद्र सरकार ने खेती से जुड़े दो बिल ध्वनिमत से पास करा लिए। राष्ट्रपति के दस्तखत के बाद ये कानून बन जाएंगे। सदन में बिल पर वोटिंग के दौरान विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। बाद में 12 विपक्षी दलों ने राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया। करीब 100 लोगों के दस्तखत किया हुआ प्रस्ताव संसद के नोटिस ऑफिस में सबमिट किया गया। कांग्रेस के राज्यसभा सांसद अहमद पटेल ने कहा कि राज्यसभा के उप-सभापति को लोकतांत्रिक परंपराओं की रक्षा करनी चाहिए, लेकिन इसके बजाय, उनके रवैये ने आज लोकतांत्रिक परंपराओं और प्रक्रिया को नुकसान पहुंचाया है। हंगामा इतना हुआ कि मार्शल बुलाने पड़े जो विधेयक पास कराए गए उनमें फार्मर्स एंड प्रोड्यूस ट्रेड एंड कॉमर्स (प्रमोशन एंड फैसिलिटेशन) बिल और फार्मर्स (एम्पावरमेंट एंड प्रोटेक्शन) एग्रीमेंट ऑन प्राइस एश्योरेंस एंड फार्म सर्विस बिल शामिल हैं। इन पर वोटिंग के दौरान विपक्षी सांसदों ने वेल में जाकर जमकर नारेबाजी की। तृणमूल सांसद डेरेक ओ’ब्रायन ने उपसभापति हरिवंश का माइक तोड़ने की कोशिश की। उन्होंने सदन की रूल बुक फाड़ दी। सदन की कार्यवाही जारी रखने के लिए मार्शलों को बुलाना पड़ा। 10 मिनट तक सदन की कार्यवाही स्थगित करने के बाद फिर से वोटिंग प्रक्रिया शुरू हुई और हंगामे के बीच ही विधेयकों को सरकार ने पास करा लिया। हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह नौ बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। कृषि बिल को लेकर हुए हंगामे से जुड़ी यह खबर भी पढ़ सकते हैं... राज्यसभा में कृषि से जुड़े 2 बिल पास:12 विपक्षी दलों ने उपसभापति के खिलाफ पेश किया अविश्वास प्रस्ताव; वोटिंग के दौरान वेल में विपक्ष की नारेबाजी, टीएमसी सांसद ओ’ब्रायन ने सदन की रूल बुक फाड़ी आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें राजनाथ सिंह ने कहा- यह चेयरमैन ही फैसला लेंगे कि जिन्होंने गलत व्यवहार किया है उनके खिलाफ क्या एक्शन लेना है। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/rajnath-singh-and-other-ministers-press-conference-on-agriculture-bills-updates-127736892.html

देश में राष्ट्रीय तितली चुनने के लिए वोटिंग शुरू, कृष्णा पीकॉक से लेकर जंगल क्वीन तक 7 विकल्प दिए गए, जानिए इनकी खूबियां और वोटिंग का तरीका



		 देश में राष्ट्रीय तितली चुनने के लिए वोटिंग शुरू, कृष्णा पीकॉक से लेकर जंगल क्वीन तक 7 विकल्प दिए गए, जानिए इनकी खूबियां और वोटिंग का तरीका 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
इन दिनों भारत की राष्ट्रीय तितली का चुनाव किया जा रहा है। इसके लिए लोगों से ऑनलाइन वोटिंग कराई जा रही है। इससे पहले राष्ट्रीय पश, राष्ट्रीय पक्षी और राष्ट्रीय पुष्प भी घोषित किए गए थे, लेकिन देश में ऐसा पहली बार हो रहा है जब किसी राष्ट्रीय प्रतीक के चुनाव के लिए आम लोगों को भी शामिल किया जा रहा है। कैसे होगा तितली का चयन? भारत में कुल 1500 प्रकार की तितलियां पाई जाती हैं। देश के तितली विशेषज्ञों के समूह ने पिछले कुछ वर्षों में जंगलों, बागों आदि स्थानों पर तितली सर्वे शुरू किया था। लॉकडाउन के दौरान राष्ट्री पक्षी और पुष्प की तरह राष्ट्रीय तितली चुनने का विचार आया। देश भर से आंकड़े एकत्रित करने के बाद तितली विशेषज्ञों की टीम ने आंतरिक मतदान द्वारा सात तितलियों की अंतिम सूची तैयार की। इसमें यह ध्यान रखा गया है कि ये प्रजाति न तो दुर्लभ हों और न ही साधारण। इनमें से चुन लीजिए अपनी मनपसंद तितली कृष्णा पीकॉक 1. कृष्णा पीकॉक यह आकार में बड़ी तितली है, जो उत्तर-पूर्वी हिस्सों और हिमालय में पाई जाती है। इसके पंख 130 एमएम तक होते हैं। अगले पंख काले रंग के होते हैं। जिसमें पीले रंग की लम्बी धारी होती है। नीचे के पंख में नीले लाल बैंड मिलते हैं। कॉमन जेज़बेल 2. कॉमन जेज़बेल 66-83 एमएम आकार की इस तितली के पंखों की ऊपरी सतह सफेद और निचली सतह पीली होती है। इन पर काली मोटी धारियां और किनारों पर नारंगी छोटे-छोटे धब्बे इसे सुंदर बनाते हैं। ऑरेंज ओकलीफ 3. ऑरेंज ओकलीफ पंख के शीर्ष पर नारींग पट्आ और गहरा नीला रंग होता है। आधार पर दो सफेद बिंदु होते हैं। पंख खुलते ही रंगीन छटा बिखेरती है। वेस्टर्न घाट और उत्तर-पूर्व के जंगलों में पाई जाती है। फाइव बार स्वॉर्ड टेल 4. फाइव बार स्वॉर्ड टेल पंखों का आकार 75 से 90 एमएम तक होता है। पीछे के पंखों पर एक लम्बी सीधी काली तलवार जैसी पूंछ इसकी पहचान है। पंखों के काले सफेद पट्‌टों पर हरे पीले रंग का मेल इसे सुंदर बनाता है। कॉमन नवाब 5. कॉमन नवाब यह तेजी से उड़ सकती है। पेड़ों के ऊपरी हिस्सों में पाई जाती है, इसलिए कम ही दिखाई देती है। ऊपरी पंख काले होते हैं। नीचे के चॉकलेटी रंग के पंखों के बीच हल्की रही-पीली टोपी जैसी रचना के कारण इसे नवाब कहा जाता है। यलो गोर्गन 6.यलो गोर्गन यह मध्यम आकार की बहुत सुंदर तितली है। इसके कोण बनाते अनूठे पंख की इसकी खासियत है। इसके पंखों की अंदरवाली सतर पर गहरा पीला रंग होता है। यह पूर्व हिमालय और उत्तर पूर्व भारत के जंगलों में पाई जाती है। नॉर्दन जंगल क्वीन 7. नॉर्दन जंगल क्वीन चॉकलेट ब्राउन रंग की तितली होती है। हल्की नीली धारियां इसे सुंदर बनाती हैं। पंखों पर चॉकलेटी गोल घेरे इसकी सुंदरता में चार चांद लगाते हैं। यह फ्लोरोसेंट कलर में भी दिखाई देती हैं। यह अरुणाचल प्रदेश में पाई जाती है। यहां अपनी फेवरेट तितली के लिए करें ऑनलाइन वोटिंग आम लोग 8 अक्टूबर तक ऑनलाइन मतदान करके सात में से अपनी पसंदीदा एक तितली का चयन कर सकते हैं। इसके लिए लिंक tiny.cc/nationalbutterflypoll पर जाना होगा। वहां उन्हें एक गूगल फॉर्म मिलेगा। उसके जरिए किसी एक तितली को वोट दे सकते हैं। अधिकतम वोट प्राप्त करने वाली तितलियों की सूची केंद्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्रालय में पेश की जाएगी जिसमें से राष्ट्रीय तितली का चयन विशेषज्ञों की एक समिति करेगी। उम्मीद है कि नए साल की शुरुआत में हमारे पास अपनी एक राष्ट्रीय तितली होगी। तितली को इतनी अहमियत क्यों? तितलियां और कीटों की विविधता व उनकी संख्या किसी भी क्षेत्र के पारिस्थितिकी तंत्र के स्वास्थ्य को समझने का बेहतरीन तरीका है। अगर तितली और टों की विविधता व उनकी संख्या कम है तो यह इस बात का संकेत होता है कि उस क्षेत्र विशेष का स्वास्थ्य अच्छा नहीं है। इसका मतलब यह भी है कि इंसानों के लिए भी वह क्षेत्र धीरे-धीरे रहने लायक नहीं रहेगा। तितली को अहमियत इसलिए दी गई है क्योंकि रंगबिरंगे फूलों के आसपास भोजन तलाशने की आदत के कारण इनकी जैव विविधता का आंकलन दूसरे कीटों की तुलना में आसान हो जाता है। संकट में क्यों हैं तितलियां? जैव विविधता में कमी तितलियां प्राकृतिक तौर पर या जंगलों में पनपने वाले पौधों पर ही निर्भर रहती हैं। सजावटी व हाइब्रिड पौधे तितलियों के लिए बेकार सिद्ध होते हैं। जंगलों की कटाई और फिर बगीचों व मैदानों में भी साफ सफाई के बहाने हमने जंगली बेलों, पौधों और घास को भी खत्म कर दिया। इससे जैव विविधता कम होती गई और तितलियां भी सिमटती गईं। कीटनाशकों का ज्यादा इस्तेमाल कीटनाशकों का अनियंत्रित इस्तेमाल भी तितलियों की प्रजातियों को मिटाने के लिए जिम्मेदार होता है। अमेरिका के फ्लोरिडा में मच्छरों से उत्पन्न रोगों की रोकथाम के लिए कीटनाशकों के अत्यधिक उपयोग के कारण वहां तितलियों की दो प्रजातियां तो विलुप्ति की कगार पर आ गईं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें vote for Indias national butterfly started know how to vote for national butterfly [...]

Click here to Read full Details Sources @ /happylife/news/vote-for-indias-national-butterfly-started-know-how-to-vote-for-national-butterfly-127736793.html

सेना ने 3 हफ्ते में एलएसी के पास 6 नई चोटियों पर कब्जा किया, अड़ंगा डालने के लिए चीनी सैनिकों ने 3 बार हवाई फायर भी किए थे



		 सेना ने 3 हफ्ते में एलएसी के पास 6 नई चोटियों पर कब्जा किया, अड़ंगा डालने के लिए चीनी सैनिकों ने 3 बार हवाई फायर भी किए थे 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
लद्दाख सीमा पर अब भारत को चीन की हर गतिविधि का पता चल सकेगा। बीते 3 हफ्तों में भारतीय सेना ने लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) के पास 6 नई चोटियों पर कब्जा कर लिया है। अफसरों ने न्यूज एजेंसी को बताया कि आर्मी ने 29 अगस्त से सितंबर के दूसरे हफ्ते तक जिन चोटियों पर कब्जा किया, उनमें मगर हिल, गुरुंग हिल, रेचेन ला, रेजांग ला, मोखपारी और फिंगर 4 के पास स्थित एक चोटी है। सूत्रों के मुताबिक, इन चोटियों पर कोई नहीं (खाली पड़ी थीं) था। भारतीय सेना की इस पर नजर थी। चीनी सेना के कब्जे में जाने से पहले भारतीय जवानों ने इस पर कब्जा कर लिया। लिहाजा, लद्दाख के इस इलाके में भारतीय फौजों को एक तरह से बढ़त मिल गई है। चीनी सेना भी यहां कब्जे की फिराक में थी। हमारे जवानों को धमकाने के लिए चीनी सैनिकों ने पैंगॉन्ग त्सो झील के दक्षिणी किनारे से 3 बार हवाई फायर भी किए थे। जिन चोटियों पर कब्जा, वे हमारी सीमा में सूत्रों ने यह भी साफ किया कि ब्लैक टॉप हिल और हेलमेट टॉप हिल एलएसी पर चीनी हिस्से में आती हैं, जबकि भारतीय सेना ने जिन चोटियों पर कब्जा किया, वे हमारी तरफ हैं। चोटियों पर सेना के कब्जे के बाद चीनी सेना ने रेजांग और रेचेन ला के पास 3 हजार अतिरिक्त सैनिकों की तैनाती की है। उधर, बीते कुछ हफ्तों से चीन के हिस्से में आने वाला मॉल्डो गैरिसन में चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की गतिविधियां काफी बढ़ गई हैं। जब से सीमा पर चीन का अग्रेशन बढ़ा है, तब से राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बिपिन रावत और सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे हालात पर नजर रखे हुए हैं। चीन ने जून, अगस्त और सितंबर में अग्रेशन दिखाया चीनी सेना ने 15 जून को गलवान घाटी में कंटीले तारों से भारतीय सेना पर हमला किया। इसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए। हिंसक झड़प में चीन के कितने सैनिक मारे गए, इसकी उसने पुष्टि नहीं की। 29-30 अगस्त की रात चीनी सैनिकों ने पैंगॉन्ग झीले के दक्षिणी छोर की पहाड़ी पर कब्जे की कोशिश की थी, लेकिन भारतीय जवानों ने नाकाम कर दी। तभी से दोनों के सैनिक आमने-सामने डटे हुए हैं। चीन 1 सितंबर को भी घुसपैठ की कोशिश कर चुका है। 7 सितंबर को दक्षिणी इलाके में चीनी सैनिकों ने भारतीय पोस्ट की तरफ बढ़ने की कोशिश की थी और चेतावनी के तौर पर फायरिंग की थी। सीमा विवाद पर आप ये खबरें भी पढ़ सकते हैं... 1. चीन बॉर्डर पर 20 दिन में 3 बार गोलियां चलीं:पैंगॉन्ग झील इलाके में पिछले हफ्ते 100-200 राउंड गोलियां चलीं, दोनों देशों के बीच मॉस्को समझौते से पहले यह घटना हुई 2. लद्दाख में चीन पर हावी भारत:फिंगर 4 की कई चोटियों पर अब भारतीय सेना का कब्जा, पैंगॉन्ग लेक इलाके में पहले चीन हावी था​​​​​​​ आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें जानकारी के मुताबिक, सेना ने जिन चोटियों पर कब्जा किया, वे खाली पड़ी थीं। चीन भी इन पर कब्जा करने की फिराक में था। -फाइल फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/indian-army-occupied-six-new-major-heights-on-lac-with-china-127736824.html

47 साल पहले बिली जीन किंग ने जीता था 'बैटल ऑफ द सेक्सेस', पुरुष टेनिस खिलाड़ी बॉबी रिग्स को सीधे सेट्स में हराया था



		 47 साल पहले बिली जीन किंग ने जीता था
आज का दिन महिलाओं के लिए बहुत खास है। इससे जुड़ी घटना भले ही टेनिस की है, लेकिन इसने महिला अधिकारों, खास तौर पर खेलों में बराबरी की नींव रखी थी। 'बैटल ऑफ सेक्सेस' कहकर प्रचारित 1973 में खेले गए इस टेनिस मुकाबले में एक लाख डॉलर की पुरस्कार राशि थी। उस समय 29 साल की बिली जीन किंग ने 55 साल की पूर्व नंबर एक टेनिस खिलाड़ी बॉबी रिग्स की चुनौती स्वीकार की थी। दरअसल, रिग्स का दावा था कि महिलाओं के टेनिस में कोई दम नहीं है। वह इस उम्र में भी किसी भी महिला टेनिस खिलाड़ी को हरा सकते हैं। हालांकि, उनका दावा खोखला साबित हुआ। बिली किंग ने ह्यूस्टन एस्ट्रोडोम में खेले गए मैच में सीधे सेट्स में 6-4, 6-3, 6-3 से हराया था। यह टेनिस मुकाबला काफी लोकप्रिय हुआ। 30 हजार दर्शकों ने ह्यूस्टन एस्ट्रोडोम में मैच को देखा जबकि करीब 5 करोड़ लोगों ने टीवी पर। किंग ने टेनिस कोर्ट पर क्लियोपाट्रा की स्टाइल में पुरुष गुलामों के साथ प्रवेश किया था। वहीं, रिग्स महिला मॉडल्स के साथ कोर्ट पहुंचे थे। किंग की जीत ने महिलाओं के प्रोफेशनल टेनिस को स्थापित करने में मदद की। साथ ही महिला एथलीट्स की क्षमता को भी साबित किया। इस जीत को महिलाओं के अधिकारों की जीत के तौर पर भी देखा गया। 1857 में दिल्ली पर कब्जे के साथ कमजोर हुआ पहला स्वतंत्रता संग्राम ईस्ट इंडिया कंपनी के खिलाफ 1857 के पहले स्वतंत्रता संग्राम में 20 सितंबर एक अहम पड़ाव साबित हुआ। तब भारतीय राजाओं ने बड़े भूभाग पर कब्जा जमाकर वहां से अंग्रेजों को भगा दिया था। लेकिन कंपनी ने पलटवार किया। इंग्लैंड से गोला-बारूद मंगवाया गया। पहला पड़ाव था दिल्ली। कंपनी की फौजों ने जुलाई से लेकर सितंबर तक दिल्ली की घेराबंदी कर रखी थी। जैसे ही अतिरिक्त गोला-बारूद दिल्ली के पास पहुंचा, कंपनी की जीत आसान हो गई। 20 सितंबर को अंग्रेज फौजों ने दिल्ली पर फिर कब्जा कर लिया था। अंतिम मुगल बादशाह बहादुर शाह जफर की आंखों के सामने उनके तीन बेटों को गोली मारी गई। बाद में उन पर मुकदमा चलाकर उम्रकैद की सजा दी गई। रंगून की जेल में ही उन्होंने अंतिम सांस ली। 2004 में इसरो ने पहला एजुकेशन सैटेलाइट एडुसेट लॉन्च किया भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान केंद्र यानी इसरो ने 20 सितंबर 2004 को जीसैट-3 लॉन्च किया था, जिसे जिसे एडुसैट के नाम से भी जाना जाता है। यह भारत का पहला डेडिकेटेड एजुकेशनल सैटेलाइट है। इससे सैटेलाइट-बेस्ड टू-वे कम्युनिकेशन स्थापित हुआ, जिससे क्लासरूम में एजुकेशनल कंटेंट डिलीवर किया जा रहा है। कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के दौरान एडुसैट का इस्तेमाल कई राज्यों में सरकारी स्कूलों तक एजुकेशनल कंटेंट पहुंचाने के लिए हुआ है। 2011 में अमेरिका में डोंट आस्क, डोंट टेल पॉलिसी खत्म 20 सितंबर 2011 को अमेरिकी मिलिट्री में डोंट आस्क, डोंट टेल पॉलिसी खत्म हुई। 1990 में क्लिंटन प्रशासन ने मिलिट्री में समलैंगिकों की इंट्री पर प्रतिबंध लगाया था। इसे ही बाद में डोंट आस्क, डोंट टेल पॉलिसी नाम दिया गया। इसके तहत समलैंगिकों को तब तक काम करने की इजाजत थी, जब तक कि उनकी पहचान साबित नहीं होती या जांच में सामने नहीं आ जाती। प्रेसिडेंट बराक ओबामा ने कांग्रेस में रिपब्लिकन पार्टी के विरोध के बाद भी इस पॉलिसी को खत्म किया था। इतिहास में आज को इन घटनाओं के लिए भी याद किया जाता है... 1946: फ्रेंच रिविएरा की रिजॉर्ट सिटी में पहले कांस फिल्म फेस्टिवल की शुरुआत हुई।1965: यूएन सिक्योरिटी काउंसिल ने सर्वसम्मति से भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध को रोकने के लिए प्रस्ताव पास किया। भारत ने इस प्रस्ताव को 21 सितंबर को और पाकिस्तान ने 22 सितंबर को स्वीकार किया था। 23 सितंबर को युद्ध खत्म हुआ था।1970: रूसी प्रोब ने चांद की सतह से चट्टानों के टुकड़े इकट्ठा किए थे।1984: लेबनान की राजधानी बेरूत में स्थित अमेरिकी एम्बेसी पर आत्मघाती हमला हुआ।1996: बेनजीर भुट्टो के भाई मुर्तजा भुट्टो और उनके छह फॉलोवरों की कराची में पुलिस से भिड़ंत में मौत हो गई थी। मुर्तजा भुट्टो पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के शहीद भुट्टो धड़े का नेतृत्व करते थे।2001: अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश ने 9/11 के आतंकी हमले के बाद वॉर ऑन टेरर की घोषणा की। इस शब्द का इस्तेमाल यूनाइटेड स्टेट्स कांग्रेस में बुश ने अपने भाषण में किया था।2003ः संयुक्त राष्ट्र महासभा ने एक प्रस्ताव पारित कर इजरायल से फिलिस्तीनी नेता यासिर अराफात की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा।2006ः ब्रिटेन के रॉयल बॉटेनिकल गार्डन्स में 200 वर्ष पुराने बीज उगाने में कामयाबी मिली।2008: इस्लामाबाद के मैरियट होटल में कार बम हमला। चेक राजदूत और तीन अमेरिकियों समेत 54 लोग मारे गए थे। अल-कायदा से लिंक तालिबान आतंकियों ने इसकी जिम्मेदारी ली थी।2009ः मराठी फिल्म 'हरिशचन्द्राची फैक्ट्री' को ऑस्कर अवार्ड्स की विदेशी फिल्म कैटिगरी में भारत की एंट्री के तौर पर चुना गया।2010: मध्य प्रदेश के शिवपुरी में रेल हादसे में 21 लोगों की मौत हो गई। बदरवास स्टेशन पर खड़ी यात्री ट्रेन से मालगाड़ी टकरा गई। जन्मदिन 1899: लियो स्ट्रॉस (जर्मन-अमेरिकी राजनीतिक दार्शनिक)1911: श्रीराम शर्मा आचार्य (ऑल वर्ल्ड गायत्री परिवार के संस्थापक)1948: महेश भट्ट (फिल्म निर्देशक और निर्माता)1946: मार्कंडेय काटजू (पूर्व सुप्रीम कोर्ट जज) आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Today History for September 20th/ What Happened Today | 1973 Battle of Sexes Billie Jean King vs Bobby Riggs | East India Company recpatured Delhi 1857| Dont Talk Dont tell policy ends in America| Edusat launched [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/today-history-september-20th-1973-battle-of-sexes-billie-jean-king-vs-bobby-riggs-east-india-company-recpatured-delhi-1857-dont-talk-dont-tell-policy-ends-in-america-edusat-launched-127736220.html

कंगना पर टिका है इंडस्ट्री का 250 करोड़ का दांव; सुशांत केस में कैसे हुई लापरवाही; IPL में आज पंजाब से भिड़ेगी दिल्ली



		 कंगना पर टिका है इंडस्ट्री का 250 करोड़ का दांव; सुशांत केस में कैसे हुई लापरवाही; IPL में आज पंजाब से भिड़ेगी दिल्ली 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
कारोबार जगत से खबर है कि ई-कॉमर्स कंपनियां दिवाली पर 50 हजार करोड़ का बिजनेस कर सकती हैं, जो 4 साल पहले तक 1 हजार करोड़ रुपए से भी कम था। वहीं, संसद का मानसून सत्र जल्द खत्म होने की संभावना है। बहरहाल, शुरू करते हैं मॉर्निंग न्यूज ब्रीफ... आज इन 3 इवेंट्स पर रहेगी नजर 1. IPL में आज दिल्ली कैपिटल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच मुकाबला होगा। शाम 7 बजे टॉस होगा और 7:30 बजे से मैच शुरू होगा। 2. हरियाणा में कृषि विधेयक के विरोध में किसान संगठनों ने आज रोड जाम करने का ऐलान किया है। 3. हिमाचल प्रदेश में आज से 12 रूट पर नाइट बस सर्विस शुरू हो जाएगी। अब कल की 7 महत्वपूर्ण खबरें 1. कंगना पर इंडस्ट्री के 250 करोड़ से ज्यादा दांव पर कंगना रनोट की 4 फिल्में 'तेजस', 'धाकड़', थलाइवी' और 'इमली' कतार में हैं। ट्रेड एनालिस्ट अतुल मोहन की मानें तो कंगना की हर फिल्म का एवरेज बजट 60-70 करोड़ रुपए पहुंच जाता है। इस हिसाब से कंगना पर बॉलीवुड के 250-300 करोड़ रुपए दांव पर लगे हैं। -पढ़ें पूरी खबर 2. सुशांत मामले में एम्स की टीम अगले हफ्ते रिपोर्ट सौंपेगी सुशांत सिंह राजपूत का विसरा सही तरीके से सुरक्षित नहीं किया गया था। सूत्रों ने बताया कि एम्स के फोरेंसिक डिपार्टमेंट को जो विसरा मिला है, वह काफी कम और विकृत (डिजेनरैटिड) है। इससे जांच में मुश्किल हो रही है। सुशांत की मौत के मामले में एम्स की टीम अगले हफ्ते रिपोर्ट सौंपेगी। -पढ़ें पूरी खबर 3. बंगाल-केरल से अलकायदा के 9 आतंकी पकड़ाए नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी ने शनिवार को पश्चिम बंगाल और केरल में छापे मारकर अलकायदा के नौ आतंकियों को गिरफ्तार किया। इनमें से छह आतंकी मुर्शिदाबाद से और तीन एर्नाकुलम से पकड़ाए। इन्हें सोशल मीडिया से पाकिस्तान स्थित अलकायदा आतंकवादियों ने कट्टरपंथी बनाया था। -पढ़ें पूरी खबर 4. 22 साल में 29 पार्टियों ने छोड़ा एनडीए का साथ एनडीए के गठन से लेकर अब तक 22 साल हो चुके हैं। इस दौरान 29 पार्टियों ने एनडीए छोड़ दिया। अब सिर्फ बची है प्रकाश सिंह बादल की पार्टी अकाली दल। हालांकि, किसानों के मुद्दे पर इसने भी बागी तेवर दिखाए हैं। अब एनडीए में 26 पार्टियां हैं। जानिए अब तक कौन आया और गया? -पढ़ें पूरी खबर 5. भारत-चीन सीमा पर तैनात डॉक्टर-सोल्जर्स की कहानी लद्दाख में आईटीबीपी की डॉक्टर हैं डॉ. कात्यायनी। वे कहती हैं, 'माइनस 50 डिग्री तापमान के बीच जब ये सैनिक फॉरवर्ड पोस्ट पर तैनात होते हैं तो स्नो ब्लाइंडनेस के शिकार हो जाते हैं। कई बार जब वो अपने सैनिक को इंजेक्शन देने के लिए दवाई बाहर निकालती हैं तो वो बर्फ बन चुकी होती है।' -पढ़ें पूरी खबर 6. ई-कॉमर्स कंपनियां कर सकती है 50 हजार करोड़ रु. तक का कारोबार रेडसीर (Redseer) की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल फेस्टिव सीजन में ई-कॉमर्स का ग्रॉस मर्चेंडाइज वॉल्यूम 7 बिलियन डॉलर (51.52 हजार करोड़ रु.) तक पहुंच सकता है। भारत सहित दुनियाभर में कोरोना का असर कारोबार पर भी पड़ा है। कारोबारियों को अब फेस्टिव सीजन का इंतजार है। -पढ़ें पूरी खबर 7. वैष्णो देवी में 5000 लोग कर सकेंगे दर्शन, बाहरी राज्यों से सिर्फ 500 ही वैष्णोदेवी मंदिर से लेकर तिरुपति तक, अब श्रद्धालुओं की संख्या और दान की राशि में बढ़ोतरी हो रही है। वैष्णो देवी में 5000 लोग कर सकेंगे दर्शन जबकि बाहरी राज्यों से सिर्फ 500 लोग ही शामिल हो सकेंगे। शिरडी के साईं मंदिर को लॉकडाउन में 20.76 करोड़ रुपए का दान मिला है। -पढ़ें पूरी खबर अब 20 सितंबर का इतिहास 1933: सामाजिक कार्यकर्ता और हिंदुस्‍तान की आजादी के लिए लड़ने वाली अंग्रेज महिला एनी बेसेंट का निधन हुआ था। 1948: भारतीय फिल्म डायरेक्टर, प्रोड्यूसर और स्क्रिप्ट लेखक महेश भट्ट का जन्म हुआ। 1984: लेबनान की राजधानी बेरूत में स्थित अमेरिकी दूतावास पर आत्मघाती हमला किया था। जाते-जाते अब जिक्र गायत्री परिवार के संस्थापक पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य का। आज ही के दिन 1911 में उनका जन्म हुआ था। पढ़िए उनका एक विचार। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Kangna's industry bets 250 crore; How negligence happened in Sushant case; Delhi will face Punjab in IPL today [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/kangnas-industry-bets-250-crore-how-negligence-happened-in-sushant-case-delhi-will-face-punjab-in-ipl-today-127736219.html

24 घंटे में 86989 मरीज मिले, 90606 ठीक हुए; लगातार दूसरे दिन स्वस्थ हुए मरीजों की संख्या संक्रमितों से ज्यादा; अब तक 53.92 लाख मामले



		 24 घंटे में 86989 मरीज मिले, 90606 ठीक हुए; लगातार दूसरे दिन स्वस्थ हुए मरीजों की संख्या संक्रमितों से ज्यादा; अब तक 53.92 लाख मामले 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
देश में लगातार दूसरे दिन ठीक होने वाले मरीजों की संख्या संक्रमितों से ज्यादा रही। 24 घंटे में 86,989 मरीज मिले, जबकि 90,606 ठीक हुए। इसके साथ ही मरीजों का आंकड़ा 53 लाख 92 हजार 645 हो गया है। इनमें 42 लाख 95 हजार 946 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 10 लाख 9 हजार 238 का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 86 हजार 704 लोगों की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org से लिए गए हैं। एक दिन पहले शुक्रवार को भी देश में 92,969 मरीज मिले थे, जबकि 95,512 लोग ठीक हुए थे। इस बीच, कोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। ऑक्सफोर्ड वैक्सीन का फेज-3 ट्रायल अगले हफ्ते सोमवार से पुणे में शुरू हो जाएगा। इसके लिए 150 से 200 वालंटियर्स डोज लेने के लिए तैयार हैं। बैंकों के कर्मचारियों को मुंबई की सबअर्बन ट्रेनों में यात्रा की इजाजत रेलवे ने शनिवार को कहा कि कोऑपरेटिव और प्राइवेट बैंकों के 10% कर्मचारियों को मुंबई की सबअर्बन ट्रेनों में यात्रा करने की इजाजत दी जाएगी। कोरोना महामारी के चलते सबअर्बन ट्रेनों में यात्रा करने पर प्रतिबंध था। नेशनलाइज्ड बैंकों के कर्मचारियों को पहले से ही ट्रेनों में यात्रा करने की इजाजत है। छग के पूर्व सीएम रमन सिंह संक्रमित, कहा- संपर्क में आए लोग टेस्ट कराएं वहीं, छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। उन्होंने बताया कि मैंने कोरोना के शुरुआती लक्षण नजर आने पर टेस्ट कराया था, जिसमें मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मेरा निवेदन है कि विगत दिनों जो भी लोग मेरे संपर्क में आये हैं वह आइसोलेशन में रहें एवं अपना कोविड-19 टेस्ट जरूर कराएं। पंजाब में 21 सितंबर से कुल जाएंगे हायर एजुकेशनल इंस्टीट्यूट उधर, अनलॉक 4.0 की गाइडलाइन में मिली छूट के तहत पंजाब सरकार ने 21 सितंबर से राज्य में हायर एजुकेशनल इंस्टीट्यूट खोलने का फैसला लिया है। राज्य सरकार के मुताबिक इंस्टीट्यूट जहां पीएचडी, पीजी टेक्निकल या प्रोफेशनल कोर्स चलते हैं वो सब खुलेंगे। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्रालय के नियमों का पालन करना होगा। श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 97 मजदूरों ने दम तोड़ा केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने लोकसभा में एक सवाल के जवाब में बताया कि लॉकडाउन के दौरान चलाई गई श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 97 प्रवासी मजदूरों की सफर के दौरान मौत हुई। गोयल ने कहा कि ये आंकड़े राज्य सरकारों की ओर से मिले हैं। शुक्रवार से संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी देश में शुक्रवार को 92 हजार 969 कोरोना संक्रमित मिले। जबकि 95 हजार 512 ठीक भी हो गए। इस महामारी को देश में आए 232 दिन हो चुके हैं। तब से अब तक ऐसा छह बार ही हुआ है, जब एक दिन में जितने नए संक्रमित मिले हों उनसे ज्यादा ठीक हो गए। सबसे पहली बार ऐसा 14 फरवरी को हुआ, जब केरल में मिले तीन संक्रमित ठीक हो गए थे, लेकिन उस दिन नया केस नहीं आया था। कोरोना अपडेट्स... संसद में मानसूत्र के छठवें दिन शनिवार को राज्यसभा में महामारी रोग संशोधन विधेयक, 2020 पारित किया गया। इस दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि स्वास्थ्य पेशेवरों के खिलाफ अपराधों को रोकने के लिए बिल की जरूरत थी। विधेयक में महामारी के दौरान देश में डॉक्टर्स, नर्स, आशा कार्यकर्ताओं की सुरक्षा, जबकि हमला करने वालों के लिए सजा का प्रावधान है। 123 साल पुराने कानून में केंद्र सरकार ने बदलाव किया है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने शनिवार काे कहा कि जिस तरह कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं, उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि राजधानी दिल्ली में सामुदायिक संक्रमण हाे रहा है। उन्हाेंने यह भी दावा किया कि देश के कई हिस्सों में भी सामुदायिक संक्रमण हो रहा है। केंद्र सरकार काे कोरोना का कम्युनिटी स्प्रेड स्वीकार करना चाहिए। इसे लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और आईसीएमआर ही सही बता सकता है। उत्तराखंड विधानसभा में नेता विपक्ष इंदिरा हृदेश की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप ने यह जानकारी दी।कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री सीएन ॲश्वथ नारायण कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्होंने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। 21 सितंबर से राज्य में विधानसभा का मानसून सत्र शुरू होना है।कांग्रेस सांसद के सुरेश ने कोरोना से जान गंवाने वालों के परिजन के लिए मुआवजे की मांग की है। इसके लिए लोकसभा में उन्होंने नोटिस दिया है।दिल्ली हाईकोर्ट ने यहां के प्राइवेट और सरकारी स्कूलों को आदेश दिया है कि वे उनके यहां पढ़ने वाले गरीब बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई के लिए गैजेट्स और इंटरनेट कनेक्शन उपलब्ध कराएं।दिल्ली सरकार ने राज्य के सभी स्कूलों को 5 अक्टूबर तक बंद रखने का फैसला लिया है। तब तक ऑनलाइन क्लासेज, टीचिंग लर्निंग एक्टिविटी जारी रहेंगी।केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर कोविड के मामलों के लिए मॉनिटरिंग टीम बनाने, मेडिकल ऑक्सीजन के मूवमेंट और उसकी उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा है। पांच राज्यों का हाल 1. मध्यप्रदेश शनिवार को 2607 केस मिले। इसके साथ ही संक्रमितों की संख्या 1 लाख 3 हजार 65 हो गई है।राज्य में केस के दोगुना होने की दर बढ़ गई है। अब 42 दिन में दोगुने मरीज मिल रहे हैं। सितंबर के 18 दिनों में भोपाल में 5000 से ज्यादा केस आए हैं। 2. राजस्थान शनिवार को रिकॉर्ड 1834 संक्रमित मिले। अब यहां 1 लाख 13 हजार 124 केस हो गए हैं। 93 हजार 805 ठीक हो चुके हैं। 1943 की मौत हो चुकी है। राज्य सरकार ने अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमितों से परिवार को मिलने की इजाजत दे दी है। हालांकि, मरीज से मिलने वाले को पीपीई किट, ग्लव्स और फेस मास्क पहनना होगा। 3. बिहार शनिवार को 1616 नए मरीज मिले और 1556 ठीक हो गए। दो संक्रमितों ने दम तोड़ दिया। राज्य में अब तक 1 लाख 66 हजार 987 लोग संक्रमित हो चुके हैं। 1 लाख 52 हजार 956 ठीक हो चुके हैं, जबकि 861 की मौत हो चुकी है। 13 हजार 169 संक्रमितों का इलाज चल रहा है। 4. महाराष्ट्र शनिवार को 20 हजार 519 केस आए। यहां अब तक 11 लाख 88 हजार 15 केस आ चुके हैं। 8 लाख 57 हजार 933 संक्रमित ठीक हो चुके हैं। 2 लाख 97 हजार 480 का इलाज चल रहा है, जबकि 32 हजार 216 की मौत हो चुकी है। 5. उत्तरप्रदेश शनिवार को 5729 संक्रमित मिले, जबकि 6596 ठीक हो गए। राज्य में 3 लाख 48 हजार 517 केस आ चुके हैं। 2 लाख 76 हजार 690 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 4953 की मौत हो चुकी है। अभी 66 हजार 874 संक्रमितों का इलाज चल रहा है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें यह फोटो कोलकाता के एनआरएस मेडिकल कॉलेज की है। शनिवार को यहां कोरोना से ठीक हुआ एक मरीज प्लाज्मा डोनेट करने पहुंचा। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/coronavirus-outbreak-india-cases-live-news-and-updates-19-september-2020-127733149.html

घुसपैठ को रोकने के लिए आर्मी ने 3 हजार अतिरिक्त जवानों की तैनाती की; पाकिस्तान ने 8 महीने में 3 हजार से ज्यादा बार सीजफायर वॉयलेशन किया



		 घुसपैठ को रोकने के लिए आर्मी ने 3 हजार अतिरिक्त जवानों की तैनाती की; पाकिस्तान ने 8 महीने में 3 हजार से ज्यादा बार सीजफायर वॉयलेशन किया 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
पाकिस्तान की तरफ से आतंकियों की घुसपैठ रोकने के लिए आर्मी अलर्ट पर है। सेना ने लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) पर चौकसी बढ़ाने के लिए तीन हजार अतिरिक्त जवानों की तैनाती की है। सेना के सूत्रों ने बताया कि अतिरिक्त ब्रिगेड की तैनाती से काफी अच्छे रिजल्ट भी मिले हैं। सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तानी सेना इस साल आतंकियों की घुसपैठ कराने में कामयाब नहीं रही है। ऐसा अंदेशा है कि अक्टूबर और नवंबर में बर्फबारी के बीच घुसपैठ की कोशिशें की जा सकती हैं। सेना ने हाल ही में उत्तरी कश्मीर के गुरेज सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश को नाकाम किया था। बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी सेना की अतिरिक्त बटालियन भी पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में एलओसी के पास तैनात है। पाकिस्तान ने 3 हजार से ज्यादा बार सीजफायर वॉयलेशन किया राज्यमंत्री श्रीपद नाईक ने शनिवार को राज्य सभा में बताया, 'पाकिस्तान ने पिछले आठ महीनों में एलओसी पर 3 हजार 186 बार सीजफायर वॉयलेशन किया। ऐसा पिछले 17 साल में पहली बार हुआ है।' उन्होंने बताया कि एक जनवरी से लेकर 31 अगस्त तक जम्मू क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास क्रॉस बॉर्डर फायरिंग की भी 242 घटनाएं सामने आईं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें एलओसी पर घुसपैठ को रोकने के लिए अतिरिक्त ब्रिगेड तैनात की गई है। सेना का कहना है कि इससे काफी अच्छे रिजल्ट मिले हैं। फाइल फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/india-pakistan-border-latest-news-updates-indian-army-deploys-additional-brigade-3000-troops-on-loc-in-jammu-and-kashmir-127733547.html

कोरोना मरीजों के ठीक होने के मामले में भारत पहले नंबर पर पहुंचा, यहां हर 100 संक्रमितों में 79 लोग रिकवर हुए; अमेरिका का रिकवरी रेट सबसे कम



		 कोरोना मरीजों के ठीक होने के मामले में भारत पहले नंबर पर पहुंचा, यहां हर 100 संक्रमितों में 79 लोग रिकवर हुए; अमेरिका का रिकवरी रेट सबसे कम 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
हम सभी के लिए अच्छी खबर है। संक्रमण से ठीक होने वाले लोगों की संख्या के मामले में भारत अब दुनिया का सबसे बड़ा देश बन गया है। यहां 53 लाख मरीजों में अब तक 42 लाख 37 हजार से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। अभी तक अमेरिका इस मामले में पहले नंबर पर था। यहां 41 लाख से ज्यादा लोग ठीक हुए हैं। भारत में रिकवरी रेट 79.21% है। मतलब यहां हर 100 मरीजों में 79 लोग ठीक हो रहे हैं। अमेरिका का रिकॉर्ड इस मामले में सबसे खराब है। अमेरिका का रिकवरी रेट 60.51% है। भारत के मुकाबले अमेरिका में 16 लाख मरीजों की संख्या ज्यादा हैं। दुनिया में अब तक 2.23 करोड़ से ज्यादा मरीज ठीक हुए दुनिया में अब तक 3 करोड़ 7 लाख से ज्यादा लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 2 करोड़ 23 लाख 74 हजार 216 लोग ठीक हो चुके हैं। दुनिया में ठीक हुए कुल मरीजों में से करीब 19% लोग भारत से हैं। इनमें अमेरिका का 18.73% और ब्राजील का 16.93% हिस्सा है। देश में 10 लाख से ज्यादा मरीजों का इलाज चल रहा देश में 53 लाख मरीजों में 42 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि अभी 10 लाख मरीजों का इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 86 हजार से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। अमेरिका में सबसे ज्यादा 25 लाख एक्टिव केस हैं और सबसे ज्यादा 2 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। तमिलनाडु का रिकवरी रेट सबसे बेहतर देश के 7 सबसे संक्रमित राज्यों में तमिलनाडु का सबसे बेहतर 89% रिकवरी रेट है। पश्चिम बंगाल में 87%, दिल्ली में 85% और आंध्र प्रदेश में 83% लोग ठीक हो चुके हैं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें In the case of recovery from Corona, India ranks first, 79 out of every 100 patients recover here; America has the lowest recovery rate [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/in-the-case-of-recovery-from-corona-india-ranks-first-79-out-of-every-100-patients-recover-here-america-has-the-lowest-recovery-rate-127733579.html

सुशांत का विसरा सही तरीके से प्रिजर्व नहीं किया गया, मुंबई पुलिस या कूपर अस्पताल की लापरवाही की आशंका; एम्स की टीम अगले हफ्ते रिपोर्ट देगी



		 सुशांत का विसरा सही तरीके से प्रिजर्व नहीं किया गया, मुंबई पुलिस या कूपर अस्पताल की लापरवाही की आशंका; एम्स की टीम अगले हफ्ते रिपोर्ट देगी 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
एक्टर सुशांत सिंह राजपूत का विसरा सही तरीके से सुरक्षित (प्रिजर्व) नहीं किया गया था। न्यूज एजेंसी आईएएनएस ने सूत्रों के हवाले से यह रिपोर्ट दी है। इसके मुताबिक ऐसा लग रहा है कि मुंबई पुलिस या फिर सुशांत की ऑटोप्सी करने वाले कूपर अस्पताल के मेडिकल बोर्ड ने गंभीर लापरवाही बरती थी। विसरा की जांच से सुशांत की मौत की सही वजह का खुलासा हो सकता है। लेकिन, ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एम्स) की फोरेंसिक टीम को जो विसरा मिला है, वह काफी कम और विकृत (डिजेनरैटिड) है। इससे जांच में मुश्किल हो रही है। सुशांत की मौत के मामले में एम्स की टीम अगले हफ्ते रिपोर्ट सौंपेगी। सीबीआई के कहने पर एम्स की टीम जांच कर रही कई मीडिया रिपोर्ट्स में मुंबई पुलिस के इस दावे पर सवाल उठाए जा चुके हैं कि सुशांत ने आत्महत्या की थी। सुशांत के परिवार और फैन्स इस बात की आशंका जता रहे हैं कि एक्टर की मौत की वजह जहर या ड्रग्स ओवरडोज हो सकती है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सुशांत मामले की जांच सीबीआई कर रही है। जांच एजेंसी के कहने पर एम्स के फोरेंसिक एक्सपर्ट से विसरा जांच शुरू करवाई गई थी। कूपर अस्पताल ने विसरा सैंपल मुंबई पुलिस को सौंपा था मुंबई के कूपर अस्पताल के 5 डॉक्टर्स के बोर्ड ने 15 जून को सुशांत की ऑटोप्सी की थी। मेडिकल बोर्ड ने फांसी लगाने से सुशांत की मौत होना बताया था। कूपर अस्पताल की टीम ने सुशांत का विसरा एक बॉटल में प्रिजर्व कर मुंबई पुलिस को सौंपा था। विसरा में मृतक के लिवर, पैंक्रियाज और आंत जैसे अंगों के इंटरनल पार्ट्स होते हैं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें सुशांत की बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए ले जाते वक्त की फोटो 14 जून की है। उस दिन सुशांत का शव उनके फ्लैट में फंदे से लटका मिला था। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/sushants-viscera-not-preserved-properly-hints-negligence-of-mumbai-police-or-medical-board-127733630.html

एक पत्रकार, चीनी महिला और नेपाली नागरिक गिरफ्तार, इन पर चीन को डिफेंस से जुड़ी खुफिया जानकारी देने का आरोप



		 एक पत्रकार, चीनी महिला और नेपाली नागरिक गिरफ्तार, इन पर चीन को डिफेंस से जुड़ी खुफिया जानकारी देने का आरोप 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
दिल्ली पुलिस ने शनिवार को एक फ्रीलांस जर्नलिस्ट राजीव शर्मा, एक चीनी महिला और नेपाली नागरिक को गिरफ्तारी किया है। इन पर चीन की इंटेलिजेंस को खुफिया जानकारी देने का आरोप है। पुलिस ने बताया कि ये जानकारियां बॉर्डर स्ट्रेटेजी और डिफेंस से जुड़ी हैं। दिल्ली पुलिस ने राजीव को ऑफिशियल सीक्रेट एक्ट के तहत गिरफ्तार किया। पुलिस का दावा है कि राजीव के पास से डिफेंस से जुड़े कुछ बेहद सीक्रेट दस्तावेज बरामद किए हैं। राजीव को इसके बदले शेल कंपनियों के जरिए पैसा दिया जाता था। एक इनपुट के लिए 73 हजार रुपए से ज्यादा मिलते थे पुलिस ने बताया कि राजीव 2016 से चीनी इंटेलिजेंस के लिए काम करता था। एक इनपुट के लिए 73,610 (एक हजार डॉलर) रुपए मिलते थे। वह कुछ चीनी इंटेलिजेंस के लिए काम करता था। पुलिस ने बताया कि फ्रीलांस पत्रकार को डेढ़ साल में करीब 40 लाख रुपए मिले थे। राजीव को 14 सितंबर को गिरफ्तार किया था डीसीपी ने बताया कि पुलिस ने राजीव शर्मा को 14 सितंबर को सेंट्रल इंटेलिजेंस के इनपुट के आधार पर गिरफ्तार किया था, उसे अगले ही दिन कोर्ट के सामने पेश किया गया था। जहां कोर्ट ने उसे 6 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया था।पुलिस ने उसके पास से क्लासिफाइड डिफेंस डॉक्यूमेंट्स के अलावा लैपटॉप, मोबाइल फोन भी जब्त किया था। उसके सीडीआर को भी स्कैन किया जा रहा है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि वह किसके संपर्क में था।स्पेशल सेल के डीसीपी संजीव कुमार यादव ने बताया कि शर्मा कुछ भारतीय मीडिया ऑर्गनाइजेशन के साथ-साथ चीन के ग्लोबल टाइम्स के लिए भी रक्षा संबंधी मुद्दों पर लिखता था। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें जर्नलिस्ट राजीव शर्मा, चीनी महिला (बीच में) और नेपाली नागरिक (दाएं)। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/delhi-police-arrested-freelance-journalist-rajiv-sharma-who-give-indian-army-related-information-to-china-intelligence-127733499.html

सरकार 18 दिन के मानसून सत्र को 10 दिन में खत्म कर सकती है, 2 मंत्रियों समेत 30 सांसदों के कोरोना पॉजिटिव आने से चिंता बढ़ी



		 सरकार 18 दिन के मानसून सत्र को 10 दिन में खत्म कर सकती है, 2 मंत्रियों समेत 30 सांसदों के कोरोना पॉजिटिव आने से चिंता बढ़ी 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
महामारी के बीच चल रहे संसद के पहले सत्र को छोटा किया जा सकता है। न्यूज एजेंसी पीटीआई के सूत्रों के मुताबिक सरकार 18 दिन के मानसून सत्र को कोरोना की चिंताओं की वजह से छोटा करने पर विचार कर रही है। 14 सितंबर से शुरू हुए सत्र को 10 दिन में यानी अगले हफ्ते के बुधवार को खत्म किया जा सकता है। सांसद और संसद के कर्मचारी लगातार पॉजिटिव निकल रहे हैं। इसलिए, प्रमुख नेताओं में इन्फेक्शन फैलने का डर है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और प्रह्लाद पटेल समेत करीब 30 सांसद पहले ही संक्रमित हो चुके हैं, इसलिए चिंता और बढ़ गई है। ज्यादातर पार्टी सत्र छोटा करने के पक्ष में 14 सितंबर से शुरू हुए मानसून सत्र का समय वैसे 1 अक्टूबर तक है। उम्मीद है कि सभी अहम बिल पहले 7 दिन में ही पास हो जाएंगे। एक वरिष्ठ सांसद ने बताया कि अगर कुछ बिलों के साथ-साथ सभी अध्यादेश पास हो जाते हैं तो भी सत्र का समय घटाने का फैसला लिया जा सकता है। लोकसभा की बिजनेस एडवाइजरी कमेटी की शनिवार को हुई मीटिंग में भी ज्यादातर पार्टी सत्र छोटा करने के पक्ष में नजर आईं। आखिरी फैसला संसदीय मामलों की कैबिनेट कमेटी लेगी। भाजपा से सबसे ज्यादा 12 सांसद संक्रमित लोकसभा के संक्रमित सांसदों में भाजपा के सबसे ज्यादा 12 हैं। YSR कांग्रेस के 2, जबकि शिवसेना, डीएमके और आरएलपी के 1-1 सांसद संक्रमित हैं। भाजपा के राज्यसभा सांसद विनय सहस्त्रबुद्धे ने भी शुक्रवार को अपने पॉजिटिव होने की जानकारी दी। बाकी संक्रमित सांसद किस-किस पार्टी के हैं, इस बारे में जानकारी नहीं मिल पाई है। पहली बार शनिवार-रविवार को भी संसद चल रही कोरोना की वजह से इस बार संसद के सत्र में कई बातें पहली बार हो रही हैं। जैसे- सेशन बिना किसी छुट्टी के लगातार चलाने का फैसला लिया गया है। सांसद बैठे-बैठे ही सवाल कर रहे हैं। लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही अलग-अलग पारियों में चल रही है। सोशल डिस्टेंसिंग रखने के लिए एक सदन की कार्यवाही में दूसरे सदन की गैलरी का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें संसद का सत्र पहली बार लगातार चलेगा। इस बार शनिवार-रविवार को भी छुट्टी नहीं। कोरोना की वजह से संसद में इस बार कई बातें पहली बार हो रही हैं। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/parliament-monoson-session-2020-coronavirus-impact-narendra-modi-government-discussions-shorten-session-as-ministers-test-positive-for-covid-19-127733500.html

सेना को अपने जवानों के खिलाफ सबूत मिले, कार्रवाई शुरू की; जुलाई में आतंकी बताकर 3 युवकों को मार दिया गया था



		 सेना को अपने जवानों के खिलाफ सबूत मिले, कार्रवाई शुरू की; जुलाई में आतंकी बताकर 3 युवकों को मार दिया गया था 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
18 जुलाई को शोपियां में हुए एनकाउंटर की जांच सेना ने पूरी कर ली है। शुरुआती जांच में सेना को एनकाउंटर को अंजाम देने वाले अपने जवानों के खिलाफ सबूत मिले हैं और इसके बाद कार्रवाई शुरू कर दी गई है। आर्मी ने बताया कि इस एनकाउंटर के दौरान जवानों ने आर्म्ड फोर्सस स्पेशल पावर एक्ट (AFSPA) के तहत मिली शक्तियों का उल्लंघन किया। इस ऑपरेशन में चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ द्वारा दिए गए निर्देशों का भी उल्लंघन किया गया। परिवार वालों ने मारे गए युवकों को मजदूर बताया था 18 जुलाई को शोपियां के आशिमपोरा गांव में इम्तियाज अहमद, अबरार अहमद और मोहम्मद इबरार का एनकाउंटर कर दिया गया था। ये सभी राजौरी के रहने वाले थे। सेना ने कहा था कि ये आतंकवादी थे और इनके पास से हथियार और गोला-बारूद भी बरामद किया गया है। उधर, मारे गए लड़कों के परिवार वालों ने कहा था कि ये सभी मजदूर थे और शोपियां में मजदूरी करने गए थे। उनका आतंकवाद से कुछ भी लेना-देना नहीं था। टेररिज्म कनेक्शन पर अभी पुलिस की जांच जारी पुलिस ने परिजन के आरोप पर केस दर्ज किया था और लड़कों को डीएनए सैंपल कलेक्ट किए थे। डीएनए सैंपल की रिपोर्ट अभी नहीं आई है पर, आर्मी की जांच पूरी हो गई है। आर्मी ने इसे शुक्रवार को जारी किया है। जांच में निर्देश दिया गया है कि जो लोग इसके जिम्मेदार पाए गए हैं, उनके खिलाफ आर्मी एक्ट के तहत एक्शन शुरू किया जाए। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि एनकाउंटर में मारे गए लोगों का आतंकवाद या इससे जुड़ी गतिविधियों से संबंध था या नहीं?, इसकी जांच पुलिस अभी कर रही है। 2010 और 2000 में भी हुए थे ऐसे एनकाउंटर सेना ने कश्मीर के माछिल सेक्टर में 2010 में एक फेक एनकाउंटर में तीन लोगों को मार डाला था, जिसके बाद घाटी के हालात बेहद ज्यादा खराब हो गए थे। इसके बाद कई महीनों तक कर्फ्यू लगाना पड़ा था और 100 से ज्यादा लोगों की पत्थरबाजी और प्रदर्शन करते जान गई थी। इससे पहले 2000 में पथरी-बल में पांच नागरिकों की फेक एनकाउंटर में मौत हो गई थी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें शोपियां में 18 जुलाई को मारे गए युवकों की तस्वीर सोशल मीडिया पर आने के बाद परिजन ने इन्हें पहचाना था और पुलिस में शिकायत की थी। -फाइल फोटो [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/army-inquiry-report-for-disciplinary-action-in-shopian-case-news-127730254.html

बंगाल-केरल से अलकायदा के 9 आतंकी पकड़ाए, पाकिस्तानी दहशतगर्दाें से सोशल मीडिया पर ली हमलों की ट्रेनिंग; कुछ और गिरफ्तारियां हो सकती हैं



		 बंगाल-केरल से अलकायदा के 9 आतंकी पकड़ाए, पाकिस्तानी दहशतगर्दाें से सोशल मीडिया पर ली हमलों की ट्रेनिंग; कुछ और गिरफ्तारियां हो सकती हैं 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने शनिवार को पश्चिम बंगाल और केरल में छापे मारकर अलकायदा के नौ आतंकियों को गिरफ्तार किया। इनमें से छह आतंकी मुर्शिदाबाद से और तीन एर्नाकुलम से पकड़ाए हैं। इन्हें दिल्ली-एनसीआर समेत देश के कई हिस्सों में धमाके करने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। शुरुआती जांच में यह बात सामने आई है कि इन लोगों को सोशल मीडिया के जरिए पाकिस्तान स्थित अलकायदा आतंकवादियों ने कट्टरपंथी बनाया था। गिरफ्तार किए गए आतंकियों में से लियु ईन अहमद, अबु सूफियान, नजमुक शाकिब, मैनुल मंडल, अल मैमुन कमाल और अतीतुर रहमान पश्चिम बंगाल से हैं, जबकि मोसारफ हुसैन, याकूब बिस्वास और मुर्शीद हसन केरल के एर्नाकुलम से हैं। एनआईए के मुताबिक, उन्हें देश के कई हिस्सों में अलकायदा के मॉड्यूल के एक्टिव होने की जानकारी मिली थी। इसके बाद जांच एजेंसी ने 11 सितंबर को केस दर्ज कर जांच शुरू की थी। हथियार, विस्फोटक और कवच भी मिले यह गिरोह पैसे जुटाने में लगा था। गिरोह के कुछ सदस्य हथियार और गोला-बारूद खरीदने के लिए दिल्ली जाने वाले थे। छापेमारी के दौरान बड़ी मात्रा में डिजिटल डिवाइस, दस्तावेज, जिहादी साहित्य, धारदार हथियार, फायर आर्म्स, घर में ही बने कवच और एक्सप्लोसिव डिवाइस जब्त की गई हैं। यूएन की रिपोर्ट में भारत को आगाह किया गया था आतंकवाद पर संयुक्त राष्ट्र ने दो महीने पहले एक रिपोर्ट जारी की थी। इसमें आगाह किया गया था कि केरल और कर्नाटक में बड़ी संख्या में आईएस आतंकी हो सकते हैं। रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया था कि भारतीय उपमहाद्वीप में अल-कायदा (एक्यूआईएस) आतंकवादी संगठन हमले की साजिश रच रहा है। एक्यूआईएस का मौजूदा सरगना ओसामा महमूद है, जिसने मारे गए आसिम उमर की जगह ली है। वह उमर की मौत का बदला लेने के लिए क्षेत्र में जवाबी कार्रवाई की साजिश रच रहा है। रिपोर्ट में कहा गया था- अलकायदा के 200 आतंकी हो सकते हैं रिपोर्ट में आईएस के एक मददगार देश ने बताया था कि भारतीय उपमहाद्वीप में अलकायदा के 180 से 200 आतंकी हैं। ये भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश और म्यांमार से हैं। भारतीय उपमहाद्वीप में अलकायदा आईएस का सहयोगी है। आईएस ने भारत में नया प्रांत बनाने का दावा किया था आईएस ने 10 मई 2019 को अपनी न्यूज एजेंसी अमाक के हवाले से दावा किया था कि वह भारत में एक नया प्रांत ‘विलायाह ऑफ हिंद’ स्थापित करने में कामयाब हो गया है। यह दावा कश्मीर में एक एनकाउंटर के बाद किया गया था। इस मुठभेड़ में सोफी नाम का आतंकी मारा गया था। जिसका संबंध इसी संगठन से था। वह करीब 10 साल से भी अधिक समय से कश्मीर में कई आतंकी संगठनों के साथ काम कर रहा था। बाद में वह आईएस में शामिल हो गया था। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें एनआईए ने छह आतंकी पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद से और तीन को केरल के एर्नाकुलम से गिरफ्तार किया है। [...]

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/al-qaeda-operatives-arrested-by-nia-in-murshidabad-west-bengal-and-ernakulam-kerala-updates-127733163.html

आज से शुरू होगा IPL का रोमांच; शिवसेना के बाद कंगना का पत्रकार से पंगा; महंगा हो सकता है अब रेल का सफर



		 आज से शुरू होगा IPL का रोमांच; शिवसेना के बाद कंगना का पत्रकार से पंगा; महंगा हो सकता है अब रेल का सफर 
	 - Danik Bhaskar National News  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
अमिताभ 77 की उम्र में 17 घंटे काम कर रहे हैं, तो मोदी किसानों के लिए लाए बिल पर सफाई दे रह